मार्केटिंग बिजनेस आईडियाज। 11 Best Marketing Business Ideas in Hindi.

Marketing Business Ideas in Hindi (2023) – ऐसे व्यापारिक विचार जो विपणन से सम्बंधित हैं उन्हें मार्केटिंग बिजनेस आईडिया कह सकते हैं। यहाँ पर हम यह स्पष्ट कर देना चाहेंगे की हम किसी बिजनेस की मार्केटिंग कैसे करें? विषय पर नहीं, बल्कि ऐसे कौन कौन से बिजनेस हैं, जो मार्केटिंग बिजनेस की श्रेणी में आते हैं, उन पर बात करने वाले हैं।

इसलिए यदि आप मार्केटिंग से जुड़े बिजनेस के बारे में जानने को उत्सुक हैं तो आप तभी इस लेख में आगे बढ़ सकते हैं। नहीं तो मार्केटिंग और प्रमोशन नामक इस श्रेणी में हमने मार्केटिंग के अनेकों तरीकों के बारे में पहले ही बात की हुई है।

हमें लगता है की जब कोई व्यक्ति विपणन से सम्बंधित बिजनेस आईडिया के बारे में गूगल या अन्य सर्च इंजन पर ढूंढ रहा होता है, तो उसकी इच्छा मार्केटिंग से जुड़े व्यापारों के बारे में जानने की होती है, न की मार्केटिंग के तरीकों के बारे में।

इसी बात को ध्यान में रखते हुए हमने मार्केटिंग से जुड़े हुए व्यापारों की एक लिस्ट तैयार की है, जिनके बारे में संक्षिप्त रूप से हम अपने इस लेख में बताने वाले हैं। 

मार्केटिंग बिजनेस आईडिया

1 डिजिटल मार्केटिंग (Digital Marketing)

वर्तमान युग डिजिटलीकरण का है, आज आपके लगभग हर काम घर बैठे इन्टरनेट के माध्यम से हो जाते हैं। जिससे आपका समय तो बचता ही है, आपको मानसिक तनाव भी कम होता है। पैसे ईधर उधर भेजने से लेकर बिल पेमेंट और कई तरह के आवेदनों को भी ऑनलाइन आसानी से पूर्ण किया जा सकता है। और तो और खरीदारी के लिए अब लोग बाज़ारों के चक्कर काटना भी पसंद नहीं करते हैं, और घर बैठे ऑनलाइन ही अपनी पसंद की वस्तुएं खरीद लेते हैं ।

यही कारण है की वर्तमान में हर छोटा बड़ा उद्यम अपने प्रोडक्ट या सर्विस को ऑनलाइन बेचने की भरपूर कोशिश करता है। ऐसे में यदि आप मार्केटिंग में से ही किसी आईडिया का चुनाव करके बिजनेस शुरू करना चाहते हैं, तो डिजिटल मार्केटिंग एजेंसी आपके लिए एक अच्छा विकल्प हो सकता है। इसमें आपको अपने ग्राहकों को सर्च इंजन मार्केटिंग, सोशल मीडिया मार्केटिंग, सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन, ईमेल मार्केटिंग जैसी अन्य कई सेवाएँ प्रदान करनी होती हैं।     

2 विज्ञापन एजेंसी (Advertising agency)

किसी भी कंपनी या ब्रांड की साख बनाने में और उसके प्रोडक्ट की बिक्री में एडवरटाइजिंग की बेहद अहम् भूमिका रहती है । यही कारण है बहुत सारी कम्पनियाँ अपनी विज्ञापन रणनीति बनाने से लेकर प्रोडक्ट या सेवा को बेचने की रणनीति बनाने तक की पूरी जिम्मेदारी एक एडवरटाइजिंग एजेंसी को देते हैं। यदि आपको विज्ञापन क्षेत्र का अच्छा अनुभव है तो यह बिजनेस  न सिर्फ आपकी कमाई कराने में सक्षम होगा, बल्कि आपको समाज में एक प्रभावशाली व्यक्ति बनाने में भी मदद करेगा।

यद्यपि एडवरटाइजिंग एजेंसी शुरू करने के लिए उद्यमी को टेलीविजन चैनलों, समाचार पत्रों, मैगजीन, मॉडलिंग एजेंसीयों इत्यादि के साथ टाई अप करना पड़ता है। क्योंकि एजेंसी इन्ही की मदद लेकर अपने क्लाइंट की विज्ञापन रणनीति को सफल बनाने में सक्षम हो पाती है।      

3 नेटवर्क मार्केटिंग (Network Marketing Business)

इस बिजनेस से तो आप अच्छी तरह से अवगत होंगे, जी हाँ हम बात कर रहे हैं MLM (Multi Level Marketing) की, इस कार्यक्रम के तहत आपको अपने नीचे एक टीम तैयार करनी होती है जो समय समय पर उस कंपनी के प्रोडक्ट को खरीदते रहे। अलग अलग कम्पनियों के अपने अलग अलग प्लान होते हैं, की वो कितने मेम्बर या कितनी बिक्री पर किसको क्या ईनाम और क्या उपाधि देंगे।

लेकिन भारत में नेटवर्क मार्केटिंग में सफल होने का प्रतिशत अन्य देशों के मुकाबले बेहद कम है। वह इसलिए क्योंकि लोग इस काम को अन्य कामों की तरह गंभीरता से लेते नहीं है, और असफल हो जाते हैं। लेकिन ऐसे भी कई उदाहरण हैं जिन्होंने वेस्टिज नेटवर्क मार्केटिंग प्लान एवं अन्य कम्पनियों से न सिर्फ पैसे कमाए हैं, बल्कि अपने सपने भी पूरे किये हैं। इसलिए कमाई की दृष्टी से यह बिजनेस आईडिया भी उपयुक्त है।   

4 एफिलिएट मार्केटिंग (Affiliate Marketing Business)

एफिलिएट मार्केटिंग भी मार्केटिंग से ही जुड़ा हुआ बिजनेस है, इसमें आपको कम से कम किसी एक कंपनी का एफिलिएट प्रोग्राम ज्वाइन करना होता है। ज्वाइन करने के समय कुछ कम्पनियां अनिवार्य रूप से वेबसाइट या यूट्यूब चैनल का लिंक मांगती हैं, तो कुछ फेसबुक प्रोफाइल यूआरएल पर भी आपको एफिलिएट प्रोग्राम ज्वाइन करने की आज़ादी देती हैं। यदि आप मार्केटिंग  में कोई ऐसा बिजनेस ढूंढ रहे हैं जिसे फ्री में भी शुरू किया जा सकता है, तो एफिलिएट मार्केटिंग आपके लिए बेस्ट है।

आप चाहें तो अमेजन जैसे बड़े एफिलिएट नेटवर्क को आप मुफ्त में अपनी फेसबुक प्रोफाइल का यूआरएल देकर ज्वाइन कर सकते हैं। अच्छी बात यह है की इस नेटवर्क को ज्वाइन करने के लिए आपको एक भी रुपया खर्च करने की आवश्यकता नहीं होती है।     

5 फ्लेक्स और बैनर प्रिंटिंग का बिजनेस

आम तौर पर देखा जाय तो बैनर और फ्लेक्स का इस्तेमाल विज्ञापन या मार्केटिंग के लिए ही होता है, इसलिए यह बिजनेस भी मार्केटिंग बिजनेस की लिस्ट में शामिल है। आज भले ही डिजिटल मार्केटिंग का दौर हो, लेकिन इस दौर में भी लोग ऑफलाइन विज्ञापन करना नहीं भूलते हैं। और ऑफलाइन मार्केटिंग में प्रिंटिंग मटेरियल के योगदान को कोई कैसे भूल सकता है।

वर्तमान में प्रिंटिंग टेक्नोलॉजी में भी काफी सुधार हुआ है, इसलिए इस तरह की मशीनों को ऑपरेट करना मात्र कुछ घंटों का प्रशिक्षण लेकर आसानी से सीखा जा सकता है। ऐसे लोग जिन्होंने मार्केटिंग से जुड़ा हुआ ही व्यवसाय करना है वे बैनर और फ्लेक्स प्रिंटिंग बिजनेस को शुरू करने पर विचार कर सकते हैं।      

6 होर्डिंग का बिजनेस (Offline Hoarding )

ऑफलाइन होर्डिंग इसलिए कहना पड़ रहा है की क्योंकि वर्तमान में एक डिजिटल होर्डिंग भी होती है, जिसके बारे में हम बाद में बात करेंगे। आप सड़क या हाईवे से गुजर रहे होते हैं तो आपको सड़क किनारे खड़ी होर्डिंग पर किसी कंपनी का विज्ञापन दिखाई देता है । जी हाँ हम उसी होर्डिंग की बात कर रहे हैं, जो आपको सड़क किनारे, बड़ी बिल्डिंग के छत पर, हाईवे के किनारे लोहे के एक जाल के रूप में दिखाई देता है, और उस पर किसी कंपनी का एक बड़ा सा पोस्टर लगा हुआ होता है।

हालांकि इस तरह के व्यवसाय  को धरातल के पटल पर उतारना हर किसी के बस की बात नहीं है। क्योंकि इसके लिए आपको भारी मात्रा में पैसों की आवश्यकता तो होती ही होती है, उसके साथ राजनितिक पकड़ होनी भी आवश्यक है। क्योंकि किसी भी शहर में सड़क के किनारे होर्डिंग इत्यादि लगाने की परमिशन वहां की स्थानीय अथॉरिटी प्रदान करती है ।    

7 वाहन विज्ञापन कंपनी (Vehicle Advertising Company)

किसी विशेष स्थानीय क्षेत्र में छोटे छोटे उद्यम या दुकानदार अपने बिजनेस और प्रोडक्ट के बारे में लोगों को सूचित करने के लिए प्रचार गाड़ी का इस्तेमाल करते हैं। इन प्रचार की गाड़ियों में एक लाउडस्पीकर और पैन ड्राइव से चलने वाला एम्लीफायर होता है, जिसमें रिकॉर्ड हुई आवाज को प्रचार गाड़ी गली गली में घूमकर सुनाती है। इसलिए इस तरह का यह व्यवसाय भी इसकी लिस्ट में शामिल है।

इसके अलावा उद्यमी चाहे तो ऑटो, कार, बस इत्यादि पर अपने ग्राहकों के विज्ञापन चिपकाने का काम भी कर सकता है। इसमें उद्यमी को खुद के वाहन की नहीं, बल्कि वाहन मालिकों और कम्पनियों के बीच मध्यस्थता के तौर पर काम करके पैसे कमाने होते हैं।   

8 पोस्टर बैनर पम्पलेट इत्यादि चिपकाने का काम

आप सुबह ड्यूटी को निकले तो आपने उस चौराहे पर किसी प्रकार के कोई पोस्टर, बैनर इत्यादि लगे हुए नहीं देखे। लेकिन जैसे ही आप शाम को ड्यूटी से लौटते हैं तो आप उस चौराहे पर बहुत सारे पोस्टर, बैनर इत्यादि लगे हुए देखते हैं। जिनमें कुछ न कुछ प्रचार किया जा रहा हो। ऐसे में आप सोचते होंगे की जिन कंपनियों के ये विज्ञापन लगे हैं, उन्होंने ही इन्हें चिपकाया या लगाया होगा।

जबकि सच्चाई इसके उलट होती है इन्हें वे लोग चिपकाते हैं जिन्हें कंपनी ने इन्हें चिपकाने की जिम्मेदारी दी होती है या ठेका दिया हुआ होता है । बदले में कम्पनी उन्हें उनके काम का भुगतान करती है। इसलिए यदि आप भी चाहें तो इस बिजनेस को अपनाकर पैसे कमा सकते हैं।      

9 सोशल मीडिया एक्सपर्ट (Social Media expert)

वर्तमान में भारत में भी एक बड़ी आबादी सोशल मीडिया से जुड़ी हुई है और दुनियाभर में तो अरबों लोग विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफोर्म से जुड़े हुए हैं। इसलिए कंपनियाँ अपने प्रोडक्ट/सर्विस के फीडबैक से लेकर लोगों को उनके बारे में और अधिक जानकारी प्रदान करने के लिए सोशल मीडिया पर सक्रीय रहती हैं । इस काम को करने के लिए कंपनियों को सोशल मीडिया एक्सपर्ट की आवश्यकता होती है। यदि आपको सोशल मीडिया का अच्छा ज्ञान है तो आप इस व्यवसाय को भी शुरू कर सकते हैं ।

आप केवल किसी एक कंपनी का सोशल मीडिया अकाउंट हैंडल न करके कई कंपनियों के सोशल मीडिया अकाउंट हैंडल करने की जिम्मेदारी ले सकते हैं। इसके लिए संभव हो तो अपनी टीम भी बना सकते हैं।

10 सर्वे एजेंसी (Survey Agency Marketing Business)

कम्पनियाँ या उद्यम अपनी सेवाओं/उत्पादों के फीडबैक और लोगों की आवश्यकताओं को जानने के लिए सर्वे कराती रहती हैं, ताकि वे अपने उत्पादों या सेवाओं में ग्राहक की पसंद के मुताबिक बदलाव करके उनकी अधिक से अधिक बिक्री कराने में सक्षम हों। चूँकि सर्वे कराने का उद्देश्य भी उत्पादों या सेवाओं की बिक्री को प्रोत्साहन देना होता है, इसलिए इस तरह का यह व्यवसाय भी मार्केटिंग बिजनेस की लिस्ट में शामिल है।

सर्वे का काम कम्पनियाँ अक्सर सर्वे एजेंसीयों को देती हैं, और इसके बदले उन्हें भारी भुगतान भी करती हैं। आप चाहें तो मार्केटिंग से जुड़े इस व्यवसाय को शुरू करके भी अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं ।    

11 ग्राफ़िक डिजाइनिंग (Graphic Designing)

कम्पनियों को ऑनलाइन मार्केटिंग करने के लिए अनेकों डिजिटल ग्राफ़िक्स की आवश्यकताएं होती हैं। सोशल मीडिया पोस्ट इमेज, ऑनलाइन पोस्टर, बैनर, ब्लॉग पोस्ट के लिए इमेज और डिजिटल होर्डिंग की भी आवश्यकता होती है।

यदि आपको फोटोशॉप, कोरेल ड्रा, इलस्ट्रेटर इत्यादि सॉफ्टवेयर की अच्छी जानकारी है तो आपके लिए विपणन से जुड़ा यह व्यापारिक विचार (Marketing Business Idea) को अपनाना बेहद फायदेमंद हो सकता है। काम ढूँढने के लिए आप विभिन्न फ्रीलांसिंग वेबसाइट पर अपने आपको रजिस्टर करा सकते हैं ।  

यह भी पढ़ें