जब भी कमाई करने की बात आती है तो Network Marketing यानिकी Multi Level marketing का नाम भी अवश्य आता है। वह इसलिए क्योंकि इसके माध्यम से बहुत सारे लोग पैसे कमा भी चुके हैं और बहुत सारे लोग अभी भी इस काम में लगकर अपनी कमाई कर रहे हैं । भारतवर्ष में बहुत सारी ऐसी कम्पनियाँ हैं जो Network Marketing के माध्यम से अपने उत्पाद या सेवा को ग्राहकों तक पहुंचाकर बेच रही हैं । और इस कार्य को करने में अनेकों Multi level Marketing Companies भी विनिर्माणकर्ताओं की मदद कर रही हैं। अमेरिका एवं अन्य पश्चिमी एवं यूरोपीय देशों में इस तरह का यह कार्य अपनी चरम सीमा पर पहुँच गया है लेकिन भारत में अभी भी Network marketing के आगे बढ़ने की बहुत संभावनाएं हैं। वह इसलिए क्योंकि भारतवर्ष के लोग इस प्रकार की मार्केटिंग को अभी भी थोड़ी नकारात्मक दृष्टी से देखते हैं। वह इसलिए क्योंकि भारतवर्ष में किसी नए आईडिया को अपनाने से पहले लोगों के मन में रुढीवादी विचारों का एक प्रवाह चलता है जो हमेशा वास्तविकता से भिन्न होता है। खासकर जब भारत में एक स्थायी कमाई का साधन ढूँढने की बात आती है तो Network marketing को फुल टाइम कमाई का स्रोत बनाने से लोग झिझकते हैं अर्थात वे रिस्क लेना नहीं चाहते । क्योंकि उनकी नजर में Multi Level marketing किसी सेल्समेन के काम जैसा ही है। जिसमें एक व्यक्ति को घर घर जाकर सामान बेचना पड़ता है जबकि यह पूरा सच नहीं है।

नेटवर्क मार्केटिंग क्या है (What Is network marketing):

Network marketing जिसे मल्टी लेवल मार्केटिंग के नाम से भी जाना जाता है एक ऐसा व्यवसायिक मॉडल है जिसमें कंपनी के उत्पादों या सेवा को बेचने के लिए लोगों का पिरामिड ढांचे से बना हुआ एक नेटवर्क काम करता है। कंपनी द्वारा इस नेटवर्क में शामिल प्रतिभागियों को आम तौर पर कमीशन के तौर पर उनका पारिश्रमिक दिया जाता है । इस नेटवर्क में शामिल प्रतिभागियों को हर बार निर्दिष्ट कार्य करने पर कमीशन दिया जाता है। यह निर्दिष्ट कार्य उनके या उनके द्वारा जोड़े गए किसी व्यक्ति द्वारा की गई उत्पाद या सेवा की बिक्री हो सकती है। अर्थात जब भी उनके या उनके द्वारा जोड़े गए किसी व्यक्ति, या उस व्यक्ति द्वारा जोड़े गए किसी व्यक्ति द्वारा उत्पाद या सेवा की बिक्री की जाती है तो उन्हें कमीशन प्राप्त होता है। साधारण शब्दों में हम Network Marketing को समझने की कोशिश करें तो यह एक ऐसा नेटवर्क ढांचा है जिसमें शामिल प्रतिभागियों को कंपनी द्वारा कोई सैलरी तो नहीं दी जाती है, लेकिन तब तब उन्हें कमीशन दिया जाता है जब जब उनके या उनके नीचे नेटवर्क में शामिल किसी व्यक्ति द्वारा बिक्री की जाती है। इस प्रणाली में ग्राहक स्वयं इस नेटवर्क के प्रतिभागी होते हैं और उनके  परिवार, दोस्त, रिश्तेदार उनके ग्राहक होते हैं। ऐसे में यह चक्र चलता रहता है ।

नेटवर्क मार्केटिंग के फायदे (Benefits of Network marketing):

Network marketing केवल भारत में ही नहीं बल्कि सम्पूर्ण विश्व में लोगों की कमाई का जरिया रही है । आम तौर पर लोग इसे पार्ट टाइम काम के तौर पर करना पसंद करते हैं। इसलिए इसके कई फायदे हैं जिनकी लिस्ट कुछ इस प्रकार से है।

  • Network Marketing नामक इस व्यवसाय में प्रवेश करने के लिए व्यक्ति को बहुत ज्यादा निवेश करने की आवश्यकता नहीं होती है । अर्थात यदि नेटवर्क द्वारा प्रमोट किये जाने वाले उत्पाद की आवश्यकता व्यक्ति को है तो वह उसे खरीदकर इस नेटवर्क में आसानी से शामिल हो सकता है।
  • इस प्रकार का यह व्यवसाय हर किसी व्यक्ति के लिए खुला है। चाहे वह किसी भी लिंग, उम्र या जाति का हो ।
  • इस क्षेत्र में नए व्यक्तियों को इसके बारे में समझाने के लिए पहले से ही अनुभवी एवं इस क्षेत्र के जानकार उपलब्ध हैं जो व्यक्ति को उसकी इस यात्रा में मंजिल तक पहुँचाने में मदद कर सकते हैं।
  • Network marketing को कोई भी व्यक्ति पार्ट टाइम बिजनेस के तौर पर शुरू कर सकता है इसलिए कोई भी नौकरीपेशा या विद्यार्थी भी इसे शुरू कर सकता है।
  • चूँकि कंपनियों द्वारा लोगों को पहले से ही स्थापित एक सिस्टम प्रदान किया जाता है इसलिए व्यक्ति को अलग से कोई सिस्टम बनाने की आवश्यकता नहीं होती है।
  • बहुत सारी कंपनियाँ इस व्यवसाय में सफल होने के लिए लोगों को मुफ्त में शिक्षा एवं प्रशिक्षण भी प्रदान करती हैं ।
  • इस प्रकार के कार्यक्रमों का हिस्सा बनने के लिए किसी प्रकार की औपचारिक शिक्षा या डिग्री की आवश्यकता नहीं होती है।
  • यह पैसिव इनकम का एक बेहतरीन स्रोत बन सकता है।

नेटवर्क मार्केटिंग कैसे काम करती है (How Does Network Marketing Works): 

Network-Marketing kaise work karti hai

 

वर्तमान में दुनिया भर के करोड़ों लोग Networking Marketing नामक इस अनदेखी इंडस्ट्री का निर्माण कर रहे हैं । लेकिन इसके बावजूद बहुत सारे लोग ऐसे भी हैं जो जानना चाहते हैं की नेटवर्क मार्केटिंग का यह सिस्टम कार्य कैसे करता है । इसलिए आगे हम इसी विषय पर इस लेख को केन्द्रित करने की कोशिश कर रहे हैं। जैसा की हम सबको विदित हो गया है की Network Marketing एक ऐसे मार्केटिंग रणनीति है जिसमें कंपनी द्वारा अपना उत्पाद खरीदने वाले को इसका हिस्सा बना दिया जाता है। और उसे इस बात के लिए प्रेरित किया जाता है की वह कंपनी के लिए और ग्राहक लेकर आये जिससे उनके द्वारा की गई बिक्री पर उसे कमीशन मिल सके। जहाँ तक इस Multi Level Marketing की बात है यह कंपनी एवं उसके ग्राहकों के बीच की एक ऐसी कड़ी है जिसमें कंपनी द्वारा कमाया हुआ लाभ अपने ग्राहकों के बीच कमीशन के तौर पर वितरित किया जाता है। उदाहरणार्थ: आज अचानक पांच साल बाद आपके पास आपके दोस्त विनोद का फोन आता है और वह आपको मिलने बुलाता है। आप जब उससे मिलते हैं तो आप बातों बातों में उससे अपने बिगड़ते स्वास्थ्य के बारे में बताते हैं और ऐसे में वह आपको किसी विशेष कंपनी का उत्पाद खरीदने की सलाह देता है। और साथ में यह भी बताता है की कैसे उसे भी इस खरीदारी से कमीशन मिलेगा। और यदि तुम भी अपने अंतर्गत किसी को इस नेटवर्क से जोड़ देते हो तो उसके द्वारा और उसके द्वारा जोड़े गए अन्य व्यक्तियों की खरीदारी पर तुम्हें भी कमीशन मिलेगा। इस तरह से यह चक्र बढ़ता जाता है और जब भी किसी व्यक्ति के नीचे वाले प्रतिभागी उत्पाद की खरीदारी करते हैं तो उनका कमीशन उनके खाते में जमा हो जाता है। चूँकि प्रत्येक प्रतिभागी को नेटवर्क से जुड़ते समय एक अनोखा कोड इत्यादि जारी किया जाता है और प्रत्येक प्रतिभागी को रजिस्टर करते समय यह कोड डालना होता है। जिससे इस बात का पता आसानी से लग जाता है की कौन सा प्रतिभागी किसके नीचे है।

नेटवर्क मार्केटिंग कैसे ज्वाइन करें (How to Join Network Marketing):   

यद्यपि भारत में हजारों Network Marketing कम्पनियाँ हैं और आपने अक्सर देखा भी होगा की आपके आस, पड़ोस या नाते रिश्तेदारों में ऐसे कई व्यक्ति होंगे जो किसी न किसी मल्टी लेवल मार्केटिंग कंपनी से जुड़े होंगे। इसलिए अनेकों बार वे आपसे भी इस नेटवर्क से जुड़ने के लिए कह चुके होंगे। लेकिन यदि आप Networking Marketing को अपनी कमाई का स्रोत बनाना चाहते हैं, तो आपको किसी के कहने पर नहीं बल्कि खुद की रिसर्च एवं अध्यन करके इस बात का निर्णय लेना होगा की कौन सी MLM कंपनी आपके लिए उपयुक्त रहेगी। क्योंकि हर कंपनी के अपने अलग अलग उत्पाद होते हैं और कुछ कम्पनियाँ तो ग्राहकों के साथ धोखा भी कर देती हैं। इसलिए प्रोडक्ट एवं कंपनी का चुनाव करने से पहले व्यक्ति को काफी रिसर्च एवं अध्यन की आवश्यकता होती है ताकि वह यह सुनिश्चित कर सके की उसके द्वारा ज्वाइन किया जाने वाली Network Marketing कंपनी विश्वसनीय, एवं उस कंपनी के उत्पाद उसकी कम्युनिटी में बिकने लायक है । इसके अलावा उत्पाद को उसकी कीमत के आधार पर भी तौल लें की कहीं वह बहुत महंगा तो नहीं है की आप उसे खरीदने के लिए लोगों को सहमत ही नहीं कर पाओ। इन उपर्युक्त सभी बातों का विश्लेषण करने के बाद ही व्यक्ति को इस बात का निर्णय लेना चाहिए की उसे किस कंपनी के साथ जुड़ना चाहिए। लोग अक्सर यही गलती करते हैं की वे अपने नाते, रिश्तेदारों, पास, पड़ोसियों की बातों में आकर किसी MLM कंपनी से जुड़ तो जाते हैं लेकिन वे सफल नहीं हो पाते क्योंकि उन्होंने उपर्युक्त बताई गई बातों का ध्यान नहीं रखा होता है। हालांकि हम यह भी नहीं कहते की नाते, रिश्तेदारों की बात में बिलकुल नहीं आना चाहिए, बल्कि जिस कंपनी के साथ वे आपसे जुड़ने का आग्रह कर रहे हैं। उस कंपनी की प्रमाणिकता और उसके द्वारा उत्पादित उत्पाद की कम्युनिटी में बिकने की कितनी संभावना है इसका आकलन अवश्य करना चाहिए। तभी आप Network Marketing से कमाई कर पाने में सफल हो पाएंगे।

यह भी पढ़ें

14 Comments

  1. Avatar for Jiya Jiya
    • Avatar for amit amit
  2. Avatar for Roshni deshraj Roshni deshraj
  3. Avatar for Ranjeet rajak Ranjeet rajak
  4. Avatar for Neeraj upadhyay Neeraj upadhyay
  5. Avatar for Hansraj Hansraj
    • Avatar for Deepesh Deepesh
  6. Avatar for Deepak Deepak
    • Avatar for KANHAIYA KANHAIYA
  7. Avatar for Lakhan Chauhan Lakhan Chauhan
    • Avatar for Sonu Singh Sonu Singh
    • Avatar for Chetan tiwari Chetan tiwari
  8. Avatar for Gaharwar ji Gaharwar ji
  9. Avatar for Devendra singh Devendra singh

Leave a Reply

Your email address will not be published

error: