Pradhan Mantri Yuva Yojana विशेषताएं, लक्ष्य सहित पूरी जानकारी

Pradhan Mantri Yuva Yojana पर Hindi में बात करना इसलिए जरुरी हो जाता है क्योंकि सरकार का इस योजना को चलाने का लक्ष्य युवाओं में उद्यमिता को प्रोत्साहित करना है | कहने का आशय यह है की इस योजना की शुरुआत 9 नवम्बर 2016 से उद्यमिता शिक्षा और प्रशिक्षण, वकालत, और उद्यमिता नेटवर्क के लिए आसान पहुंच के माध्यम से उद्यमशीलता के विकास के लिए एक सक्षम पारिस्थितिकी तंत्र बनाने के लिए हुई है | Pradhan Mantri YUVA Yojana में YUVA का फुल फॉर्म YUVA Udyamita Vikas Abhiyan है | इस परियोजना का उद्देश्य समावेशी विकास के लिए सामाजिक उद्यमों के विकास को बढ़ावा देना भी है | एक आंकड़े के मुताबिक PM Yuva Yojana के तहत 2200 कॉलेजों, 300 स्कूलों, 500 आईटीआई, 50 उद्यमिता विकास केन्द्रों को उद्यमशीलता की शिक्षा एवं प्रशिक्षण देने के लिए तैयार किया जायेगा | जो लगभग  सात लाख विद्यार्थियों को उद्यमशीलता की शिक्षा एवं प्रशिक्षण देने में सक्षम होंगे | माना यह जा रहा है की इस योजना के तहत पांच वर्षों में देश में लगभग तीन हज़ार स्टार्ट अप शुरू होंगे जिसके फलस्वरूप वे प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से दो लाख साठ हज़ार जॉब पैदा करने में सक्षम होंगे | इसी Pradhan Mantri Yuva Yojana के अंतर्गत मजबूती से लगभग 8900 उद्यमिता शिक्षक एवं 10180 उद्यमिता सलाहकार बनाये जाने का भी लक्ष्य है | इस स्कीम को प्रभावी रूप से चलाने की जिम्मेदारी उन शिक्षण संस्थानों के कंधो पर रहेगी जो इस कार्यक्रम के तहत नामांकित होंगे |

Pradhan Mantri Yuva Yojana

Pradhan Mantri Yuva Yojana का लक्ष्य:

भारत में उद्यमिता शिक्षा और प्रशिक्षण के माध्यम से उद्यमशीलता के विकास की उपलब्धि को आगे बढ़ाने के लिए, यह योजना मंत्रालय की प्रमुख योजना के रूप में शुरू की गई है । जैसा की हम उपर्युक्त वाक्य में भी बता चुके हैं की Pradhan Mantri Yuva Yojana का लक्ष्य 2021 तक उद्यमिता शिक्षा एवं प्रशिक्षण को उद्यमिता नेटवर्क के माध्यम से उद्यमशीलता के विकास के लिए एक सामर्थ्यवान, समर्थ पारिस्थतिकी तंत्र बनाना है | इसके अलावा इस योजना के प्रमुख लक्ष्यों को चार भागों में विभाजित किया जा सकता है |

  • संभावित और प्रारंभिक चरण के उद्यमियों को शिक्षित और तैयार करना |
  • उद्यमियों को सहकर्मी, संरक्षक, इन्क्यूबेटर, वित्तपोषण और व्यापार सेवाओं के नेटवर्क से जोड़ना |
  • उद्यमशीलता केंद्र (E Hubs) के माध्यम से उद्यमियों को समर्थन एवं समन्वय देना |
  • महत्वाकांक्षी उद्यमियों का समर्थन करने के लिए संस्कृति बदलाव को उत्प्रेरित करना |

योजना के तहत लक्ष्यित लाभार्थी:

जहाँ तक इस योजना के अंतर्गत लक्ष्यित लाभार्थियों की बात है उनका विवरण कुछ इस प्रकार से है |

  • स्नातक / स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम / पीएचडी कार्यक्रम / डिप्लोमा एवं डिग्री कार्यक्रम में नामांकित पारंपरिक छात्रों को इस योजना के अंतर्गत लक्ष्यित किया गया है |
  • स्कूलों में पढने वाले विद्यार्थी |
  • औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों के छात्र |
  • असंगठित क्षेत्र, महिलाओं सहित एवं ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों से जुड़े मौजूदा उद्यमी, जो समन्वय और सहायता कार्यक्रमों के माध्यम से उद्यमिता शिक्षा लेना चाहते हैं इस Pradhan Mantri Yuva Yojana के लिए लक्ष्यित किये गए हैं |

योजना की विशेषताएं

  • उद्यमिता मार्ट बड़े पैमाने पर ऑनलाइन पाठ्यक्रमों के माध्यम से वितरित किये जाने का प्रावधान है और संकाय द्वारा कक्षा चर्चा और अनुभवात्मक सीखने की सुविधा प्रदान की जाएगी ।
  • जहाँ भी संभव हो मौजूदा स्थानीय उद्यमी एवं उनके नेटवर्क का लाभ उठाकर एक उच्च गुणवत्तायुक्त उपदेशकों का राष्ट्रीय नेटवर्क तैयार करना |
  • व्यावसायिक प्रशिक्षण केंद्रों में पेश किए गए सामाजिक उद्यमिता कार्यक्रमों और सामाजिक उद्यमिता विकास कार्यक्रमों में सामाजिक उद्यमिता पर वैकल्पिक पाठ्यक्रम ।
  • Pradhan Mantri Yuva Yojana के अंतर्गत उद्यमिता विकास कार्यक्रमों के समन्वय और समर्थन के लिए ई-हब का एक नेटवर्क स्थापित करना |
  • उद्यमिता अनुसंधान एवं वकालत के साथ घटनाओं, ब्रांडिंग और विपणन के माध्यम से गतिशील उद्यमशीलता की संस्कृति को बनाना |
  • मोबाइल ‘फैक्ट्री ऑन व्हील्स’ के माध्यम से दूर-दराज और ग्रामीण क्षेत्रों में बसे अनूठे युवाओं के लिए नौकरी एवं उद्यमिता के अवसर उनके दरवाजे तक लाना |

कॉलेज, स्कूल, सरकारी आइटीआई के लिए प्रक्रिया

  • नेशनल ई-हब द्वारा निर्धारित नियमों के मुताबिक प्रोजेक्ट संस्थान ऑफ़लाइन या ऑनलाइन (एमआईएस पोर्टल पर) अप्लाई कर सकते हैं | ताकि वे अपने छात्रों को उद्यमिता पाठ्यक्रम मुहैया करा सकें ।
  • Pradhan Mantri Yuva Yojana के अंतर्गत निकटतम नोडल ई-हब का एक प्रतिनिधि कॉलेजों के भौतिक आधारभूत संरचना का निरीक्षण करेगा, जिन्होंने पूर्व परिभाषित चयन मानदंडों के साथ आवेदन किया है । निरीक्षण के आधार पर, राष्ट्रीय ई-हब आईएचएल का चयन करेगा । सूचीबद्ध संस्थानों की सूची को राज्य स्तर पर संयुक्त कार्य दल (जेडब्ल्यूजी) के साथ साझा किया जाएगा ।
  • सभी सूचीबद्ध IHL विभिन्न ऑफर प्राप्त कर सकते है जिनमें पाठ्यक्रम, कंटेंट, प्रशिक्षण एवं संकाय की चलती रहने वाली मदद सम्मिलित है |
  • Pradhan Mantri Yuva Yojana के तहत सभी सूचीबद्ध संस्थानों को आवर्ती व्यय (परिचालन व्यय – ओपेक्स) को कवर करने के लिए वार्षिक निधि मिलेगी । इसके अतिरिक्त, सरकारी कॉलेजों को ओपेक्स के साथ सिफारिश वाले उपकरण (कैपिटल व्यय – सीएपीईएक्स) की खरीद के लिए एक बार अनुदान दिया जाएगा ।
  • इस योजना के तहत प्रत्येक सूचीबद्ध संस्थान को सुरक्षित लॉग इन करने के लिए एक यूजर आईडी एवं पासवर्ड दिए जाने का प्रावधान है |
  • सूचीबद्ध महाविद्यालयों को इस प्रकार के ये कोर्स अन्य महाविद्यालय से जुड़े इच्छुक विद्यार्थियों को वितरित करने के लिए भी प्रोत्साहित किया जाता है लेकिन ये दूसरे कॉलेज तीन चार किलोमीटर के रेडियस में होने चाहिए |

फैकल्टी ओरिएंटेशन

  • नोडल ई-हब महाविद्यालयों के लिए एक प्रेरण कार्यक्रम का आयोजन करेगा और प्रत्येक महाविद्यालय से चयनित सहयोगी उन्मुखीकरण में भाग लेते हैं । महाविद्यालय द्वारा अनुशंसित सुविधादाताओं का चयन पूर्व निर्धारित मानदंडों के आधार पर निकटतम नोडल ई-हब द्वारा किया जाएगा ।
  • उसके बाद Pradhan Mantri Yuva Yojana के अंतर्गत इन सुविधाकर्ता नोडल ई-हॉब्स और उद्योग और शिक्षाविदों के विशेषज्ञों की मदद से ऑनलाइन और कक्षा प्रशिक्षण में भाग लेंगे । इस सुविधा कार्यक्रम को चार घटक – वेबिनार, ओरिएंटेशन प्रोग्राम, फैकल्टी फ़ेसिलिटेटर मॉड्यूल और एडवांस्ड फ़ेसिलिटेटर प्रोग्राम के रूप में विभाजित किया जा सकता है ।
  • ट्रेंनिंग के पश्चात फैसिलिटेटर का ऑनलाइन मूल्यांकन किया जायेगा और और NIESBUD द्वारा भागीदारी का प्रमाण पत्र दिया जाएगा ।

Pradhan Mantri Yuva Yojana के तहत उद्यमिता शिक्षा या प्रशिक्षण कार्यक्रम:

  • उद्यमिता में रुचि रखने वाले उम्मीदवारों को इस मंच पर ऑनलाइन पाठ्यक्रमों के माध्यम से विश्व स्तरीय उद्यमिता शिक्षा और प्रशिक्षण दिए जाने का प्रावधान है | पाठ्यक्रमों के लिए खुली पहुंच का डिजाइन और राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय विशेषज्ञों द्वारा डिज़ाइन द्वारा विकसित किया गया है, और ये सभी के लिए नि: शुल्क उपलब्ध हैं ।
  • Pradhan Mantri Yuva Yojana के अंतर्गत ऑनलाइन कंटेंट के अलावा, हायर लर्निंग संस्थानों, विद्यालयों, आईटीआई और ईडीसी के चयन संस्थानों के  माध्यम से उद्यमिता शिक्षा और प्रशिक्षण दिया जाएगा | जिसमें एमओओसी को कक्षा में चर्चाओं और अनुभवात्मक शिक्षा (आवेदन, नकली व्यवसाय, इंटर्नशिप) के साथ एकीकृत किया जाएगा इन संस्थानों में चयनित और प्रशिक्षित संकाय नियुक्त किये जायेंगे । इस प्रकार Pradhan Mantri Yuva Yojana  के अंतर्गत ये छात्र केंद्रित पाठ्यक्रम उन कौशलों को प्राप्त करने में मदद करेंगे, जिनके लिए उद्यम शुरू करना आवश्यक है |
  • छात्रों के लिए ओरिएंटेशन कार्यक्रम परियोजना संस्थानों द्वारा आयोजित की जाती है । और इच्छुक छात्र उद्यमिता शिक्षा कार्यक्रम के लिए नामांकन कर सकते हैं |
  • इस योजना के तहत उद्यमिता शिक्षा के लिए नामांकन करने वाले छात्रों को चार श्रेणियों Enthusiasts, Wannapreneurs, Practicing Entrepreneurs and High-Performers में विभाजित किये जाने का प्रावधान है |
  • जहाँ तक शुल्क की बात है शुल्क या तो नामांकन के समय लिया जा सकता है या प्रत्येक सेमेस्टर की शुरुआत में |
  • सम्बंधित पोर्टल पर लॉग इन करने के लिए प्रत्येक विद्यार्थी को एक सुरक्षित आईडी और पासवर्ड दिए जाने का प्रावधान है |
  • नामांकन करते समय छात्रों को पाठ्यक्रम सामग्री दिए जाने का प्रावधान है |

स्कीम के तहत मूल्यांकन एवं प्रमाण पत्र :

  • मूल्यांकन ऑनलाइन या लिखित नेशनल ई हब द्वारा निर्धारित समय सारिणी के अनुरूप होगा छात्रों के निरंतर मूल्यांकन सुनिश्चित करने के लिए आवधिक ऑनलाइन / लिखित परीक्षाएं आयोजित की जाएंगी ।
  • मूल्यांकन के बाद, छात्रों को भागीदारी का एक प्रमाण पत्र राष्ट्रीय उद्यमिता संस्थान और लघु व्यवसाय विकास (एनआईईएसबीयूडी) द्वारा दिया जाएगा ।
  • Pradhan Mantri Yuva Yojana के अंतर्गत अपने उद्यम स्थापित करने में रुचि रखने वाले छात्र परियोजना संस्थान द्वारा ऑन-बोर्ड होंगे |

Pradhan Mantri Yuva Yojana की और अधिक जानकारी या ऑनलाइन अप्लाई करने के लिए इस अधिकारिक वेबसाइट का भ्रमण करें |

अन्य सम्बंधित लेख:

एनएसआईसी के टेक्निकल सेण्टर एवं प्रशिक्षण केन्द्रों की जानकारी

खादी ग्राम उद्योग के प्रशिक्षण केन्द्रों की लिस्ट

दीनदयाल दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना  

About Author:

मित्रवर, मेरा नाम महेंद्र रावत है | मेरा मानना है की ग्रामीण क्षेत्रो में निवासित जनता में अभी भी जानकारी का अभाव है | इसलिए मेरे इस ब्लॉग का उद्देश्य बिज़नेस, लघु उद्योग, छोटे मोटे कांम धंधे, सरकारी योजनाओं, बैंकिंग, कैरियर और अन्य कमाई के स्रोतों के बारे में, लोगो को अवगत कराने से है | ताकि कोई भी युवा अपने घर से रोजगार के लिए बाहर कदम रखने से पहले, एक बार अपने गृह क्षेत्र में संभावनाए अवश्य तलाशे |

3 thoughts on “Pradhan Mantri Yuva Yojana विशेषताएं, लक्ष्य सहित पूरी जानकारी

  1. मे देवेद्र सिह भरतपुरसेसेनेटरीपेड बनाने कि टैनीग लेना चहता हू राजस्थान मै कोई टैनीग सेनटर होतोबताये

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *