Paytm Ke Sath Business Kaise Start Kare.

Paytm ke sath business करने की चाह रखने वाले उद्यमी को सबसे पहले एक shop खोलनी पड़ेगी | इसका भविष्य सुनहरा इसलिए है क्योंकि सरकार का लक्ष्य Plastic Money के use  को प्रोत्साहित करना है और जब से  500, 1000 के पुराने नोट सरकार द्वारा प्रतिबंधित और ATM या Bank से पैसे निकालने की सीमा को कम कर दिया गया है तो लोग स्वत: ही Plastic Money का उपयोग करने लगेंगे | इसलिए छोटे मोटे दुकानदार जिन्हें Market में Cash के अभाव के चलते अपने ग्राहक खोने का डर सता रहा है, वे लोग Paytm ke sath business करके अपने इस डर से निजात पा सकते हैं | सरकार ने Black Money, Fake Money  को नियंत्रित करने के लिए जो कदम उठाया है, यह निर्णय देश में Business करने और बढ़ाने के अवसरों को भी पैदा करेगा | Business करने और रोज़गार बढ़ने की इसी क्रम में Mobile recharge एवं E commerce company सभी छोटे मोटे दुकानदारों को Paytm ke sath business करने का अवसर प्रदान कर रही है | अब चूँकि सरकार ने Cash withdrawal को बेहद सीमित कर दिया है यही कारण है की लोग Online shopping  या फिर किसी ऐसी दुकान की ओर अग्रसित हो रहे हैं जो Card se payment स्वीकार कर सके | यही कारण है की Paytm ke digital wallet में Transaction बढ़ रहा है, और कंपनी ने फैसला किया है की March 2017 यानिकी की वर्तमान वित्त वर्ष के अंत तक कंपनी अपने साथ काम करने वाले sellers  की संख्या 20 लाख तक कर देगी, जो वर्तमान में 4 लाख है |

Paytm Kya Hai :

Paytm की शुरुआत India में Mobile recharge के Online Platform के रूप में हुई थी | जिसमे Paytm हर Mobile Recharge पर अपने ग्राहकों को Cash back देता था | लेकिन वर्तमान में इसका उपयोग सिर्फ Mobile Recharge के लिए नहीं अपितु DTH Recharge, Electricity bill payment, Gas bill payment, water bill payment, Metro Card Recharge, Bus booking और हर प्रकार की खरीदारी करने के लिए किया जाता है | इसकी शुरुआत one97 communication के विजय शेखर शर्मा द्वारा 2010 में की गई थी |  2014 में launch की गई, 2015 मे भारत के जाने माने बिजनेसमैन रतन टाटा ने भी Paytm में निवेश किया | Paytm wallet से लगभग 10 करोड़ लोग जुड़ चुके हैं और paytm mobile app को लगभग 1 करोड़ लोग डाउनलोड कर चुके हैं | Paytm का Head office Noida में स्थित है | इसके अलावा Paytm भारत सरकार द्वारा Approved Bharat Bill Payment system है, जिसका उपयोग करके लोग कहीं से कभी भी अपने सभी प्रकार के बिलों का भुगतान कर सकते हैं |

Kaise Hogi Paytm Se Kamai:

Paytm से कमाई करने के लिए व्यक्ति को Paytm ke sath business करना पड़ेगा | जैसा की हमने उपर्युक्त वाक्य में बताया है की कंपनी इस वित्त वर्ष के अंत तक अपने Offline merchants बढाने जा रही है, जिसमे Paytm अपने साथ लगभग 20 लाख Sellers को जोड़ेगी | इसमें कंपनी का लक्ष्य सभी छोटे मोटे दुकानदारों सब्जी बेचने वाले से लेकर, परचून की दुकान तक को अपने साथ जोड़ने का है | Paytm se kamai करने के लिए व्यक्ति के पास अपनी दुकान होना आवश्यक है, तभी वह Paytm का Seller बन पायेगा और अपने ग्राहकों को Paytm के माध्यम से Payment कराने की Facility देकर अपनी kamai कर पायेगा |

Paytm Ke sath business karne ka tarika:

यदि आप किसी वस्तु या पदार्थ के विक्रेता हैं अर्थात आपकी अपनी Shop है और आप चाहते हैं की आपके वर्तमान ग्राहकों के पास Cash की कमी होने के बावजूद आप उनको अपना सामान बेच सकें | हो सकता है यदि आप उनसे यह कहें की Online payment option हमारे पास उपलब्ध नहीं है तो वे किसी और दुकान का रुख करें इस सबको रोकने के लिए आप Paytm ke sath business कर सकते हैं | इसके लिए व्यक्ति को Paytm का Seller बनना पड़ेगा | Seller बनने के लिए सर्वप्रथम इछ्छुक व्यक्ति को Paytm ki Website पर जाना होगा | उसके बाद वेबसाइट के उपरी भाग में Paytm Partners नामक tab पर click करना होगा जैसा नीचे पिक्चर में दिखया गया है |

step-1-to-become-seller-with-paytm

इसके बाद Sign up for free (निः शुल्क रजिस्टर करें) पर click करना होगा |

step-2-to-become-seller-in-paytm

व्यक्ति यदि अंग्रेजी में अपनी details भर पाने में असमर्थ हो तो पेज के उपरी दायीं ओर Hindi, English Language choose करने का option दिया हुआ है व्यक्ति चाहे तो हिंदी चयन कर सकता है |

step-3-paytm-retail-and-shopkeeper-form

उसके बाद उसमे अपनी सम्पूर्ण आवश्यक details भरकर Submit कर सकता है |

step-4-to-become-seller-with-paytm

Paytm द्वारा व्यक्ति के documents जैसे  KYC, VAT और Bank details मांगी जाएगी | इस क्रम में आधार कार्ड, पैन कार्ड, VAT/TIN, Address Proof  इत्यादि documents चाहिए हो सकते हैं  |

Submit करने के बाद 48 घंटे के अन्दर अन्दर कंपनी का कोई कर्मचारी व्यक्ति को फ़ोन करके आगे की जानकारी उपलब्ध कराएँगे | और स्वीकृत कर लिए जाने पर व्यक्ति को QR Code provide किया जायेगा |

यह भी पढ़ें -:

अब चूँकि फिलहाल Market में Cash की कमी हो रही है, हालांकि वित्त मंत्री का कहना है कुछ दिनों बाद बैंकों और एटीएम से पैसे निकालने की Limit को पहले जैसे कर दिया जायेगा, लेकिन इतना तो तय है की सरकार का लक्ष्य Cashless transaction को बढ़ावा देना है | इसलिए Cash के अभाव में लोग उसी दुकान पर जाना पसंद करेंगे जहाँ वे Online payment, card payemnt के माध्यम से खरीदारी कर सकें, छोटे मोटे दुकानदार एवं रिटेलर्स Paytm ke sath business करके अपने ग्राहकों को बनाये रख सकते हैं | जैसे ही कोई ग्राहक व्यक्ति दुकान पर आएगा उसे दुकानदार का QR Code अपने Mobile से Scan करना पड़ेगा | उसके बाद कितना Payment करना है यह Option customer को दिखाई देगा और वह पैसा दुकानदार के Paytm wallet में जमा हो जायेगा | उस पैसे को दूकानदार आसानी से अपने बैंक खाते में Transfer कर सकता है |

 

About Author:

मित्रवर, मेरा नाम महेंद्र रावत है | मेरा मानना है की ग्रामीण क्षेत्रो में निवासित जनता में अभी भी जानकारी का अभाव है | इसलिए मेरे इस ब्लॉग का उद्देश्य बिज़नेस, लघु उद्योग, छोटे मोटे कांम धंधे, सरकारी योजनाओं, बैंकिंग, कैरियर और अन्य कमाई के स्रोतों के बारे में, लोगो को अवगत कराने से है | ताकि कोई भी युवा अपने घर से रोजगार के लिए बाहर कदम रखने से पहले, एक बार अपने गृह क्षेत्र में संभावनाए अवश्य तलाशे |

8 thoughts on “Paytm Ke Sath Business Kaise Start Kare.

  1. Namastey bhai
    Mujhey yeh janna hai ke mai recharge mobile recharge dth recharge kaa business shuru karna chahta hu tou mujhe kya karna padega jissey mai yeh business shuru kar saku hum is business ko kaise shuru jar saktey hai bhai kuchh pata ho tou bata diye plz
    My whatsapp no. is 8791526707
    Plz reply

  2. sir
    meri photocopy, stationary ki shop hai or meri shop par bahut se customers mobile or dth recharge k liye bhi aate hai
    to kya main mere mobile se paytm mobile apps se customers k liye mobile recharge ya dth recharge kar satka hoon ?
    ager kar sakta hoon to kya yeh ek legal tarika hoga…?

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *