NSIC FAQ On Skill Development and Common Facilities Services In Hindi.

NSIC FAQ On Skill Development and Common Facilities Services In Hindi.

NSIC यानिकी National Small Industries Corporation Limited की स्थापना एक सरकारी एजेंसी के रूप में सूक्ष्म, लघु, मध्यम उद्योगों को प्रोत्साहित करने हेतु 1955 में हुई थी | वर्तमान में राष्ट्रीय लघु उद्योग निगम लिमिटेड सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों में शुमार सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्रालय के अंतर्गत आता है, यह उपक्रम ISO 9001-2008 से प्रमाणित है | NSIC पूरे देश भर में सूक्ष्म, लघु, मध्यम उद्योगों से जुड़े उद्यमियों को Common Facilities Services के अंतर्गत तकनिकी मदद और Skill Development program के अंतर्गत Skill Development Training भी मुहैया कराता है | इसके अलावा National Small Industries Corporation Limited अपने बेरोजगार से स्वरोजगार कार्यक्रम के अंतर्गत ऐसे व्यक्तियों जो उद्यमी बनने की इच्छा रखते हैं को भी NSIC Incubation Centers के माध्यम से स्वरोजगार अर्थात Self Employment की ट्रेनिंग भी देता है | आज हम NSIC FAQ On Skill Development and Common Facilities Services In Hindi नामक इस पोस्ट के माध्यम से NSIC से सम्बंधित कुछ सवाल जवाबो (FAQ) पर वार्तालाप करेंगे और जानने की कोशिश करेंगे की इस उपक्रम द्वारा स्थापित सूक्ष्म, लघु, मध्यम उद्योगों को एवं उद्यमी बनने की चाह रखने वाले व्यक्तियों को किस प्रकार की मदद दी जाती है |

NSIC-Faq-and-Information-in-Hindi

NSIC FAQ on Skill Development in Hindi:

सबसे पहले हम NSIC के इस सवाल जवाब (FAQ) नामक क्रम में बात करेंगे Skill Development यानिकी कौशल विकास की कौशल विकास सम्बन्धी सवाल जवाबों की लिस्ट कुछ इस प्रकार से है |

प्रश्न: NSIC के Technical Service Centers में कौन कौन से किस प्रकार के अलग अलग कौशल विकास कार्यक्रम उपलब्ध हैं ?

उत्तर: NSIC के Technical Service center (NTCs) द्वारा विभिन्न प्रकार के पारम्परिक क्षेत्रों जैसे टर्नर, फिटर, इलेक्ट्रीशियन में से कौशल विकास हेतु प्रशिक्षण दिया जाता है | हाई टेक क्षेत्रों जैसे Embedded System,PLC,SCADA, Robotics इत्यादि में भी प्रशिक्षण दिया जाता है | इसके अलावा NSIC के Technical Service Centers स्थानीय युवाओं और औद्योगिक क्षेत्रों को ध्यान में रखते हुए भी अनेकों कौशल विकास समबन्धि कार्यक्रम आयोजित करते हैं |

प्रश्न: NSIC के Technical Service centers कहाँ कहाँ उपलब्ध हैं ? |

उत्तर: NTSCs उत्तर प्रदेश राज्य के अलीगढ, तमिलनाडु के चेन्नई, पश्चिम बंगाल के होवाढ़, तेलंगाना के हैदराबाद, दिल्ली के ओखला, गुजरात के राजकोट, पंजाब राज्य के राजपूरा में स्थित हैं |

प्रश्न: क्या NSIC द्वारा प्रशिक्षनार्थियों को कोई Placement Facility दी जाती है ? |

उत्तर: NSIC का दावा है की उनके द्वारा दी जाने वाली Training Industry Oriented होती है, इसलिए प्रशिक्षण पूर्ण कर चुके विद्यार्थी Faculty Staffs और Counselor की मदद से  Industry में अपनी जगह खुद बना सकते हैं | इसके अलावा Job Fairs और Campus Interviews के माध्यम से भी Placement में मदद की जाती है |

प्रश्न: क्या प्रशिक्षण (Training) लेने वाले विद्यार्थियों को NSIC द्वारा कोई आवासीय सुविधा उपलब्ध करायी जाती है ? |

उत्तर : नहीं, NSIC द्वारा प्रशिक्षण लेने वाले विद्यार्थियों के लिए किसी प्रकार का रहन सहन का प्रबंध नहीं किया जाता | प्रशिक्षनार्थियों को अपना खुद का प्रबंध स्वयं करना पड़ता है |

प्रश्न: क्या NSIC में उपलब्ध Training Courses Industry से सम्बंधित कोर्स होते हैं ? |

उत्तर: जी हाँ, NSIC में उपलब्ध Courses की रूपरेखा Market Survey, शिक्षण संस्थानों एवं औद्योगिक संस्थानों से संपर्क करने के बाद तैयार की जाती हैं |

प्रश्न: NSIC द्वारा offer किये जाने वाले कोर्स क्या अन्य किसी एजेंसी से सम्बद्ध होते हैं ?|

उत्तर: जी हाँ NSIC के Technical Service centers द्वारा ऑफर किये जाने वाले कुछ कोर्स अन्य एजेंसी जैसे National Council of Vocational Training (NCVT) और Department of Electronics and Accreditation of Computer Courses (DOEACC) से सम्बद्ध होते हैं | यद्यपि अन्य कोर्स विद्यार्थियों एवं इंडस्ट्री की मांग के आधार पर ऑफर किये जाते हैं  |

प्रश्न: ऑफर किये गए कोर्स के लिए Admission Criteria क्या है  ?|

उत्तर: जो कोर्सेज Affiliated agency जैसे NCVT और DOEACC से सम्बद्ध होते हैं उनके लिए सम्बंधित एजेंसी द्वारा दिए गए दिशानिर्देशों के आधार पर एडमिशन होता है | जबकि अन्य कोर्सों के लिए विद्यार्थी की काउंसलिंग के बाद पहले आओ पहले एडमिशन लो (First Come First Serve Basis) के आधार पर एडमिशन होते हैं |

प्रश्न: क्या ऐसे व्यक्तियों जो खुद का कोई काम अर्थात स्वरोजगारित (Self Employment) होना चाहते हैं उनके लिए भी Courses उपलब्ध हैं ?|

उत्तर: जी हाँ बिलकुल दिल्ली के ओखला, पश्चिम बंगाल के होवाढ़, गुवाहटी, मंडी, जुबाल और कोलर में स्थित NSIC के Incubation Centers में इस प्रकार की Training Facility विद्यमान है |

प्रश्न: NSIC के Centers में Courses कब शुरू होते हैं ? |

उत्तर: NSIC के Technical Service centers प्रति वर्ष समय समय पर कोर्स शुरू करते हैं | Schedule सम्बन्धी जानकारी के लिए सेंटर से संपर्क किया जा सकता है |

प्रश्न: Offered Courses में Training लेने हेतु कितना शुल्क देना पड़ेगा  ?|

उत्तर: Offered courses में ट्रेंनिंग लेने हेतु इच्छुक विद्यार्थी को वित्त का प्रबंध स्वयं करना पड़ेगा, और प्रशिक्षण शुल्क, कोर्स कोर्स और सेंटर सेंटर के आधार पर अंतरित हो सकता है | अपने चुने हुए कोर्स पर शुल्क की जानकारी के लिए इच्छुक व्यक्ति अपने नजदीकी NSIC के Technical Service centers से संपर्क कर सकता है |

Common Facility Services related FAQ:

इस सवाल जवाब (FAQ) नामक क्रम में हम बात करेंगे  NSIC के Technical Service centers द्वारा दी जाने वाली Common Facility Services के बारे में |

प्रश्न: क्या NSIC भारतीय उद्योगों को Common Facility Services देती है ?|

उत्तर: जी हाँ NSIC अपने 7 Technical Centers द्वारा विभिन्न प्रकार की Common Facility services भारतीय उद्योगों को उचित दाम पर उपलब्ध कराती है |

प्रश्न: NSIC के अलग अलग केन्द्रों में किस तरह की Common Facility भारतीय उद्योगों को ऑफर की जाती हैं ? |

उत्तर: NSIC के पास विभिन्न प्रकार के उत्पाद और कच्चे माल की Testing के लिए अपनी लैब उपलब्ध है जो National Accreditation Board for Testing and Calibration Laboratories (NABL) और Bureau of Indian Standard (BIS) से मान्यता प्राप्त है | इसलिए NSIC उद्यमियों को उचित दाम पर Raw Materials और विभिन्न प्रकार के उत्पादों की Testing की Facility देता है | इसके अलावा चेन्नई में स्थित केंद्र में पंप और Induction Motor testing की Facility भी विद्यमान है जो Bureau of Energy Efficiency से Star Programming के अंतर्गत मान्यता प्राप्त है |

प्रश्न: इस प्रकार की सर्विस लेने की क्या प्रक्रिया है ?|

उत्तर: NSIC द्वारा किसी सर्विस के बारे में पूछताछ रिसीव कर लेने के बाद NSIC द्वारा ग्राहक द्वारा दी गई डिटेल का आकलन कर लिया जाता है उसके बाद Testing के लिए समय और शुल्क ग्राहक को बताये जाते हैं |

प्रश्न: NSIC की सर्विस के लिए भुगतान किस किस तरह से किया जा सकता है ? |

उत्तर: NSIC की कोई भी सर्विस लेने के लिए ग्राहक को एडवांस भुगतान करना होगा, यह भुगतान समबन्धित सेंटर के नाम से डिमांड ड्राफ्ट बनाकर या फिर Electronic Mode से भी किया जा सकता है |

प्रश्न: सैंपल की Testing को कैसे Perform किया जायेगा ? |

उत्तर: सैंपल की Testing राष्ट्रीय/अन्तराष्ट्रीय बाजारों में उपलब्ध Testing Practices को केंद्र बिंदु मानकर संपन्न की जाती है | और हर testing की रिपोर्ट भी तैयार की जाती है |

यह भी पढ़ें:

NSIC की फाइनेंस फैसिलिटेशन सेंटर स्कीम |

NSIC की सिंगल पॉइंट रजिस्ट्रेशन स्कीम |

NSIC की लघु उद्योगों के लिए Marketing Assistance Scheme |

उपर्युक्त NSIC FAQ पढने के बाद यदि किसी आदरणीय पाठकगण को लगता है की उनको NSIC Training या Common Facilities Services से सम्बंधित उनके मष्तिष्क में उठ रहे सवाल का जवाब नहीं मिला तो वे कमेंट फार्म के माध्यम से प्रश्न कर सकते हैं | हालांकि सभी कमेंट का जवाब देना हमारे लिए संभव नहीं हो पाता, लेकिन हम कोशिश यही करते हैं, की अगली पोस्ट पाठकों द्वारा पूछे गए प्रश्नों का निराकरण करने हेतु लिखें |

जानकारी स्रोत: NSIC की Official Website

Comments

  1. By Pradeep kumar gautam

    Reply

  2. By sandeep singh

    Reply

  3. By sandeep singh

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*