Body Lotion की यदि हम बात करें तो यह कम चिपचिपापन से युक्त त्वचा पर इस्तेमाल किया जाने वाला एक पदार्थ है । जहाँ तक क्रीम एवं जैल का सवाल है इनमें बॉडी लोशन की तुलना में अधिक चिपचिपापन होता है क्योंकि इनमें पानी के कंटेंट कम होते हैं। बॉडी लोशन का इस्तेमाल त्वचा पर हाथों, ब्रश, साफ़ कपड़े या रुई के फाहे के माध्यम से किया जा सकता है। लोशन का इस्तेमाल दवा वितरण प्रणाली के तौर पर भी किया जा सकता है बहुत सारे लोशन का विशेष तौर पर हैण्ड लोशन एवं Body Lotion का उद्देश्य त्वचा को चिकना मॉइस्चराइज करना, नरम करना और त्वचा को खुशबूदार बनाना होता है। कहने का आशय यह है की बॉडी लोशन भी एक प्रमुख सौन्दर्य प्रसाधन है जिसका इस्तेमाल त्वचा को कोमल, सुन्दर, आकर्षक बनाने के लिए किया जाता है। इसलिए आज हम हमारे इस लेख के माध्यम से बॉडी लोशन बनाने के बिजनेस के बारे में बात करेंगे। बाज़ारों में एक नहीं बल्कि अनेकों प्रकार के Body Lotion उपलब्ध हैं इनमें ड्राई स्किन केयर, सॉफ्ट स्किन केयर और जनरल पर्पज बॉडी लोशन प्रमुख हैं।

Body Lotion Manufacturing Business hindi

बॉडी लोशन के लाभ (Benefits of Body Lotion)

जिन लोगों द्वारा Body Lotion का इस्तेमाल नियमित तौर पर किया जाता है उन्हें इस उत्पाद से अनेकों लाभ प्राप्त होते हैं।

  • यह ड्राई स्किन को रीहाइड्रेट करता है।
  • त्वचा पर उपलब्ध अतिरिक्त ड्राई और खुरदरे धब्बों की भरपाई करता है।
  • एक नमी वाला बॉडी लोशन खुरदरी त्वचा को कोमल बनाने में सहायक होता है।
  • यह त्वचा को आराम प्रदान करने में मदद करता है।
  • पूरे शरीर में इसका इस्तेमाल करके शरीर में उत्पन्न ऐंठन एवं कठोरता को हटाने में मददगार साबित होता है।
  • आपके शरीर के खुरदरे हिस्से को कोमल बनाने में सहायक होता है।
  • बच्चों में Body Lotion का इस्तेमाल डायपर के लम्बे समय तक इस्तेमाल के कारण उत्पन्न होने वाली सूजन को रोकने एवं कम करने के लिए भी किया जाता है।
  • इसका इस्तेमाल प्रयोगशालाओं में नमूनों में हवा को रोकने के लिए भी किया जाता है और सीलिंग कवर सस्लिप के लिए भी इसका इस्तेमाल किया जाता है।
  • सर्दियों में शरीर को गरम रखने के उद्देश्य से भी इसका इस्तेमाल किया जाता है।
  • लुब्रिकेंट के तौर पर भी इसका इस्तेमाल किया जाता है। और यह पानी से बचाने वाली एक क्रीम है।
  • Body Lotion का इस्तेमाल फटी एड़ी, होंठ और त्वचा को फटने से बचाने के लिए भी किया जा सकता है।
  • इसका इस्तेमाल धातु की सतहों को जंग से बचाने एवं पॉलिश की सतहों जैसे जूते, बैग इत्यादि पर पॉलिश के तौर पर भी किया जाता है।   

बिक्री की संभाव्यता

त्वचा देखभाल मार्किट की यदि हम बात करें तो Body Lotion वर्ष 2011 में इसका एक अल्पकालिक खंड था। उस समय इस श्रेणी की पैठ केवल 16% थी और यह तेज गति से बढ़ रही थी। इसलिए उस समय इस बाजार में प्रवेश करने का सुनहरा अवसर विद्यमान था। विभिन्न त्वचा देखभाल कारकों ने बॉडी लोशन की मांग में तीव्र वृद्धि की है। चूँकि इन लोशन का इस्तेमाल सभी प्रकार की त्वचा चाहे वह तैलीय हो, शुष्क हो, या फिर सामान्य सभी पर किया जाता है और जैसे जैसे लोगों के बीच अपनी त्वचा देखभाल के प्रति जागरूकता बढ़ रही है इस उत्पाद की मांग तीव्र गति से बढती जा रही है। लेकिन 2020 में चल रही इस वैश्विक महामारी ने सभी उद्योगों को काफी नुकसान पहुँचाया है इससे यह उद्योग भी अछूता नहीं है। इसके बावजूद एक आंकड़े के मुताबिक वित्तीय वर्ष 2020 में भारत के दक्षिण एशियाई देशों में दो सौ मीट्रिक टन से अधिक क्रीम एवं लोशन का उत्पादन किया गया। भारत में लोगों की बढती डिस्पोजल इनकम और अपनी त्वचा देखभाल के प्रति बढती जागरूकता के कारण लोगों द्वारा Body Lotion का इस्तेमाल बड़े पैमाने पर किया जा रहा है और आगे भी यह वृद्धि जारी रहने की उम्मीद है।

बॉडी लोशन विनिर्माण बिजनेस कैसे शुरू करें? (How to Start a Body Lotion Manufacturing Business):

Body Lotion Manufacturing Business शुरू करने के लिए उद्यमी को बहुत सारे संसाधनों का प्रबंध करने की आवश्यकता होती है। इनमें जमीन का प्रबंध, लाइसेंस एवं पंजीकरण, वित्त का प्रबंध, मशीनरी उपकरणों कच्चे माल की खरीदारी से लेकर कंस्ट्रक्शन एवं कर्मचारियों की नियुक्ति तक सभी कुछ शामिल है। तो आइये जानते हैं की कैसे कोई इच्छुक व्यक्ति खुद का बॉडी लोशन बनाने का बिजनेस कैसे शुरू कर सकता है?।

1. जगह एवं बिल्डिंग का प्रबंध करें  

चूँकि Body Lotion Manufacturing Unit स्थापित करने के लिए उद्यमी को कार्यस्थल के अलावा, कच्चे माल का भण्डारण, उत्पादित माल का भंडारण, बिजली आपूर्ति उपयोगताओं, जनरेटर सेट, ऑफिस इत्यादि के लिए भी जगह की आवश्यकता होती है। इसलिए इस तरह का व्यवसाय शुरू करने के लिए 800-1000 वर्ग फीट जगह की आवश्यकता हो सकती है। लेकिन इसमें यह जरुरी नहीं है की उद्यमी की इकाई किसी भीड़ भाड़ वाली जगह पर होनी चाहिए। बल्कि उद्यमी बॉडी लोशन निर्माण यूनिट स्थापित करने के लिए किसी भी एरिया में जगह का प्रबंध कर सकता है। बशर्ते की जमीन गैर कृषि योग्य हो, और वहां पर कुछ आधारभूत सुविधाओं जैसे बिजली, पानी सड़कों एवं श्रमिकों की उपलब्धता आसान हो। यदि उद्यमी के पास इस काम के योग्य कोई स्वयं की जमीन या बिल्डिंग है तो ठीक है, अन्यथा उद्यमी को Body Lotion Manufacturing  इकाई स्थापित करने के लिए जगह या जमीन खरीदने की बजाय किराये या लीज पर लेनी चाहिए।       

2. लाइसेंस एवं रजिस्ट्रेशन (License For Body Lotion Manufacturing):

Body Lotion Manufacturing विनिर्माण से जुड़ा हुआ बिजनेस है इसलिए इसके लिए उद्यमी को निम्नलिखित लाइसेंस एवं पंजीकरणों की आवश्यकता हो सकती है।

  • उद्यमी को सबसे पहले अपने व्यवसाय को विभिन्न बिजनेस एंटिटी में से किसी एक का चुनाव करके रजिस्ट्रार ऑफ़ कम्पनीज के साथ रजिस्टर करने की आवश्यकता हो सकती है। यदि उद्यमी चाहता है की वह बहुत अधिक औपचारिकतायें न करे तो वह प्रोप्राइटरशिप के तहत अपने व्यवसाय को रजिस्टर कर सकता है।
  • उसके बाद उद्यमी को टैक्स रजिस्ट्रेशन यानिकी जीएसटी रजिस्ट्रेशन करने की आवश्यकता होती है।
  • उद्यमी को फैक्ट्री एवं ट्रेड लाइसेंस लेने के लिए स्थानीय प्राधिकरण जैसे नगर निगम, नगर पालिका के ऑफिस में संपर्क करने की आवश्यकता हो सकती है।
  • इसके अलावा उद्यमी को व्यवसाय के नाम से पैन कार्ड एवं बैंक में चालू खाता खोलने की भी आवश्यकता हो सकती है।
  • चूँकि Body Lotion एक कॉस्मेटिक प्रोडक्ट है, इसलिए इसके विनिर्माण करने के लिए उद्यमी को कॉस्मेटिक एवं ड्रग एक्ट के तहत भी लाइसेंस की आवश्यकता हो सकती है ।
  • ब्रांड के साथ कोई छेड़छाड़ न हो, इसके लिए उद्यमी को ट्रेडमार्क रजिस्ट्रेशन कराने की भी आवश्यकता हो सकती है।
  • वैकल्पिक तौर पर उद्यम रजिस्ट्रेशन एवं एमएसएमई डाटा बैंक रजिस्ट्रेशन भी किया जा सकता है।         

3. मशीनरी एवं उपकरण

इस व्यवसाय को शुरू करने में इस्तेमाल में लायी जाने वाली मशीनरी एवं उपकरणों की लिस्ट इकाई की उत्पादन क्षमता के आधार पर अंतरित हो सकती है। क्योंकि Body Lotion Manufacturing में इस्तेमाल में लायी जाने वाली मशीनरी एवं उपकरण की उत्पादन क्षमता अलग अलग होती है और उत्पादन क्षमता के आधार पर ही इनकी कीमत भी तय होती है। लेकिन कुछ प्रमुख उपकरण एवं मशीनरी की लिस्ट निम्नवत है।

  • ऑइंटमेंट मैन्युफैक्चरिंग प्लांट
  • केवल मैन्युफैक्चरिंग बर्तनों के लिए लोड सेल
  • पीएलसी और एचएमआई टच स्क्रीन
  • जनसेट
  • फर्नीचर और उपकरण

इस व्यवसाय के लिए उद्यमी को 10 एचपी के बिजली लोड की आवश्यकता हो सकती है जिसे स्थानीय पॉवर कारपोरेशन के माध्यम से अप्लाई किया जा सकता है। अतिरिक्त पॉवर व्यवस्था के लिए उद्यमी जनसेट की भी व्यवस्था कर सकता है।     

4. आवश्यक कच्चा माल एवं कर्मचारी (Raw Materials for Body Lotion Manufacturing):

Body Lotion Manufacturing Business में इस्तेमाल में लाये जाने वाले कच्चे माल की लिस्ट कुछ इस प्रकार से है।

  • विभिन्न प्रकार का पानी एलोय वाटर, रोज वाटर इत्यादि
  • ग्लिसरीन
  • विभिन्न प्रकार के तेल जैसे स्वीट आलमंड आयल, मिनरल आयल, ओलिव आयल, सनफ्लावर आयल, पाम आयल इत्यादि
  • एलॉय बटर
  • पायसीकारी मोम (Emulsifying wax)
  • स्टीयरिक एसिड
  • प्रजरवेटिव
  • फ्रेग्रेन्स

जहाँ तक कर्मचारियों का सवाल है उद्यमी को 1 कुशल, 1अकुशल, 1हेल्पर को मिलाकर कुछ 3-4 कर्मचारियों को नियुक्त करने की आवश्यकता हो सकती है।

5. बॉडी लोशन निर्माण (Start Manufacturing of Body Lotion):

Body Lotion Manufacturing Process शुरू करने से पहले सभी आवश्यक कच्चे माल की सामग्री आवश्यकता के अनुसार विक्रेताओं से खरीद ली जाती है, और फिर इसे भंडार गृह में स्टोर करने के लिए रख दिया जाता है। कच्चे माल की उपयुक्त मात्रा को उचित फीड कण्ट्रोल सिस्टम के माध्यम से सेंसर जैसे लोड सेल और फ्लो मीटर का इस्तेमाल करके स्टोर की गई जगह से उचित पम्पों का इस्तेमाल करके मिक्सर वेसल में भेजा जाता है। कच्चे माल को उनके आवश्यक अनुक्रम में शामिल किया जाता है और फिर पूर्व निर्धारित समय के अनुसार इसे मिलाया जाता है। मिक्सिंग के दौरान मिक्सर वेसल के वाटर जैकेट के माध्यम से तापमान मेन्टेन किया जाता है। Body Lotion Manufacturing Process में जब मिक्सिंग करने की प्रक्रिया पूर्ण हो जाती है तो उसके बाद इस सामग्री को फिलिंग मशीन के होल्डिंग टैंक में डाल दिया जाता है। जहाँ से इसे फिलिंग मशीन द्वारा खुली नलियों में भरा जाता है, जिसके बाद क्रिम्पिंग मशीन का इस्तेमाल करके इसे बोतलों में भरा जाता है इनमें महत्वपूर्ण विवरण उल्लेखित करने के लिए इंजेक्ट प्रिंटिंग मशीन का इस्तेमाल किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें

Leave a Reply

Your email address will not be published

error: