भारत में अपना सीएनजी पंप कैसे खोलें How to open a CNG Pump in India.

वर्तमान में ईधन से जुड़े कोई भी बिज़नेस चाहे वह पेट्रोल पंप हों या सीएनजी पंप बहुत ही लाभकारी एवं कम जोखिम वाले व्यापार की श्रेणी में आते हैं | जैसा की हम सबको विदित है की सीएनजी नामक इस गैस को प्रदूषण रहित माना गया है | अर्थात इसके उपयोग से पर्यावरण को किसी प्रकार का कोई नुकसान नहीं होता है, इसलिए वर्तमान में हर शहर में बहुत सारे वाहन सीएनजी नामक इस गैस से चलते हैं | यह पर्यावरण के अनुकूल होने के साथ साथ उपयोगकर्ता को अन्य फायदे भी देती हैं जिनके बारे में हम इसी लेख में आगे बात करेंगे | हालांकि यहाँ पर यह स्पष्ट कर देना जरुरी है की सीएनजी पंप खोलने के लिए अच्छे खासे निवेश की आवश्यकता होती है इसलिए इस बिज़नेस को आर्थिक रूप से संपन्न व्यक्ति ही शुरू कर पाने में सक्षम होंगे |

सीएनजी पंप कैसे खोलें

सीएनजी पंप क्या होता है?

सीएनजी पंप को समझने से पहले सीएनजी को समझना जरुरी है CNG का फुल फॉर्म Compressed natural gas होता है यह एक प्राकृतिक गैस होती है | CNG को वर्तमान में पेट्रोल एवं डीजल का एक बेहद कुशल विकल्प माना जा सकता है, क्योंकि पेट्रोल एवं डीजल से चलने वाले वाहनों को सीएनजी चालित वाहन के रूप में बदला जा सकता है | सीएनजी में अधिकतर मीथेन गैस होती है जो गैसोलीन की तरह ही हवा के साथ मिलने पर इंजन को शक्ति प्रदान करने का काम करती है | कहने का आशय यह है की सीएनजी को भी वाहनों में ईधन के रूप में उपयोग में लाया जाता है, और जिस प्रकार वाहनों में पेट्रोल, डीजल भराने वाले स्थान को पेट्रोल पंप कहा जाता है | ठीक उसी प्रकार जहाँ वाहनों में सीएनजी भरी जाती है उस स्थान को सीएनजी पंप कहा जाता है |

लोग सीएनजी क्यों भरवाते हैं इसके फायदे:

सीएनजी गैस पर्यावरण के अनुकूल तो है ही इसके अलावा इसके अन्य भी बहुत सारे फायदे होते हैं जिनका संक्षिप्त वर्णन हम निम्नवत करेंगे |

  • पारम्परिक ईधन पेट्रोल एवं डीजल की तुलना में सीएनजी का दहन सफाई से होता है जिससे कार्बन मोनोऑक्साइड का उत्सर्जन 80% और हाइड्रोकार्बन का उत्पादन लगभग 44% तक कम हो जाता है |
  • सीएनजी चालित वाहनों से ध्वनि प्रदूषण भी कम होता है |
  • यह पेट्रोल एवं डीजल के मुकाबले उपयोगकर्ता को सस्ता भी पड़ता है |
  • सीएनजी नामक इस ईधन की ज्वलनशीलता रेटिंग लगभग 5 प्रतिशत से 15 प्रतिशत तक है, जिसका अभिप्राय यह है की यह अन्य ईंधन की तुलना में कम ज्वलनशील और सुरक्षित है |
  • किसी कारणवश टकराव की स्थिति पैदा होने पर सीएनजी सिलिंडर पेट्रोल एवं डीजल टैंक की तुलना में कम खतरनाक होते हैं | इन सिलेंडरों में सुरक्षा उपकरण होते हैं जिन्हें इस ढंग से डिजाईन किया गया है की सामान्य दबाव से अधिक दबाव या तापमान होने पर ये गैस को रिहा करने लगते हैं |
  • सीएनजी से चालित वाहनों में आग लगने की संभावना इसलिए कम रहती है क्योंकि इसका ignition temperature 600°C होता है जबकि गैसोलीन का 320°C एवं डीजल का 285°C होता है |

सीएनजी पंप कौन कौन खोल सकता है ?

सीएनजी पंप का व्यापार ऐसे व्यापारों में शामिल है जिसमे अच्छे खासे निवेश की आवश्यकता तो होती है | लेकिन इससे कमाई होने की संभावना भी उतनी ही अधिक होती है इसलिए यह कम जोखिम वाले व्यापार की लिस्ट में शामिल है | तो आइये जानते हैं सीएनजी पंप की डीलरशिप के लिए कौन कौन आवेदन कर सकता है अर्थात यह पंप खोलने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिये |

  • आवेदक भारत का नागरिक होना चाहिए |
  • आवेदक की उम्र इक्कीस वर्ष से कम नहीं होनी चाहिए |
  • आवेदक की शैक्षणिक योग्यता स्नातक निर्धारित की हुई है |
  • ऐसे लोग जिनको उद्यमिता कौशल एवं सुरक्षा नियमों की जानकारी हो उन्हें प्रमुखता दी जाएगी |

सीएनजी पंप खोलने के लिए उपयुक्त जमीन:

यदि आप सीएनजी पंप खोलने की सोच रहे हैं लेकिन आपके पास सड़क/हाईवे के किनारे कोई प्लाट या जमीन नहीं है तो आपके लिए यह रास्ता कठिन हो सकता है | लेकिन यदि आपके पास कोई प्लाट या जमीन का टुकड़ा है जिसे आप पैसे कमाने की मशीन बनाना चाहते हैं तो उस जमीन पर आप पेट्रोल पंप या सीएनजी पंप खोल सकते हैं | लेकिन इससे पहले की आप इसकी डीलरशिप के लिए आवेदन करके की सोचें उससे पहले इस लेख को अंत तक पढ़ें ताकि आपको आपके विभिन्न सवालों जैसे क्या आपके पास उपलब्ध प्लाट या जमीन इसके लिए उपयुक्त है? यदि हाँ तो लाइसेंस एवं डीलरशिप कैसे लें? किन किन औपचारिकताओं को पूरा करके आवेदन करें? इत्यादि का जवाब मिल सके | लेकिन यहाँ पर बात जमीन की हो रही है है तो ऐसी जमीन जिसमे निम्न विशेषताएं होंगी सिर्फ उसी में सीएनजी पंप खोला जा सकता है |

  • प्लाट या भूखंड समबन्धी कोई विवाद नहीं होना चाहिए अर्थात यह सभी प्रकार के विवादों से मुक्त होना चाहिए |
  • प्लाट या भूखंड आवेदनकर्ता का अपना होना चाहिए लीज पर या किराये पर ली हुई जमीन एवं परिवार के किसी अन्य सदस्य के नाम जमीन होने पर प्लोट या भूखंड के मालिक से नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट (NOC) की आवश्यकता हो सकती है |
  • कृषि भूमि पर सीएनजी पंप लगाना वर्जित है इसलिए इस स्थिति में भूमि को गैर कृषि भूमि में बदला जाना चाहिए |
  • जमीन या भूखंड सड़क या राष्ट्रीय राजमार्गों के साथ अच्छी तरह से जुड़ा होना चाहिए |
  • ऐसी जमीन जो कंपनी की ट्रांसमिशन लाइन के आस पास हो उसे प्रमुखता दिए जाने का प्रावधान है |
  • लाइट मोटर व्हीकल (LMV) के लिए सीएनजी पंप खोलने हेतु कम से कम 700 स्क्वायर मीटर जगह एवं उसके साथ लगभग 25 मीटर फ्रंट जगह भी चाहिए होती है |
  • ट्रांसपोर्ट व्हीकल के लिए कम से कम 1500 स्क्वायर मीटर के साथ लगभग 50 मीटर फ्रंट जगह भी चाहिए होती है |
  • हालांकि कुछ कंपनियों द्वारा सीएनजी पंप खोलने के लिए 1600 स्क्वायर मीटर के साथ 35 मीटर फ्रंट जगह की डिमांड रखी जाती है |

सीएनजी पंप खोलने में अनुमानित खर्चा:

सीएनजी पंप की डीलरशिप लेने में आने वाले खर्चे की बात करें तो यह शहर लोकेशन के आधार पर अलग अलग हो सकता है | एक आंकड़े के मुताबिक इस तरह का यह व्यापार शुरू करने में 50 लाख से एक करोड़ रूपये तक का खर्चा आ सकता है | हालांकि यह राशि भी लोकेशन, सेट अप, जगह की आवश्यकता इत्यादि के आधार पर अंतरित हो सकती है |

कौन कौन सी कंपनी देती हैं डीलरशिप:

इंडिया में बहुत सारी कंपनियां हैं जो इच्छुक एवं योग्य उम्मीदवारों को सीएनजी पंप खोलने का मौका देती हैं | यदि आप भी उपर्युक्त बताई गई पात्रता के अनुरूप अपने आपको पाते हैं और इस बिज़नेस को शुरू करने में आने वाले खर्चे को वहन करने का सामर्थ्य रखते हैं | तो आप यह बिज़नेस कर सकते हैं और कुछ ही महीनों या सालों में अपने द्वारा लगाई गई रकम की भरपाई भी कर सकते हैं | इस व्यापार से रकम की भरपाई कब तक होगी यह भी पंप की लोकेशन पर ही निर्भर करता है | लेकिन बात जब डीलरशिप या फ्रैंचाइज़ी लेने की होती है तो उद्यमी के दिमाग में यही प्रश्न आता है की कौन सी कंपनी की फ्रैंचाइज़ी लेना फायदेमंद होगा | इसलिए हम नीचे कुछ कंपनियों की लिस्ट दे रहे हैं जो समय समय पर अपने सीएनजी पंप को विस्तृत करने के लिए विज्ञापन जारी करती रहती हैं | इसलिए इस तरह का बिज़नेस करने वाले इच्छुक व्यक्तियों को चाहिए की वह इन कंपनियों की वेबसाइट पर नज़र बनाये रखे ताकि जब भी ये कंपनिया इस तरह का इश्तिहार अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित करें उन्हें पता चल जाय और वे आवेदन कर सकें |

  • गेल इंडिया लिमिटेड
  • महानगर गैस लिमिटेड
  • हिंदुस्तान पेट्रोलियम कारपोरेशन लिमिटेड.
  • महारष्ट्र नेचुरल गैस लिमिटेड
  • इंडो ब्राइट पेट्रोलियम प्राइवेट लिमिटेड
  • इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड
  • गुजरात स्टेट पेट्रोलियम कारपोरेशन लिमिटेड

सीएनजी पंप खोलने के लिए आवेदन कैसे करें?

जब भी कोई गैस कंपनी किसी खास लोकेशन पर अपना रिटेल आउटलेट खोलना चाहती है तो वह लोगों से आवेदन मंगाने के लिए प्रचलित अखबार एवं अपनी अधिकारिक वेबसाइट पर विज्ञापन प्रकाशित करती है | विज्ञापन में जो लोकेशन दी गई हो इच्छुक एवं पात्र लोग सिर्फ उसी लोकेशन के लिए आवेदन कर सकते हैं | इसलिए यदि किसी व्यक्ति के पास विज्ञापन में दी गई लोकेशन पर कोई भूखंड या प्लाट हो तो उस व्यक्ति को आवेदन करने के लिए बिलकुल देर नहीं करना चाहिए अन्यथा कमाई के इस सुनहरे अवसर का फायदा कोई और उठा ले जाएगा | इसलिए सीएनजी पंप खोलने के इच्छुक एवं पात्र व्यक्ति को चाहिए की वह उपर्युक्त दी गई कंपनियों की अधिकारिक वेबसाइट को समय समय पर चेक करते रहे |

यह भी पढ़ें:  

भारत में अपना पेट्रोल पंप कैसे खोलें?

About Author:

मित्रवर, मेरा नाम महेंद्र रावत है | मेरा मानना है की ग्रामीण क्षेत्रो में निवासित जनता में अभी भी जानकारी का अभाव है | इसलिए मेरे इस ब्लॉग का उद्देश्य बिज़नेस, लघु उद्योग, छोटे मोटे कांम धंधे, सरकारी योजनाओं, बैंकिंग, कैरियर और अन्य कमाई के स्रोतों के बारे में, लोगो को अवगत कराने से है | ताकि कोई भी युवा अपने घर से रोजगार के लिए बाहर कदम रखने से पहले, एक बार अपने गृह क्षेत्र में संभावनाए अवश्य तलाशे |

3 thoughts on “भारत में अपना सीएनजी पंप कैसे खोलें How to open a CNG Pump in India.

  1. बेहतरीन आलेख लिखा है आपने। इस लेख में सम्पूर्ण जानकारी का समावेश किया गया है।

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *