Dry Cleaning and Laundry Business

Dry Cleaning and Laundry Business

Dry Cleaning and laundry business मुख्य रूप से कपड़ों की साफ़ सफाई एवं रख रखाव से जुड़ा हुआ बिज़नेस है | पुराने समय की यदि हम बात करें तो हम पाएंगे की संभ्रांत लोग अपने कपड़े धोबियों से धुलवाते एवं ड्राई क्लीन करवाते थे | और धोबी ग्राहकों से मिले कपड़ों को गधे में लादकर तालाब या नदी के किनारे धोने हेतु ले जाया करते थे | धोबियों द्वारा ग्राहकों से मिले कपड़ों को तालाब या नदी के किनारे या फिर पानी के किसी अन्य स्रोत के समीप धोया एवं सुखाया जाता था उसके बाद उन कपड़ों में इस्त्री करके ग्राहक को दे दिया जाता था | लेकिन वर्तमान में Dry Cleaning and laundry business करने वाले या फिर घरों में भी हाथ से कपड़े धोना गुजरा जमाना बन चूका है इसका मुख्य कारण शहरी जीवन यापन कर रहे लोगों में काम का बोझ बढ़ जाना माना सकता है | जब कार्यकारी पुरुष या महिला को लगता है की उनके लिए इतना समय निकालना बेहद कठिन है की वे अपने कपडे धोकर उनको इस्त्री या ड्राई क्लीन करके पहनें तो यह कार्य करने के लिए वे घर से बाहर का रुख करते हैं और उनकी तलाश Dry Cleaning एवं Laundry Shop पर जाकर खत्म होती है |

dry-cleaning-and-laundry-business

Dry Cleaning and laundry business kya hai:

जैसा की हम पहले भी बता चुके हैं की हाथ से कपडें धोने की पद्यति शहरों से लगभग गायब होती जा रही है उसका मुख्य कारण शहरी जनसँख्या पर अपने व्यवसायिक मामलों से जुड़े काम का बोझ बढ़ना एवं वाशिंग मशीनों का अवतरण भी हो सकता है | लेकिन यहाँ पर ध्यान देने वाली बात यह है की इस Dry Cleaning and laundry Service business को पहली स्थिति अर्थात जिस स्थिति में काम का बोझ बढ़ जाने के कारण लोगों ने हाथों से कपडें धोने बंद कर दिए हों का ज्यादा फायदा देखने को मिल सकता है | क्योंकि जिसे अपने कपडे धोने के लिए समय निकालना मुश्किल होता है अंत में वह Dry Cleaning and laundry shop का रुख करता है दूसरी स्थिति में ऐसे लोग हैं जिन्होंने अपने घर में वाशिंग मशीन खरीदकर खुद कपड़ें धोना शुरू कर दिया है | ऐसे लोग इस बिज़नेस के नियमित ग्राहक न बनकर कभी कभी ग्राहक अवश्य बन सकते हैं, यद्यपि यहाँ पर यह बात स्पष्ट कर देना भी जरुरी है की कपड़ों को धोने की क्रिया भले ही लोग घर में भी कर देते हों लेकिन Dry Cleaning हमेशा बाहर से ही कराने की कोशिश करते हैं | इसलिए जब किसी उद्यमी द्वारा अपनी कमाई करने के लिए लोगों को कपडे धोने एवं ड्राई क्लीनिंग की सर्विस दी जाती है तो उस उद्यमी के बारे में कहा जा सकता है की वह Dry Cleaning and laundry Service business से जुड़ा हुआ उद्यमी है |

Market Potential in dry Cleaning and laundry Business:

Dry Cleaning and laundry Business के लिए भविष्य में या वर्तमान में बाज़ार में कितने अवसर विद्यमान हैं इसका अंदाज़ा इस बात से भी लगाया जा सकता है की वर्तमान में घर की गृहणियां अर्थात महिलाएं जिन्हें पहले घरेलू कामकाज पर ही ध्यान देने के लिए कहा जाता था पुरुषों के साथ कंधे से कन्धा मिलकर हर क्षेत्र में कार्यरत हैं | कहने का स्पष्ट से आशय यह है की पहले के मुकाबले वर्तमान में कार्यकारी महिलाओं की संख्या में काफी सुधार हुआ है, अब वे भी घर की आर्थिक आवश्यकताओं की पूर्ती हेतु कामकाज के लिए घर से बाहर कदम रखने लगी हैं ऐसे में शहरों या नगरों में ऐसे बहुत सारे परिवार मिल जायेंगे जिसमे पति एवं पत्नी दोनों अपने अपने काम पर जाते हों | ऐसे दम्पति कपडे धोने की प्रक्रिया को Dry Cleaning and laundry Shop के माध्यम से अंजाम देते हैं | यही कारण है की जैसे जैसे ऐसे परिवारों की संख्या बढती जा रही है ठीक वैसे वैसे शहरों, नगरों में और अधिक Dry Cleaning and laundry Business के लिए अवसर विद्यमान होते जा रहे हैं |

Required Machinery and Raw Materials:

Dry Cleaning and laundry Shop खोलने के लिए कच्चे माल अर्थात Raw materials के तौर पर उद्यमी को Liquid Detergents, Solvent, Perfume एवं पैकेजिंग material इत्यादि की आवश्यकता हो सकती है | मशीनरी एवं उपकरणों की लिस्ट कुछ इस प्रकार से है |

  • इंडस्ट्रियल वाशिंग मशीन |
  • टम्बल drier |
  • प्रेस के साथ Volt Vacuum finishing table |
  • Calendaring machine
  • Steam generator

कमाई करने का तरीका:

Dry Cleaning and laundry business से यदि हम कमाई करने के तरीके में वार्तालाप करेंगे तो हम पाएंगे की उद्यमी चाहे तो आकस्मिक एवं नियमित समय के अनुरूप दोनों तरह की सेवा देकर अपनी कमाई कर सकता है | यदि हम Dry Cleaning की बात करें तो इसकी आवश्यकता ग्राहकों अर्थात लोगों को नियमित न होकर आकस्मिक होती है इस स्थिति में ग्राहक ही Dry Cleaning and laundry Shop में अपने काम को करवाने के लिए आ धमकते हैं | जहाँ तक Laundry Service अर्थात कपडे इत्यादि धोने का सवाल है हर घर में प्रतिदिन या फिर एक दो दिन छोड़कर या फिर हफ्ते में एक बार कपड़े अवश्य धुलते हैं इसलिए Dry Cleaning and laundry Service business से जुड़ा हुआ उद्यमी चाहे तो उस विशेष क्षेत्र में अपने बिज़नेस की विभिन्न मार्केटिंग तकनीक अपनाकर अच्छी से मार्केटिंग कराये | उद्यमी चाहे तो लक्ष्यित क्षेत्र में अपने बिज़नेस के नाम से विजिटिंग कार्ड बाँट सकता है जिसमे वह 2-3 किलोमीटर के रेडियस में निवासित ग्राहकों को घर से कपडें pick कराने के एवं काम हो जाने के बाद घर में ही डिलीवर कराने का मुफ्त ऑफर दे रहा हो | Dry Cleaning and laundry service business कर रहे उद्यमी को उस क्षेत्र विशेष के लोगों की कपड़े पहनने की आदतों एवं उनको धोने की क्रिया का विश्लेषण करना होगा जिससे उसे भविष्य के लक्ष्यों को निर्धारित करने में सहायता मिलेगी |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*