Waste hair Business के बारे में यदि आप अभी तक नहीं जानते हैं तो आपको बता देना चाहेंगे की जिन बालों को कटवाने आप हर महीने नाई के पास जाते हैं। नाई चाहें तो उन्हीं Human Waste hair को बेचकर कमाई भी कर सकते हैं। मानवीय बालों से अनेकों उत्पाद बनाये जाते हैं, लेकिन 2019 में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा लिया गया निर्णय बेहद सुर्ख़ियों में रहा था। उस निर्णय में कहा गया था की उत्तर प्रदेश सरकार नाईयों से Human Waste hair को 40 रूपये प्रति किलों के हिसाब से खरीदेगी ।

पहली बात तो यह की इससे नाइयों को कुछ अतिरिक्त आमदनी होती, दूसरा यह की सरकार इन बालों का इस्तेमाल गाय के मूत्र और गाय के गोबर के साथ एमिनो एसिड बनाने के लिए किये जाने का प्रावधान हुआ था । इस तरह की यूनिट सबसे पहले उन क्षेत्रों में लगाने का प्रावधान था, जहाँ Human Waste Hair का उत्पादन अधिक होता हो। यानिकी जिन क्षेत्रों में लोग बाल अधिक कटवाते हों।

Waste hair business plan in hindi

कहने का आशय यह है की दुनिया में कटे हुए मानव बालों को कचरा माना जाता है, और जब इन्हें नाई या अन्य किसी द्वारा सड़कों इत्यादि में फेंका जाता है, तो यह कई पर्यावरणीय समस्याएँ पैदा करता है। जबकि Human Waste hair का कई तरह से इस्तेमाल संभव है। इसलिए इस तरह की सामग्री की बर्बादी को रोकने और पर्यावरणीय समस्याओं को दूर करने के उद्देश्य से केंद्र एवं राज्य सरकार इस सम्बन्ध में योजनाएँ लागू करती रहती हैं।

क्योंकि इन बालों का इस्तेमाल कृषि क्षेत्र, चिकित्सा अनुप्रयोगों, निर्माण सामग्री बनाने के अलावा प्रदूषण नियंत्रण में भी किया जाता है, इसलिए यह एक बहुमुखी उत्पाद है। यही कारण है की हमारे देश भारत से भी प्रति वर्ष लाखों डॉलर कीमत वाले Human Waste hair का निर्यात विदेशों की ओर किया जाता है । इसलिए यदि आप भी अपना खुद का बिजनेस शुरू करने का विचार कर रहे हैं, और बिजनेस भी ऐसा की जिससे न सिर्फ आपकी कमाई हो, बल्कि आप पर्यावरण की समस्याओं को भी दूर कर रहे हों।

Waste Hair Business क्या है?

कटे हुए मानव बालों को दुनिया के अधिकांश भागों में एक कचरा सामग्री माना जाता है। जबकि सच्चाई यह है की Human Waste hair से कई तरह के उत्पादों का निर्माण संभव है। जिन्हें बाद में कृषि क्षेत्र, चिकित्सा क्षेत्र, निर्माण क्षेत्र इत्यादि में काम में लाया जा सकता है। इसी आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए जब कोई व्यक्ति नाईयों इत्यादि से मानव बालों को खरीदकर या फिर मुफ्त में एकत्रित करके इन्हें घरेलु बाजार या विदेशी बाजार में बेचता है। तो उसके द्वारा किया जाने वाला यही काम Waste hair Business कहलाता है।

Waste Hair Business करने के लाभ

जैसा की हम पहले भी बता चुके हैं की Human Waste hair को दुनिया के अधिकांश भागों में कचरा माना जाता है। इसलिए नाई जिनके पास मानव बालों का ढेर होता है, वे इन्हें सड़कों इत्यादि में फेंक देते हैं। जो एक नहीं बल्कि अनेकों समस्याओं का कारण बनते हैं।

  • बालों की प्रकृति मिटटी इत्यादि में जल्दी विघटित होने की नहीं होती है, बल्कि इनका विघटन धीरे धीरे होता है। लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों या कम घनत्व वाले क्षेत्रों में यह तब भी ठीक है क्योंकि धीरे धीरे ही सही, लेकिन Human Waste hair विघटित हो जाता है। लेकिन शहरी क्षेत्रों में यह मृदा प्रदूषण इत्यादि को भी बढ़ावा दे सकता है। इसलिए यदि आप इस तरह का व्यवसाय कर रहे हैं, तो आप पर्यावरण को प्रदूषित होने से बचा रहे हैं।
  • इसके अलावा जब बालों को किसी नाले, सीवर लाइन इत्यादि के करीब फेंका जाता है , तो बारीश का पानी या अन्य कई वजहों से ये बाल सीवर लाइन या पाइपलाइन में चले जाते हैं । जिससे जल या अपशिष्ट निकासी अवरुद्ध हो जाती है। और उस एरिया में बड़ी समस्या पैदा हो जाती है, यदि आप Human Waste hair Business कर रहे हैं, तो इसका मतलब है की आप समाज को इन समस्याओं से बचा भी रहे हैं।
  • यह भी पाया गया है मानव के बेकार बालों को जलाने से कई तरह की दुर्गन्ध और जहरीली गैसें जैसे अमोनिया, कार्बोनिल सल्फाइड, हाइड्रोजन सल्फाइड, सल्फर डाइऑक्साइड, फिनोल, नाइट्राइल, पायरोल और पाइरीडीन पैदा होती हैं। जो मनुष्य में कई तरह के रोग पैदा होने के कारण बन सकते हैं। इस तरह का व्यवसाय करके आप अप्रत्यक्ष तौर पर मानव जाति के स्वास्थ्य की भी रक्षा कर रहे होते हैं।
  • एक उद्यमी के रूप में Human Waste hair business शुरू करने का जो सबसे बड़ा फायदा आपको होने वाला है, वह यह है की चूँकि बालों को कचरे के तौर पर फेंक भी दिया जाता है। इसलिए आप चाहें तो नाईयों के पास जाकर उनसे कह सकते हैं की यह बालों का कचरा आप वहाँ से उठाएंगे। इससे आपको वे बाल फ्री में मिल जाएँगे, जिन्हें आप सरकार या अन्य कम्पनियों को बेच सकते हैं।       
  • मानव बालों के बहुमुखी उपयोग हैं, जहाँ भारत और चीन में इनका इस्तेमाल उर्वरक बनाने में किया जाता है, तो वहीँ अमेरिका, जापान जैसे विकसित देशों में इनका इस्तेमाल रस्सियाँ बनाने के लिए भी किया जाता है। इसलिए Human Waste hair business करने वाला उद्यमी चाहे तो इन्हें बाहरी देशों की ओर निर्यात भी कर सकता है।

बेकार कटे बालों के उपयोग  

आप भी नाई के पास जब बाल कटाने जाते होंगे, तो आपने देखा होगा की आपके सिर से जो भी बाल नीचे गिर गया, वह आपके लिए केवल एक कचरा सामग्री होकर रह गई। देश में उपलब्ध अधिकांश नाई भी यही समझते हैं, क्योंकि शायद उन्हें Human Waste hair के उपयोगों के बारे में ज्ञात नहीं होता है। हालांकि हम यह बिलकुल नहीं कहते की सभी प्रकार के बालों का उपयोग किया जाता है।

बल्कि मजबूत स्वस्थ और लम्बे बालों का इस्तेमाल कई तरह के उत्पाद बनाने के लिए किया जाता है। बालों से बनाये जाने वाले उत्पाद इनके रंग, लम्बाई, इनके प्रकार जिसे सीधे और घुंघराले इत्यादि के आधार पर अलग अलग हो सकते हैं ।

लेकिन Human Waste hair से कई तरह के फैशन, थिएटर और कॉस्मेटिक प्रोडक्ट जैसे विग, नकली मूंछे, नकली बाल, भौहें, दाढ़ी इत्यादि बनाये जाते हैं। इसके अलावा भारत, चीन और अमेरिका में उर्वरक भी बनाया जाता है। और विभिन्न प्रकार की रस्सियाँ स्टफिंग टॉयज, फर्नीचर, गद्दे, कॉस्मेटिक ब्रश इत्यादि भी मानव बालों से बनाये जाते हैं।

Human Waste hair की निर्यात संभावनाएँ

यह सत्य है की केवल भारत में ही नहीं अपितु दुनियाभर में Human Waste Hair का कारोबार होता है, और यदि हम भारत से निर्यात किये गए मानव बालों के पिछले आंकड़ों पर नजर डालें। तो हम पाएंगे की दुनिया के ऐसे 11 से अधिक देश हैं जो भारत से सक्रीय रूप से मानव बालों का आयात करते हैं। जिसका मूल्य 2.7 मिलियन अमरीकी डालर से अधिक है। हालांकि 5 शीर्ष देशों में म्यांमार, बांग्लादेश, चीन, जर्मनी और हांगकांग शामिल हैं।

पिछले दस सालों के Human Waste hair निर्यात के आंकड़ों पर नजर डालें तो वर्ष 2011 में जहाँ यह 0.11 मिलियन अमेरिकी डॉलर था, वहीँ वर्ष 2016 में यह निर्यात 13.61 मिलियन अमेरिकी डॉलर पर पहुँच चूका था। जो वर्ष 2021 में कोरोना महामारी के बावजूद भी 2.7 मिलियन अमेरिकी डॉलर पर बना हुआ था। शीर्ष बन्दरगाह जहाँ से मानव बालों को निर्यात किया गया था, उनमें हैदराबाद एयर कार्गो, चेन्नई एयर कार्गो, कोलकाता एयर कार्गो और बैंगलौर एयर कार्गो शामिल हैं।

उपर्युक्त आंकड़ों से स्पष्ट है की Human Waste Hair एक ऐसा उत्पाद है जिसकी माँग घरेलु बाज़ारों में तो है ही, लेकिन इसके निर्यात करने के लिए भी पर्याप्त अवसर विद्यमान हैं । इसलिए कोई भी इच्छुक उद्यमी इस अनोखे बिजनेस को शुरू करके अपनी कमाई कर सकता है।

Human Waste Hair Business कैसे शुरू करें

भले ही मानव बालों से कई क्षेत्रों में तरह तरह उत्पाद बनाये जाते हों, लेकिन सच्चाई यह है की आपको इस तरह के उत्पाद को बेचने में काफी मशक्कत करनी पड़ सकती है। इसलिए कभी भी इन्टरनेट पर कुछ आर्टिकल पढ़कर या विडियो देखकर Human Waste hair Business शुरू करने का निर्णय नहीं लेना चाहिए। बल्कि यदि वास्तव में आप इस तरह का व्यवसाय शुरू करने के प्रति गंभीर हैं, तो आपको इस बिजनेस से जुड़ी जमीन और व्यवहारिक जानकारी जानने के लिए प्रयत्न करना चाहिए।

ध्यान रहे जमीनी और व्यवहारिक जानकारी इन्टरनेट पर नहीं बल्कि धरातल के पटल पर उतरकर ही मिलेगी। अपने एरिया में स्थित नाई की दुकानों में संपर्क करके यह बात जानने का प्रयास करें की, वे Human waste hair का करते क्या हैं? क्या वे उन बालों को ऐसे ही फेंक देते हैं, या फिर बेचते हैं? या फिर कोई तीसरा व्यक्ति फ्री में ही संग्रहित करके इन बालों को ले जाता है इत्यादि ।

व्यवसाय के बारे में जानकारी जुटाएँ

जैसा की हम उपर्युक्त वाक्य में भी बता चुके हैं की Human waste hair को संग्रहित और बेचने करने में आपके पसीने छूट सकते हैं। और इसके अलावा सामाजिक ताने भी आपका पीछा कर सकते हैं, वह इसलिए क्योंकि लोग इन बालों को कचरा सामग्री के अलावा कुछ नहीं मानते।

इसलिए सबसे पहले आपको इस व्यवसाय के बारे में अधिक से अधिक जानकारी प्राप्त करने की कोशिश करने चाहिए। सबसे पहले यह की आपके क्षेत्र में इस तरह के व्यवसाय में पहले से कोई शामिल है क्या? यदि हाँ तो कुछ महीने आप उसके साथ भी काम कर सकते हैं । ताकि आप जान सकें की Human Waste hair business में चींजें कैसे काम करती हैं।    

कम्पनियों या निर्यातकों के बारे में पता करें

हम उपर्युक्त वाक्यों में पहले ही बता चुके हैं की Human Waste hair से थिएटर, नाटक, कॉस्मेटिक इत्यादि में काम आने वाली कई तरह के उत्पाद बनाये जाते हैं। इसलिए अब आपको उन कंपनियों के बारे में पता करना चाहिए जो मानव बालों से प्रोडक्ट बनाने की प्रक्रिया में शामिल हैं।

इसके अलावा राज्य सरकार और केंद्र सरकार द्वारा लागू की गई योजनाओं के बारे में भी जानने का प्रयत्न करें? क्या कोई ऐसी स्कीम है? जैसे उत्तर प्रदेश में मानव बालों को गौमूत्र और गाय के गोबर के साथ मिलाकर एमिनो एसिड बनाने की यूनिट लगाये जाने की योजना है ।

उद्यमी सरकार की ऐसी ही योजनाओं के बारे में पता करके उन सरकारी यूनिट को भी Human waste hair बेचकर कमाई कर सकता है। बेकार बालों का विदेशों की ओर निर्यात भी किया जाता है, इसलिए आप चाहें तो उन निर्यातकों के बारे में पता कर सकते हैं, जो मानव बालों का निर्यात विदेशी बाज़ारों की ओर करते हैं, ताकिआप उन्हें मानव बाल बेच पाएँ। ध्यान रहे इस तरह का यह व्यवसाय शुरू करने से पहले आपको यह पता होना चाहिए की आप अपने उत्पाद को कहाँ और कैसे बेचेंगे?  

बाल इकट्ठे करने के लिए नाई इत्यादि से टाई अप करें  

जब आप इस बात को सुनिश्चित कर लें की आपको Human Waste hair बेचने में किसी तरह की परेशानी नहीं होगी। यानिकी जब आपको मानव बालों को खरीदने वाले खरीदार मिल जाएँ, और उनसे आपका टाई अप हो जाए, तो उसके बाद आप अपने एरिया में स्थित नाई की दुकानों एवं अन्य स्थल जहाँ पर मनुष्य अपने बाल काटने के लिए जाते हैं से भी टाई अप कर सकते हैं।

आम तौर पर देखा जाय तो इस तरह के उत्पाद की कीमत किसी नाई या अन्य व्यक्ति के लिए कचरे से ज्यादा कुछ नहीं होती। जिसे वे अपने दुकान, आँगन इत्यादि से जल्दी जल्दी बाहर करना चाहते हैं ।

Human Waste hair Business शुरू करने वाला उद्यमी चाहे तो उन्हें उनके दुकान से मुफ्त में कचरे उठाने का प्रलोभन देकर बालों को मुफ्त में भी अपने पास मंगा सकता है। नहीं तो सस्ते दामों में खरीदकर उन्हें थोड़े उच्च दामों में बेचकर लाभ भी कमा सकता है। जैसे उत्तर प्रदेश सरकार ने इन बालों को 40 रूपये प्रति किलो खरीदने का प्रावधान किया है, तो उद्यमी नाई की दुकानों से इसे 20-25 रूपये किलो खरीदकर 40 रूपये किलो बेच सकता है। या ऐसे निर्यातक जो इससे भी ज्यादा दाम देने के लिए तैयार हों, उन्हें भी बेच सकता है ।

यदि उद्यमी के पास बजट की कोई कमी नहीं है तो वह Human Waste hair से उत्पाद बनाकर, खुद की कंपनी और ब्रांड स्थापित करके इन उत्पादों को और महंगे दामों में बेच सकता है। वर्तमान में गंजे लोगों की कोई कमी नहीं है जो विग पहनना चाहते हैं। ऐसी महिलाओं की कोई कमी नहीं है, जो छोटे बाल होने की वजह से नकली बाल पहनना पसंद करती हैं। इसके अलावा नाटक, थियटर, फिल्मे बनाने वाले कलाकार नकली दाढ़ी, मूंछों, भौहों का इस्तेमाल करते रहते हैं।

यह भी पढ़ें