Computerized wheel balancing and alignment workshop Business

Computerized wheel balancing and alignment workshop Business

Computerized wheel balancing and wheel alignment workshop से हमारा तात्पर्य एक ऐसे स्थान से हैं जहाँ विभिन्न वाहनों के पहियों को सीधे एवं बैलेंस किया जाता है | जैसा की हम सबको विदित है की किसी भी प्रकार के वाहन में यह बेहद जरुरी होता है की उसके चारों पहिये बैलेंस रहें अन्यथा पहियों में बुदबुदाहट हो सकती है जो स्टीयरिंग नियंत्रण को प्रभावित कर सकती है | इसके अलावा पहियों का अलाईनमेंट ठीक न होने पर पहियों में रगड़ की संभावना अधिक रहती है जिसके कारण पहियों की स्वतंत्र मूवमेंट करने की क्षमता प्रभावित होती है | कहने का आशय यह है की यदि किसी भी वाहन के चारों पहिये ढंग से Balanced एवं Allign न हों तो इससे न सिर्फ वाहन रखने वाले को आर्थिक रूप से नुकसान होता है बल्कि इसको नज़रअंदाज़ करना कभी कभी प्राणघातक भी हो सकता है | इन्ही सब समस्याओं से बचने के लिए वाहन धारक किसी ऐसी दुकान का रुख करना चाहते हैं जहाँ उनके वाहनों के पहियों को Allign एवं Balanced किया जाय |

wheel-balancing- and alignment workshop business

Computerized wheel balancing and wheel alignment workshop बिज़नेस क्या है?

वर्तमान में हर जगह, हर शहर, हर नगर इत्यादि में वाहनों की भरमार है क्योंकि लोगों के जीवन स्तर में होने वाले सुधारों के कारण भी वाहन रखने वाले लोगों की संख्या में इजाफा होता जा रहा है | वहीँ दूसरी तरफ जनसँख्या बढ़ने के साथ साथ व्यवसायिक वाहन रखने वाले लोगों की संख्या में भी वृद्धि हो रही है |  किसी भी प्रकार के वाहन का पहिया उस वाहन का एक बहुत ही महत्वपूर्ण अवयव होता है अर्थात यदि गाड़ी कोई जीव है तो पहिये उसके पैर हैं यह कहना अतिश्योक्ति नहीं होगी | इसलिए यह भी बेहद जरुरी हो जाता है की यदि पैर ही संतुलित एवं सीधे न हों तो उनके सीधे या ढंग से चलने की आशाओं पर विराम लग जाता है | यही कारण है की किसी भी वाहन धारक को जब भी उसके वाहन की wheel balancing and wheel alignment में गड़बड़ी का एहसास होता है तो उसका रुख Computerized wheel balancing and wheel alignment workshop की तरफ स्वत: ही हो जाता है | कहने का आशय यह है की जब किसी उद्यमी द्वारा वाहन धारकों की इस समस्या को ध्यान में रखकर एक Workshop खोलकर उसमे पहियों की बैलेंसिंग एवं Alignment का काम किया जाता है तो उसके द्वारा किया जाने वाला यह बिज़नेस Computerized wheel balancing and wheel alignment workshop business कहलाता है |

मार्किट में संभावनाएं:

हालांकि इस बिज़नेस में कितनी संभावनाएं व्याप्त हैं इसका अंदाज़ा इस बात से लगाया जा सकता है की वर्तमान में सड़क पर चलने वाले वाहनों की संख्या में लगातार वृद्धि होती जा रही है चूँकि यह वाहनों से जुड़ा हुआ बिज़नेस है इसलिए ज्यों ज्यों वाहनों की संख्या बढती जा रही है वैसे वैसे इस बिज़नेस के लिए मार्किट में संभावनाएं भी बढती जा रही हैं | यही कारण है की वर्तमान में इस तरह की वर्कशॉप शहरों में सामान्य सी हो गई हैं लेकिन चूँकि वाहनों की संख्या में भी लगातार वृद्धि देखने को मिल रही है इसलिए इस तरह की वर्कशॉप के लिए मार्किट में हमेशा जगह विद्यमान रहती है | वर्तमान में व्यवसायिक कारों के लिए आसानी से ऋण उपलब्ध हो जाने के कारण एवं ओला कैब, उबेर कैब जैसी कंपनियों द्वारा भी उद्यमियों को कार खरीदने एवं उन्हें काम दिलाने के वादे के चलते भी सड़क पर चलने वाली व्यवसायिक कारों की संख्या में काफी वृद्धि हुई है | इसलिए कहा यही जा सकता है की ज्यों ज्यों सड़कों पर चलने वाले वाहनों की संख्या में वृद्धि होगी वैसे वैसे Computerized wheel balancing and wheel alignment workshop business के लिए मार्किट में अवसरों की भरमार होगी |

आवश्यक मशीनरी एवं उपकरण (Required Machinery and Equipments):

Wheel Balancing and wheel alignment workshop business के लिए विभिन्न प्रकार के मशीनरी एवं उपकरणों की आवश्यकता होती है जिनकी लिस्ट कुछ इस प्रकार से है |

  • 65 किलो तक के सभी प्रकार के पहिये की बैलेंसिंग करने के लिए अन्य उपकरणों के साथ Computerized Wheel Balancing Machine
  • CCD Sensors विकल्प, मॉनिटर एवं अन्य उपकरणों के साथ PC Based Wheel Aligner
  • दो सेट टूल किट
  • वाहन लिफ्टिंग जैक

उपर्युक्त दी गई मशीनरी एवं उपकरणों में लगभग सात लाख तक का निवेश संभावित है, हालांकि समय किसी स्थान विशेष के आधार पर या अंतरित भी हो सकता है |

कार्य करने की प्रक्रिया (Working Process):

यद्यपि वाहन के पहियों का पूर्ण रूप से संतुलित एवं एक दूसरे के साथ Align रहना कितना जरुरी होता है इसका उल्लेख हम उपर्युक्त वाक्य में भी कर चुके हैं की पहियों के संतुलित न रहने पर पहिये की गतिशील शक्ति प्रभावित होती है | इसके अलावा Align ठीक न होने पर पहिया रगड़ना शुरू हो जाता है जिससे वह कम चलता है | इसलिए Wheel Balancing and wheel alignment workshop में लगी मशीन पहिये में विद्यमान गड़बड़ी को स्क्रीन पर स्वत: ही डिस्प्ले करती है |

Wheel balancing Process:

इस तरह की यह मशीन पूर्ण रूप से आटोमेटिक होती है Wheel Balancing के लिए सर्वप्रथम पहिये को टर्न टेबल पर लोड किया जाता है और उसके बाद इस पर सेंसर होल्डर attach किया जाता है | पहिये अर्थात टायर की आगे पीछे की वैल्यू को मापा जाता है उसके बाद एकल पहिया संरेखण के दौरान इन्हें कैलकुलेट किया जाता है | मशीन को स्टीयरिंग व्हील से ऑपरेट करने के लिए मशीन के साथ कार्डलेस रिमोट कण्ट्रोल दिया जाता है इस तरह की मशीनों में Castor Display, Camber,  toe readings इत्यादि कंप्यूटर स्क्रीन पर देखी जा सकती है | और Alignment Data आंकड़ों एवं graphic दोनों रूप में स्क्रीन में देखा जा सकता है |

Wheel Alignment Process:

Wheel Alignment का यह Process भी मुख्य रूप से आटोमेटिक ही होता है संभावित मीटर द्वारा पहिये का डाटा प्रविष्ट करा दिए जाने के बाद मशीन अपना काम करना शुरू कर देती है यह तब तक स्वत: क्रियाशील रहती है जब तक की पहिया संतुलित अवस्था में न आ जाय | माप की सटीकता की डिग्री औसतन निर्धारित की जाती है | रिम की चौड़ाई का डाटा, रिम का व्यास, दूरी इत्यादि डिटेल्स मशीन में स्टोर की जा सकती है | कंप्यूटर द्वारा स्वत: ही मानकीकृत कार्यक्रम दोनों साइड के पहियों को Alignment करने के लिए चालू किया जाता है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: