iKamai-Kamai Tips In Hindi

Table Fan Manufacturing Business

Electric table fan को सामान्य बोलचाल की भाषा में टेबल पंखा  भी कहा जाता है | और यह ऑफिस, घरों, दुकानों एवं अन्य व्यापारिक संस्थानों में उपयोग में लायी जाने वाली एक सामान्य सा बिजली से चालित उपकरण है | Table Fan का मुख्य काम कूलर इत्यादि की तरह ही हवा फेंककर वातावरण में ठंडक फैलाने का होता है इसलिए इसका उपयोग भी गर्मियों के मौसम में ही बहुतायत तौर पर देखा जा सकता है | चूँकि एक Table Fan हवा फेंकता रहता है जिससे शरीर में गर्मी के कारण उत्पन्न पसीने को सूखने में मदद मिलती है और शरीर में ठंडक का आभास होता है | यद्यपि एक Table Fan को विभिन्न Sweep Sizes जैसे 200, 300, 400 mm का बनाया जाता है लेकिन इन आकारों में सबसे अधिक प्रचलित आकार 400 mm है | अर्थात कहने का आशय यह है की इस आकार के Table Fan बाज़ार में अधिक बिकते हैं इसलिए इनकी Manufacturing भी अन्य Table fans के मुकाबले अधिक होती है | Table Fan Manufacturing Business Kya hai: Table fan गर्मी के मौसम में सामान्य जन द्वारा गर्मी से निजात पाने के लिए घरों, कार्यालयों, दुकानों एवं अन्य व्यवसायिक संस्थानों में उपयोग में लाया जाता

ebay Ke Sath Online Business Kaise Start Kare.

ebay के साथ ऑनलाइन बिज़नेस स्थापित करना बेहद आसान है जैसा की हम सबको विदित है की वर्तमान में Online Shopping नामक यह पद्यति लोगों को बेहद पसंद आ रही है यही कारण है की Online business की ओर व्यापारियों का भी रुख सकारात्मक है | यद्यपि भारतवर्ष में ऐसी बहुत सारी E commerce Websites हैं जो दुकानदारों, व्यापारियों को अपनी वेबसाइट के माध्यम से वस्तुएं बेचने का मौका देती हैं अर्थात अपने साथ Online Business करने का मौका देती हैं | ताकि दूकानदार, व्यापारी अपनी कमाई में इजाफा कर सकें | लेकिन आज हम ebay के साथ बिज़नेस कैसे शुरू किया जाता है? के बारे में बताने की कोशिश करेंगे | E bay की यदि हम कार्यप्रणाली की बात करेंगे तो हम पाएंगे की सर्वप्रथम जो व्यक्ति ebay के साथ बिज़नेस करना चाहते हैं उनको निर्णय लेना होता है की E bay के साथ बिज़नेस करें या न करें | यदि दूकानदार कारोबारी ebay के साथ बिज़नेस करने का पक्का मन बना चूका है तो उसे E bay की वेबसाइट पर जाकर अपनी डिटेल्स भरकर रजिस्टर करना होता है | उसके बाद जो वस्तु विक्रेता E Bay के माध्यम से बेचना चाहता है उनकी लिस्टिंग वेबसाइट में करनी

Nut Bolts Making Business की जानकारी |

Nut bolts विभिन्न औद्योगिक इकाइयों में उपयोग में लायी जाने वाली प्रमुख Fastener  अर्थात जोड़ने वाली या बाँधने वाला उत्पाद है | Nut bolts का प्रयोग सामन्यतया किसी मशीनरी, उपकरण, वाहन या अन्य वस्तु के दो या दो से अधिक भागों को एक साथ जोड़ने हेतु किया जाता है | यद्यपि ऐसा जरुरी नहीं होता है की एक Bolts हमेशा Nuts के साथ ही उपयोग में लाया जाता हो लेकिन यह हमेशा जरुरी होता है की एक Nut को बिना Bolt के उपयोग में नहीं लाया जा सकता | Nut का उपयोग हमेशा Bolt के Opposite Side में किया जाता है और इन दोनों की पकड़ इतनी मजबूत होती है की भारी दबाव के चलते भी ये अपना काम बखूबी कर रहे होते हैं | Nut Bolts को किसी खास वस्तु पर लगाने के लिए अलग से प्रकार एवं स्टाइल में बनाया जा सकता है | बोल्ट एक सिलेंडर आकृति का धातु से बनाया हुआ उत्पाद होता है इसके बाहरी तरफ Nuts कसने हेतु तंतु अर्थात Thread बनाये जाते हैं | दूसरी तरफ ऐसे ही तंतु अर्थात Thread Nut के अन्दर की तरफ भी बनाये जाते हैं ताकि Nut को Bolts के Opposite Side में बहुत कसकर लगाया जा

BHIM Aadhar Pay Application की जानकारी |

BHIM Aadhar App की शुरुआत भारत में नकदी के प्रवाह को कम करने के लिए एवं व्यापारियों एवं छोटे मोटे दुकानदारों को Digital Payment की ओर प्रोत्साहित करने हेतु भारत के वर्तमान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने आज दिनांक 14 April 2017 को नागपुर में की है | BHIM Aadhar App को Develop करने का कार्य National Payments Corporation of India (NPCI) ने किया है | वर्तमान में यदि हम भारत में Digital Payment की वास्तविकता का विश्लेषण करेंगे तो हम पाएंगे की सरकार द्वारा उठाये गए विभिन्न कदमो के कारण लोगों का ध्यान Digital Payment की ओर आकर्षित तो हुआ है लेकिन अभी भी अधिकतर जनसख्या द्वारा अपनी रोजमर्रा की वस्तुएं नकदी देकर ही खरीदी जाती हैं | शहरों की यदि हम बात करें तो ग्राहकों के लिए यहाँ नकदी से लेकर Digital Payment करने तक के विकल्प विद्यमान है लेकिन फिर भी अधिकतर वस्तुएं नकदी के माध्यम से इसलिए खरीदी जाती हैं क्योंकि कॉलोनी, गलियों में उपलब्ध परचून की दूकान, रेहड़ी, खोमचे वालों के पास Digital Payment लेने हेतु न तो साधन उपलब्ध हैं और न ही जानकारी इसलिए वे अपने ग्राहकों को Digital Payment करने का विकल्प ही नहीं देते | इसके अलावा एक आंकड़े के

GST Basic Information In Hindi

GST यानिकी Goods and service tax की वाणज्यिक कर दुनिया में बहुत चर्चाएँ हो रही है | इन चर्चाओं में व्यवसायिक लोगों से लेकर सामान्य जन भी शामिल है | हालांकि GST  का आम जनमानस की कमाई से प्रत्यक्ष रूप से कोई लेना देना नहीं है, लेकिन अप्रत्यक्ष तौर पर यह मामला आम जन मानस की कमाई एवं खर्चे से जुड़ा हुआ है यही कारण है की Goods and service tax (GST) का चर्चाओं में रहने का मुख्य कारण इसके साथ व्यवसायिक लोंगों एवं सामान्य जन मानस की अपेक्षाओं का जुड़ना भी है | इसलिए Kamai Tips की इस श्रेणी में आज हम बात करेंगे वस्तु एवं सेवा कर अर्थात GST की | चूँकि 8 सितम्बर 2016 को संविधान का 101वां संसोधन अधिनियम अस्तित्व में आ जाने के कारण और 15 सितम्बर को GST Council द्वारा Notification जारी किये जाने के बाद Goods and service tax के कार्यान्वयन का रास्ता पूरी तरह साफ़ हो चूका है | यही कारण है की देश में Goods and service tax को देश भर में लागू करने के लिए सरकार पूरी तरह प्रतिबद्ध दिखाई दे रही है, और 1 जुलाई 2017 से इसे लागू करने की तैयारी में लगी हुई है | हालांकि