Steel Furniture Making Business

Steel Furniture Making Business

वर्तमान में Steel Furniture की यदि हम बात करें तो इनमे मुख्य रूप से  Steel Coat, स्टील टेबल, चाय वाली मेज (Teapoy) एवं स्टील की कुर्सियां काफी प्रचलित हैं वर्तमान में Steel Coat  का उपयोग जहाँ शीशे के दरवाजों, स्टील हुक इत्यादि का उपयोग बाथरूम इत्यादि में किया जाता है वहीँ तीन या चार पैरों वाली स्टील और शीशे से निर्मित Teapoy का उपयोग भी बहुतायत मात्रा में बड़े घरों एवं कार्यालयों में देखने को मिलता है हालांकि स्टील से निर्मित फर्नीचर अर्थात Steel Furniture में स्टील की अलमारी, स्टील बेड इत्यादि भी आते है लेकिन यहाँ पर हमने इन बड़े वस्तुओं जैसे अलमारी एवं स्टील बेड को अपने लेख का हिस्सा नहीं बनाया है क्योंकि इनके सम्मिलित होने से आवश्यक मशीनरी एवं उपकरणों की लिस्ट में अंतर दिखाई दे सकता है और मशीनरी एवं उपकरणों पर लगने वाली लागत लघु उद्योग के दायरे से आगे बढ़ सकती है | इसलिए हमारा यह लेख Steel Furniture Making Business स्टील के विभिन्न प्रकार के Coat, Hooks, Teapoy, Steel Table, Steel Chairs पर ही आधारित है |

Steel-Furniture

Steel Furniture Making Business Kya Hai:

Steel Furniture Making Business की बात करें तो इसका दायरा बहुत बड़ा है अर्थात जिन वस्तुओं का जिक्र हम अपने इस लेख में नहीं भी करने वाले हैं ऐसे वस्तुओं को बनाने का काम भी इसके अंतर्गत आ सकता है | जैसा की हम वर्तमान में विभिन्न कार्यालयों में आते जाते रहते हैं और हम अपने घरों में भी विभिन्न प्रकार के Steel Furniture से रूबरू होते रहते हैं इनमे मुख्य रूप से शीशे के दरवाजों या लकड़ी के दरवाजों पर लगने वाले स्टील से निर्मित विभिन्न प्रकार के Coat एवं हुक सम्मिलित हैं | चूँकि स्टील दिखने में बेहद सुन्दर एवं आकर्षक लगता है और सफाई करने में भी आसान रहता है इसलिए कार्यालयों में भी अक्सर देखा जाता है की स्टील की कुर्सियों एवं टेबल का उपयोग होता रहता है हालांकि हम यह बिलकुल नहीं कह रहे हैं की उनमे सिर्फ स्टील ही उपयोग में लाया जाता है Steel Furniture में यदि हम टेबल या कुर्सियों की बात करें तो टेबल बनाने में जहाँ स्टील के साथ शीशा का उपयोग किया जाता है वही स्टील की कुर्सी बनाने के लिए स्टील एवं लकड़ी या अन्य सामग्री का उपयोग किया जाता है | इसके अलावा अन्य सामान जैसे स्टील की अलमारी, स्टील के बेड इत्यादि भी स्टील फर्नीचर में ही आते हैं जब किसी उद्यमी द्वारा उपर्युक्त वस्तुओं में से किसी भी वस्तु का उत्पादन व्यवसायिक तौर पर अपनी कमाई करने के लिए किया जाता है तो उस व्यक्ति या उद्यमी द्वारा किया जाने वाला बिज़नेस Steel Furniture Making Business कहलाता है |

Market Potential:

औद्योगिक, वाणिज्यिक और घरेलू गतिविधियों की वृद्धि के साथ  साथ Steel Furniture की मांग में भी वृद्धि देखने को मिली है | स्टील फर्नीचर को अन्य फर्नीचर की तुलना में अधिक पसंद किया जाता रहा है ऐसा पिछले एक दशक में देखने को मिला है इसमें पाया गया की लोग इसके टिकाउपन एवं लचीलेपन के कारण इसे बेहद पसंद करते हैं | शीशे और स्टील के कॉम्बिनेशन में सुन्दरता, आकर्षण एवं नयापन दिखाई दिया है इसलिए बड़े बड़े कार्यालयों में Steel Furniture का कुछ ज्यादा ही उपयोग देखा गया है | जैसा की हम उपर्युक्त वाक्य में बता चुके हैं की दिन प्रतिदिन औद्योगिक, वाणिज्यिक एवं घरेलू गतिविधियों में वृद्धि होती जा रही है और स्टील फर्नीचर का उपयोग इन सारी गतिविधियों में अवश्य होता है इन्हें सिर्फ प्राइवेट संगठन या घरेलू गतिविधियों के तौर पर ही उपयोग में नहीं लाया जाता अपितु बड़े बड़े सरकारी प्रोजेक्ट में Steel Furniture का बहुतायत तौर पर उपयोग होता है | इसलिए जहाँ तक Steel Furniture Making Business में संभावनाओं का सवाल है उपर्युक्त आधार पर यही कहा जा सकता है की मार्किट में इस प्रकार के फर्नीचर की मांग फिलहाल लम्बे अरसे तक बनी रहेगी |

Required Machinery and Raw materials:

इस लेख में हम पहले भी स्पष्ट कर चुके हैं की यह लेख Steel Furniture के कुछ आइटम जैसे Steel Coat, Teapoy, स्टील टेबल, स्टील कुर्सी इत्यादि को ही कवर करता है इसलिए इसमें दी जाने वाली मशीनरी एवं उपकरणों की लिस्ट भी उसी प्रकार होगी हालांकि आइटम के आधार पर कच्चे माल अर्थात Raw Materials की सिर्फ मात्रा ऊपर नीचे हो सकती है लेकिन कुछ स्थितियों में Raw Materials की लिस्ट भी अंतरित हो सकती है | इस लेख में कवर किये गए आइटम के मुताबिक इस बिज़नेस को करने में काम आने वाला मुख्य कच्चा माल स्टेनलेस स्टील के विभिन्न आकर के गोल एवं चौकौर पाइप, स्टेनलेस स्टील की चादर, वेल्डिंग Electrodes इत्यादि हैं | मशीनरी एवं उपकरणों की लिस्ट कुछ इस प्रकार से है |

  • मोटर के साथ बेंच ड्रिल
  • 300 एम्पीएर का वेल्डिंग सेट |
  • Cut Off machine
  • हैण्ड ड्रिल
  • ग्राइंडर
  • वेल्डिंग केबल सेट
  • Manual metal arc welding Set
  • रिंग एंड स्पंनेर सेट
  • बेंच ग्राइंडर
  • स्क्रू ड्राईवर सेट
  • cuts off meter saw
  • कंप्रेसर
  • Buffing मोटर
  • पाइप बेन्डिंग मशीन
  • Straight Sander

उपयुक्त होने वाले Raw Materials की लिस्ट कुछ इस प्रकार से है |

  • स्टेनलेस स्टील के विभिन्न प्रकार के चौकौर एवं गोल पाइप
  • स्टेनलेस स्टील शीट
  • Welding Electrodes
  • Cutting Blades
  • स्क्रू
  • cutting fluid
  • कॉटन waste

Manufacturing Process of Steel furniture:

इस प्रक्रिया में सबसे पहले कच्चे माल को साइज़ के आधार पर cutting मशीन या Shearing Machine की मदद से काट लिया जाता है | उसके बाद उस वस्तु के डिजाईन के मुताबिक अर्थात Steel Furniture के अंतर्गत बनने वाली वस्तु के डिजाईन के मुताबिक उत्पाद को जोड़ा अर्थात वेल्डिंग किया जाता है | उसके बाद उत्पाद की चिकनाई के लिए उसके किनारों एवं अन्य भाग को ग्राइंडिंग किया जाता है | उसके बाद उस उत्पाद को तय मानकों के अनुरूप कसौटी पर तौला जाता है और पास होने पर उस उत्पाद को भंडारित या डिस्पैच किया जा सकता है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: