Used Car Inspection Business

Used Car Inspection Business

Used Car Inspection Business भारतवर्ष में एक नया बिज़नेस है लेकिन इस नए बिज़नेस को भी बड़े शहरों में कुछ उद्यमियों द्वारा सफलतापूर्वक चलाया जा रहा है | समय के मुताबिक मनुष्य प्राणी की जरूरतें बदलती भी रहती हैं और इनमे बढ़ोत्तरी भी होती रहती है जैसे जैसे लोगों की कमाई में वृद्धि हुई तो लोगों का ध्यान घर, गाड़ी इत्यादि खरीदने की ओर अग्रसित होता है | इसमें कुछ लोग अपने बजट के अनुरूप नई कार खरीदना पसंद करते हैं तो कुछ लोग बजट के चलते या अपनी आवश्यकता के अनुरूप पुरानी कार खरीदने की ख्वाहिश रखते हैं | लेकिन चूँकि जब व्यक्ति नई कार खरीद रहा होता है तो उसके मन में कार की परफॉरमेंस सम्बन्धी सवाल कम ही होते हैं क्योंकि वह नई गाड़ी को कंपनी के किसी शोरूम से सड़क पर उतारकर घर तक लाता है | हाँ यदि इस बीच या एक निश्चित अवधि के बीच कार में कुछ कमी दिखती भी है तो कंपनी इसका जिम्मा उठाती है लेकिन बात जब Used Car Purchase करने की आती है तो खरीदने की ख्वाहिश रखने वाले व्यक्ति के दिमाग में कार सम्बन्धी सैकड़ों सवाल हिचकोले ले रहे होते हैं जैसे उस Used car का कोई हिस्सा ख़राब या टूटा हुआ तो नहीं होगा यद्यपि Exterior part में यदि कोई कमी है तो कार खरीद रहे व्यक्ति को नज़र आ जाती है लेकिन Interior एवं Engine सम्बन्धी कमी को पकड़ना एक सामान्य आदमी के लिए मुश्किल बात है | इसलिए Used car खरीदने वाले व्यक्ति को ऐसे समय में एक ऐसे व्यक्ति की आवश्यकता होती है जिसे कारों की जानकारी हो और वह उस कार का औचक निरीक्षण कर सके जिसे वह खरीदने वाला है | इसके अलावा Used car बेचने वाले व्यक्ति को भी अपनी कार जल्दी से बेचने के लिए किसी ऐसी कंपनी की आवश्यकता हो सकती है जो Used car Inspection Report तैयार करके उसे दे सके ताकि वह लेने वाले ग्राहक को वह रिपोर्ट दिखाकर अपनी कार को जल्दी से बेच सके |

used Car-Inspection-business

Used Car Inspection Business क्या है?

Used car का मतलब उपयोग में लायी गई कार या साधारण शब्दों में पुरानी कार होता है वही Inspection से आशय निरीक्षण से है | यानिकी पुरानी कारों का बाहरी एवं अन्दुरुनी निरीक्षण करना Used car Inspection कहलाता है लेकिन सवाल यह आता है की ऐसा कोई व्यक्ति क्यों करेगा और ऐसा करने से उसे क्या फायदा होगा? हालांकि इस सवाल का उचित जवाब देने की कोशिश हमने उपयुक्त वाक्य में की है लेकिन फिर भी हम बता देते हैं की वह व्यक्ति जिसे कारों की बिलकुल भी जानकारी नहीं है पुरानी कार लेने की सोच रहा है लेकिन साथ में उसे यह डर भी सता रहा है की कहीं कार बेचने वाला उसे इस बात पर बेवकूफ न बना दे की कार में किसी प्रकार की कोई कमी नहीं है बस अपने इसी डर के चलते वह किसी ऐसे व्यक्ति की तलाश में रहता है जो उसके लिए जो कार वह खरीदना चाहता है उसका निरीक्षण करे और उसे बताये की कार ठीक है या कोई कमी है | ऐसी स्थिति में उसे जो व्यक्ति या कंपनी मिलेगी हम कह सकते हैं की वह अमुक व्यक्ति या कंपनी Used car Inspection Business में संलिप्त है | अर्थात जब किसी उद्यमी द्वारा अपनी कमाई करने के लिए ग्राहकों को पुरानी कार निरीक्षण करने की सेवा मुहैया करायी जाती है तो हम उसके द्वारा किये जाने वाले व्यवसाय को Used car Inspection Business कह सकते हैं |

How to start used car Inspection Business in India in Hindi:

Used car Inspection Business Start करना बेहद आसान है लेकिन इसके लिए यह अति आवश्यक है की व्यक्ति को कारों के बाहरी हिस्सों से लेकर अंदरूनी हिस्सों, इंजन इत्यादि की अच्छी जानकारी होनी चाहिए | वैसे देखा जाय तो इस बिज़नेस को उद्यमी दो तरीकों से स्टार्ट कर सकता है |

पहला तरीका: तरीका जो काफी सुरक्षित तरीका है वह यह है की पहले व्यक्ति व्यक्तिगत रूप से जरूरतमंद ग्राहकों को इस तरह की सर्विस मुहैया कराये वर्तमान में कुछ Used car Inspection कंपनिया एक कार को निरीक्षण करने के लगभग 750 रूपये तक लेती है | शुरूआती दिनों में उद्यमी को व्यक्तिगत तौर पर प्रतिदिन यदि दो कार भी निरीक्षण करने को मिलती हैं तो उद्यमी का मेहनताना आराम से निकल सकता है और इसी आधार पर उद्यमी की 25-30 हज़ार की कमाई प्रतिमाह हो सकती है | और धीरे धीरे जब उसके पास बुकिंग अधिक आने लगे तो वह एक दो लोगों जिनको कारों की अच्छी जानकारी हो को अपनी टीम में शामिल करके उन्हें यह काम दे सकता है और अधिक काम बढ़ने पर टैक्स रजिस्ट्रेशन इत्यादि करके कंपनी भी रजिस्टर कराकर चला सकता है | यह तरीका बिलकुल जोखिमभरा तरीका नहीं है इसलिए उद्यमी चाहे तो किसी अन्य काम के साथ भी इसे स्टार्ट कर सकता है बशर्ते उसे कारों की अच्छी जानकारी होनी चाहिए |

दूसरा तरीका:

दूसरा तरीका एकदम व्यवसायिक तरीका है इसमें व्यक्ति को पूरे बिज़नेस प्लान  के साथ इस Used car Inspection Business में प्रवेश करना होता है | इसमें उद्यमी को विभिन्न प्रकार के पंजीकरण जैसे टैक्स रजिस्ट्रेशन, कंपनी रजिस्ट्रेशन, TAN नंबर इत्यादि प्रक्रियाये पूर्ण करके आगे बढ़ना होता है | इस तरह से यह बिज़नेस करने के लिए यदि उद्यमी को कारों की थोड़ी बहुत जानकारी भी है तो चलेगा क्योंकि इस व्यापारिक प्रक्रिया में निरीक्षण का काम उद्यमी द्वारा Hire किये गए कर्मचारी करेंगे न की वह खुद | चूँकि यह दूसरा तरीका Used car Inspection company की स्थापना से जुड़ा हुआ है इसलिए इसमें निवेश की भी आवश्यकता होगी और जोखिम भी होगा लेकिन यदि बिज़नेस चल गया तो कमाई के विकल्प भी व्यक्तिगत तौर पर किये जाने वाले बिज़नेस से ज्यादा ही होंगे |

Comments

  1. By Sunil vasuniya

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*