Wire Nail Manufacturing Business

Wire Nail Manufacturing Business

Wire Nail Manufacturing business से हमारा आशय कील बनाने के व्यवसाय से है |  सामान्य तौर पर विभिन्न घरेलू एवं व्यवसायिक कार्यों को अंजाम देने में उपयोग में लायी जाने वाली कीलों को Wire Nail कहा जाता है | यद्यपि कीलों का उपयोग बिल्डिंग एवं कंस्ट्रक्शन करते वक्त बहुतायत तौर पर किया जाता है इसके अलावा बढ़ईगीरी के व्यापार में भी कीलों का अहम् योगदान है | देश के किसी भी हार्डवेयर स्टोर में wire nail आसानी से उपलब्ध हैं | इसलिए कीलों को हम एक ऐसे हार्डवेयर की संज्ञा दे सकते हैं जिसका बिल्डिंग बनाने और पैकेजिंग बॉक्सेस इत्यादि बनाने में उपयोग किया जाता है | कीलों का उपयोग मौसम या क्षेत्र पर आधारित बिलकुल नहीं है बल्कि सच तो यह है की कीलों का उपयोग समाज के हर वर्ग, हर क्षेत्र एवं हर मौसम में किया जाता है |

Wire-nail-manufacturing-business

Wire Nail Manufacturing Business Kya Hai:

जैसा की हम उपर्युक्त वाक्य में बता चुके हैं Wire Nail Manufacturing business से हमारा अभिप्राय कील बनाने का काम करके इन्हें बाज़ार में बेचकर अपनी कमाई करने से है | एक कील को यदि हम परिभाषित करेंगे तो हम कह सकते हैं की यह एक पिन आकृति की सिरे से नुकीली वस्तु होती है जिसे हथौड़ी की सहायता से दीवार और लकड़ी पर या किसी अन्य वस्तु पर आसानी से फिट किया जा सकता है, यह किसी एक भाग को दुसरे भाग पर जोड़ने का काम करती है या फिर कोई वस्तु जिसे हम चाहते हैं की वह अपने आप स्थानातरित न हो को टिकाने का भी काम करती है | हालांकि अलग अलग कार्यों को अंजाम तक पहुँचाने के लिए अलग अलग प्रकार की कीलों का उपयोग किया जाता है | लेकिन सामान्य तौर पर उपयोग में लायी जाने वाली कीलों को wire nail कहा जाता है | और विभिन्न आकार की कीलों का निर्माण करके उन्हें मार्किट में बेचकर कमाई करनी की प्रक्रिया को Wire Nail Manufacturing business कहा जाता है |

Market Potential in Nail Manufacturing:

कीलों का उपयोग अधिकांशतः नई बिल्डिंग का निर्माण एवं इनके पुनरुत्थान करने में किया जाता है और चूँकि इंडिया में जनसँख्या बढ़ने के कारण हर वर्ष लाखों लोगों को रहने एवं व्यवसायिक कार्यों के लिए बिल्डिंग की आवश्यकता होती है यही कारण है की भारत में प्रत्येक वर्ष लाखों की संख्या में नई बिल्डिंग का निर्माण होता है | Construction Sector के बढ़ते हुए क्षेत्र को देखते हुए आसार लगाये जा रहे हैं की भविष्य में Nail अर्थात कीलों की बहुत बड़े पैमाने पर आवश्यकता हो सकती है | एक आंकड़े के मुताबिक इंडिया में जहाँ सन 2008 में कीलों की मांग 19881 tons projected थी | वहीँ 2017 में इस demand को लगभग दुगुना अर्थात 31940 tons आँका गया | जनाधिक्य और लोगों की आवश्यकता attach होने के कारण wire nail market में हमेशा Demand में बनी रहती हैं | और मार्केटिंग की दृष्टि से wire nail manufacturing business करने का जो सबसे बड़ा फायदा है वह यह है की अंतिम उपयोगकर्ता जिसके द्वारा कीलों का उपयोग किया जाता है इनकी Branding पर कोई खास ध्यान नहीं देते हैं अर्थात जिस भी कंपनी की कील स्थानीय बाज़ार में उपलब्ध होती है उन्हें ही खरीद लेते हैं | यही कारण है की कोई भी नया उद्यमी इस बिज़नेस को स्टार्ट करके स्थानीय बाज़ार में उपलब्ध Hardware Store में अपना उत्पाद बेचकर कमाई कर सकता है |

Required Machinery and raw Material to Manufacturing wire Nail:

Wire Nail manufacturing business में विभिन्न प्रकार की मशीनरी एवं उपकरण प्रयुक्त किये जाते हैं | इनमे से मुख्य मशीनरी एवं उपकरणों की लिस्ट निम्नवत है |

  • स्वचालित कील बनाने की मशीन (Automatic Wire Nail Making Machine)
  • कीलों को पोलिश करने का ड्रम (Nail Polishing barrel/drum )
  • विभिन्न आकार की डाई (Various size dies)
  • ग्राइंडर एवं कटर (Grinder and Cutter)
  • Wire Stand
  • हाथ से चालित अन्य उपकरण |

प्रयुक्त होने वाले Raw materials की लिस्ट कुछ इस प्रकार से है |

  • 8 से 20 gauge की cold drawn bright wire
  • पोलिश करने का material
  • पैकेजिंग material में पुरानी थैलियों को उपयोग में लाया जा सकता है |

Manufacturing process of nails:

कील बनाने अर्थात wire nail manufacturing business में Cold drawn bright तार का उपयोग किया जाता है इस प्रकार की तार विभिन्न Gauge में (8 s.w.g से 30 s.w.g) बाज़ार में उपलब्ध है | इन तारों को बाज़ार में अक्सर गोल बंडल में देखा जा सकता है, इसमें तार के एक सिरे को tool stand पर fix किया जाता है और दूसरे सिरे को तार को सीधा करने के उद्देश्य से तार सीधे करने वाले रोलर में रखा जाता है | यह प्रक्रिया करने के बाद तार यानिकी wire स्वतः ही Nail Making Machine की ओर अग्रसित होती है | तार को आगे की ओर खींचने के लिए रोलर के बाद एक ग्रिप लगी होती है, और यह ग्रिप केवल उतनी ही तार आगे की ओर खींचती है जितनी आवश्यकता होती है | कील के सिरे को Mould rem में रखा जाता है और इसे Crank Shot के माध्यम से आगे और पीछे की ओर धकेला जाता है | कील के अगले वाले सिरे को पूरी मजबूती के साथ Head Making Mould की मदद से पंच किया जाता है | उसके बाद मोल्ड द्वारा तार को अच्छी तरह से दबा लिया जाता है जिससे तार से कीलें अलग हो जाती हैं | इसके बावजूद भी wire nail का कुछ भाग तार के साथ जुड़ा रहता है इसको अलग करने के लिए automatic trigger की मदद ली जा सकती है | जब कीलें मशीन से बाहर आती हैं तो इनमे लोहे के बहुत छोटे छोटे टुकड़े एवं ग्रीज़ लगा हुआ होता है यह सब दूर करने के लिए इन्हें Polishing drum में रखा जाता है | Wire nail manufacturing process में Polishing Process पूर्ण होने के बाद कीलों को पैकेजिंग करके स्थानीय हार्डवेयर स्टोरों में बेचकर अपनी कमाई की जा सकती है |

 

Comments

  1. By vaibhav panhale

    Reply

  2. By Suresh Kumar Verma

    Reply

  3. By रोहित भदौरिया

    Reply

  4. By Pawan kumar

    Reply

  5. By SAJJAN SINGH

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*