Digital Signature Certificate के लिए ऑनलाइन अप्लाई कैसे करें |

Digital Signature Certificate के लिए ऑनलाइन अप्लाई कैसे करें |

Digital Signature Certificate का इज ऑफ़ डूइंग बिज़नेस में बड़ा अहम् योगदान है | कहने का आशय यह है की बहुत सारे सरकारी गैर सरकारी काम जो एक बिज़नेस चलाने के लिए करने पड़ते हैं, सरकार द्वारा उन अधिकतर कामों को Ease Of Doing Business के चलते ऑनलाइन कर दिया है और यह ऑनलाइन करने की प्रक्रिया आगे भी जारी है | इन्ही सब महत्वपूर्ण कार्यों को ऑनलाइन अंजाम देने के लिए किसी कंपनी के प्राधिकृत व्यक्ति को Digital Signature Certificate (DSC)  की आवश्यकता होती है | वर्तमान में DSC का उपयोग कंपनी रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया में, ऑनलाइन इनकम टैक्स Return भरने में, E Tendering, DIN लेने, EPFO के साथ ऑनलाइन रजिस्टर कराने एवं विभिन्न ऑनलाइन सेवाओं का लाभ लेने इत्यादि में उपयोग में लाया जाता है | भारतवर्ष में Digital Signature Certificate जारी करने का अधिकार सिर्फ लाइसेंस प्रमाणित प्राधिकारी को होता है | certifying authority एक प्राधिकृत व्यक्ति या कंपनी होती है जिसे DSC जारी करने का भारत सरकार के सम्बन्धित विभाग से लाइसेंस प्राप्त हुआ होता है |

Digital-Signature-certificate-

Digital Signature Certificate Kya Hai:

Digital Signature इलेक्ट्रॉनिक रूप में भौतिक हस्ताक्षर होते हैं, वर्तमान में विभिन्न बिज़नेस सम्बन्धी कार्यों को ऑनलाइन निपटाने हेतु उद्यमियों या कंपनियों को इसकी आवश्यकता होती है | इसलिए कहा यह जा सकता है की वर्तमान में लगभग हर बिज़नेस के लिए DSC एक महत्वपूर्ण अवयव है | Digital Signature Certificate को ऑनलाइन इन्टरनेट के माध्यम से विभिन्न कार्यों को करने के लिए पहचान के तौर पर उपयोग में लाया जा सकता है | किसी प्रकार के भी ऑनलाइन लेन-देन के लिए एक Digital Signature Certificate उच्च स्तर की सुरक्षा मुहैया कराता है | Digital Signature Certificate का उपयोग करके विभिन्न कार्य जैसे EPFO के साथ Employer Registration, कंपनी रजिस्ट्रेशन, Income Tax Return E Filling इत्यादि को घर बैठे या कार्यालय में बैठे बैठे अनजाम तक पहुँचाया जा सकता है | कहने का तात्पर्य यह है की DSC किसी व्यक्ति या कंपनी की इलेक्ट्रॉनिक रूप से पहचान कराने में एक साक्ष्य का किरदार निभाता है |

DSC के प्रकार (Types of DSC):

यदि हम Digital Signature Certificate के प्रकार की बात करें तो भारत में तीन प्रकार के अलग अलग DSC विद्यमान है और तीनों अलग अलग DSC को अलग अलग उद्देश्य हेतु उपयोग में लाया जाता है |हालांकि Class 0 Certificate केवल demonstration के लिए उपयोग में लाया जाता है इसलिए इसको DSC के प्रकारों में शामिल नहीं किया गया है |
Class 1 DSC:
Class 1 DSC किसी भी व्यक्ति को जारी किया जा सकता है जहाँ तक इसके उपयोग की बात है यह केवल उपयोगकर्ता का नाम किसी E Mail Address के साथ प्रमाणित करता है | यही कारण है की Class 1 DSC दस्तावेज को हस्ताक्षरित करने के लिए वैधानिक रूप से सक्षम नहीं है |
Class 2 DSC:
Class 2 DSC किसी व्यक्ति विशेष की पहचान की पुष्टि पहले से पुष्टि की हुई डिटेल्स अर्थात डेटाबेस के आधार पर करता है | यही कारण है की Class 2 DSC को Ministry Of Corporate Affairs, Sales tax एवं आयकर विभाग के Online Form Filling के लिए उपयोग में लाया जा सकता है |
Class 3 DSC:
Class 3 DSC सबसे उच्च सुरक्षित DSC का प्रकार है इस प्रकार के DSC को electronic commerce एवं e trading में पहचान स्थापित करने के उद्देश्य से उपयोग में लाया जाता है | Class 3 DSC के लिए आवेदन कर रहे व्यक्ति को Registration Authority के सामने खुद को उपस्थित करना पड़ता है | DSC का यह प्रकार ट्रेडमार्क रजिस्ट्रेशन में भी उपयोग में लाया जा सकता है |
सामान्यतया Digital Signature Certificate की वैधता 1-2 वर्ष होती है समय की वैधता बढाने के लिए DSC को Renew किया जा सकता है |
Digital Signature Certificate किस किस को चाहिए हो सकता है?
किसी कंपनी/फैक्ट्री/ संसथान के अधिकृत हस्ताक्षरकर्ता (Authorized Signatory) सभी को विभिन्न सरकारी/गैर सरकारी फॉर्म इत्यादि को सबमिट करने के लिए DSC की आवश्यकता हो सकती है | इसलिए निम्नलिखित पेशेवर व्यक्तियों को Digital Signature Certificate खरीदना पद सकता है |

  • कंपनी/संस्थान के डायरेक्टर या अन्य अधिकृत हस्ताक्षरकर्ता |
  • चार्टर्ड एकाउंटेंट/ ऑडिटर इत्यादि |
  • जॉब पर लगा हुआ या प्रैक्टिस करने वाला कंपनी सचिव |
  • बैंको के अधिकारी |
  • अन्य अधिकृत हस्ताक्षकर्ता |

DSC के लिए ऑनलाइन कैसे अप्लाई करें?

भारत सरकार के इलेक्ट्रॉनिक और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के अन्तरगत प्रमाणन प्राधिकरण  नियंत्रक (CCA) कार्य करता है जो DSC जारी करने हेतु एजेंसी को लाइसेंस जारी करता है जिन्हें Licensed Certifying Authorities (CA) कहते हैं | इनकी लिस्ट CCA की ऑफिसियल वेबसाइट पर देखी जा सकती है | वर्तमान में उपलब्ध लाइसेंस प्राप्त किये हुए Certifying Authorities की लिस्ट निम्नवत है |

DSC के लिए अप्लाई करने हेतु इच्छुक व्यक्ति को चाहिए की वह उपर्युक्त दी गई वेबसाइट में से किसी भी वेबसाइट पर जाए और Instructions Follow करके DSC के लिए Online Apply करे | Digital Signature Certificate पाने में व्यक्ति को आवेदन करने के बाद लगभग 3 दिन तक का समय लग सकता है |

Comments

  1. By gourav

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: