Barber Shop Business Plan in Hindi । नाई की दुकान कैसे शुरू करें

Barber Shop नाई की दुकान या हेयर सैलून से आप सब अच्छी तरह अवगत होंगे, क्योंकि हर किसी ने इस प्रकार की दुकानों में जाकर अपने बाल अवश्य कटाए होंगे। जी हाँ नाई की दुकान से वास्ता मनुष्य का उसके बचपन से ही हो जाता है जब उसके सिर पर बाल लम्बे  होना शुरू हो जाते हैं। इसलिए कहा जा सकता है की मनुष्य की पहचान खास तौर पर पुरुषों की इस व्यवसाय से पहचान उसके बचपन में ही हो जाती है। Barber Shop Business एक पारम्परिक बिज़नेस है यह प्राचीनकाल से चला आ रहा है इसलिए बहुत बार राजा महाराजाओं के वृतांत में नाईयों का भी उल्लेख मिलता है। जहाँ पहले ग्रामीण इलाकों में सहयोग की भावना व्याप्त होने के चलते किसी एक गाँव वाले को बाल काटने का ज्ञान होने पर वही सारे गाँव के पुरुषों के बाल बिना किसी शुल्क के काट लिया करता था। लेकिन वर्तमान में न तो ग्रामीण इलाकों में सहयोग की भावना रह गई है और न ही ऐसे लोग। सच्चाई तो यह है की अब समय ही बदल गया है तो लोगों को तो समय के हिसाब से बदलना ही है। खैर जो भी हो बदलते समय के साथ साथ ग्रामीण इलाकों की तरफ भी इस प्रकार के बिज़नेस अर्थात Barber Shop ने इसलिए पाँव पसारने शुरू कर दिए हैं क्योंकि वहां के जनमानस को इसकी आवश्यकता है। इन सब उपर्युक्त बातों से अभिप्राय सिर्फ इतना सा है की Barber Shop Business एक ऐसा बिज़नेस है जिसे दुनिया के किसी भी कोने से शुरू किया जा सकता है। इसलिए आइये जानते हैं आखिर यह बिज़नेस है क्या?

barber shop business kaise shuru kare

नाई की दुकान का व्यापार क्या है (What Is barber Shop Business in Hindi):

साधारण बोलचाल की भाषा में एक नाई की दुकान का अर्थ उस स्थान से लगाया जाता है जहाँ एक या एक से अधिक नाई काम कर रहे होते हैं । इसका मतलब यह हुआ की Barber Shop एक ऐसा स्थान है जहाँ एक या एक से अधिक नाई अपने ग्राहकों की हेयर कटिंग, शेविंग या मसाज इत्यादि कर रहे होते हैं । अधिकतर आम तौर पर लोग हेयर कटिंग एवं शेविंग करने के लिए ही नाई की दुकान का रुख करते हैं । इसलिए एक ऐसा स्थान जहाँ कम से कम दो उपर्युक्त काम कटिंग एवं शेविंग होती हो को Barber Shop कहा जा सकता है । चूँकि कटिंग शेविंग इत्यादि के बदले सम्बंधित नाई की कमाई हो रही होती है इसलिए इसे व्यापार अर्थात बिज़नेस की संज्ञा भी दी गई है।

नाई की दुकान की आवश्यकता (Requirement of barber Shop Business):

हर पुरुष चाहे ग्रामीण भारत हो या शहरी अपने बाल कटवाने एवं शेविंग करने Barber Shop पर अवश्य जाता है। इसलिए ऐसी कॉलोनी गलियों में जहाँ पुरुषों की संख्या ठीक ठाक है नाई की दुकान खोली जा सकती है । ग्रामीण भारत में जहाँ पहले गाँव के किसी व्यक्ति द्वारा ही निःशुल्क पुरुषों के बाल काट दिए जाते थे, वर्तमान में ऐसा नहीं है । इसलिए इस तरह के दुकान की आवश्यकता लगभग हर स्थानीय मार्केट में हो गई है । किसी स्थानीय मार्केट में वहां की जनसँख्या के हिसाब से एक से अधिक Barber Shop आसानी से चल सकती है । कहने का अभिप्राय यह है की किसी स्थानीय मार्केट में जैसे अन्य दुकानें होनी जरुरी हैं वैसे ही नाई की दुकान भी होनी जरुरी है ताकि वहां के स्थानीय लोग वहां पर जाकर कटिंग एवं शेविंग करा सकें। उद्यमी को चाहिए की वह नाई की दुकान खोलने के लिए किसी स्थानीय मार्केट का चयन कर सकता है।

नाई की दुकान कैसे खोलें (How to Start Barber Shop Business In India in Hindi):

यद्यपि नाई की दुकान नामक यह व्यापार बेहद कम निवेशों की लिस्ट में सम्मिलित कमाई करने के उद्देश से एक अच्छा व्यापार माना जाता रहा है । यह एक ऐसा बिज़नेस है जो वर्ष के बारह महीने बिना किसी रुकावट के चलते रहता है । और कहा जाता है की Barber Shop Business शुरू करना बेहद आसान कार्य है लेकिन स्किल कर्मचारियों का मिलना एवं अच्छी लोकेशन मिलना इस बिज़नेस के लिए एक चुनौती हो सकती है। फिर भी हम इस लेख के माध्यम से भारतवर्ष में नाई की दुकान खोलने की स्टेप बाई स्टेप प्रक्रिया के बारे में जानने की कोशिश करेंगे।

  1. बिज़नेस लोकेशन का चुनाव करें:

हालांकि सभी प्रकार के बिज़नेस के लिए उसकी लोकेशन बड़ी अहम होती है लेकिन Barber Shop की सफलता या असफलता इस बात पर ही निर्भर करती है की उद्यमी की बिज़नेस लोकेशन क्या है। कहने का अभिप्राय यह है की यदि उद्यमी चाहता है की उसका बिज़नेस सफलता के पथ पर आगे बढे तो उसे अपने बिज़नेस के लिए एक परफेक्ट लोकेशन का चुनाव करना होगा। उद्यमी अपनी दुकान को किसी स्थानीय मार्केट में, या ऐसे आवसीय कॉलोनियों के नज़दीक खोल सकता है जहाँ पुरुषों की संख्या अधिक हो। क्योंकि नाई की दुकान में अधिकतर तौर पर पुरुष ही बाल कटवाने एवं शेविंग करने आते हैं। ध्यान रहे Barber Shop ऐसी जगह पर होनी चाहिए जहाँ ग्राहक आसानी से पहुँच सके अर्थात या तो यह सड़क के किनारे होनी चाहिए या सड़क से इसकी दूरी पैदल चलने योग्य होनी चाहिए।

किसी भी बिज़नेस के लिए अच्छी लोकेशन का चयन कैसे करें।

  1. खर्चे का आकलन करें:

यद्यपि नाई की दुकान खोलने यानिकी Barber Shop Business शुरू करने में बहुत ज्यादा खर्चा करने की आवश्यकता नहीं होती है। यहाँ तक की यदि व्यक्ति स्वयं बाल काटना एवं दाढ़ी बनाना इत्यादि काम जानता हो तो वह इस बिज़नेस को 60 हज़ार से एक लाख के बीच आसानी से शुरू कर सकता है। लेकिन इसके बावजूद Barber Shop Business शुरू करने में आने वाली लागत अनेक कारकों पर निर्भर करती है। इसमें लोकेशन, कर्मचारियों की नियुक्ति, ग्राहकों को दी जाने वाली सुविधाएँ इत्यादि शामिल हैं। यदि उद्यमी के पास स्वयं की दुकान एवं इस काम में स्वयं का अनुभव हो तो लागत और भी कम हो सकती है। यहाँ पर हम एक किराये पर लेकर नाई की दुकान खोलने में आने वाले खर्चे का ब्यौरा नीचे दे रहे हैं ।

  • बहुत सारे दुकान के मालिकों द्वारा दुकान किराये पर देने से पहले रिफंडेबल सिक्यूरिटी की मांग की जा सकती है । यद्यपि यह खर्चा नहीं होता है क्योंकि दुकान छोड़ते वक्त दुकान मालिक द्वारा यह रकम उद्यमी को लौटा दी जाती है । इस तरह की यह सिक्यूरिटी डिपाजिट 40-50 हज़ार रूपये हो सकती है।
  • एक अच्छी लोकेशन पर इस तरह की दुकान का किराया 8-12 हज़ार रूपये मान के चल सकते हैं।
  • एक अनुभवी स्टाफ की सैलरी 12-15 हज़ार रूपये मान के चल सकते हैं।
  • एक हज़ार रूपये महीने का बिजली का बिल मान के चल सकते हैं।
  • बीस से पच्चीस हज़ार रूपये फर्निशिंग एवं उपकरण खरीदने में आ सकता है।
  1. स्थानीय नियमों की जानकारी लें:

हालांकि अभी तक छोटे स्तर पर Barber Shop business शुरू करने के लिए लाइसेंस एवं पंजीकरण की आवश्यकता अनिवार्य रूप से नहीं होती है। लेकिन फिर भी उद्यमी को स्थानीय नियमों की जानकारी ले लेनी चाहिए की उस लोकेशन विशेष पर ऐसा कोई नियम तो नहीं है की उसे अपने बिज़नेस को रजिस्टर करने की आवश्यकता हो । इसके लिए उद्यमी स्थानीय प्राधिकरण के कार्यालय में जाकर पता कर सकता है । अगर नियमों के मुताबिक उसे कुछ लाइसेंस इत्यादि लेने की आवश्यकता हो तो उद्यमी को वह अवश्य लेना चाहिए।

  1. नाई की दुकान स्थापित करें :

उद्यमी का अगला कदम चयन की गई दुकान में फिक्सिंग एवं फर्निशिंग का काम कराने का होना चाहिए । नाई की दुकान अच्छे ढंग से स्थापित करने के लिए उद्यमी को शीशों की आवश्यकता हो सकती है। इन सब कार्यों को निष्पादित करने के लिए उद्यमी किसी अनुभवी कारपेंटर से संपर्क कर सकता है। जिसने पहले भी Barber Shop की फिक्सिंग एवं फर्निशिंग का काम किया हुआ हो।

  1. आवश्यक टूल एवं उपकरण खरीदें :

नाई की दुकान स्थापित हो जाने के बाद अर्थात दुकान में शीशे इत्यादि लग जाने, कुर्सियां लग जाने  एवं कारपेंट्री वर्क पूर्ण हो जाने के बाद उद्यमी का अगला कदम Barber Shop के लिए आवश्यक उपकरण एवं टूल खरीदने का होना चाहिए । या उद्यमी चाहे तो यह काम फिक्सिंग एवं फर्निशिंग कराने से पहले भी कर सकता है वह तब जब उद्यमी को शीशे एवं कुर्सियां कारपेंटर न दे रहा हो । शीशे, कुर्सियों के अलावा उद्यमी को कैंची, ट्रिमर, शेविंग मशीन, अनेकों प्रकार की कॉस्मेटिक क्रीम, हेयर ब्रश, कंघियाँ, टेलकम पाउडर, बिजली से चलने वाली मशीन जैसे बालों को छोटा करने वाली मशीन इत्यादि चाहिए हो सकती हैं । शीशे एवं कुर्सियों के अलावा यह सभी सामान छोटा एवं सस्ता सामान है इसलिए Barber Shop Business में ज्यादा निवेश अपेक्षित नहीं है।

  1. अनुभवी कर्मचारी नियुक्त करें:

यदि उद्यमी को स्वयं भी बाल कटाई, दाढ़ी बनाना, मसाज करना इत्यादि काम आता हो तो उसे एक कर्मचारी की आवश्यकता हो सकती है लेकिन यदि उद्यमी यह कार्य नहीं जानता हो तो फिर उसे एक से अधिक कर्मचारियों की नियुक्ति करने की आवश्यकता हो सकती है । एक औसतन शहर में अनुभवी नाई 12-15 हज़ार मासिक वेतन में उपलब्ध हो सकते हैं । शुरू में उद्यमी चाहे तो अकेले भी Barber Shop चला सकता है या फिर सस्ती दरों पर किसी सहायक को काम पर रखकर उसे काम सीखा सकता है। इससे उद्यमी को कर्मचारी कुछ समय के लिए सस्ती दरों पर उपलब्ध हो जायेगा और जब तक उसका बिज़नेस रफ़्तार पकड़ेगा तब तक उसका सहायक भी काम सीख जायेगा।

  1. मार्केटिंग करें एवं कमाई करें:

हालांकि barber Shop के लिए शुरूआती दिनों में ग्राहक लाना बेहद कठिन काम है और सच्चाई यह है की इस बिज़नेस को प्रोत्साहित करने के लिए ज्यादा मार्केटिंग तकनीक का उपयोग भी नहीं किया जा सकता। क्योंकि जब लोगों को बाल काटने होते हैं तो वे खुद अपनी पास की नाई की दुकान में पहुँचते हैं बशर्ते उन्हें पता होना चाहिए की उनके पास में नाई की दुकान या Barber Shop कहाँ पर है । इसलिए यदि उद्यमी की दुकान किसी स्थानीय मार्केट या आवसीय कॉलोनी में है तो उसके आस पास के लोग बाल कटवाने, दाढ़ी बनाने एवं अन्य कामों के लिए उस दुकान में अपने आप आयेंगे लेकिन ग्राहक को अपने बिज़नेस के साथ बांधे रहना इस बिज़नेस में उद्यमी की एक बड़ी जिम्मेदारी होती है । इसलिए उद्यमी को चाहिए की वह पूरी लगन एवं ईमानदारी से अपना कार्य करे और ग्राहकों के साथ अच्छा व्यवहार करे ताकि लोग बार बार उसकी ही Barber Shop में बाल कटवाने, दाढ़ी बनवाने, मसाज करवाने इत्यादि कामों के लिए आयें ।

यह भी पढ़ें

About Author:

मित्रवर, मेरा नाम महेंद्र रावत है | मेरा मानना है की ग्रामीण क्षेत्रो में निवासित जनता में अभी भी जानकारी का अभाव है | इसलिए मेरे इस ब्लॉग का उद्देश्य बिज़नेस, लघु उद्योग, छोटे मोटे कांम धंधे, सरकारी योजनाओं, बैंकिंग, कैरियर और अन्य कमाई के स्रोतों के बारे में, लोगो को अवगत कराने से है | ताकि कोई भी युवा अपने घर से रोजगार के लिए बाहर कदम रखने से पहले, एक बार अपने गृह क्षेत्र में संभावनाए अवश्य तलाशे |

One thought on “Barber Shop Business Plan in Hindi । नाई की दुकान कैसे शुरू करें

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *