Fish Farming – मछली पालन |

Fish farming या fisheries का Hindi में अर्थ मछली पालन से लगाया जा सकता है | व्यवसायिक भाषा में जिसका मतलब fish अर्थात मछलियों को अपनी Kamai करने हेतु पालने का होता है |  वैसे कुछ आरामपसंद, धनी, स्वास्थ्य के प्रति जागरूक लोग अपने शौक व अपनी प्रोटीन सम्बन्धी जरूरतों की पूर्ति हेतु भी Fish Farming करते हैं | क्योकि मछली लोगो की प्रोटीन सम्बन्धी जरूरतों को पूरा करने का प्राथमिक स्रोत है | यही कारण है, की Fish Farming अर्थात मछली पालन  का बिज़नेस India में निरन्तर बढ़ता जा रहा है | और इसका इंडिया की Gross Domestic Product (GDP) में 1.4% की हिस्सेदारी है | यदि हम पूरे कृषि सम्बंधित व्यापारों की बात करें, तो Indian जीडीपी में इनकी हिस्सेदारी 4.6% है | आप इसी बात से अंदाजा लगा सकते हैं की Fish Farming India में कितना फलता फूलता business है | वर्तमान में Fish Pond  या मछलियों के तालाबों की भारी कमी के कारण समुद्र और नदियां ही मछली सम्बन्धी जरूरतों को पूरा करने के माध्यम हैं | चूँकि मनुष्य ने इन प्राकृतिक संसाधनों से बहुत अधिक मात्रा में मछलियों को पकड़ लिया है | इसलिए धीरे धीरे समुद्रों और नदियों में भी मछलियों की संख्या कम होती जा रही है | एक आंकड़े के मुताबिक भारत में 60% से अधिक लोग अपने खाने में मछली पसंद करते हैं | अब यदि मछलियों की संख्या कम हो जाती है, या फिर समुद्र या नदियों में मछलियाँ नहीं मिलती हैं | तो जरा सोचिये की मछली खाने के आदी  मनुष्य अपने शरीर में प्रोटीन की कमी को कैसे पूरा करेगा | इसलिए अभी यह उचित समय है जब कोई उद्यमी Fish Farming या मछली पालन का बिज़नेस स्थापित करके लोगों की मांग को पूर्ण करने का जिम्मा उठाकर, अपनी Kamai करने का काम कर सकता है |
हमारे देश भारत को प्रकृति ने अनेकों नदियों, झीलों और अन्य पानी के स्रोतो से अलंकृत किया हुआ है | इसलिए Fish Farming का business किसी उद्यमी के लिए एक उचित निर्णय हो सकता है | इसके अलावा India में Fish Farming या मछली पालन करने के कुछ फायदे भी हैं जो इस प्रकार से हैं |

Fish farming Machli-palan-business-in-india

Fish Farming Ya Machali Palan ke Advantage:

वैसे तो India में व्यवसायिक तौर पर Fish Farming स्थापित करने के अनेकों फायदे हैं | लेकिन इनमे से जो मुख्य हैं उनका विवरण निम्नलिखित है |

  • जैसा की हम उपर्युक्त वाक्य में बता चुके हैं, India में 60% से अधिक लोग खाने में मछली खाना पसंद करते हैं | जो साफ़ इशारा करता है की इस business में असीम सम्भावनाएं हैं |
  • मछली में प्रोटीन की मात्रा अधिक होने के कारण इसकी मांग और कीमत हमेशा उच्च बनी रहती है |
  • भारतवर्ष की जलवायु Fish Farming business करने के लिए अनुकूल है | जिससे रिस्क कम हो जाता है |
  • अभी हमने कहा था, की भारतवर्ष को प्रकृति ने विभिन्न पानी के स्रोतों से सरोबार किया हुआ है | इसलिए मछली पालन से जुड़ने वाला उद्यमी अपना Fish Pond आसानी से किसी नजदीकी पानी के स्रोत से भर सकता है |
  • India में मछली की बहुत सारी जातियां उपजातियां आसानी से उपलब्ध हो सकती हैं | आप अपने Fish Pond के लिए जल्दी बड़ी होने वाली नस्ल का चुनाव कर सकते हैं |
  • चूँकि ग्रामीण इलाकों में मजदूर आसानी से और सस्ते दामों पर मिल जाते हैं | इसलिए आप एकीकृत फार्मिंग भी कर सकते हैं | जिसमे आप Fish Farming के अलावा Dairy Farming, Goat Farming, खेती इत्यादि भी कर सकते हैं |
  • वे लोग जो कोई और काम भी कर रहे हों, उसके साथ साथ ही Fish Farming या मछली पालन का भी business कर सकते हैं | लेकिन इसके लिए उनके पास अपेक्षित जमीन एवं सेवाएं होना अति आवश्यक है |

 

India Me Fish farming Kaise Start Kare:

हालांकि India में Fish Farming स्थापित करना कोई आसान काम नहीं है | लेकिन जब मछली पालन व्यवसायिक तौर पर करना ही हो तो, थोड़ी बहुत परेशानियां तो उठानी ही पड़ेंगी | और व्यवसायिक तौर पर यह business स्थापित करने के लिए उद्यमी को भिन्न भिन्न प्रक्रियाओं से होकर गुज़रना पड़ेगा | जिनका वर्णन हम नीचे संक्षिप्त रूप में कर रहे हैं |

 

Fish Pond Ki Taiyari:

Fish Pond मछली पालन business के लिए सबसे अहम कड़ी है | जैसे की आपने एक कविता सुनी होगी ” मछली जल की रानी है, जीवन उसका पानी है | जी हाँ बिलकुल मछली का जीवन जल है | इसलिए यदि हमें Fish farming करनी है, तो पानी को संचय करना होगा | और पानी को संगृहीत करने हेतु Fish Pond बनाना होगा | Fish Pond में मछली पालन मौसमी और स्थायी दोनों तरीके से किया जा सकता है | वह क्षेत्र या स्थान जहाँ पानी हर महीने उपलब्ध नहीं होता, वहां मौसमी Fish Pond बनाकर मछली पालन किया जा सकता है | और इस Fish Pond में जल्दी बड़ी होने वाली मछली को Fish Farming का हिस्सा बनाना बेहद आवश्यक है | Fish Pond में पानी और मछलियों का बीज डालने से पहले इसको अच्छी तरह तैयार कर लेना चाहिए | कही ऐसा तो नहीं की पानी लीकेज हो रहा है | रिसाव चेक करने के लिए Fish Pond में पानी छोड़ने के तीन चार दिन बाद मछलियों के बीज को उसमे डालना चाहिए | लेकिन Fish Pond में पानी भरने से पहले अच्छी तरह से उसकी सफाई और फ़र्टिलाइज़र सिस्टम स्थापित कर लेना चाहिए ताकि मछलियों के लिए Inner Feed उपलब्ध हो सके |

मछली की नस्ल:

उद्यमी को एक लाभकारी Fish Farming बिज़नेस के लिए अच्छी नस्ल वाली मछली का चुनाव करना बेहद आवश्यक है | क्योकि Farming Business चाहे Goat Farming हो Dairy Farming हो या फिर Poultry Farming एक लाभकारी बिज़नेस तभी हो सकता है | जब उद्यमी द्वारा जल्दी बढ़ने वाली नस्ल का चुनाव किया गया हो | Fish Farming के लिए मछली की नस्ल का चयन करते समय अपने क्षेत्र में मछलियों की मांग, और जिस मछली की नस्ल जल्दी और ढंग से बड़ी हो सकती है, इत्यादि बातों का ध्यान रखें | आप चाहें तो किसी एक नस्ल का उत्पादन न करके भिन्न भिन्न नस्लों का उत्पादन एक साथ कर सकते हैं |  जैसे कुछ मछलियाँ ऐसी होती हैं जिनको तले (bootom) में रहने की आदत होती है | और कुछ मछलियाँ ऐसी होती हैं जिन्हें पानी के बीचों बीच रहने की आदत होती है | इसके अलावा कुछ मछलियाँ ऐसी होती हैं जिन्हें पानी के उपरी सतह पर रहने की आदत होती है | अगर उद्यमी एक साथ रोहू, मृगल, कतला मछलियों को अपने Fish Pond का हिस्सा बनाता है | तो उसके Fish Pond का कोई भी हिस्सा व्यर्थ नहीं जायेगा | इंडिया की जलवायु के हिसाब से मुख्य मछलियों की नस्लें निम्न हैं |

 

मछलियों के खाने का इंतज़ाम (Feeding)

इसमें कोई दो राय नहीं की अच्छा गुणवत्ता वाला खाना मछलियों के जल्दी वृद्धि होने में सहायक होगा | आप व्यवसायिक रूप से Fish Farming करने हेतु एकीकृत फार्मिंग करके डेरी उत्पाद, सब्जियों इत्यादि को मछलियों का खाना बना सकते हैं | India में Fish Farming या मछली पालन व्यवसाय से जुड़े अधिकतर किसान अपनी मछलियों को प्राकृतिक खाने के भरोसे ही छोड़ देते हैं | प्राकृतिक खाना मछलियों के लिए कितना होगा यह सब Fish Pond फर्टिलाइजेशन पर निर्भर करता है | वैसे आप मछलियों के खाने के प्रबंधन को दो भागों में विभाजित कर सकते हैं |

  1. Outer Feed (बाह्य खाना) :

    Outer Feed का प्रबंध जैसे की हमने पहले भी बताया एकीकृत फार्मिंग के द्वारा भी किया जा सकता है | इसके अलावा बाज़ार में उपलब्ध मछलियों का खाना लेकर उसको तालाब में मछलियों के खाने हेतु डाला जा सकता है | वैसे मछलियाँ आटा, चावल इत्यादि भी खाती हैं | तो उद्यमी इनका उपयोग भी मछलियों के खाने हेतु कर सकते हैं | लेकिन ध्यान रहे की मछलियों के खाने के व्यवहार को आँका जाय | क्योकि अनावश्यक रूप से Fish Pond के अंदर डाली जाने वाली सामग्री Fish Pond को गन्दा कर सकती है |

  2. Inner Food (आंतरिक खाना) :

    Inner Food से आशय तालाब में उत्पादित खाने से है | इसमें छोटे छोटे कीड़े मकोड़े जिन्हे मछलियां खाती हैं वे आते हैं | लेकिन यह सब उत्पादित हो, इसके लिए आपको महीने में दो बार Fish Pond फर्टिलाइजेशन की प्रक्रिया करनी पड़ती है | Inner Food उत्पादित करने हेतु जैविक खाद एवं रासायनिक खादों का उपयोग किया जा सकता है | इसमें गोबर का उपयोग भी हो सकता है |

Care and management (देखभाल) :

व्यवसायिक तौर पर Fish Farming या मछली पालन करने के लिए मछलियों की नस्ल और खाने का इंतज़ाम करने पर ही उद्यमी की ड्यूटी खत्म नहीं हो जाती | अब समय आ जाता है अपनी मछलियों का अच्छे ढंग से ध्यान रखने का | मछली की बीमारियों से मछलियों को बचाने  का | पानी में उत्पन्न होने वाले मछली के दुश्मनो से मछलियों को बचाने का | छोटी मछली को बड़ी मछली से बचाने के लिए कदम उठाने का | और कहीं गन्दा पानी होने के कारण मछलियों की जान खतरे में न पड़ जाये इसलिए समय समय पर पानी का PH स्तर चेक कराने का |
साधारणतया Fish Farming या मछली पालन से उत्पादित उत्पाद के लिए लोकल ग्राहक अर्थात जिस क्षेत्र में आपका Fish Pond है | उसी क्षेत्र के ग्राहक भी मिल जाते हैं लेकिन यदि उद्यमी का उत्पादन उस क्षेत्र की आवश्यकताओं से अधिक है | तो उद्यमी को अपना उत्पाद बेचने के लिए मार्केटिंग करनी पड़ेगी | मार्केटिंग की दृष्टि से Fish Farming business का सबसे बड़ा फायदा यह है की आपको अपना उत्पाद साथ लेके नहीं घूमना है | उद्यमी को पहले अपने ग्राहक तैयार करने हैं | उनसे आर्डर लेने हैं उसके बाद आवश्यकतानुसार मछलियों को Fish Pond से बाहर निकालना है |

About Author:

मित्रवर, मेरा नाम महेंद्र रावत है | मेरा मानना है की ग्रामीण क्षेत्रो में निवासित जनता में अभी भी जानकारी का अभाव है | इसलिए मेरे इस ब्लॉग का उद्देश्य बिज़नेस, लघु उद्योग, छोटे मोटे कांम धंधे, सरकारी योजनाओं, बैंकिंग, कैरियर और अन्य कमाई के स्रोतों के बारे में, लोगो को अवगत कराने से है | ताकि कोई भी युवा अपने घर से रोजगार के लिए बाहर कदम रखने से पहले, एक बार अपने गृह क्षेत्र में संभावनाए अवश्य तलाशे |

36 thoughts on “Fish Farming – मछली पालन |

  1. सर जी मेरे पास तालाब है और मुझे फिश फार्मिंग का व्यवसाय बड़े पैमाने पर करना है कृपया करके आप मुझे बीज वाले के नंबर व खरीदने वाले के नंबर देने का कष्ट करें तथा इसके बारे में आपको अच्छी जानकारी हो तो मुझे बताएं

  2. पानी की हौज बनाकर कौन सी मछली पाली जा सकती है कृपया मार्ग दर्शन दें मैं भी मछली पालन करना चाहता हूँ किन्तु मेरे पास तालाब नहीं है इसलिए सीमेंट की टंकी बनाकर मछली पालन शुरू करना चाहता हूँ

    1. आप ने रिप्लाई किया अच्छा लगा किन्तु आप ने ये नहीं बताया कि सीमेंटेड हौज में कौन सी मछली पाली जा सकती है?

  3. Rawat ji mujhe bhi fish farming ka vyasay karna hai. Mai Surat me rahta hu. krupay margdarshan karein. Mera mobile no/ 9265520215 hai.

  4. Hello Mr .Rawat,
    Very useful information ,you has shared with us , we appreciate your efforts , but i want to know about more information in fish forming and want to start the business. Can you suggest any one contact details for consultation the forming ?
    Thanks and Regards,
    Hansraj
    9329446543

  5. Sir plz help me
    Fish farming ka aria kitna chahiye Mera aria 120/140 fit hai
    Isme Kon si machhli chhoda jasakta h aur kitna bachha chhoda jasakta hai

  6. Plz help me
    Dear sir
    I m Raghib Rafiganj aria
    Bihar ka rahne Wala hun Mera
    Mera khud ka talab hai Jo 55 dishmeel me hai 120/140 aria hai
    Mujhe duck farming Krna hai usme kitna Jira /machhli ka bachha kitna chodna padega
    Kon si machhli chhoda thik rahega
    Plz send contact me email id :rdaelectronics7@gmail.com

  7. Sir….
    Fish farming ke liye kam se kam kitna size ka pond hona chahiye……..aur kitna deep hona chahiye…….

  8. sir mujhe aise he aur v achhi busnes k bare me bataiya jo mai kr saku aur kiyna investment lagega farming pe

  9. 1 acer land me kitne fish ke bij dale ja sakte hai .or is 1 acer land ke small business start karne me kitna kharch ho sakta hai or kitna profit kamaya ja sakta hai.

  10. HELLO SIR I WANT START MY FISH FARMING PROJECT IN MAHARASHTRA
    CAN U TELL ME WHICH LINC ENS SHOULD BE REQUIRED OPEN THE PROJECT

    AND ASLO TELL ME PROPER GUIDELINE ABOUT PROJECT THANKS SIR I AM WAITING FOR YOUR RELPY

  11. Hallo sir mena naam ashish hai or ik village se hu sir mai aap se ye jaanna chahta hu ki fish farming krne ke liye license bhi bnvana pdta hai kya agr bnvana hai to kaise or kaha se kya ye online hota hai sir ik baat or kya mai apne hi khet me taalab banva skta hu iske liye government se permission leni pdti hai kya

  12. Sir agar mai apne pond me fish dalta hua to food me mujhe Kya dena hoga ..
    Kitne din pe dena hoga.
    Aur wo kitne din me taiyari ho jayega..
    Cin-8409429262

  13. Sir me bhi fish framing ka business karna chahta hu lekin is visay me me bhilkul naya hu me pahele is vuasy me jyada se jyada jankari lena chahta hu is liye gujrat me koi bhi private talim sanstha ho to muje uska address bheje pls

    1. Sir
      Mera name Ashish kumar
      Dist firozabad tonsil shikohabad h
      Mai fish farming se judna chahata hu
      Maine abi 1 ak eked Mai talab banbaya hai to mai jankari Lena chahata hu ki is talab ki keise tayari ki jaye or kitna fish dal sakte hain
      Mob. 9412210455
      Sir
      Fish farming ki jankari ki pdf file ho plese bhej dijiye

  14. Sir
    सोलर ऊर्जा मे बिजनेस व ट्रैनिग की पूरी जानकारी दे.

  15. क्या सीमेंट के बने तलाब मे मछली पालन किया जा सकता है या नही 100×400 फुट के बने तलाब मे मछली पाली जा सकती है या नही और क्या पानी को बदलना पड़ता है क्या

    1. धान की फसल के साथ मछली पालन उद्योग किस प्रकार किया जा सकता है सफल किसानों के साथ बातचीत तथा विडियो बना के भेजें धन्यवाद .

  16. hi sir kya reh ak fish ka blader ka totoaba fish blader k jitna he Rs. hota h sir ya kish fish ki farming india ma kr sakta h or us fish ka air blader kitna R. ka hoga

  17. thanx sir informaction dena k liya kya koi asi fish h jisko india ma farming kr sakta h or uska be totoaba fish bladder ki thera acha Rs. ho sir plz guide line sir

    1. नहीं कर सकते, यह एक समुद्री मछली है | और केवल Mexico में California की खाड़ी में पाई जाती है | और जहाँ तक totoaba fish bladder का सवाल है | यह सिर्फ totoaba fish में नहीं अपितु अधिकतर मछलियों में होता है | जिसे Swim Bladder कहते हैं | यह एक प्रकार की थैली होती है जिसमे मछली अपने गलफड़ों के माध्यम से ऑक्सीजन भरती है | totoaba fish bladder का उपयोग चीन में एक प्रकार का सूप और चिकित्सा के क्षेत्र में इसका उपयोग प्रजनन क्षमता सम्बन्धी दवा बनाने के लिए किया जाता है | चीन की मार्किट में इस मछली के एक Swim Bladder की कीमत लगभग $10000 अर्थात Appx 6 लाख रूपये है |

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *