2023 में भारत में 11 सबसे अधिक सैलरी वाली नौकरी । 11 Highest Paying Jobs in India.

Highest Paying jobs in India : क्या आप भी भारत में सबसे अधिक सैलरी वाली जॉब ढूंढ रहे हैं, जहाँ तक जॉब या फिर नौकरी की बात है, इसकी चिंता हर विद्यार्थी को अपनी पढाई पूरी होने के बाद होने लगती है। लेकिन जहाँ तक स्कूली शिक्षा की बात है, आम तौर पर भारत में दसवीं तक तो बच्चा निश्चिन्त होकर पढाई करता है।

इसके बाद उसे अपने आगे के कैरियर की, योजना के मुताबिक ही सेक्शन जैसे आर्ट, साइंस, कॉमर्स या फिर किसी व्यवसायिक कोर्स का, चयन करना होता है। और अक्सर देखा गया है, की आम तौर पर माता पिता अपने बच्चों के लिए, ऐसे कैरियर का चुनाव करना चाहते हैं, जो उनकी जिन्दगी में सुख समृद्धि लेके आये।

और इसमें कोई दो राय नहीं की जब किसी कैरियर के अच्छे होने के बारे में बात होती है, तो उस कैरियर में कार्यरत होने के बाद, मिलने वाले वेतन के आधार पर ही होती है। अर्थात यह एक वास्तविक सत्य है की, इस दुनिया में पैसे से बढ़कर मोटिवेशन देने वाला शायद ही कोई उपकरण हो। इसका प्रत्यक्ष उदाहरण आज भी हम अपने जीवन में, आये दिन देखते रहते हैं। जब बहुत सारे विद्यार्थी अपने कैरियर का चुनाव इसी आधार पर कर लेते हैं।

क्योंकि उस विशेष कैरियर में अन्य की तुलना में अधिक सैलरी मिलती है।आज का हमारा यह लेख लिखने का भी, वास्तविक मकसद यही है की, जो विद्यार्थी या लोग, सबसे अधिक सैलरी वाली नौकरी सर्च कर रहे होते हैं। उन्हें इस लेख के माध्यम से, इसके बारे में जानकारी प्राप्त हो सके। यद्यपि यह भी सत्य है की, Highest Paying Jobs की लिस्ट में समय एवं स्थिति के आधार पर परिवर्तन होते रहते हैं।

उदाहरणार्थ: जब दुनिया में इन्टरनेट का, इतना प्रचार प्रसार नहीं हुआ था। तो उस समय इन्टरनेट से जुड़ी एक भी जॉब उस लिस्ट में नहीं होगी। लेकिन समय एवं स्थिति में परिवर्तन के चलते, हो सकता है की आज इन्टरनेट से जुड़ी हुई जॉब भी, Highest Paying Jobs यानिकी अधिक सैलरी वाली लिस्ट में शामिल हो। यह नियम प्रत्येक सेक्टर पर लागू होता है।

Highest Paying jobs in India
Highest Paying Jobs in India

अधिक सैलरी वाली नौकरी के लिए क्या चाहिए (Requirements to get highest paying jobs)

किसी भी औद्योगिक क्षेत्र में सैलरी या वेतन कर्मचारी की जानकारी, अनुभव, प्रशिक्षण एवं शैक्षणिक योग्यता पर निर्भर करता है। अर्थात जिसकी शैक्षणिक योग्यता अधिक हो, उसे जानकारी अधिक हो, उसे अनुभव अधिक हो, प्रशिक्षण भी उसने प्राप्त किया हो, तो  वह उतना अधिक सैलरी पाने के लिए पात्र माना जाता है।

लेकिन कई औद्योगिक क्षेत्र ऐसे हैं, जिनमें एक स्तर के बाद सैलरी का बढ़ना मुश्किल हो जाता है। और इनमें शुरूआती सैलरी भी कम होती है। यदि आप किसी नौकरी पाने के इच्छुक व्यक्ति से बेस्ट जॉब यानिकी अच्छी नौकरी के बारे में पूछें, तो शायद उसका अच्छी जॉब से अभिप्राय सबसे अधिक सैलरी वाली नौकरी से ही होगा।

लेकिन अच्छी जॉब का मतलब केवल अच्छी सैलरी मिलना ही नहीं होता, बल्कि अन्य भी कई कारक होते हैं। कैरियर में ग्रोथ हो, जॉब सिक्यूरिटी हो, और व्यक्ति की रेपुटेशन इत्यादि को भी, अच्छी नौकरी का आकलन करते समय आँका जाता है। लेकिन इन सबमें अच्छी सैलरी ही सर्वोपरी है। इसमें कोई दो राय नहीं है। यही कारण है की लोग अक्सर, इन्टरनेट पर Highest Paying Jobs In India in Hindi जैसे कीवर्ड के माध्यम से सर्च कर रहे होते हैं ।

और यह भी सत्य है की, हर औद्योगिक क्षेत्र में अलग अलग सैलरी निर्धारित होती है। इसलिए किसी भी अलग अलग सेक्टर से, जुड़े व्यक्तियों की सैलरी की तुलना करना सही नहीं होगा। यद्यपि यहाँ पर हम कुछ ऐसे प्रोफेशन के बारे में बात कर रहे हैं, जिनमें अच्छी खासी सैलरी ऑफर होती है।

1. डॉक्टर एवं सर्जन (Doctor and Surgeon)

Sabse Adhik Salary Wali Naukri : चिकित्सा प्रोफेशनल, जैसे डॉक्टर एवं सर्जन को हॉस्पिटल, एवं अन्य स्वास्थ्य संस्थानों द्वारा अच्छी सैलरी ऑफर की जाती है। और यही कारण है की, डॉक्टर एवं सर्जन प्रोफेशनल, आज भी भारत में अच्छी खासी सैलरी प्राप्त करते हैं। चूँकि जनसँख्या की दृष्टी से भारत एक विशालकाय देश है। इसलिए यहाँ पर लोग, तरह तरह की स्वास्थ्य समस्याओं से जूझते रहते हैं।

डॉक्टर एवं सर्जन का पेशा भारत में, इसलिए भी सबसे अधिक सैलरी वाली नौकरी में आता है, क्योंकि यहाँ जनसँख्या के आधार पर डॉक्टरों का अनुपात बिलकुल ही कम है। इस डोमेन के भीतर जो विशेषज्ञता वाले क्षेत्र हैं, उनकी भी मांग भारत में बेहद अधिक है। इसके अलावा सर्जन इत्यादि बनने के लिए और भी अधिक कुशल होने की आवश्यकता होती है।

और यही कारण है की उन्हें और भी अधिक सैलरी दी जाती है। वर्तमान में चिकित्सा क्षेत्र से जुड़े प्रोफेशनल ग्रामीण क्षेत्र में, काम करने के लिए जाना पसंद नहीं करते हैं। जिसके चलते ग्रामीण भारत में स्वास्थ्य सुविधाएँ बिलकुल ही नगण्य हैं।

  • शुरूआती सैलरी : 10-12 लाख प्रति वर्ष
  • मध्यम सैलरी : 24-30 लाख प्रति वर्ष

आइये जानते हैं डॉक्टर कैसे बनें?   

2. डाटा साइंटिस्ट (Data Scientist)

वर्तमान में कम्पनियां बड़े डाटा में काफी निवेश कर रही हैं। यही कारण है की आज डाटा साइंटिस्ट नामक यह पेशा, सबसे अधिक सैलरी वाली नौकरी की लिस्ट में शामिल है। उपभोक्ताओं की शिकायतों का समाधान करने, और उत्पाद या सेवा की परफॉरमेंस बढाने के लिए, बड़ा डाटा बेहद महत्वपूर्ण है। यही कारण है की, कम्पनियां डेटा आधारित व्यवसायिक निर्णय लेना चाहती हैं। और उन्हें इस काम में, डाटा साइंटिस्ट की मदद लेनी पड़ती है। इसलिए कम्पनियां बड़े पैमाने पर, डाटा साइंटिस्ट को नियुक्त कर रही है।

इन्ही सब कारणों के चलते, आने वाले वर्षों में भी बड़ी बड़ी कम्पनियों में, डाटा साइंटिस्ट को काम पर रखने की संभावना है। और वह भी एनालिटिक्स उद्योग से जुड़े अन्य पेशेवरों की तुलना में, इन्हें 36-40% अधिक सैलरी मिलने की भी संभावना है। डाटा साइंस में विभिन्न डिग्री एवं अनुभव हासिल करने के बाद, डाटा साइंटिस्ट की सैलरी में और भी उछाल आ सकता है ।

  • शुरूआती सैलरी – 7-8 लाख रूपये प्रति वर्ष
  • मध्यम सैलरी  : 12-15 लाख प्रति वर्ष
  • सीनियर लेवल सैलरी : 21-25 लाख प्रति वर्ष

शैक्षणिक योग्यता

  • कंप्यूटर साइंस, मैथमेटिक्स , स्टेटिस्टिक्स में बैचलर डिग्री
  • डाटा साइंस सर्टिफिकेट
  • प्रोजेक्ट का अनुभव                         

3. इन्वेस्टमेंट बैंकर (Investment Banker):

इन्वेस्टमेंट बैंकर की यदि हम बात करें, तो ये इक्विटी वित्तपोषण या लोन प्रबंधन इत्यादि के माध्यम से, पूंजी जुटाने के लिए फाइनेंसियल आर्गेनाईजेशन के साथ, काम करते हैं। निवेश बैंकर को बेहद तेज तर्रार, पर्यावरण में काम करना पड़ता है। और इनके द्वारा लिए गए निर्णय, किसी वित्तीय संगठन को बना भी सकते हैं, और उसे बिगाड़ भी सकते हैं।

इन पर इतनी महत्वपूर्ण जिम्मेदारी होने कारण ही, इनकी मांग भी अच्छी खासी है। और इन्हें Highest Paying Jobs में ही गिना जाता है। इनका काम स्टेक की जाँच करके, उसी के अनुकूल डील करने का होता है। यह पेशा भी अच्छी सैलरी वाली जॉब में शामिल है।

  • शुरूआती सैलरी : 9-10 लाख प्रति वर्ष 
  • मिड लेवल : 15-16 लाख प्रति वर्ष 
  • सीनियर लेवल : 25-26 लाख प्रति वर्ष     

शिक्षा एवं कौशल

  • फाइनेंस, अर्थ शास्त्र, गणित इत्यादि में बैचलर डिग्री
  • सम्बंधित क्षेत्र में मास्टर
  • एनालिटिकल स्किल
  • मार्किट की गहरी जानकारी
  • बढ़िया कम्युनिकेशन स्किल
  • लीडरशिप स्किल

4. सॉफ्टवेर इंजिनियर (Highest paying job Software Engineer)

हालांकि इसमें कोई दो राय नहीं की, सॉफ्टवेयर इंजिनियर के मामले में, अपना देश भारतवर्ष काफी चर्चित रहा है। और यहाँ पर प्रति वर्ष, लाखों सॉफ्टवेयर इंजिनियर पैदा होते हैं। जो सिर्फ भारत में ही नहीं, अपितु विदेशों में भी अपनी सेवाएँ दे रहे होते हैं। लेकिन इसके बावजूद, यह बाजार इतना बड़ा है की, यहाँ सभी सॉफ्टवेयर इंजिनियर रोजगारित हो जाते हैं। वर्तमान में भारत में, बड़ी बड़ी टेक कम्पनियां निवेश कर रही है।  

और यहाँ से जितने सॉफ्टवेयर इंजिनियर को, आउटसोर्स करके विदेशों को भेजा जा रहा है, ऐसा भी पहले कभी नहीं हुआ था। भारत के प्रसिद्ध टेक शहर, अकेला बैंगलोर, सॉफ्टवेयर इंजिनियर को रोजगार देने वाला प्रमुख, शहर बन गया है।

देश एवं विदेशों में अंतराष्ट्रीय परियोजनाओं, एवं स्थिर घरेलू बाजार यह सुनिश्चित करता है, की इस क्षेत्र में पैसा हमेशा बना रहेगा। इसलिए यह पेशा भी सबसे अधिक सैलरी वाली नौकरी में शामिल है। और एक 4-5 साल अनुभवी सॉफ्टवेयर इंजिनियर, 10-12 लाख प्रति वर्ष सैलरी आसानी से कमा सकता है।

  • शुरूआती सैलरी – 5-6 लाख प्रति वर्ष
  • मध्यम स्तर सैलरी  – 12-15 लाख प्रति वर्ष
  • सीनियर लेवल सैलरी – 22-28 लाख प्रति वर्ष  

सॉफ्टवेयर इंजिनियर कैसे बनें? पूरी जानकारी

5. सबसे अधिक सैलरी वाली नौकरी कमर्शियल पायलट

पायलट से हमारा आशय, हवाई जहाज उड़ाने वाले पायलट से है। पायलट हमेशा से ही एक बेहतरीन प्रोफेशन में गिना जाता है। यह एक ऐसा पेशा है, जो भारत में ही नहीं अपितु पूरे विश्व में अच्छी सैलरी वाला, प्रोफेशन माना जाता है। बड़ी बड़ी एयरलाइन्स कम्पनियां, अपने पायलट को बहुत अच्छी सैलरी, प्रदान करती हैं।

सिर्फ सैलरी ही नहीं, अपितु अनेकों अन्य फैसिलिटी भी मुहैया, करायी जाती हैं। हालांकि लम्बे समय तक, विमान उड़ाना और यात्रा करना, कोई आसान काम नहीं है। इसलिए पायलट को हमेशा शारीरिक रूप से, फिट रहने की आवश्यकता होती है। कमर्शियल पायलट की जॉब करके 16-24 लाख प्रति वर्ष, सैलरी पा सकते हैं।

पायलट कैसे बनें? सम्पूर्ण जानकारी  

6. चार्टर्ड अकाउंटेंट (Chartered Accountant):

CA Sabse Adhik Salary Wali Naukri : चार्टर्ड अकाउंटेंट को इनके शोर्ट नाम, सीए से अधिक जाना जाता है। इनका काम कंपनी, संगठन छोटी बड़ी औद्योगिक इकाइयों, की वित्त सम्बन्धी समस्याओं को देखना, एवं उन्हें टैक्स नियमों का अनुपालन, करने योग्य बनाना होता है। हालांकि बहुत सारी कम्पनियां, चार्टेड अकाउंटेंट को अपने वित्त विभाग में, नियुक्त करती है। और ऑडिटिंग कम्पनियां तो, इन्हें बड़े पैमाने पर नियुक्त करती हैं।

इसके अलावा, अनुभवी सीए, किसी एक कम्पनी में नौकरी न करके, कंसलटेंट के तौर पर, विभिन्न कम्पनियों की वित्त सम्बन्धी, समस्याओं का समाधान कर रहे होते हैं। लेकिन सीए को सभी तरह के डोमेन में, विशेषज्ञ बनने एवं उनमें महारत हासिल करने में, कई वर्षों का समय लगता है।

यही कारण है की, स्वाभाविक रूप से, एक अनुभवी सीए को, उसके काम के बदले काफी मोटी सैलरी, प्रदान की जाती है। यही कारण है की यह काम भी सबसे अधिक सैलरी वाली नौकरी में शामिल है। शुरूआती दौर में यह सैलरी 6-7 लाख रूपये प्रति वर्ष, हो सकती है। और अनुभव एवं विशेज्ञता बढ़ने पर, यह 15-20 लाख प्रति वर्ष तक भी हो सकती है।

7. आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस प्रोफेशनल

आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस प्रोफेशनल की, यदि हम बात करें तो, इनका काम मशीन में आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस, यानिकी कृत्रिम बुद्धि को इनेबल करना होता है। यानिकी इनका पेशा, कृत्रिम बुद्धि रखने वाली मशीनों को, हर तरह से सक्षम बनाने का होता है। इनके प्रमुख कार्यों में, आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस के अल्गोरिदम को समझना, बनाना, एवं प्रोग्रामिंग करना शामिल है। और जहाँ तक भारत की बात है, इस तरह के पेशेवरों की, यहाँ भारी मात्रा में कमी देखी गई है।

और इसमें कोई दो राय नहीं  की, जिस चीज की मांग अधिक हो, और सप्लाई कम हो, तो उसकी मांग तो बढ़नी ही बढ़नी है। यही कारण है की, भारत में इस तरह का यह पेशा भी Highest Paying Jobs की श्रेणी में आता है।

  • शुरूआती दौर में – 10-12 लाख प्रति वर्ष
  • मध्यम स्तर सैलरी  – 15-17 लाख प्रति वर्ष
  • सीनियर लेवल      – 22-26 लाख प्रति वर्ष      

शिक्षा एवं स्किल

  • कंप्यूटर साइंस, मैथमेटिक्स इत्यादि में ग्रेजुएशन
  • आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस में मान्यता प्राप्त संस्थान से कोर्स
  • प्रोग्रामिंग स्किल
  • एनालिटिक्स स्किल
  • रोबोटिक्स
  • स्टेटिस्टिक्स       

 8. मार्केटिंग पेशेवर (Marketing Professionals)

किसी भी बिजनेस के लिए मार्केटिंग कितनी महत्वपूर्ण हैं, इसके बारे में हम एक अलग सा लेख, जल्द ही प्रकाशित करेंगे। अभी केवल इतना जान लेते हैं की, हर तरह के व्यवसाय के लिए मार्केटिंग, बेहद महत्वपूर्ण है। कहने का आशय यह है की, मार्केटिंग किसी भी व्यवसायिक रणनीति के लिए एक प्रमुख उपकरण है। और चूँकि वर्तमान में मार्केटिंग प्लेटफोर्म का तेजी से डिजिटलीकरण हो रहा है, जो इस क्षेत्र में और नए रस्ते खोल रहा है।

इसलिए कम्पनियां, ऐसे मार्केटिंग पेशेवरों की तलाश में हैं, जिन्हें नई मार्केटिंग नीतियों की, अच्छी खासी जानकारी हो। इसलिए ऐसे लोग, जिनके पास रचनात्मक सोच है, और उनकी यह रचनात्मक सोच, ब्रांड निर्माण कम्पनी को बेहतर लगती है, तो यह उन लोगों के लिए अच्छी सैलरी पाने का, एक रास्ता हो सकता है।

वर्तमान में, डिजिटल मार्केटिंग पेशेवरों की अच्छी मांग है। यही कारण है की, यह मार्केटिंग के स्टूडेंट के बीच भी काफी प्रचलित है। और वर्तमान में मार्केटिंग में एमबीए, एवं डिजिटल मार्केटिंग कोर्स नौकरी की चाह रखने वाले लोगों को, न सिर्फ अच्छी नौकरी बल्कि बढ़िया सैलरी प्राप्त करने में सहायता प्रदान करते है।

  • शुरूआती सैलरी – 5-6 लाख प्रति वर्ष ।
  • माध्यम स्तर सैलरी  – 8-10 लाख प्रति वर्ष ।
  • सीनियर लेवल   – 15-25 लाख प्रति वर्ष।

शिक्षा एवं स्किल

  • बिजनेस, मार्केटिंग, एडवरटाइजिंग, कम्युनिकेशन इत्यादि में बैचलर डिग्री।
  • डिजिटल मार्केटिंग में सर्टिफिकेट कोर्स।
  • इंटरपर्सनल कम्युनिकेशन स्किल।
  • क्रिएटिविटी और इमेजिनेशन।
  • इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी स्किल।
  • नेगोशिएशन और इन्फ्लुएंस स्किल।
  • मार्किट एनालिसिस

9. Highest Paying Jobs साइबर सिक्यूरिटी

आज, यानिकी वर्तमान की यदि हम बात करें, तो लगभग सभी तरह के बिजनेस की ऑनलाइन प्रजेंस उपलब्ध है। कहने का आशय यह है की, वर्तमान में लगभग सभी प्रकार के व्यवसाय ऑनलाइन उपलब्ध हैं। और इसलिए उन्हें, उनकी ऑनलाइन सम्पति को, नुकसान होने का डर भी बना रहता है। अपनी मूल्यवान डिजिटल सम्पति की, रक्षा करने के लिए लगभग सभी बिजनेस द्वारा, साइबर सिक्यूरिटी प्रोफेशनल की मदद ली जाती है।

जिनकी जिम्मेदारी, कंपनी के डिजिटल सम्पति को, किसी भी प्रकार के होने वाले, नुकसान से बचाना होता है। वर्तमान रिपोर्ट के मुताबिक, अनुभवी एवं सीनियर लेवल पर, साइबर सिक्यूरिटी प्रोफेशनल, लगभग 30-40 लाख रूपये प्रति वर्ष तक कमाते हैं। जो की सबसे अधिक सैलरी वाली नौकरी में ऑफर की जाने वाली सैलरी के ही समान है।

  • शुरुआती स्तर पर सैलरी – 5-6 लाख।
  • मध्यम स्तर सैलरी   – 10-12 लाख प्रति वर्ष।
  • सीनियर लेवल पर सैलरी – 30-40 लाख प्रति वर्ष । 

शिक्षा एवं स्किल

  •  मैथमेटिक्स, कंप्यूटर साइंस इत्यादि में ग्रेजुएट।
  • साइबर सिक्यूरिटी कोर्स का प्रमाण पत्र।
  • प्रॉब्लम सोल्विंग स्किल।
  • टेक्निकल जानकारी।
  • कंप्यूटर फॉरेंसिक स्किल।
  • सिक्यूरिटी की जानकारी।

10. मशीन लर्निंग प्रोफेशनल (Machine Learning)

मशीन लर्निंग की, यदि हम बात करें तो, इसने उपभोक्ताओं के लिए, अधिक समाधान डिजाईन करके, इस आधुनिक युग में, एक तूफ़ान सा ला खड़ा कर दिया है। मशीन लर्निंग से जुड़े पेशेवर, ब्रांड एवं कम्पनियों को, डाटा के मुताबिक निर्णय लेने में, बहुत सहायता प्रदान कर रहे हैं। और डाटा मुताबिक निर्णय ग्राहकों के, अनुरूप होते हैं।

जिससे व्यवसायिक जोखिमों को, काफी हद तक कम, किया जा सकता है। यही कारण है की, मशीन लर्निंग विशेषज्ञ, कम्पनियों के लिए, काफी मूल्यवान संसाधन के तौर पर, साबित हुए हैं। और कम्पनियों में, इनकी मांग, साल दर साल बढती जा रही है। मशीन लर्निंग में कोई सर्टिफिकेट, या डिग्री आपके कैरियर की ग्रोथ में, महत्वपूर्ण भूमिका अदा कर सकती है। और आपको अच्छी सैलरी दिलाने में मदद कर सकती है।

  • शुरूआती सैलरी – 5-7 लाख प्रति वर्ष
  • माध्यम स्तर पर सैलरी – 15 -17 लाख प्रति वर्ष
  • सीनियर स्तर पर सैलरी – 20-25 लाख प्रति वर्ष 

शिक्षा एवं स्किल

  • आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस या कंप्यूटर साइंस में बैचलर डिग्री
  • मशीन लर्निंग में सर्टिफिकेट कोर्स
  • कंप्यूटर साइंस की जानकारी एवं प्रोग्रामिंग
  • प्रायिकता एवं सांख्यिकी
  • सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग एवं सिस्टम डिजाईन
  • प्रॉब्लम सोल्विंग एव डाटा एनालिसिस     

11. क्लाउड कंप्यूटिंग प्रोफेशनल   

एक आंकड़े के मुताबिक, भारत की क्लाउड कंप्यूटिंग इंडस्ट्री, 2020 में 4 बिलियन डॉलर के, आंकड़े को पार कर गई है। और वर्तमान में भारत में, क्लाउड कंप्यूटिंग इंजिनियर, क्लाउड आर्किटेक्ट, क्लाउड इंफ्रास्ट्रक्चर इंजिनियर, क्लाउड सॉफ्टवेयर इंजिनियर इत्यादि की, कम्पनियों में भारी मांग है। और यह मांग, लगातार बढ़ने की भी संभावना लगाई जा रही है।

और, आलम यह हो गया है की, इस क्षेत्र में जितने क्वालीफाईड, उम्मीदवारों की मांग है, उनकी पूर्ति ही नहीं हो पा रही है। और जिस चीज की, सप्लाई से मांग अधिक हो, उसकी कीमत तो बढती ही बढती है। इसलिए क्लाउड कंप्यूटिंग में, डिग्री किसी की भी सैलरी को, 60% से अधिक भी बढ़ा सकती है।

  • शुरुआती सैलरी – 6-8 लाख प्रति वर्ष
  • मध्यम स्तर सैलरी – 12-14 लाख प्रति वर्ष
  • सीनियर स्तर सैलरी- 28-32 लाख प्रति वर्ष

शिक्षा एवं स्किल

  • कंप्यूटर एप्लीकेशन, कंप्यूटर साइंस में बैचलर डिग्री
  • क्लाउड कंप्यूटिंग में सर्टिफिकेट कोर्स
  • प्रोग्रामिंग स्किल
  • डेटाबेस मैनेजमेंट स्किल
  • लिनक्स स्किल
  • आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस या मशीन लर्निंग की जानकारी
  • सर्वरलेस आर्किटेक्चर नॉलेज  

उपर्युक्त में, हमने कुछ ऐसे जॉब की लिस्ट पेश की है, जिसमें उम्मीदवारों को बढ़िया सैलरी, ऑफर की जा रही है। हालांकि यह ट्रेंड तकनीक, समय इत्यादि में बदलाव होने के चलते, बदलता रहता है। इसलिए यह जरुरी नहीं है की, जो जॉब आज Highest Paying Jobs in India in Hindi की लिस्ट में शामिल है, हमेशा वही रहेगी। परिवर्तन प्रकृति का शाश्वत नियम और यह होता रहता है।

Leave a Comment