Money Investment Tips in Hindi.

Money Investment Tips in Hindi.

Money Investment tips पर हिन्दी में बात करना इसलिए जरुरी हो जाता है क्योंकि हम अपने इस ब्लॉग के माध्यम से कमाई टिप्स, पैसे बचाने के टिप्स इत्यादि पर पहले भी बात कर चुके हैं, इसलिए आज इसी बात के मद्देनज़र हम जानने की कोशिश करेंगे की मनुष्य द्वारा पैसा कमा भी दिया जाता है और उस कमाई से कुछ हिस्से की बचत भी कर ली जाती है लेकिन अब सवाल यह उठता है की व्यक्ति उस बचाए गए पैसे को निवेश अर्थात इन्वेस्ट कहाँ करे की उसे आने वाले समय में थोड़ा अधिक लाभ प्राप्त हो | यद्यपि बहुत सारे निवेश जैसे शेयर मार्किट में निवेश करना, चिट फण्ड में पैसे लगाना इत्यादि जोखिम भरे हो सकते हैं जहाँ शेयर मार्किट में निवेश करने से उस शेयर विशेष की कीमतों में उतार का जोखिम रहता है वहीँ चिट फण्ड इत्यादि कंपनियों के बंद होने का | इसलिए यहाँ पर Money Investment tips नामक इस लेख के जरिये हमारा मकसद कुछ ऐसे Investment Ideas देने का होगा जिनमें जोखिम तो होते हैं लेकिन कम होते हैं और हम यहाँ पर यह भी स्पष्ट कर देना चाहते हैं की Money Investment Ideas किसी भी व्यक्ति की कमाई के आधार पर वित्त सलाहकार द्वारा उस व्यक्ति को दिए जाते हैं लेकिन यहाँ पर हम औसतन भारतवासी को ध्यान में रखकर इस लेख को आगे बढ़ाते हुए Money Investment tips के बारे में जानने की कोशिश करेंगे |

Money-Investment-tips-in-hindi

  1. सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम:

वे लोग जो 60 वर्ष से ऊपर की आयु के हैं वे सीनियर सिटीजन कहलाते हैं | इसलिए यदि आपकी उम्र 60 से अधिक है अर्थात आप सीनियर सिटीजन की श्रेणी में आते हैं तो आप इस सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम के अंतर्गत इन्वेस्ट कर सकते हैं इसमें दिया जाने वाले ब्याज की दर 8.4% है जो अन्य फिक्स डिपाजिट पर मिलने वाले ब्याज से अधिक है |

फायदे:

  • उच्च ब्याज दर
  • धारा 80C के अंतर्गत कर बचत |
  • ब्याज का भुगतान त्रैमासिक किया जाता है जो लिक्विडिटी प्रदान करता है |
  • पांच साल की मैच्युरिटी पूरी होने से पहले भी खाता बंद कर सकते हैं |

नुकसान :

  • 15 लाख से अधिक निवेश नहीं कर सकते |
  • साल में 10000 से ऊपर के ब्याज पर टैक्स लागू होगा |
  • खाता पहले बंद करने पर एक साल में कुल जमा का 5% और दुसरे साल में कुल जमा का 1% काटा जाना |

सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम की और अधिक जानकारी के लिए पढ़ें |

  1. नेशनल पेंशन सिस्टम:

नेशनल पेंशन सिस्टम को सरकार ने पहले से बेहतर कर लिया है इसलिए अब यह भी Best Money Investment tips में सम्मिलित हो गया है | सामान्यतया 18 से 60 वर्ष के व्यक्ति NPS को ज्वाइन कर सकते हैं | इसमें एक निश्चित इन्वेस्टमेंट जैसे 50000 तक पर 80CCD(1B) के अंतर्गत एवं 1.5 लाख तक पर धारा 80 C के अंतर्गत कर लाभ दिया जायेगा | चूँकि इस योजना के अंतर्गत निवेश पेंशन फण्ड नियामक और विकास प्राधिकरण द्वारा विनियोजित किया जाता है इसलिए National Pension System में निवेश करना बिलकुल सुरक्षित है |

नेशनल पेंशन सिस्टम की अधिक जानकारी के लिए यह पढ़ें |

  1. पब्लिक प्रोविडेंट फण्ड निवेश करने के लिए अच्छा विकल्प है |

वह व्यक्ति जो नौकरीपेशा हो या छोटा मोटा कोई बिज़नेस कर रहा हो ऐसे व्यक्ति को चाहिए की वह हमारे इस Money Investment tips को अपनाकर Public Provident Fund मे इन्वेस्टमेंट करे | इन्वेस्ट करने से पहले निवेशक के दिमाग में जो पहला प्रशन आता है वह यही है की जहाँ में इन्वेस्ट करने वाला हूँ वहां मेरा पैसा सुरक्षित तो हैं चूँकि PPF भी भारत सरकार द्वारा चालित है इसलिए सुरक्षा की दृष्टि से यह 99.99% सुरक्षित है | इसके अलावा इसमें इन्वेस्टमेंट के विभिन्न फायदे भी हैं जिनका वर्णन कुछ इस प्रकार से है |

  • इसमें व्यक्ति कम से कम 500 और अधिक से अधिक एक लाख निवेश कर सकता है |
  • मूलधन एवं ब्याज दोनों कर से मुक्त होंगे |
  • इसमें दिए जाने वाले ब्याज की दर 8% है |

पब्लिक प्रोविडेंट फण्ड की और अधिक जानकारी के लिए पढ़ें |

  1. Money Market Fund:

मनी मार्किट फण्ड लघु अवधि के लिए इन्वेस्टमेंट करने के विकल्प के रूप में सही साबित होते हैं | चूँकि ऐसे फण्ड का लिक्विडिटी प्राथमिक उद्देश होता है इसलिए इन्हें लिक्विड फण्ड भी कहते हैं | इनमे बचत खाते से थोडा अधिक ब्याज मिलता है इनमे 5% से 9% तक  रिटर्न मिलने की संभावना होती है हालांकि यह सब समय एवं जोखिम की श्रेणी पर निर्भर करता है | लिक्विड फंड काफी सुरक्षित निवेश हैं क्योंकि ये सरकार और कंपनियों की निश्चित आय प्रतिभूतियों में निवेश करते हैं |

  1. बैंक में फिक्स डिपाजिट करें

वह लोग जो 6 महीने से लेकर 60 माह तक इन्वेस्टमेंट करना चाहते हैं उन लोगों के लिए Money Investment tips यह हो सकती है की वे अपना पैसा बैंक में फिक्स डिपाजिट करा दें | फिक्स डिपाजिट नामक यह बैंकिंग का उत्पाद एक ऐसा उत्पाद है जिसे शायद हर कोई जानता है इसलिए इसे समझने के लिए ज्यादा सम्जहने की आवश्यकता नहीं होती | हालांकि नियम जैसे ब्याज के नियम इत्यादि बैंक बैंक के आधार पर अंतरित हो सकते हैं | अक्सर यह देखा गया है की छोटे बैंक ज्यादा ब्याज दर ऑफर कर रहे होते हैं | इसलिए इन्वेस्ट कर रहे व्यक्ति को खास तौर पर सार्वजनिक क्षेत्र के छोटे बैंकों की ओर फिक्स डिपाजिट के लिए रुख करना चाहिए |

  1. अटल पेंशन योजना के तहत इन्वेस्ट करें :

अटल पेंशन योजना वर्तमान भारत सरकार द्वारा शुरू की गई एक इन्वेस्टमेंट योजना है जिसमें 18-40 वर्ष का कोई भी भारतीय नागरिक इन्वेस्ट कर सकता है | इस योजना के तहत भारत सरकार द्वारा व्यक्ति के हिस्से का 50% या अधिक से अधिक 1000 रूपये पांच सालों तक जमा किया जायेगा | लेकिन सरकार द्वारा जमा किया जाने वाला यह हिस्सा सिर्फ कर न देने वाले व्यक्तियों के लिए होगा | यदि कोई व्यक्ति 5000 की पेंशन प्रति महीने के लिए सोचता है तो उसे 20 साल की उम्र से हर महीने 250 रूपये का योगदान इस योजना के अंतर्गत करना होगा | सुरक्षा की दृष्टि से यह बेहद सुरक्षित इन्वेस्टमेंट है लेकिन 60 साल की उम्र पूरी होने से पहले कोई भी पैसे को निकाल नहीं सकता है |

अटल पेंशन योजना की और अधिक जानकारी के लिए यह पढ़ें |

  1. सुकन्या समृधि योजना में इन्वेस्ट करें:

भले ही हम टेलीविज़न, अख़बारों, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में कितनी भी बहस देख लें की बेटियां भी बेटों की तरह हर क्षेत्र में अपने माँ, बाप, इलाके, क्षेत्र, राज्य, देश का नाम रोशन कर सकती है और वह हर काम कर सकती हैं जो एक बेटा कर सकता है लेकिन सच्चाई आज भी यह है की जिस घर में आज भी लड़की पैदा होती है उस बाप को लड़की का नाम सुनते ही उसकी शादी करने की चिंता सताने लगती है | ऐसे लोग जिन्हें अपनी बेटी के भविष्य की चिंता होने लगती है वे चाहें तो सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत इन्वेस्टमेंट कर सकते हैं | कोई भी व्यक्ति इसमें प्रति महीने 100 रूपये से इन्वेस्टमेंट कर सकता है और इसमें दी जाने वाली ब्याज की दर उच्च राखी गई है |
सुकन्या समृधि योजना की और अधिक जानकारी के लिए पढ़ें |

  1. ऐसे म्यूच्यूअल फण्ड जिनमें कर की बचत हो |

इक्विटी लिंक्ड सेविंग स्कीम म्यूच्यूअल फण्ड के अंतर्गत ही आते हैं इनका मुख्य फायदा यह होता है की इनमे कमाया हुआ पैसा कर से मुक्त होता है | हालांकि यह देखा गया है की अधिकतर भारतवासियों द्वारा इस Money Investment tips को नहीं अपनाया जाता है | भारत सरकार के पास आम आदमी को इक्विटी से जोड़ने के लिए इक्विटी लिंक्ड सेविंग स्कीम हैं | यह Money Investment ideas इतना प्रचलित न होने के बावजूद भी काफी मात्रा में रिटर्न अर्जित करने का सामर्थ्य रखता है | इक्विटी लिंक्ड सेविंग स्कीम के अंतर्गत पिछले पांच सालों में औसतन 18% का रिटर्न प्राप्त हुआ है | अन्य धारा 80 C निवेश योजनाओं के मुकाबले इस योजना में लॉक इन पीरियड भी 3 वर्ष है जो की कम है | Systematic Investment Plan (SIP) में निवेश करके चक्रवृद्धि ब्याज का लाभ लिया जा सकता है |

  1. डाकघर द्वारा चालित NSC में निवेश:

भारतीय डाक द्वारा चालित NSC एक बेहद ही प्रसिद्ध एवं प्रचलित डाकघर योजना है इस योजना के अंतर्गत भी निवेश कर से मुक्त होता है | इसलिए यह डाकघर बचत योजना सभी वर्गों जैसे नौकरीपेशा, बिजनेसमैन सबके बीच बेहद प्रचलित है | कहने का आशय यह है की इस Money Investment tips को बहुतायत तौर पर लोगों द्वारा अपनाया जाता रहा है |

नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट की पूरी जानकारी के लिए यह पढ़ें |   

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*