BHIM Aadhar Pay Application की जानकारी |

BHIM Aadhar Pay Application की जानकारी |

BHIM Aadhar App की शुरुआत भारत में नकदी के प्रवाह को कम करने के लिए एवं व्यापारियों एवं छोटे मोटे दुकानदारों को Digital Payment की ओर प्रोत्साहित करने हेतु भारत के वर्तमान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने आज दिनांक 14 April 2017 को नागपुर में की है | BHIM Aadhar App को Develop करने का कार्य National Payments Corporation of India (NPCI) ने किया है | वर्तमान में यदि हम भारत में Digital Payment की वास्तविकता का विश्लेषण करेंगे तो हम पाएंगे की सरकार द्वारा उठाये गए विभिन्न कदमो के कारण लोगों का ध्यान Digital Payment की ओर आकर्षित तो हुआ है लेकिन अभी भी अधिकतर जनसख्या द्वारा अपनी रोजमर्रा की वस्तुएं नकदी देकर ही खरीदी जाती हैं | शहरों की यदि हम बात करें तो ग्राहकों के लिए यहाँ नकदी से लेकर Digital Payment करने तक के विकल्प विद्यमान है लेकिन फिर भी अधिकतर वस्तुएं नकदी के माध्यम से इसलिए खरीदी जाती हैं क्योंकि कॉलोनी, गलियों में उपलब्ध परचून की दूकान, रेहड़ी, खोमचे वालों के पास Digital Payment लेने हेतु न तो साधन उपलब्ध हैं और न ही जानकारी इसलिए वे अपने ग्राहकों को Digital Payment करने का विकल्प ही नहीं देते | इसके अलावा एक आंकड़े के मुताबिक सम्पूर्ण भारत में केवल 15 लाख Point of Sale मशीन बैंकों द्वारा जारी की गई हैं जबकि भारत में मर्चेंट की संख्या लगभग 5 करोड़ है | इसके अलावा जहाँ तक ग्रामीण इलाकों की बात है वहां बहुत सारे लोग ऐसे भी हैं जिनके पास न तो डेबिट कार्ड है, न क्रेडिट कार्ड है और न ही मोबाइल फ़ोन | इन्ही सब बातों को ध्यान में रखते हुए वर्तमान प्रधानमंत्री जी ने BHIM Aadhar App का प्रमोचन किया है ताकि छोटे मोटे रेहड़ी, पटरी, दुकानदार इत्यादि सब अपने ग्राहकों को BHIM Aadhar App के माध्यम से Digital Payment करने की फैसिलिटी दे सकें |

BHIM-Aadhar-pay-app

BHIM Aadhar App Kya hai:

BHIM Aadhar Pay app कारोबारियों को ध्यान में रखकर बनाई गई एक मोबाइल एप्लीकेशन है | इस एप्लीकेशन को उपयोग में लाकर लगभग सभी प्रकार के विक्रेता अपने ग्राहकों को Digital Payment की फैसिलिटी मुहैया करा सकते हैं | BHIM Aadhar Pay app को खास तौर पर ऐसे लोगों को ध्यान में रखकर भी बनाया गया है जिनके पास डेबिट कार्ड एवं मोबाइल फ़ोन नहीं है | चूँकि BHIM app एक Unified Payments Interface पर आधारित एक एप्लीकेशन है | जबकि इसके अपडेटेड Version में इसे अब आधार के माध्यम से भुगतान करने की फैसिलिटी (Aadhar Enabled Payment System) से भी जोड़ दिया गया है यही कारण है की इसे BHIM Aadhar Pay app का नाम दिया गया है |  इस एप्लीकेशन के माध्यम से कोई भी व्यक्ति जिसका बैंक अकाउंट उसके आधार कार्ड से लिंक है अपने अंगूठे के माध्यम से विक्रेता को भुगतान कर सकता है | यह BHIM Aadhar app सिर्फ विक्रेता अर्थात कारोबारी को अपने फ़ोन में इनस्टॉल करनी होगी और बायोमेट्रिक स्कैन मशीन से इसे लिंक करना होगा, ताकि ग्राहक अंगूठे के माध्यम से भुगतान करने में सक्षम हो सके |

Advantage Of BHIM Aadhar Pay app In Hindi:

जैसा की हम उपर्युक्त वाक्य में बता चुके हैं की BHIM Aadhar App को खास तौर पर कारोबारियों के उपयोग हेतु विकसित किया गया है ताकि वे अपने ग्राहकों को Digital Payment का विकल्प उपलब्ध करा सकें | इस एप्लीकेशन को उपयोग में लाने के बहुत सारे फायदे हैं जिनकी संभावित लिस्ट कुछ इस प्रकार से है |

  • BHIM Aadhar Pay app के माध्यम से ऐसे लोग भी digital payment करने में सक्षम होंगे जिनके पास डेबिट कार्ड एवं मोबाइल भी नहीं है |
  • इस एप्लीकेशन के माध्यम से ऐसे लोग भी Digital Payment कर सकते हैं जो न तो लिख सकते हैं और न ही पढ़ सकते हैं क्योंकि इसमें सिर्फ अंगूठे के प्रिंट की आवश्यकता होगी |
  • BHIM Aadhar app को राष्ट्रीय भुगतान निगम ने तैयार किया है और सरकार द्वारा ही इसे देश में Digital Payment को बढ़ावा देने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है | इसलिए कारोबारियों, दुकानदारों द्वारा इसको उपयोग में लाने पर Merchant Discount Rate (MDR) लागू नहीं होगा | अर्थात कोई भी दुकानदार इसे मुफ्त में उपयोग में ला सकता है |
  • सरकार द्वारा इस एप्लीकेशन को अधिक से अधिक लोगों तक पहुँचाने के उद्देश से एक Referral Scheme की शुरुआत भी की गई है | Referral Scheme के मुताबिक किसी एक दोस्त/जानकार को Referral link या Referral Code के मध्यम से जोड़ने पर जुड़ने वाले नए व्यक्ति और जोड़ने वाले व्यक्ति दोनों को बोनस दिया जायेगा, प्रत्येक व्यक्ति जो सफलतापूर्वक किसी नए व्यक्ति को इस एप्लीकेशन से जोड़ लेगा उसे प्रति व्यक्ति रूपये 10 एवं नए जुड़ने वाले व्यक्ति को रूपये 25 दिए जाने का प्रावधान है |
  • कारोबारियों अर्थात दुकानदारों के लिए भी Cash back Scheme का प्रावधान किया गया है BHIM app के माध्यम से किसी भी Mode चाहे वह QR Code हो, VPA हो, मोबाइल नंबर हो या फिर आधार हो से अधिक से अधिक लेन देन की प्रक्रिया करने पर दूकानदार या कारोबारी महीने में अधिक से अधिक 300 तक का Cash back पा सकते हैं |
  • BHIM App के साथ पहले से ही 27 से अधिक बैंक जुड़े हुए हैं, इसलिए दुकानदारों को इस एप्लीकेशन से फायदा हो सकता है |
  • BHIM Aadhar Pay की खास खासियत यह है की इसमें यह जरुरी नहीं है की ग्राहक के फ़ोन में भी BHIM app Install हो, बल्कि यह एप्लीकेशन केवल दुकानदार या विक्रेता को अपने फ़ोन में इनस्टॉल करनी होती है |
  • एक आंकड़े के मुताबिक पुरे भारतवर्ष में बैंकों द्वारा केवल 15 लाख Point Of Sale मशीन विकसित की गई है, जबकि इंडिया में मर्चेंट की संख्या लगभग पांच करोड़ आंकी गई | इसलिए यदि कोई व्यापारी POS मशीन लेना भी चाहे तो उसे लम्बा इंतजार करना पड़ता था | लेकिन इस BHIM Aadhar Pay app आ जाने के बाद इस समस्या का निराकरण होगा |

How to Download and Install BHIM Aadhar Pay app:

BHIM Aadhar केवल और केवल रिटेल मर्चेंट (Individual और sole proprietors) के लिए है, Corporate Merchant के लिए नहीं  | यद्यपि यह app वर्तमान में चल रही BHIM app का अपग्रेडेड Version है | इसलिए जिन मर्चेंट के मोबाइल में पहले से BHIM app Installed है वे इसे अपडेट करके बायोमेट्रिक रीडर को कनेक्ट करके अपने ग्राहकों को यह फैसिलिटी दे सकते हैं | जिनके मोबाइल फ़ोन में यह app इनस्टॉल नहीं है वे रिटेल मर्चेंट निम्न  स्टेप अपनाकर इसे डाउनलोड एवं इंस्टाल कर सकते हैं |

छोटे मोटे दुकानदार कारोबारी इसे अपने फ़ोन पर डाउनलोड करने के लिए सर्वप्रथम Google Play Store पर जा सकते हैं  |

उसके बाद ऊपर सर्च बॉक्स में BHIM Aadhar Pay App टाइप करना होगा |

Drop down List में BHIM Aadhar Pay एप्लीकेशन दिखाई देगी उसका चयन कीजिये |

चयन करने के बाद Download बटन पर क्लिक करें |

एप्लीकेशन कुछ परमिशन मांगेंगी Accept पर क्लिक कीजिये उसके बाद Downloading शुरू हो जाएगी और डाउनलोड की प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद BHIM Aadhar Pay app स्वतः ही फ़ोन में इनस्टॉल हो जाएगी | डाउनलोड एवं इंस्टाल की प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद दूकानदार या उद्यमी को चाहिए की वह Bio-metric Scan Machine से इसे कनेक्ट करे और आधार के माध्यम से भुगतान स्वीकार करना शुरू करे |

 

Comments

  1. By Mukesh bhooker

    Reply

  2. By Ram saran

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: