Naphthalene Balls की बात करें तो इसका उपयोग ऊनी एवं रेशमी कपड़ों एवं अनाज की सुरक्षा हेतु उनके बीच में रखकर किया जाता है | कहने का आशय यह है की ऊनी, रेशमी कपड़ो या अनाज की सुरक्षा के लिए जिन सफ़ेद गोलियों का इस्तेमाल इनके बीच रखकर किया जाता है उन्हें आम तौर पर लोगों द्वारा फिनायल की गोलियों का नाम दिया जाता है | जबकि सच्चाई यह है की इस प्रकार की ये गोलियां ठोस फिनायल नहीं होती हैं अपितु इनका निर्माण Naphthalene नामक एक रसायन से हुआ होता है, इसलिए इन्हें Naphthalene Balls कहा जाता है | लघु उद्योग नामक इस श्रेणी में आज हम नेफ्थालीन की गोलियां एवं केक बनाने के उद्योग के बारे में जानने की कोशिश करेंगे की इस उद्योग अर्थात बिज़नेस को शुरू करने के लिए किसी व्यक्ति को किन किन मशीनरी उपकरणों एवं कच्चे माल की आवश्यकता हो सकती है | Naphthalene Balls नामक इस उत्पाद का उपयोग केवल ऊनी एवं रेशमी कपड़ों या अनाज के बीच डालने के लिए नहीं होता है अपितु इनकी टिकिया एवं गोलियों का उपयोग टॉयलेट में भी दुर्गन्ध मिटाने के लिए किया जाता रहा है |

Naphthalene-Balls-making-business

नेफ्थालीन की गोलियां बनाने का उद्योग या बिज़नेस क्या है :

Naphthalene Balls जीवाणुओं का विनाश तो करती ही हैं लेकिन साथ में ये गोलियां कीड़ों से भी सुरक्षा मुहैया कराती हैं | लेकिन जहाँ तक कीड़ों के मरने का सवाल है वह इन्हें खाते नहीं बल्कि इनकी गंध से ही वे मर जाते हैं | इस प्रकार की गोलियों में सम्पूर्ण महत्व ही उनसे निकलने वाली धीरे धीरे निरंतर गंध का होता है जो उस वातावरण में समान गति से फैलती रहती है |  इसलिए ध्यान देने वाली बात यह है की कपड़ों के बीच रखे जाने वाली गोलियों, अनाज के बीच रखे जाने वाली गोलियों, टॉयलेट में उपयोग में लायो जाने वाली गोलियों, एवं खुशबू हेतु अन्य स्थानों में उपयोग में लायी जाने वाली गोलियों सबकी गंध अलग अलग हो सकती है | इन Naphthalene Balls में नेफ्थालीन, क्रियोजोट आयल एवं तारपीन का तेल जीवाणु नाशक रसायनों के तौर पर कार्य करते हैं इसके अलावा मोम बाइंडर के तौर पर कार्यरत रहता है, चाक पाउडर एवं सोस्टोंन को उद्यमियों द्वारा केवल भार बढ़ाने के तौर पर उपयोग में लाया जाता है | Naphthalene Balls की विभिन्न आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए जब किसी व्यक्ति द्वारा अपनी कमाई करने हेतु व्यवसायिक तौर पर इन्हें बनाने का काम किया जाता है तो उसके द्वारा किया जाने वाला वह काम नेफ्थालीन की गोलियां बनाने का उद्योग या बिज़नेस कहलाता है |

बिक्री की संभावनाएं (Market Potential):

Naphthalene balls का उपयोग ऊनी तथा रेशमी वस्त्रों के बीच एवं अनाज की सुरक्षा हेतु ही नहीं किया जाता बल्कि वर्तमान में इनका उपयोग हर तरह के कार्यालय के टॉयलेट में घरों के टॉयलेट एवं बाथरूम में एवं धीमी धीमी गंध के लिए अन्य स्थानों में भी किया जाता है | इसके अलावा इन्हें सिर्फ सफ़ेद रंग की गोलियों में न बनाकर अनेकों रंग की टिकियों में भी बनाया जाता है | चूँकि ये गोलिया एवं टिकिया जीवाणुओं का विनाश एवं दुर्गन्ध का अंत करने में सक्षम होती है इसलिए इनकी उपयोग करने के क्षेत्र बढ़ते जा रहे हैं और वातावरण को सुगन्धित बनाने के लिए टॉयलेट, पेशाबघरों, बाथरूमों के अलावा घरों भवनों के बरान्डों, कोरिडोरो, सीढ़ियों इत्यादि में भी इन सुगन्धित टिकियों का उपयोग किया जाता है | जो उस स्थान पर जहाँ वे रखी गई हैं में लगातार धीरे धीरे सुगंध बिखेरती रहती हैं | इन्हें कई सुगंधों के फ्लेवर में तैयार किया जाता है लेकिन अधिकतर तौर पर लैवेंडर, चन्दन इत्यादि सुगंधे अधिक चलती हैं | चूँकि इस प्रकार की टिकियों एवं गोलियों के बहुतायत उपयोग हैं इसलिए कहा जा सकता है की Naphthalene balls Making Business में अन्य इकाइयों के लिए भी अवसर विद्यमान हैं |

आवश्यक कच्चा माल मशीनरी एवं उपकरण (Required Machinery equipment and Raw Materials):  

जहाँ तक Naphthalene balls उद्योग को शुरू करने में प्रयोग में लाये जाने वाले मशीनरी एवं उपकरणों का सवाल है | इसकी गोलियां एवं टिकिया बनाने के लिए आटोमेटिक Naphthalene balls Making Machine का उपयोग किया जाता है | इस मशीन की कीमत अस्सी हज़ार से डेढ़ लाख के बीच हो सकती है और यह मशीन अधिक स्थान भी नहीं घेरती है इसलिए इस उद्योग को कम जगह में भी शुरू करना मुनासिब है | इस मशीन की ख्हसियत यह है की इस मशीन को ऑपरेट करना बेहद ही सरल है जो मशीन विक्रेता द्वारा मशीन बेचते वक्त उद्यमी को समझा दिया जाता है इसके अलावा उत्पाद तैयार करने के लिए उद्यमी को हर वक्त मशीन के पास ही खड़े रहने की भी आवश्यकता नहीं होती है | क्योंकि मशीन में लगे पात्र में एक बार मिश्रण भर देने पर यह मशीन आटोमेटिक Naphthalene balls बना बनाकर दूसरे पात्र में डालती रहती हैं | इसलिए यदि शुरुआत में व्यक्ति चाहे तो अकेले भी मशीन का संचालन से लेकर पैकिंग तक के कार्य अकेले भी कर सकता है | कच्चे माल की बात करें तो इस उद्योग में प्रयुक्त होने वाला मुख्य कच्चा माल Naphthalene Powder है | इस पाउडर का गुण यह है की हवा में खुला छोड़ देने पर यह धीरे धीरे उड़ता रहता है चूँकि केवल इस पाउडर का उपयोग ही उत्पाद को काफी महंगा बना देता है इसलिए उद्यमियों द्वारा इसे बनाने के लिए निम्नलिखित कच्चा माल उपयोग में लाया जाता है |

  • Naphthalene Powder
  • Soap Stone
  • Wax
  • Creasote oil
  • Turpentine Oil
  • White Oil

निर्माण प्रक्रिया (Manufacturing Process):

Automatic Naphthalene Balls making Machine के माध्यम से इसकी निर्माण प्रक्रिया बेहद ही आसान होती है | उपर्युक्त कच्चे माल से निर्मित मिश्रण को मशीन के पात्र में डालकर छोड़ दिया जाता है और मशीन स्वयं ही नेफ्थालीन गोलियों का निर्माण करके दूसरे पात्र में डालती रहती है | लेकिन उद्यमी चाहे तो इन्हें बिना मशीन के सांचों से भी तैयार किया जा सकता है | क्योंकि Naphthalene, मोम एवं अन्य रच्कों एवं रसायन युक्त मिश्रण कम ताप पर भी बहुत जल्दी पिघल जाता है और जम भी बेहद जल्दी जाता है | इसलिए उद्यमी चाहे तो भारी तल की कड़ाही में मंद आग पर इस मिश्रण को पिघला सकता है | उसके बाद इन्हें सांचों में जमाकर अपनी मनपसंद आकृति, माप, रंग इत्यादि की गोलिया एवं टिकिया बनाई जा सकती हैं | चूँकि इस प्रकार की वस्तुएं कीटनाशक एवं खतरनाक उद्योगों के अंतर्गत आती हैं इसलिए Naphthalene Balls उद्योग शुरू करने से पहले स्थानीय प्राधिकरण जैसे नगरपालिका, नगर निगम एवं स्वास्थ्य विभाग से अनुमति लेना अनिवार्य होता है |

3 Comments

  1. Avatar for Navneet kumar Navneet kumar
    October 13, 2018
  2. Avatar for Sahdev tiwari Sahdev tiwari
    January 30, 2018
  3. Avatar for Tekchand Badoni Tekchand Badoni
    January 30, 2018

Leave a Reply

Your email address will not be published

error: