Bina Paiso ke Shuru Kiye Jane wale Latest business

Bina Paiso ke Shuru Kiye Jane wale Latest business

अक्सर आम मनुष्य के जीवन में होता क्या है | की यदि वह कोई Business start करने की सोचता है | तो Business में लगने वाली लागत उसको वह Business करने से रोक देती है | आज हम आपको बताने वाले हैं बिना किसी लागत अर्थात without investment से कौन कौन से business start किये जा सकते हैं | हालांकि जिन business  के बारे में हम आपको बताने वाले हैं इनको start करने के लिए आपको कोई Paisa नहीं लगाना है | लेकिन इन business को करने के लिए आपको Skill की जरुरत अवश्य पड़ेगी | और हाँ एक बात और जो बिना पैसो के business करने का idea हम आपको बता रहे हैं | इनका चलन अभी अधिकतर तौर पर विदेशो में है | लेकिन India में भी इनको किया जा सकता है | इसलिए हमने अपनी इस पोस्ट में Latest शब्द का उपयोग किया है |

  1. Baby Proofing Business:

आपने ध्यान दिया होगा कभी कभी बच्चे खेलते खेलते घर में पड़ी किसी बिजली की तार से खेलने लगते हैं | तो कभी कभी सीढीयों तक भी पहुँच जाते हैं | कभी पानी से खेलने लगते हैं | कभी घर में रखी हुई कोई वस्तु तोड़ देते हैं | उपर्युक्त सारी क्रियाएं बच्चे को शारीरिक रूप से नुकसान पहुंचा सकती हैं |  पानी के सम्पर्क में आने से, ठण्ड या अधिक गर्मी के कारण,  बच्चो का स्वास्थ्य भी बिगड़ सकता है | इसलिए Baby proofing business से हमारा आशय घरों को और घर के हिस्सों को बच्चों के हिसाब से सुरक्षित बनाने से है |

Baby-proofing-Business in hindi

www.ikamai.in

Baby proofing business kaise kare?

Baby proofing business करने के लिए आपको एक टीम का निर्माण करना होता है | Carpenter और Electrician को आप अपनी टीम का हिस्सा बना सकते हैं | जो आपके ग्राहक के हिसाब से उनके घरो को उनके बच्चों के लिए सुरक्षित बनाने में सहायक होंगे | इस business की अहम् कड़ी डिजाइनिंग है | आपके ग्राहक बच्चो के अलावा बुजुर्गो के लिए भी घर को सुरक्षित बनाने का काम आपको दे सकते हैं |

Skill:

Creative Mindset is essential for this business.

Knowledge of basic construction

Kamai : Client से डील करते समय फीस तय की जाती है |

 

  1. Office ke ped paudho ka maintenance business:

जैसा की सबको विदित है | पेड़ पौधों का किसी स्थान पर अधिक होने का मतलब होता है, उस स्थान पर अन्य स्थानों के बजाय अधिक ऑक्सीजन का होना | इसलिए India में भी office और होटल में अन्दर और बाहर दोनों तरफ पेड़ पौधे लगाये जाते हैं | ताकि ऑफिस और होटल का माहौल अच्छा बना रहे | और ऑफिस और होटल में आने वाले विजिटर और काम करने वाले कर्मचारियों को भी अच्छा महसूस हो |

Plant-maintenance-business in hindi

Ped paudho ke maintenance ka kaam kya hai?

इस business में आपको होटल या ऑफिस के अन्दर बाहर उपलब्ध पौधों को बढ़िया स्थिति में रखना होता है | इसके अलावा ऑफिस और होटल में अच्छे और स्वस्थ पौधों को बनाये रखने के लिए अपने स्किल को उपयोग में लाना | और यदि कोई पौधा अस्वस्थ नज़र आये तो उसको स्वस्थ पौधे से replace करना, समय समय पर पौधों की जांच करना भी इस business का हिस्सा है |

Required Skill:

Creative Mindset

Very Good Knowledge of all type of plants

Kamai: होटल और ऑफिस से लम्बी अवधि के लिए कॉन्ट्रैक्ट करके | किसी Business event में अपनी कला का प्रदर्शन करके |

  1. Bill Auditor:

Bill Auditor से हमारा आशय उस व्यक्ति से है जो आपको आपके खर्चो अर्थात Bills को सिमित रखने में आपकी मदद करता है | Bill Auditor को कोई भी व्यक्ति सिमित समय के लिए नियुक्त कर सकता है | जैसे यदि कोई व्यक्ति शादी, मेडिकल, टूर, ऑफिस वगेरह के कामो में व्यस्त हो | और अपने खर्चो अर्थात व्यय पर ध्यान नहीं दे पा रहा हो | तो इस स्थिति में वह व्यक्ति Bill Auditor नियुक्त कर सकता है | Bill Auditor का कार्य अपने ग्राहकों को कर्ज कम करने की सलाह देना भी होता है | Bill Auditor अपने मेहनताने के रूप में या तो कोई निश्चित फीस ले सकते हैं | या फिर ग्राहक को कराये गए लाभ में से कुछ हिस्सा मांग सकते हैं |

bill-Auditor-business in Hindi

Skill:

बिल मैनेजमेंट की अच्छी जानकारी |

खरीदारी का ज्ञान |

Kamai : फीस या कुल लाभ में से 5 से 22% तक की हिस्सेदारी |

  1. House Seating Business:

House seating business को आप Hindi में घर की देखभाल करना भी कह सकते हैं | जब यह business शुरू हुआ था | तब इसको केवल जेब खर्चा निकालने के माध्यम के रूप में जाना जाता था | जबकि आज के युग में यह business विदेशो में एक सफल idea बन चूका है |

House Seater ke Kaam

House seater आपके घर की देखभाल घर के सदस्य की तरह उस परिस्थति में करता है | जब आपको किसी कारणवश सपरिवार घर से दूर जाना पड़ रहा हो | आपके घर में न होने पर house seater आपके पालतू जानवरों, और पौधों का भी ध्यान रखता है | ऐसे घर के बुजुर्ग जिन्हें आप उनके स्वास्थ्य के चलते घर से बाहर नहीं ले जा सकते, उनका ध्यान भी नियुक्त house seater द्वारा रखा जाता है |

इस business से जुड़ा व्यक्ति अपने ग्राहक से घंटे या प्रति दिन के हिसाब से फीस लेता है | और यदि घर में बुजुर्गो की देखभाल भी करनी होती है, तो इस काम को करने के लिए house seater अपने ग्राहक को कुछ extra charge कर सकता है |

Required Skill:

घर का जायजा लेने की क्षमता |

देखभाल करने की अद्भुत कला |

घरेलु कार्यो की अच्छी परख |

Kamai : रूपये 300 से 600 प्रति घंटे |

  1. Personal Shopper:

Personal Shopper से Hindi में हमारा आशय उस व्यक्ति से है | जो आपको आपकी किसी खरीदारी में सहायता प्रदान करता है | विदेशो में Personal Shopper की अधिकतर जरुरत तब पड़ती है | जब किसी को Second hand car या Fashionable कपडे खरीदने हों |

Personal-Shopper-business in hindi

Kaise Hogi kamai

इस business से जुड़े व्यक्तियों की Kamai का पहला Source वह स्टोर होता है | जहाँ से Personal Shopper अपने Client को खरीदारी कराएगा | स्टोर इनको कुल बिक्री पर १५% तक का हिस्सा देता है |

दूसरा Kamai का Source यह है, की जिस Client द्वारा खरीदारी की जाती है, उनसे Personal Shopper फीस लेते हैं | यह फीस घंटे के हिसाब से हो सकती है |

Skill required for become Personal Shopper in Hindi.

किसी असंगठित क्षेत्र जैसे पुरानी गाडियों और कपड़ो का बेहतर ज्ञान |

कोई भी वस्तु सामान की अच्छी परख |

स्टोर और ग्राहक के बीच सामजस्य पैदा करने का महारत |

 

The following two tabs change content below.
मित्रवर, मेरा नाम महेंद्र रावत है | मेरा मानना है की ग्रामीण क्षेत्रो में निवासित जनता में अभी भी जानकारी का अभाव है | इसलिए मेरे इस ब्लॉग का उद्देश्य लघु उद्योग, छोटे मोटे कांम धंधे, सरकारी योजनाओं, और अन्य कमाई के स्रोतों के बारे में, लोगो को अवगत कराने से है | ताकि कोई भी युवा अपने घर से रोजगार के लिए बाहर कदम रखने से पहले, एक बार अपने गृह क्षेत्र में संभावनाए अवश्य तलाशे |

Comments

  1. By Nagendra singhn singh

    Reply

  2. By Amit Sharma

    Reply

  3. By SHAILESH Vishwakarma

    Reply

  4. By deepesh

    Reply

  5. Reply

    • By Samantsinh K. Parmar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


*