Elon Musk : एलन मस्क की सफलता की कहानी।

Elon Musk जी हाँ नाम तो शायद आपने सुना होगा, और सुनें भी क्यों नहीं, क्योंकि आज की तारीख में दुनिया का सबसे अमीर आदमी का ओहदा इन्हीं के पास है। आज जब हम Elon Musk को इतनी ऊँचाई पर देखते हैं, तो यकीन करना मुश्किल हो जाता है की, कभी यह आदमी भी हमारी और आपकी तरह ही एक साधारण आदमी था। किसी भी आदमी को साधारण से असाधारण बनाने में उसकी सोच और सोच के हिसाब से कर्मों का अहम् योगदान होता है। यही कारण है की मनुष्य जीवन कर्म प्रधान माना गया है।

कर्म की प्रधानता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है की, आज की तारीख का दुनिया का सबसे बड़ा रईस Elon Musk भी चुपचाप बैठकर आराम से जिन्दगी नहीं बीता सकता। उन्हें भी इस जीवन में निरंतर कर्म करते रहना पड़ेगा। इन दिनों कई कारणों से दुनिया का यह सबसे अमीर आदमी चर्चाओं में बना हुआ है। यही कारण है की लोग एलन मस्क के जीवन के बारे में जानने में दिलचस्पी दिखा रहे हैं।

elon musk success story in hindi

क्योंकि एक साधारण आदमीं की असाधारण सफलता ने पूरी दुनिया को हतप्रभ और चकित कर दिया है। ऐसा नहीं है की इनके जीवन में बाधाएँ नहीं आई, बाधाएँ आई और इन्होने उन बाधाओं का जमकर सामना किया तो बाधाओं को पीछे हटना ही पड़ा। कहा यह जाता है की Elon Musk का बचपन अभावों में गुजरा इसके बावजूद बचपन से ही उन्होंने अपने जीवन में आने वाली हर एक कठिनाई का जमकर सामना किया। और आज वे दुनिया के सबसे अमीर आदमी हैं।

कई लोगों को लगता है की सफलता सिर्फ किस्मत वालों को मिलती है। लेकिन जो आदमी सफल हुआ है वह उसकी सफलता के पीछे अथक मेहनत और प्रयत्न को भूल जाते हैं, जो उसने उस सफलता को पाने के लिए की। Elon Musk ने भी अपने जिन्दगी के हर पड़ाव में आगे बढ़ने के लिए अथक प्रयत्न किया, और उसमें सफल भी हुए। आज हम हमारे इस लेख के माध्यम से उनके पहले के जीवन, शिक्षा, करियर, असफलताएं, समयरेखा इत्यादि पर एक नज़र डालने का प्रयत्न करेंगे।

Elon Musk का जन्म और प्रारम्भिक जीवन    

क्या आप अंदाजा लगा सकते हैं की दक्षिण अफ्रीका में जन्मा कोई बालक युवा होने पर अमेरिका का ही नहीं बल्कि दुनिया का सबसे अमीर इन्सान बन सकता है। यदि आपको यह काल्पनिक लग रहा है, तो यहाँ पर स्पष्ट कर दूँ की यह काल्पनिक नहीं है। क्योंकि Elon Musk का जन्म दक्षिण अफ्रीका के तीन राजधानी शहरों में से एक प्रिटोरिया में 28 जून 1971 को हुआ था। इनके पिता का एरोल मस्क है जो पेशे से एक इंजिनियर हैं, और इनकी माता जी का नाम मेय मस्क जो एक मॉडल होने के साथ साथ पोषण विशेषज्ञ भी थी।

मस्क अपने तीन भाई बहनों में सबसे बड़े हैं इनके छोटे भाई का नाम किम्बल मस्क है जो एक बिजनेसमैन होने के साथ साथ एक पर्यावरणविद भी हैं। इनकी छोटी बहन का नाम टोस्का मस्क है और पेशे से वह निर्माता और निर्देशक है। कहा यह जाता है की Elon Musk ने अन्य बच्चों की तुलना में एक साल पहले ही स्कूल जाना शुरू कर दिया था। और वे पढाई में तेज होने के साथ साथ बौद्धिक रूप से मजबूत छात्रों में से एक थे।

बचपन में इनके जीवन का वह सबसे कठिन दौर था जब ये मात्र दस साल के थे। तो इनके माता पिता में तलाक हो गया था। माता पिता के तलाक का सबसे बुरा असर उनके बच्चों पर पड़ता है, लेकिन चूँकि Elon Musk बौद्धिक रूप से मजबूत थे, तो वे अपनी भावनाओं को नियंत्रित करने में सफल रहे। और उन्होंने अपनी प्रारम्भिक पढाई वाटरक्लोफ हाउस प्रिपरेटरी स्कूल से पूरी की, उसके बाद प्रिटोरिया बॉयज हाई स्कूल से उन्होंने स्नातक भी किया।

कहते हैं की की अफ्रीका में उनके बहुत कम दोस्त थे। सिर्फ दोस्ती में ही नहीं अपितु जैसे जैसे मस्क बड़े होते गए उन्हें तरह तरह प्रतिकूलताओं का सामना करना पड़ा। और बाद में उन्हें समझ आया की व्यक्ति को सही आकार देने के लिए कठिनाइयों और प्रतिकूलताओं का होना भी अति आवश्यक है। कठिनाइयों और प्रतिकूलताओं से जूझकर ही व्यक्ति की सोच, व्यवहार इत्यादि में परिवर्तन आता है।

Elon Musk ने अपने एक साक्षात्कार में बताया था की स्कूल के दिनों में विभिन्न गिरोहों के लड़कों ने उन्हें धमकाया भी और उनके साथ मारपीट भी की। इसी के चलते उनके लिए पढाई पर ध्यान लगाना बड़ा कठिन हो गया था। कहने का आशय यह है की इनका बचपन से लेकर शिक्षा तक का सफ़र एक साधारण इन्सान का रहा है।

मस्क की शैक्षणिक यात्रा    

वर्तमान में अधिकतर लोग किसी भी व्यक्ति की सफलता के पीछे उसकी शिक्षा की अहम भूमिका मानते हैं। जो अधिकतर मामलों में सत्य होता है, लेकिन कई बार जो कॉलेज की पढाई तक पूरी न कर पाए, अपने जीवन में काफी सफल रहे हैं । यही कारण है की सफल आदमी की शिक्षा पर बात करना बेहद जरुरी हो जाता है। Elon Musk की भौतिक विज्ञान और अर्थशास्त्र जैसे विषयों में विशेष रूचि थी, यही कारण है की हाईस्कूल के बाद उन्होंने कनाडा के क्वीन्स यूनिवर्सिटी में दो साल तक पढाई की जिसके बाद उन्हें पेन्सिलवेनिया विश्वविद्यालय में ट्रान्सफर कर दिया गया।

इस विश्वविद्यालय में उन्होंने अपनी रुचिकर विषयों में डिग्री हासिल की, और पढाई के साथ साथ अन्य गतिविधयों के लिए भी उन्होंने समय निकालना शुरू किया। कहने का आशय यह है की Elon Musk ने पेंसिल्वेनिया के व्हार्टन स्कूल से भौतिक विज्ञान और अर्थशास्त्र दोनों विषयों में अलग अलग डिग्री हासिल की। यही वे दो डिग्रीयां थी जिन्होंने मस्क को उनके करियर बनाने में मदद की, क्योंकि मस्क का मानना है की भौतिक विज्ञान मौलिक सत्य का पता लगाने और उसे समझने में सहायक होता है। इसी की बदौलत वे अपने जीवन में कई व्यवसायिक विचारों को समझ पाए और उनकी सफलता या असफलता का आकलन करने में भी कामयाब रहे।

उसके बाद जब Elon Musk ने स्नातक पूर्ण कर लिया तो वे स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी से एप्लाइड फिजिक्स में PHD करने के लिए कैलिफ़ोर्निया चले गए, तब उनकी उम्र 24 साल थी। हालाँकि उन्होंने अपने Phd कार्यक्रम को बड़े उत्साह एवं भविष्य की संभावनाओं को देखते हुए शुरू तो किया लेकिन दो दिनों के अन्दर इसे छोड़ भी दिया।

माना यह जाता है की ELon Musk पहले से ही उद्यमी स्वभाव के थे, तो उस समय सिलिकॉन वैली में इन्टरनेट बेहद लोकप्रिय था, इसलिए उन्होंने इन्टरनेट के इर्द गिर्द ही अपने लिए बिजनेस आईडिया तलाशने शुरू कर दिए थे ।

Elon Musk का व्यक्तिगत जीवन

आज से 22 वर्ष पूर्व 2000 में Elon Musk की शादी कनाडा की एक प्रसिद्ध लेखक जिनका नाम जस्टिन विल्सन था, से हुई थी। लेकिन यह शादी मात्र 8 साल तक ही चल पाई और 2008 में दोनों का तलाक हो गया । उसके बाद मस्क ने दूसरी शादी सन 2010 में अंग्रेजी अभिनेत्री तौला रिले से की, इसी अभिनेत्री से सन 2013 में शादी करने के बाद भी यह शादी मात्र 2016 तक ही चल पाई। हालांकि मस्क का नाम कई अभिनेत्रीयों एवं महिलाओं से जजुड़ा और वर्ष 2018 में इन्होने कनाडाई संगीतकार ग्रिम्स को डेट करना शुरू किया था। टेस्ला के संस्थापक Elon Musk सात बच्चों के पिता हैं।   

Elon Musk द्वारा शुरू की गई कंपनियाँ  

इस सफल आदमी Elon Musk को भले ही केवल टेस्ला से जोड़कर देखा जाता हो, लेकिन सच्चाई यह है की इन्होने एक नहीं बल्कि कई बिजनेस में अपने हाथ डाले हैं, और उन बिजनेस को सफलता के मुकाम तक भी पहुँचाया है । यहाँ पर कुछ ऐसी कंपनियों की लिस्ट दी जा रही है जिन्हें एलन मस्क ने शुरू किया था।

1. Zip 2

यहाँ पर ध्यान देने वाली बात यह है की Elon Musk की यात्रा टेस्ला या SpaceX से ही शुरू नहीं हुई, बल्कि सबसे पहले मस्क और उनके छोटे भाई किम्बल मस्क ने वर्ष 1995 में Zip2 नामक एक कंपनी शुरू की थी। इस कंपनी का काम समाचार पत्रों को लाइसेंस प्राप्त एक सॉफ्टवेयर प्रदान करना था। एलन मस्क के पास और भी बिजनेस आईडिया थे लेकिन पैसे न होने की वजह से वे उन्हें जमीन पर उतार नहीं पा रहे थे।

यही कारण है की जब 1999 में कॉम्पैक के अल्टाविस्टा ने उनकी कंपनी को खरीदने का ऑफर दिया, तो वे तुरंत मान गए और कॉम्पैक के अल्टाविस्टा ने $340 मिलियन में Zip2 का अधिग्रहण कर लिया।

2. X.com

Zip 2 को बेचने के बाद Elon Musk ने अपने अन्य साथियों हैरिस फ्रिकर, एड हो और क्रिस्टोफर पायने के साथ मिलकर X.com शुरू किया यह एक ऑनलाइन बैंक था। बाद में Confinity Inc.ने इसे खरीदकर इसका विलय कर दिया।

3. Paypal

यह Elon Musk की तीसरी कंपनी थी जिसे वे शुरू करने जा रहे थे, Paypal आज भी ऑनलाइन भुगतान करने के लिए विशेष तौर पर अंतराष्ट्रीय भुगतान करने के लिए बेहद लोकप्रिय एवं प्रसिद्ध प्लेटफॉर्म में से एक है। लेकिन यह बात अलग है की आज एलन मस्क इस कंपनी के CEO नहीं है, क्योंकि eBay ने इसे 1.5 बिलियन डॉलर में खरीद लिया था।  

4. Tesla Motors

Paypal के CEO पद से निकाले जाने के बाद, उन्होंने भविष्य में इलेक्ट्रिक कारों के बढ़ते इस्तेमाल को लेकर अपनी सोच को जाग्रत किया। और उसके बाद उन्होंने अपने इस बिजनेस आईडिया को धरातल के पटल पर उतारने के लिए धन इकट्ठा करना शुरू किया और अंत में वर्ष 2003 में Tesla Motors कंपनी की स्थापना की। इस कंपनी को शुरू करने के पीछे मस्क का उद्देश्य ऐसे वाहनों का निर्माण करना था जिनमें ईधन की बजाय बैटरी का इस्तेमाल होता हो, ताकि पर्यावरण पर इसका कोई प्रतिकूल प्रभाव न पड़े ।

और कंपनी की कड़ी मेहनत और अथक प्रयासों के बाद आख़िरकार टेस्ला मोटर्स ने टेस्ला रोडस्टर नामक पहली इलेक्ट्रिक कार लांच कर दी थी। इसके बाद 2007 में कंपनी के सह संस्थापक एबरहार्ड और Elon Musk के बीच कई बातों को लेकर असहमति पैदा होने लगी जिसके चलते एबरहार्ड को कंपनी से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया।

उसके बाद कंपनी के प्रबंधन को मस्क ने अपने हाथों में लिया और CEO और प्रोडक्ट आर्किटेक्ट के रूप में पदभार ग्रहण करके कंपनी को नई बुलंदियों तक पहुँचा दिया ।

5. SpaceX

Tesla Motors का बखूबी से प्रबंधन करते हुए Elon Musk ने अपनी एक और नई कंपनी SpaceX की स्थापना की है। इस कंपनी का काम रॉकेट डिजाइन करना और बनाने का है, यही कारण है की इस कंपनी ने अमेरिकी वायु सेना और नासा के साथ हाई प्रोफाइल एग्रीमेंट किये हुए हैं। अमेरिका या अन्य देशों से जुड़े सैन्य अभियानों को सफलतापूर्वक संचालन के लिए जिन हथियारों या टेक्नोलॉजी की आवश्यकता होती है कंपनी ऐसे परियोजनाओं को अपने हाथ में लेती है। यही कारण है की एलन मस्क ने नासा की मदद से वर्ष 2025 तक एक अन्तरिक्ष यात्री को मंगल गृह पर भेजने की योजना बनाई हुई है।

Elon Musk की Success Story में एक नहीं बल्कि कई चुनौतियाँ हैं, इसलिए इनकी कहानी दुनियाभर के उद्यमियों एवं व्यापारियों के लिए एक प्रेरणास्रोत है। मस्क ने एक साक्षात्कार में बताया था की वर्ष 2008 उनके जीवन का वित्तीय संकट का साल रहा, उनकी कंपनी टेस्ला पर भारी कर्ज था। और इसी बीच उनका व्यक्तिगत जीवन भी तलाक की प्रक्रिया से गुजर रहा था। लेकिन इसके बावजूद अपनी मजबूत बौद्धिक क्षमता के कारण वे कंपनी को कर्ज से बाहर निकालने और व्यक्तिगत जीवन में सामजस्य बैठाने में कामयाब रहे।

प्रश्न – एलन मस्क का जन्म कब और कहाँ हुआ था?

उत्तर – Elon Musk का जन्म अफ्रीका के प्रिटोरिया में जो वहाँ तीन राजधानी शहरों में से एक था में 28 जून 1971 को हुआ था।

प्रश्न – एलन मस्क ने अपनी पहली कम्पनी किस नाम से शुरू की?

उत्तर – उस कंपनी का नाम Zip2 था इसका काम समाचार पत्रों को सॉफ्टवेयर प्रदान करना था।  

यह भी पढ़ें

राकेश झुनझुनवाला की सफलता की कहानी.

महाशय धर्मपाल के संघर्ष और सफलता की कहानी.

कर्षन भाई खोदीदास पटेल की संघर्ष और सफलता की कहानी

Leave a Comment