NDA Information in Hindi. एनडीए क्या है? और कैसे ज्वाइन करें।

हर वह व्यक्ति जो अपने या अपने बच्चों के कैरियर को लेकर जागरूक है, उसने कभी न कभी NDA का नाम अवश्य सुना होगा । जी हाँ यदि आप अभी विद्यार्थी हैं, तो आप स्वयं के कैरियर के लिए और यदि आप पढने वाले बच्चों के अभिभावक हैं तो आप अपने बच्चों के कैरियर को लेकर काफी चिंतित रहते होंगे । आप अक्सर सोचते होंगे की हमारे बच्चे कैसे अपनी कमाई कर पाने में सक्षम हो पाएंगे । इसलिए आप विभिन्न प्रकार के पाठ्यक्रमों एवं कैरियर विकल्पों के बारे में जानने के लिए हमेशा उत्सुक रहते होंगे, आपकी इसी उत्सुकता को देखते हुए और आप एवं आपके बच्चों को कमाई की ओर अग्रसित करने हेतु आज हम NDA क्या है? और कैसे कोई इसे ज्वाइन कर सकता है इत्यादि विषयों पर विस्तृत तौर पर जानने का प्रयत्न करने वाले हैं। यद्यपि यह सच्चाई है की अधिकतर विद्यार्थी पहले से अपने कैरियर का चुनाव करके उस ओर कदम नहीं बढ़ा पाते हैं। लेकिन जैसे ही विद्यार्थी बारहवीं परीक्षा पास कर लेते हैं फिर उन्हें अचानक कैरियर बनाने की याद आ जाती है और फिर वे अपनी योग्यता के मुताबिक अपने कैरियर से समझौता कर लेते हैं। लेकिन यदि विद्यार्थी या उसके अभिभावक उसके रूचि के मुताबिक पहले से ही इस बात का निर्णय लें, की उन्हें अपने बच्चे का कैरियर किस क्षेत्र में बनाना है तो विद्यार्थी अपने अध्यन काल में उसी के मुताबिक पढाई करके अपने लक्ष्य को आसानी से हासिल कर सकता है। इसके लिए यह बेहद जरुरी है की अभिभावक या विद्यार्थी को उस क्षेत्र विशेष के पाठ्यक्रमों एवं प्रतिस्पर्धी परीक्षाओं की जानकारी होनी चाहिए जिस क्षेत्र में वह अपना कैरियर बनाकर कमाई करना चाहता हो । ऐसे विद्यार्थी जो इंडियन एयर फोर्स, इंडियन आर्मी या इंडियन नेवी में स्वयं का कैरियर बनाना चाहते हैं उन्हें NDA की जानकारी होना नितांत आवश्यक है । इसलिए आइये जानते हैं की एनडीए क्या है (What is NDA in Hindi), इसे ज्वाइन कैसे करें (How to Join NDA in Hindi),  और इसे ज्वाइन करने के बाद विद्यार्थी क्या बन सकता है।

NDA-kya-hai

एनडीए क्या है (What Is NDA in Hindi):

यद्यपि एनडीए अपने संक्षिप्त नाम NDA के रूप में ही विख्यात है लेकिन इसका फुल फॉर्म National Defense Academy है, और इसे हिंदी में राष्ट्रीय रक्षा अकदमी भी कहा जाता है।  जहाँ तक सवाल एनडीए क्या है का है तो आपको बता देना चाहेंगे की NDA एक प्रमुख संयुक्त प्रशिक्षण संस्थान एवं उत्कृष्टता केंद्र है। जहाँ पर भारतीय सशस्त्र बलों जैसे इंडियन एयर फोर्स, इंडियन आर्मी एवं इंडियन नेवी में जाने के लिए जूनियर ऑफिसर को तैयार किया जाता है। ऐसे नौजवान जो भारतीय सशस्त्र बलों में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं NDA ऐसे नौजवानों को प्रशिक्षण प्रदान करता है। इस तरह के प्रशिक्षण में छात्रों को मानसिक, नैतिक एवं भौतिक रूप से ऐसे तैयार किया जाता है की वे भविष्य में होने वाले युद्ध क्षेत्र की चुनौतियों का डटकर सामना कर सकें। इस प्रशिक्षण के दौरान उन्हें विज्ञान, टेक्नोलॉजी एवं सैन्य विषयों में गहनता के साथ शिक्षा दी जाती है। NDA Course तीन सालों का होता है और इसे छह टर्म्स में विभाजित किया गया है । यह पूरा कर लेने के बाद विद्यार्थी को जवाहरलाल नेहरु विश्वविद्यालय की स्नातक की उपाधि से सम्मानित किया जाता है । एनडीए में तीन साल बिताने के बाद कोई व्यक्ति एक संभावित सशस्त्र अधिकारी या एक सज्जन के तौर पर उभरकर सामने आता है।

एनडीए परीक्षा के लिए पात्रता मानदंड (NDA Eligibility Criteria in Hindi):

हालांकि हो सकता है की प्रत्येक साल यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन द्वारा पात्रता मानदंडों में बदलाव किया जाय, इसलिए अपडेटेड पात्रता मानदंड देखने के लिए आप UPSC की वेबसाइट चेक कर सकते हैं। लेकिन यहाँ पर हम उन NDA Eligibility Criteria की बात कर रहे हैं जो वर्तमान में लागू हैं।

  • विद्यार्थी की कम से कम उम्र 16.5 साल एवं अधिक से अधिक 19.5 साल होनी चाहिए।
  • केवल अविवाहित लोग ही एनडीए परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • जहाँ तक शैक्षणिक योग्यता का सवाल है यह अलग अलग कैडेट के लिए अलग अलग हो सकती है। इसलिए आर्मी विंग के लिए शैक्षणिक योग्यता किसी भी विषय के साथ 12th पास है। जबकि एयर फोर्स एवं नवल विंग में जाने के इच्छुक विद्यार्थी को बारहवीं भौतिक विज्ञान एवं गणित विषयों के साथ करनी जरुरी होती है।
  • उम्मीदवार शारीरिक एवं मानसिक तौर पर फिट होना चाहिए।
  • उम्मीदवार को लम्बाई एवं भार के लिए तय मानकों पर खरा उतरना होगा।
  • उम्मीदवार को निर्धारित दृष्टी मानकों पर भी खरा उतरना होगा।
  • NDA के लिए उम्मीदवार की कम से कम लम्बाई 157 सेमी. और यदि उमीदवार एयरफोर्स में जाना चाहता हो तो 162.5 सेमी. होनी चाहिए। हालांकि गोरखा और पहाड़ी क्षेत्रों में निवासित लोगों, गढ़वाल एवं कुमाऊँ के लोगों को लम्बाई में 5 सेमी. की छूट देने का प्रावधान किया गया है। 

एनडीए परीक्षा क्लियर करने के टिप्स (Tips to clear NDA Exam):

NDA Exam Clear करने की चाह रखने वाले विद्यार्थियों को कड़ी मेहनत एवं अनुशासन का अनुसरण करने की आवश्यकता होती है। आइये नीचे हम कुछ ऐसे टिप्स के बारे में जानते हैं जो किसी विद्यार्थी को एनडीए एग्जाम पास करने में मदद करेंगे।

  • इस परीक्षा की तैयारी परीक्षा देने से लगभग 8-10 महीने पहले से करें।
  • परीक्षा की तैयारी में अध्यन की अहम भूमिका होती है इसलिए NDA Exam की तैयारी में भी हर रोज नियमित रूप से लगभग 6-7 घंटे पढने का नियम बनायें ।
  • सभी सेक्शन को बराबर समय देने की कोशिश करें ।
  • यदि आपने इस परीक्षा की तैयारी के लिए कोई कोचिंग क्लास ज्वाइन की है तो कोचिंग के साथ साथ स्वयं के अध्यन को भी समय दें।
  • जब आपको लगता है की आपने अपना अध्यन पूरा कर लिया है तो आप पिछले साल के पेपर को हल करने की कोशिश कर सकते हैं या ऑनलाइन मोक टेस्ट भी दे सकते हैं।
  • पिछले साल के पेपर हल करने से और मोक टेस्ट देने से आपका आत्मविश्वास बढेगा।
  • अपने शरीर को व्यायाम और योगा करके फिट रखें।
  • अपने लक्ष्य की ओर समर्पित रहें और इस तक पहुँचने के लिए कड़ी मेहनत करें।
  • समय सारणी बनायें और उसका कठोरता से अनुसरण करें।

एनडीए कैसे ज्वाइन करें?(How to Join NDA in Hindi):

NDA Join करने के लिए इच्छुक विद्यार्थी को निम्नलिखित कदम उठाने पड़ सकते हैं।

1. तय करें कौन सी विंग में जाना है:

NDA Join करने के लिए सबसे पहले विद्यार्थी को यह तय करना होगा की वह कौन सी फोर्स में जाना चाहता है । और यह विद्यार्थी को दसवीं परीक्षा पास करने के बाद तय करना होगा क्योंकि अलग अलग फोर्स जैसे इंडियन आर्मी,इंडियन एयर फोर्स, इंडियन नेवी इत्यादि में जाने के लिए अलग अलग शैक्षणिक योग्यता का प्रावधान हो सकता है। जहाँ आर्मी के लिए किसी भी विषय के साथ बारहवीं पास करना जरुरी है। वहीँ एयर फोर्स एवं नेवी में जाने के लिए बारहवीं की परीक्षा भौतिक विज्ञान एवं गणित विषयों के साथ पास होना जरुरी है। इसलिए सर्वप्रथम विद्यार्थी को यही तय करना होगा की वह कौन सी फोर्स में जाना चाहता है ताकि उसी हिसाब से वह इंटरमीडिएट में विषयों का चयन कर सके।

2. चयनित विषयों के साथ बारहवीं की परीक्षा पास करें:

NDA Join करने के लिए विद्यार्थी का अगला कदम चयनित विषयों के साथ बारहवीं की परीक्षा पास करने का होना चाहिए । इसमें ध्यान देने वाली बात यह है की इंडियन नेवी और एयरफोर्स में जाने के इच्छुक उम्मीदवारों को दसवीं के बाद ग्यारहवीं में भौतिक विज्ञान एवं गणित विषय चुनना अनिवार्य होता है। यानिकी बारहवीं PCM विषयों के साथ पास होनी चाहिए। लेकिन आर्मी में भर्ती होने के इच्छुक उम्मीदवार बारहवीं किसी भी विषय के साथ पास कर सकते हैं।

3. एनडीए एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करें:

NDA Join करने के लिए पात्र उम्मीदवार का अब अगला कदम एनडीए एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करने का होना चाहिए। इस एंट्रेंस एग्जाम को यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन द्वारा साल में दो बार आयोजित किया जाता है। आम तौर पर NDA Exam हेतु आवेदन के लिए फॉर्म जून एवं दिसम्बर महीने में निकलते हैं और परीक्षाएं अप्रैल एवं सितम्बर महीनों में आयोजित की जाती हैं। इच्छुक उम्मीदवार UPSC की वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। और अच्छी तरह लगन के साथ अध्यन करके NDA Exam Clear भी कर सकते हैं।

4. एसएसबी इंटरव्यू पास करें:

SSB का फुल फॉर्म Service Selection Board होता है इसकी स्थापना रक्षा मंत्रालय द्वारा की गई है। NDA Join करने के इच्छुक विद्यार्थियों को एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करने के बाद SSB Interview के लिए बुलाया जाता है। इस इंटरव्यू को लगभग पांच दिनों में विभाजित कर दिया गया है इसमें पहला दिन स्क्रीनिंग टेस्ट का होता है। दूसरा दिन मनौवैज्ञानिक टेस्ट का होता है, तीसरा और चौथा दिन ग्रुप डिस्कशन का होता है एवं अंतिम पांचवा दिन कांफ्रेंस एवं रिजल्ट का होता है। पर्सनल इंटरव्यू दूसरे, तीसरे, चौथे दिन के लंच के बाद कभी भी लिया जा सकता है।

5. एनडीए का प्रशिक्षण पूरा करें:

यदि आपका चुनाव NDA के लिए हो गया है तो अब आपका पूरा ध्यान एवं मेहनत इस प्रशिक्षण को पूरा करने का होना चाहिए। आपको यह सुनिश्चित करना होगा की आप प्रशिक्षण के दौरान आने वाली चुनौतियों का सामना करने के लिए मानसिक एवं शारीरिक रूप से तैयार हैं। क्योंकि NDA नामक यह प्रशिक्षण काफी कठोर, कठिन एवं चुनौतीपूर्ण होता है। लेकिन चूँकि यह तीन वर्षों का कार्यक्रम होता है इसलिए जैसे जैसे समय व्यतीत होता जायेगा यह आपके नियमित जीवन का एक हिस्सा बन जायेगा।

6. सम्बंधित अकादमी में प्रशिक्षण पूरा करें:

तीन वर्षों का NDA प्रशिक्षण पूरा कर लेने के बाद उम्मीदवार को एक एक साल का प्रशिक्षण सम्बंधित अकादमीयों में भी पूरा करना पड़ सकता है।

  • आर्मी में जाने के इच्छुक उम्मीदवारों को इंडियन मिल्लाट्री अकैडमी (IMA) में प्रशिक्षण पूरा करना पड़ सकता है ।
  • इंडियन नेवी में जाने के इच्छुक उम्मीदवारों को इंडियन नवल अकैडमी (INA) में प्रशिक्षण पूरा करना पड़ सकता है ।
  • एयर फोर्स में जाने के इच्छुक उम्मीदवारों को एयर फोर्स अकैडमी (AFA) में प्रशिक्षण पूरा करना पड़ सकता है ।

 सम्बंधित अकैडमी से एक एक साल का कोर्स पूरा कर लेने के बाद, उन्हें सम्बंधित सेवाओं में अधिकारीयों के तौर पर नियुक्त किया जासकता है।   

यह भी पढ़ें

About Author:

मित्रवर, मेरा नाम महेंद्र रावत है | मेरा मानना है की ग्रामीण क्षेत्रो में निवासित जनता में अभी भी जानकारी का अभाव है | इसलिए मेरे इस ब्लॉग का उद्देश्य बिज़नेस, लघु उद्योग, छोटे मोटे कांम धंधे, सरकारी योजनाओं, बैंकिंग, कैरियर और अन्य कमाई के स्रोतों के बारे में, लोगो को अवगत कराने से है | ताकि कोई भी युवा अपने घर से रोजगार के लिए बाहर कदम रखने से पहले, एक बार अपने गृह क्षेत्र में संभावनाए अवश्य तलाशे |