Face wash Manufacturing Business – फेस वाश बनाने का काम.

आज लघु उद्योग की इस श्रेणी में हम Face wash Manufacturing Business पर वार्तलाप करने वाले हैं ब्यूटी एंड कॉस्मेटिक की उपश्रेणी में हम इससे भी पहले कई लेख लिख चुके हैं, और आगे भी लिखते रहने की हमारी कोशिश यथावत जारी रहेगी | हालांकि वर्तमान में ब्यूटी एवं कॉस्मेटिक में सैकड़ों आइटम मार्किट में उपलब्ध रहते हैं और जो बड़ी संख्या में बिकते भी हैं, इन्ही ब्यूटी एवं कॉस्मेटिक उत्पादों में से एक उत्पाद होता है फेस वाश यानिकी इसे साधारण तौर पर हम मुहं धोने की क्रीम या पदार्थ भी कह सकते हैं | जहाँ भारत में पहले अधिकतर लोगों का जीवन कृषि एवं फार्मिंग से जुड़े हुए कार्यों पर निर्भर रहता था इसलिए ऐसे कार्यों में शारीरिक मेहनत अधिक होने के चलते लोगों को सजने संवरने का कम ही समय मिला करता था, इसलिए लोग सौन्दर्य प्रसाधनों की तरफ कम ही आकर्षित होते थे | और चूँकि बाज़ारों में इस तरह के उत्पादों की मांग नहीं थी तो बाज़ारों में इनकी उपलब्धता भी कम ही देखने को मिलती थी | लेकिन जैसे जैसे लोगों का खास तौर पर महिलाओं का अपनी सुन्दरता के प्रति ध्यान आकर्षित होता रहा तो उन्होंने सौन्दर्य प्रसाधनों को खरीदना शुरू किया और वर्तमान में इन्ही सौन्दर्य प्रसाधनो में Face Wash एक महत्वपूर्ण उत्पाद है इसलिए आज हम हमारे इस लेख के माध्यम से Face wash Manufacturing Business के बारे में जानने की कोशिश करेंगे | ताकि कोई इच्छुक उद्यमी इस बिज़नेस आईडिया को अपनाकर अपनी कमाई करने में समर्थ हो सके |

Face-wash-manufacturing business

Face Wash Manufacturing Business Kya hai:    

जैसा की हम सबको विदित है की चेहरा सुन्दरता का मुख्य आकर्षण केंद्र होता हैं अर्थात कौन सी महिला या पुरुष कितना सुन्दर है उसका अंदाज़ा उसका चेहरा देखकर ही लगाया जाता है | इसी चेहरे को धोने के काम में आने वाला सौन्दर्य प्रसाधन का नाम है Face Wash | यही कारण है की यह महिलाओं द्वारा तो उपयोग में लाया जाता ही है साथ में पुरुषों द्वारा भी फेस वाश उपयोग में लाये जाते हैं हाँ यह अलग बात है की कुछ विशेष फेस वाश केवल महिलाओं की त्वचा को ध्यान में रखकर बनाये जाते हैं तो कुछ केवल पुरुषों की त्वचा को ध्यान में रखकर | Face wash का कार्य चेहरे की अच्छे ढंग से सफाई करने का होता है इसलिए इसे तरल फॉर्म में केवल चेहरे की सफाई करने के लिए तैयार किया जाता है | इसकी चेहरे को साफ़ करने की गुणवत्ता उच्च होने के कारण इसके नियमित प्रयोग से चेहरे की त्वचा मुलायम एवं चिकनी होने लगती है यही कारण है की लोगों द्वारा इसका बहुतायत तौर पर इस्तेमाल किया जाता है इन्ही आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए जब किसी उद्यमी द्वारा अपनी कमाई करने के लिए Face wash का निर्माण व्यवसायिक तौर पर किया जाता है तो उसके द्वारा किया जाने वाला यह बिज़नेस Face wash Manufacturing Business कहलाता है |

बाज़ार में अवसर:

वर्तमान का युग दिखावे का युग है अर्थात सुन्दरता का पहला प्रतिबिम्ब ही चेहरा होता है इसलिए हम भले ही कितना कह दें की सुन्दर चेहरा एवं साधारण चेहरे से कोई फर्क नहीं पड़ता सिर्फ नियत दिल यानिकी अन्दुरुनी या नियत अच्छी होनी चाहिए लेकिन सच्चाई यह है की पहला आकर्षण मनुष्य का बाहरी ढांचा ही होता है | और इस बाहरी ढाँचे में प्रमुख रूप से चेहरा सम्मिलित है यही कारण है की वर्तमान में हर कोई चाहता है की उसका चेहरा सुंदर, चिकना एवं मुलायम दिखे इसी उद्देश्य के लिए Face wash का उपयोग किया जाता है | हालांकि अभी भी कुछ बड़े ब्रांड जैसे फेयर एंड लवली, पोंड्स, pears, जॉनसन एंड जॉनसन इत्यादि Face wash का निर्माण कर रहे हैं लेकिन भारतवर्ष में इस उत्पाद की इतनी मांग है की और भी स्माल स्केल की नई इकाइयाँ इसमें आ सकती हैं |

आवश्यक मशीनरी एवं उपकरण:

Face wash Manufacturing Business में उपयोग में लायी जाने वाली मशीनरी एवं उपकरणों की लिस्ट इस प्रकार से है |

  • 300 किलो की क्षमता वाला S. Jacketed Vessel stirrer & speed control के साथ
  • अर्ध स्वचालित बोतल भरने वाली मशीन
  • 200 लीटर क्षमता का स्टोरेज टैंक
  • Water circulating Pump
  • टेस्टिंग एवं लेबोरेटरी उपकरण
  • टूल्स एवं एनी उपकरण

Face wash Manufacturing Business में प्रयुक्त होने वाले कच्चे माल की लिस्ट कुछ इस प्रकार से है |

  • Nonyl Phenol
  • Ethoxylate
  • Diethylene glycol
  • SLES
  • Colour
  • Perfume
  • HDPE Bottles
  • Corrugated Boxes

Manufacturing Process of Face Wash:

Face wash Manufacturing process में कुल मात्रा के लगभग चालीस प्रतिशत भाग Nonyl Phenol Ethoxylate में पानी का मिला दिया जाता है | इसे धेर्रे धीरे हिला हिलाकर मिला लिया जाता है | पूर्ण रूप से मिक्स होने के बाद इस मिश्रण में धीरे धीरे Diethylene glycol को मिलाया जाता है और मिक्सर में इसे धीरे धीरे हिलाया जाता है | अब उसके बाद इसमें SLES परफ्यूम एवं रंग का नुस्रण करके मिलाया जाता है | इसमें ठंडे पानी का लगातार सर्कुलेशन बेहद जरुरी होता है ताकि तापमान को नियंत्रित किया जा सके | मिश्रण पूरा ठंडा होने के बाद इसे बोतल या tube में पैक कर दिया जाता है | और फिर मार्किट में बेचकर कमाई की जा सकती है | जहाँ तक इसकी गुणवत्ता का सवाल है इसकी गुणवत्ता ड्रग एंड कॉस्मेटिक एक्ट में उल्लेखित नियमों के अनुसार होनी चाहिए |

About Author:

मित्रवर, मेरा नाम महेंद्र रावत है | मेरा मानना है की ग्रामीण क्षेत्रो में निवासित जनता में अभी भी जानकारी का अभाव है | इसलिए मेरे इस ब्लॉग का उद्देश्य लघु उद्योग, छोटे मोटे कांम धंधे, सरकारी योजनाओं, और अन्य कमाई के स्रोतों के बारे में, लोगो को अवगत कराने से है | ताकि कोई भी युवा अपने घर से रोजगार के लिए बाहर कदम रखने से पहले, एक बार अपने गृह क्षेत्र में संभावनाए अवश्य तलाशे |

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *