Agmark Registration Process in Hindi.

Agmark का उपयोग कृषि समबन्धि उत्पादों के लिए किया जाता है | Agmark Certification program कृषि उत्पादों की ग्रेडिंग एवं मार्किंग के लिए होता है | Agmark की प्रस्तावना कृषि उत्पादों की Grading और Marking अधिनियम 1937 एवं संसोधित अधिनियम 1987 में की गई है | कहने का तात्पर्य यह है की Agmark का चिन्ह लगभग सभी प्रकार के कृषि सम्बन्धी उत्पादों की गुणवत्ता एवं मानको को सुनिश्चित करने के लिए भारत सरकार द्वारा स्वीकृत किया जाता है | कृषि सम्बन्धी उत्पादों की गुणवत्ता को मानकों के आधार पर टेस्ट करने के लिए देश भर में Agmark laboratories उपलब्ध हैं | जिनकी मदद से ऐसे उद्यमी जो अपने उत्पादों के लिए Agmark Certification करना चाहते हैं अपने उत्पाद को टेस्ट करा सकते हैं | Central Agmark Laboratory नागपुर के अलावा देश की लगभग 11 शहरों में मुंबई, नई दिल्ली, चेन्नई, कोलकाता, कानपूर, कोच्ची, गुंटूर, जयपुर, अमृतसर, भोपाल, राजकोट में Regional Agmark Laboratories विद्यमान हैं |

Agmark-Registration-Process

Agmark Registration Kya Hai:

सामान्यतया Agmark शब्द दो शब्दों Ag एवं Mark को मिलाकर बनाया हुआ एक शब्द है जिसमे Ag का अभिप्राय Agriculture हिंदी में कृषि एवं Mark का अर्थ चिन्ह से लगाया जा सकता है | यह शब्द पहली बार उपयोग में तब लाया गया जब संसद में कृषि उत्पादों की ग्रेडिंग एवं मार्किंग समबन्धि अधिनियम का बिल संसद में प्रस्तुत किया गया | Agmark के नाम सहित सम्पूर्ण सिस्टम को बनाने का श्रेय Archibald Macdonald Livingstone को जाता है जो ब्रिटिश भारत में भारत सरकार के 1934 से लेकर 1941 तक कृषि एवं विपणन सलाहकार रहे थे | Agmark को कृषि सम्बन्धी उत्पादों की गुणवत्ता एवं मानको को सुनिश्चित करने हेतु एक Certification Mark भी कहा जा सकता है | वर्तमान में प्रचलित Agmark मानक लगभग 213 कृषि सम्बन्धी वस्तुओं को कवर करते हैं | इनमे अनाज, दाल, तेल, सेवइयां इत्यादि सभी वस्तुएं शामिल हैं | जब किसी उद्यमी द्वारा Agmark Certification program के अंतर्गत कवर होने वाली वस्तुओं में से किसी भी वस्तु के लिए Certification के लिए आवेदन किया जाता है तो यह प्रक्रिया Agmark Registration कहलाता है |

Commodity List under Agmark in Hindi:

वर्तमान में Agmark के अंतर्गत कृषि समबन्धि उत्पादों की अलग अलग श्रेणी से लगभग 213 वस्तुएं सम्मिलित हैं | जिनकी लिस्ट कुछ इस प्रकार से है |

खाद्य अनाज एवं उससे सम्बंधित उत्पाद (FOOD GRAINS AND ALLIED PRODUCTS)

धान (Paddy) बासमती चावल (Basmati Rice) गेहूं आटा (Wheat Atta)
गेहूं (wheat) अरहर (Red Gram) सुजी
ज्वार (Jowar) हरा चना (Green Gram) मैदा
मक्का (Maize) काला चना (Black Gram) Bread Wheat Flour
जौ (Barely) बंगाली चना (Bengali Gram) बेसन (Gram Flour)
बाजरा मसूर (Lentil) दलिया
रागी मॉथ भुना हुआ बंगाली चना
चावल (Rice) मटर (Peas) वर्मीसेली
मकारोनी स्पेगेटी राजमा
लोबिया काबुली चना

फल एवं सब्जियां (Fruits and vegetables):

सेब (Apples) खट्टा नीबू (Sour Limes) रिब्ड सेलेरी
केले (Banana) टेबल आलू (Table Potato) बंद गोभी
अंगूर (Grapes) बीज आलू (Seed Potato) ब्रसेल्स स्प्राउट्स
आम (Mango) प्याज (Onion) टमाटर (Tomatoes)
पाइन सेब (Pine Apple) सूखे खाद्य मशरूम (Dried edible mushrooms) पपीता (Papayas)
प्लम (Plums) . डिब्बाबंद / बोतलबंद फल और फलों के उत्पाद (Canned/Bottled fruits and fruit products) Shelling Peas
विलियम पियर्स किनो संतरे (Kinnow Oranges) Sugar Snap Peas
संतरे (Orange) अमरुद (Guavas) पालक (Spinach)
नींबू (Lemons) लीची
मिठा नीबू (Sweet Limes) अनार (Pomegranate)

मसाले (SPICES AND CONDIMENTS

मिर्च (Chillies) लहसुन (Garlic) सुगंधित कच्चे आम पाउडर
हल्दी (Turmeric) अदरक (Ginger) जायफल (Nutmeg)
इलायची (Cardmom) धनिया (Coriander) तेजपत्ता
काली मिर्च (Pepper) सौंफ़ (Fennel) लौंग (Clove)
Celery seed मेथी(Fenugreek) Mace
जीरा (Cumin) Curry powder बड़े इलायची (Large Cardamom)
पोस्ता बीज Compounded asafoetida Mixed Masala
अजवाइन Seedless Tamarind Caraway and Black Caraway
केसर (Saffron) सुगंधित कच्चे आम का स्लाइस

खाद्य Nuts:

Areca Nuts कच्चा काजू (Raw Cashew nuts) नारियल (Coconut)
अखरोट (Walnuts) HPS Ground nuts Ball Copra and Cup Copra
काजू गुठली (Cashew Kernels) Water chestnuts

OIL SEEDS (तिलहन) :

मूंगफली (Groundnuts) नाइजर बीज (Niger Seed) महुआ बीज (Mahua Seed)
Rapeseed अलसी (Linseed   ) सल्सीड
सरसों के बीज (Mustard Seeds) करफलक बीज (Safflower Seed) अंबाडी बीज
तारामिरा बीज (Taramira Seeds) सूरजमुखी बीज (Sunflower Seed) Castor seed
Sesamum Seeds कपास बीज (Cotton Seed) Soyabeans

बसा एवं वानस्पतिक तेल (Fat and Vegetables Oil):

मूँगफली का तेल (Groundnut Oil) नारियल तेल (Coconut Oil) नाइजर बीज तेल (Niger Seed Oil)
सरसों का तेल (Mustard Oil) अलसी का तेल (Linseed Oil) सला बीज तेल (Sal Seed Oil)
तिल का तेल (Sesame Oil) कपास के बीज का तेल (Cotton Seed Oil) सफ़ल बीज का तेल (Safflower seed oil)
Castor oil Vanaspati Oil चावल की भूसी का तेल (Rice bran oil)
मिश्रित खाद्य सब्जियों का तेल (Blended Edible Vegetable oil) सूर्य फूल बीज तेल (Sun Flower Seed Oil) Maize Corn Oil
महुआ तेल सोयाबीन तेल Palm Oil and Palmolein

खुशबूदार तेल (essential oils):

चंदन का तेल Ginger grass oil पालमारोसा तेल (Palmarosa oil)
नीलगिरी तेल वेटिवर जड़ों के तेल हिमालय सेडरवुड तेल
Lemon grass oil Vetiver Oil (वेतिवर के तेल खस )

Oil Cakes :

मूंगफली का तेल केक कपास के बीज के तेल केक सेसमम के तेल केक
अलसी के तेल केक सरसों के बीज के तेल केक नारियल का तेल केक
सरसों का तेल केक नाइजर बीज तेल केकेल

फाइबर फसल

कपास Sannhemp जूट
पाल्मीरा फाइबर Aloe Fibre

पशुधन, डेयरी और पोल्ट्री उत्पाद

ऊन खाल टेबल अंडे
पशु casings कच्चा मांस (ठंडा / फ्रोजन) क्रीमरी बटर
घी Hides Goat Hair

अन्य वस्तुएं:

शहद गुड़ बुरा
अगार-अगर कांगड़ा चाय Isubgol husk
पापाइन कैटचु Senna leaves
गुआर गम Gum Karaya मिरबोलायन
Tendu Leaves लाख शीकाकाई पाउडर
तंबाकू Tamarind (with seed) Tamarind Seed and powder
Tapioca products (Animal feed) Desiccated नारियल कोको पाउडर
कोको बीन्स शिकाकाई की फली महुआ पुष्प
आमला सूखे और पाउडर पुवाड़ बीज ग्वार बीज
Tapioca sago (sabudana) मखाना

Documents Required for Agmark Registration:

  • Agmark authority द्वारा मान्यता प्राप्त किसी प्रयोगशाला से उत्पाद की जांच की रिपोर्ट की प्रति |
  • कंपनी या स्थापना के स्थापित होने सम्बन्धी दस्तावेज की कॉपी जैसे कंपनी रजिस्ट्रार द्वारा जारी किया गया रजिस्ट्रेशन की प्रति |
  • यदि आवेदनकर्ता कोई कंपनी है तो Memorandum of Association की प्रति |
  • यदि आवेदनकर्ता कोई Partnership Firm है तो Partnership Deed की प्रति चाहिए होगी जिसमे फर्म एवं साझेदारी समबन्धि नियम कानून उल्लेखित हों |
  • उस उत्पाद का नाम जिसके लिए आवेदनकर्ता मानक चाहता हो |
  • आवेदनकर्ता का नाम भी Application form में उल्लेखित होना चाहिए |
  • संसथान का नाम एवं पता |
  • उत्पाद का सैंपल |
  • पिछले और वर्तमान वर्ष की उत्पादकता क्षमता |
  • पिछले वर्ष का कंपनी का टर्न ओवर |
  • डिमांड ड्राफ्ट |
  • कार्यालय या फैक्ट्री का रेखाचित्र |
  • कंपनी का Memorandum जिसमे कंपनी की शक्तियां एवं लक्ष्यों का उल्लेखन हो |
  • मशीनरी की लिस्ट |
  • ट्रेडमार्क रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट |

Agmark Registration के लिए दी गई उपर्युक्त दस्तावेजों की लिस्ट किसी वस्तु विशेष को आधार मानकर नहीं बताई गई है इसलिए वस्तु विशेष के आधार पर Documents List अंतरित हो सकती है |

How to apply for Agmark registration/Certification in Hindi:

Agmark Certification की यदि हम बात करें तो हम पाएंगे की यह उत्पादों की Quality Benchmark के तौर पर काम करता है और उत्पादों की प्रमाणिकता भी सुनिश्चित करता है जैसा की हम सबको विदित है की भारतवर्ष का नाम सबसे अधिक जनसँख्या वाले देशों में दुसरे नंबर पर शुमार है और यहाँ पर निवासित अधिकतर जनसँख्या का कमाई का स्रोत कृषि है यही कारण है की फुटकर विपणन में कृषि सम्बन्धी उत्पादों को बेचने एवं खरीदने के लिए Agmark Registration को नज़र अंदाज़ नहीं किया जा सकता | चूँकि भारतवर्ष कृषि सम्बन्धी उत्पादों का एक बहुत बड़ा निर्यातक देश है इसलिए World Trade Organization के अनुसार ऐसे उत्पादों को Agmark Certified होना चाहिए | कृषि सम्बन्धी उत्पादों के घरेलू व्यापार एवं निर्यात  के लिए भारत सरकार के कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय के अधीन विपणन एवं निरीक्षण निदेशालय ने Agmark Certification Scheme शुरू की है | यद्यपि यह स्कीम Voluntary है लेकिन Food Safety and standards act 2006 के अनुसार मिश्रित खाद्य वानस्पतिक तेल (Blended Edible Vegetable Oils) और Fat Spread certification एगमार्क के अंतर्गत अति आवश्यक अर्थात अनिवार्य है | इस स्कीम को कार्यान्वित करने की जिम्मेदारी Directorate of Marketing and Inspection (DMI) को दी गई है जिसकी देश में 11 क्षेत्रीय कार्यालय , 27 उप कार्यालय एवं 11 regional Laboratories विद्यमान हैं | ऑफिस का पता यहाँ देखा जा सकता है | इसीलिए व्यक्ति या कंपनी जो एगमार्क के अंतर्गत कृषि सम्बन्धी किसी Notified Commodity की ग्रेडिंग एवं प्रमाणिकता लेने के इच्छुक हैं वे सीधे अपने नजदीकी DMI office से संपर्क कर सकते हैं | जहाँ तक Application Form एवं आवश्यक दस्तावेजों की लिस्ट का सवाल है यह आसानी से DMI के ऑफिस से ली जा सकती है | ग्रेडिंग एवं Certificate के लिए इच्छुक आवेदनकर्ता के पास जरुरी इंफ्रास्ट्रक्चर जैसे किसी मान्यता प्राप्त प्रयोगशाला का Access या खुद की प्रयोगशाला होनी चाहिए | स्वीकृत केमिस्ट कच्चे माल एवं तैयार माल की जांच पैक होने से पहले करेगा | और DMI का कोई Field Officer Certified और Graded Commodity पर अपना Check जारी रखेगा |

About Author:

मित्रवर, मेरा नाम महेंद्र रावत है | मेरा मानना है की ग्रामीण क्षेत्रो में निवासित जनता में अभी भी जानकारी का अभाव है | इसलिए मेरे इस ब्लॉग का उद्देश्य बिज़नेस, लघु उद्योग, छोटे मोटे कांम धंधे, सरकारी योजनाओं, बैंकिंग, कैरियर और अन्य कमाई के स्रोतों के बारे में, लोगो को अवगत कराने से है | ताकि कोई भी युवा अपने घर से रोजगार के लिए बाहर कदम रखने से पहले, एक बार अपने गृह क्षेत्र में संभावनाए अवश्य तलाशे |

2 thoughts on “Agmark Registration Process in Hindi.

  1. महेशजी आपका काम एकदम अच्चा है ………………………nice job

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *