Mutual fund Investment options म्यूच्यूअल फंडों में निवेश के विकल्प - iKamai-Kamai Tips In Hindi

Mutual fund Investment options म्यूच्यूअल फंडों में निवेश के विकल्प

Mutual fund Investment options की बात करें तो म्यूच्यूअल फंडों की विभिन्न योजनाओं में सामान्यतः निवेश करने के विभिन्न विकल्प होते हैं जिनका संक्षेप में वर्णन हम निम्नांकित तौर पर करेंगे | म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश करने वाले निवेशकों को इन्ही Mutual fund Investment options में से किसी एक का चुनाव करके उसमे निवेश करना होता है | म्यूच्यूअल फंडों में निवेश के विकल्पों को मुख्य रूप से तीन भागों में विभाजित किया जा सकता है जिनका वर्णन हम निम्नवत करेंगे और इन तीन विकल्पों में से ही निवेशक को किसी एक विकल्प का चुनाव करके निवेश करना होता है | तो आइये जानते हैं उन तीन मुख्य निवेश विकल्पों के बारे में |

mutual-fund-investment-options

  1. Dividend Options (लाभांश का विकल्प):

यदि किसी निवेशक द्वारा Mutual fund Investment options में इस विकल्प का चुनाव किया जाता है तो फण्ड मैनेजर म्यूच्यूअल फण्ड से होने वाली कमाई को निवेशकों के बीच लाभांश के तौर पर वितरित कर देते हैं | Mutual fund Investment का यह आप्शन ऐसे निवेशकों के लिए बेहद अच्छा रहता है जिन्हें समय समय पर पैसे की आवश्यकता पड़ती रहती है |

  1. Growth Options (ग्रोथ का विकल्प):

निवेशक द्वारा Mutual fund Investment के इस विकल्प का चुनाव करने पर म्यूच्यूअल फंडों की इकाइयों का मूल्य समय के साथ बढ़ता रहता है | इस विकल्प में फंड से होने वाली कमाई को निवेशकों के बीच बांटा नहीं जाता है | बल्कि इस विकल्प का चुनाव करने से होने वाली कमाई पुनर्विनियोजित होती रहती है | इस विकल्प का चुनाव करने पर यदि निवेशक को धन की आवश्यकता होती है तो वह बाजार की चालू दरों पर अपनी यूनिट अर्थात इकाइयों को बेचकर धनराशि प्राप्त कर सकता है | यही कारण है की म्यूच्यूअल फंडों द्वारा समय समय पर यानिकी समय के अनुसार NAV की घोषणा की जाती है |

  1. Dividend Reinvestment Option (लाभांश पुनर्विनियोग विकल्प):

निवेशक द्वारा Mutual fund Investment options में Dividend Reinvestment Option का चयन करने पर निवेशक को लाभ का अंश अर्थात कमाई का अंश तो मिलता है लेकिन इसे निवेशक को नकदी में न देकर पुन: विनियोजित कर दिया जाता है | यही कारण है की इस निवेश विकल्प में इस प्रकार यूनिट अर्थात इकाइयों की संख्या बढती रहती है | जिन्हें निवेशक अपनी आवश्यकता के अनुसार कभी भी बेचकर कमाई कर सकता है |

यह भी पढ़ें:

म्यूच्यूअल फण्ड क्या, कैसे काम करते हैं योजनायें एवं इनमें निवेश करने के लाभ.

म्यूच्यूअल फण्ड में कैसे निवेश करें सम्पूर्ण जानकारी.

म्यूच्यूअल फण्ड की कमियों की जानकारी  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: