Flip Kart के साथ ऑनलाइन बिज़नेस कैसे शुरू करें?

Flip Kart के साथ ऑनलाइन बिज़नेस कैसे शुरू करें?

Flip kart के साथ बिज़नेस कैसे स्टार्ट किया जाता है इस विषय पर तो हम Step By Step बात करेंगे ही लेकिन हमें यह भी जान लेना जरुरी है की भारत वर्ष में Online Shopping करने वालों में शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति होगा जिसने कभी न कभी Flip kart से Shopping न की हो | कहने का तात्पर्य यह है की Online Shopping की दुनिया में यह वेबसाइट भारत में बेहद प्रचलित है | Flip kart के साथ बिज़नेस शुरू करने की प्रक्रिया भी बेहद सरल एवं स्पष्ट है इसलिए पंजीकरण से लेकर दस्तावेज अपलोड करने का काम ऑनलाइन ही हो जाता है | हालांकि Flip Kart की सर्विसेज अभी सम्पूर्ण भारतवर्ष में फैली नहीं है लेकिन धीरे धीरे कंपनी अपने व्यापार को विस्तृत करने जा रही है इसलिए रजिस्टर करते वक्त यदि किसी Area Pin Code के अंतर्गत Flip Kart की सर्विस उपलब्ध नहीं है तो Flip kart की Official website के अनुसार ऐसे विक्रेता को उस क्षेत्र में फैसिलिटी उपलब्ध होने पर अवगत कराया जायेगा | अब चूँकि यदि कोई कारोबारी Flip kart के साथ बिज़नेस करने की सोच रहा होगा तो यह स्वभाविक है की उसके मन में Flip kart Kya hai इत्यादि जानने की जिज्ञासा भी छुपी होगी तो आइये जानते हैं | Flip kart है क्या? |

flipkart-ke-sath-business-kaise-start-kare

Flip Kart Kya Hai:

वर्तमान में यदि हम Flip Kart की बात करें तो यह एक e commerce कंपनी है जिसका व्यपार भारत के लगभग 1000 शहरों में फैला हुआ है | एक आंकड़े के मुताबिक कंपनी के साथ 7.5 करोड़ से अधिक ग्राहक पंजीकृत हैं जिसके चलते Flip kart एक महीने में 80 लाख Shipments लोगों के घर तक पहुँचाता है | Flip Kart की स्थापना 2007 में सचिन बंसल एवं बिन्नी बंसल नामक दो व्यक्तियों ने की थी | शुरूआती दिनों में इन्होने अपने बिज़नेस की शुरुआत अपनी वेबसाइट के माध्यम से किताबें बेचकर की थी किन्तु वर्तमान में Flip Kart में 33000 से अधिक कर्मचारी कार्यरत हैं | और Flip Kart का Head Quarter बंगलौर में स्थित है |

Flip kart Ke Sath Business Kaise Start Kare:

Flip kart के साथ बिज़नेस करने के लिए दुकानदारों या अन्य व्यक्तियों जो किसी उत्पाद को Flip Kart के माध्यम से बेचना चाहते हैं को Seller बनना पड़ता है | और Seller बनने के लिए Flip kart को Seller से विभिन्न प्रकार के दस्तावेजों की डिटेल्स एवं Digital Copies की आवश्यकता होती है | यद्यपि अलग अलग बिज़नेस Entities के आधार पर अलग अलग दस्तावेजों की आवश्यकता हो सकती है | लेकिन कुछ प्रमुख दस्तावेजों की लिस्ट कुछ इस प्रकार से है |

  • यदि Business का प्रकार Proprietorship है तो केवल व्यक्ति का अपना निजी PAN Card की आवश्यकता होगी |
  • और यदि बिज़नेस का प्रकार कंपनी है तो कंपनी के Owner के पैन कार्ड के साथ साथ कंपनी के नाम का भी पैन कार्ड चाहिए होगा |
  • यदि कारोबारी व्यक्ति या दुकानदार Flip Kart के माध्यम से केवल किताबें बेचना चाह रहा हो तो उसे Taxpayer Identification Number की आवश्यकता नहीं होगी लेकिन हाँ किताबों के अलावा अन्य उत्पादों के लिए VAT/TIN Number अनिवार्य है |
  • बैंक के खाते का विवरण एवं अन्य सहयोगी KYC documents जैसे Address Proof, and Cancelled Cheque की आवश्यकता Flip kart के साथ बिज़नेस करने के लिए हो सकती है |

How to Become Seller with Flip Kart in Hindi:

Flip kart के साथ बिज़नेस करने अर्थात Seller बनने के लिए इच्छुक व्यक्ति/कंपनी को Flip kart की Official Website के इस पेज पर जाना होता है |

Flip Kart Seller registration form
E Mail ID एवं Phone Number भरकर आगे Instructions Follow करके Registration Process को करना होता है इसमें लगभग 15-20 मिनट तक का समय लग सकता है |

Registration Process Complete होने के बाद कारोबारी को अपने उत्पादों को Flip Kart की वेबसाइट में लिस्ट करना होता हैं |

Product List हो जाने के बाद यह Flip Kart की वेबसाइट पर ग्राहकों के लिए visible हो जाते हैं जैसे ही कोई ग्राहक उस उत्पाद को खरीदता है तो Seller के पास यह Information पहुँच जाती है | विक्रेता के पास जानकारी आ जाने के बाद विक्रेता को चाहिए की वह उत्पाद को अच्छे ढंग से पैक करके रख दे ताकि Flip Kart का Courier Partner उसे उठाकर ले जाए |

Some Essential Information on Business with Flip Kart:

Flip Kart के साथ बिज़नेस करने के इच्छुक कारोबारियों को कुछ महत्वपूर्ण बातें जरुर जाननी चाहिए जिनकी लिस्ट निम्नवत है |

  • आर्डर सफलतापूर्वक ग्राहक तक पहुँचने के हफ्ते दो हफ्ते अर्थात 7-14 दिन के अंतर्गत Flip kart द्वारा Seller का Payment Settlement किया जाता है |
  • जिन विक्रेताओं के पास केवल पैन कार्ड है और TIN नहीं है वे केवल किताबें ही Flip Kart पर बेच सकते हैं |
  • विक्रेता अपने उत्पाद की कीमत खुद तय करेगा |
  • Flip Kart के साथ बिज़नेस करके की गई कमाई Flipkart 7-14 दिनों के अन्दर सीधे विक्रेता के बैंक अकाउंट में NEFT के माध्यम से ट्रान्सफर कर देता है |
  • Flip Kart के साथ बिज़नेस करने के लिए विक्रेता को कम से कम 10 अलग अलग उत्पाद लिस्ट करने की आवश्यकता होती है |
  • Flip Kart के साथ बिज़नेस करने के लिए विक्रेता के प्रत्येक उत्पाद के बिक जाने पर विभिन्न प्रकार की फीस जैसे Commission Fee, Shipping Fee, Collection Fee, Fixed Fee एवं Service Tax लगता है इसलिए विक्रेता को चाहिए की वह किसी प्रोडक्ट की बिक्री कीमत तय करते वक्त इन सब फीस को ध्यान में रखे |
  • Seller द्वारा अपने प्रोडक्ट को लिस्ट कर लेने के बाद जब कोई ग्राहक उसे Flip Kart की वेबसाइट से खरीदता है तो Seller को इसका पता लग जाता है | अब Seller को चाहिए की वह अपनी दुकान पर सम्बंधित उत्पाद को अच्छी तरह पैकेजिंग एवं उस पर ग्राहक का पता चिपकाकर रख दे ताकि Flip Kart के Logistic Partner दुकान पर आ कर उस पैकेट को कलेक्ट करके ग्राहक तक पहुंचा सके |
  • Flip Kart के साथ रजिस्टर कर रहे कारोबारी का क्षेत्र यदि Serviceable नहीं है फिर भी वह अपने Area Code को Save करके Register process continue रख सकता है | उस विशेष क्षेत्र में Service उपलब्ध होने पर Flip Kart द्वारा उद्यमी को सूचित कर दिया जायेगा |
  • Flip Kart के पास Packaging Material provide करने वालों का एक मजबूत नेटवर्क है | इसलिए Flip Kart उद्यमियों को Packaging Material दिलाने में भी मदद करेगा |
  • Flip Kart ने विक्रेता की सुरक्षा की दृष्टि से एक Seller Protection Fund (SPF) की संरचना की है | यदि किसी विक्रेता को लगता है की उसके साथ Logistic Partner या Customer ने Fraud किया है तो वह SPF के अंतर्गत compensation के लिए Claim कर सकता है |
  • यदि विक्रेता ने किसी ग्राहक को सही Undamaged प्रोडक्ट दिया हो और बाद में ग्राहक Damaged प्रोडक्ट Return करता है तो इस स्थिति में भी साक्ष्यों के आधार पर विक्रेता SPF के अन्तरगत compensation के लिए Claim कर सकता है  |

Ebay के साथ ऑनलाइन बिज़नेस कैसे शुरू करें?

Amazon के साथ ऑनलाइन बिज़नेस कैसे शुरू करें?

इसके अलावा यदि किसी ग्राहक द्वारा वास्तविक उत्पाद किसी अन्य वस्तु से Replace कर दी जाती है तब भी Flip kart के साथ ऑनलाइन बिज़नेस करने वाला विक्रेता compensation के लिए Claim कर सकता है और यदि वस्तुएं इधर से उधर भेजने के दौरान (During Transit) Damaged हो जाती है तब भी विक्रेता compensation के लिए Claim कर सकता है |

Comments

  1. Reply

  2. By sk ubed

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*