पीएफ में यूएएन क्या है | (UAN) Universal Account Number .

मित्रवर जैसा की आप सबको विदित है की EPFO (Employee Provident Fund Office) ने 1 जनवरी 2014 से PF अंशदाता अर्थात अभिदाता के लिए EPFO ने Universal Account Number जारी किया है | आइये जानते हैं UAN जारी करने के पीछे EPFO का उद्देश्य क्या था |

UAN जारी करने के पीछे EPFO का उद्देश्य

देखिये अक्सर होता क्या है की ऐसे छोटे मोटे बहुते सारे नियोक्ता अर्थात (Employer) हैं | जो PF अंशदाता अर्थात अपने (Employee) को उसकी मर्जी के खिलाफ कुछ और अधिक दिनों के लिए नौकरी करने के लिए यह कहकर मजबूर कर देते हैं | आपको जाना है तो चले जाइए लेकिन हो सकता है की आपका भविष्य में PF Clear ना हो |

और बहुत सारी स्तिथि में तो PF अंशदाता को साफ़ तौर पर धमकी दी जाती है की अगर आप नौकरी छोड़ के गए तो हम आपका EPF Withdrawal Form साइन नहीं करेंगे | इन्ही सब स्तिथि को रोकने के लिए और PF अंशदाता की एक वाजिब जानकारी अपने पास रखने हेतु, और EPF निकालते समय EPF अंशदाता का नियोक्ता पर निर्भरता को कम करने के उद्देश्य हेतु EPFO  ने UAN, Universal Account Number  जारी किया है |

UAN Kya Hai

UAN का पूरा नाम Universal Account Number है, और जैसा की नाम से ही स्पष्ट है Universal का शाब्दिक अर्थ सार्वभौमिक है लेकिन यहाँ पर इसका साहित्यिक अर्थ EPF के सभी मामलो के लिए दिया गया नंबर से लगाया जा सकता है | EPFO द्वारा जारी किया गया UAN किसी EPF अंशदाता के भिन्न भिन्न नियोक्ताओ द्वारा भिन्न भिन्न Member ID’s पर लागू होगा, अर्थात यदि आप अपनी नौकरी बदलते हैं तो आप नए नियोक्ता द्वारा दिए गए Member Id’s को UAN से लिंक कर सकते हैं |

Member ID’s  अनेक हो सकती हैं, लेकिन एक EPF अंशदाता के लिए UAN एक ही होगा | अर्थात Universal Account Number एक छाते की तरह काम करेगा जिसके अन्दर भिन्न भिन्न नियोक्ताओ द्वारा किसी EPF अंशदाता को दी गई भिन्न भिन्न Member Id’s होंगी |

UAN कैसे प्राप्त करें

यदि आप किसी जगह कार्यरत हैं और EPF में आपकी सहभागिता है लेकिन आपके पास आपका Universal Account Number नहीं है | तो आपको अपने नियोक्ता अर्थात Employer से बात करके अपना UAN लेना होगा | साधारण शब्दों में आपको आपका UAN आपके नियोक्ता Employer से ही मिलेगा |

Portal के माध्यम से Details तक कैसे पहुंचे?

Portal में अपनी details तक पहुँचने के लिए सर्वप्रथम EPF अंशदाता को  UAN Memeber Portal पर जाना होगा | उसके बाद ‘’ACTIVATE YOUR UAN’’ बटन के माध्यम से अपना UAN एक्टिवेट करना होगा | यह क्रिया करते समय EPF अंशदाता के पास Universal Account Number,मोबाइल नंबर, Member ID होनी चाहिए ताकि details पोर्टल में आसानी से भरी जा सके |

UAN एक्टिवेट करने के बाद क्या पासबुक देखी या डाउनलोड की जा सकती है?

जी हाँ Universal Account Number एक्टिवेट करने के बाद कभी भी कही भी आप अपनी पासबुक देख भी सकते हैं और अपनी इच्छा के मुताबिक डाउनलोड भी कर सकते हैं | उसके लिए सबसे पहले आपको UAN portal में लॉग इन करना होगा, उसके बाद Menu में जाएँ उसके बाद डाउनलोड पासबुक पर क्लिक करें अगर आप चाहें तो पासबुक को PDF फाइल में डाउनलोड भी कर सकते हैं |

इसके अलावा यदि आप अपना UAN Card भी डाउनलोड करना चाहते हैं | तो Download UAN Card पर क्लिक करके UAN Card भी डाउनलोड कर सकते हैं |

KYC के लिए कौन कौन से कागजाद मान्य होंगे

  • National Population register
  • AADHAR Card
  • PAN Card
  • Bank Account Number
  • Passport
  • Driving License
  • Election Card
  • Ration Card

KYC के लिए EPF अंशदाता को उपर्युक्त दस्तावेजो की स्कैन्ड कॉपी पोर्टल में अपलोड करनी होगी | आप उपर्युक्त में से एक या एक से अधिक दस्तावेज अपलोड कर सकते हैं | approved दस्तावेजो की सूची उसी पेज पर उपलब्ध होगी |

क्या होगा यदि में Job Change करूँ?

अगर आपने नौकरी बदल ली है तो कोई बात नहीं आप अपने नए नियोक्ता को अपने UAN की details दे दीजिये | याद रखिये UAN आपके सम्पूर्ण करियर में यही रहेगा, आपको इसे हर बार बदलने की जरुरत नहीं है |

यह भी पढ़ें :-

Leave a Comment