Amazon Flex क्या है? इससे पैसे कैसे कमायें? पूरी जानकारी।

कमाई टिप्स की इस श्रेणी में आज हम बात करने वाले हैं दुनिया की नंबर वन ई कॉमर्स कंपनी के कार्यक्रम Amazon Flex की। जी हाँ दोस्तों जैसा की हम सबको ज्ञात है की अमेज़न एक ऐसा ऑनलाइन प्लेटफॉर्म है जिसके माध्यम से लोग ऑनलाइन शौपिंग कर सकते हैं। और कुछ दिनों में ग्राहक द्वारा ख़रीदा गया सामान कंपनी द्वारा उनके दिए गए पते पर पहुंचा दिया जाता है। इन्हीं सब कामों को निबटाने अर्थात पैकेट इत्यादि की डिलीवरी के लिए कंपनी को ऐसे लोगों की आवश्यकता होती है जिनके पास खुद का दुपहिया या फिर चौपहिया वाहन उपलब्ध हो। एक अधिकारिक जानकारी के मुताबिक Amazon Flex कार्यक्रम के तहत यह ई कॉमर्स कंपनी किसी व्यक्तिगत व्यक्ति को भी पैकेट या सामान डिलीवरी करने की इजाजत देती है और बदले में उसे घंटे के आधार पर भुगतान किया जा सकता है। इसलिए ऐसे व्यक्ति जो पहले से किसी नौकरी या जॉब में संलिप्त हैं वे चाहें तो पार्ट टाइम जॉब के तौर पर भी इस तरह का यह काम कर सकते हैं। चूंकि इसमें काम सामान की डिलीवरी का होता है इसलिए इस तरह का काम करने वाले व्यक्ति के पास अपना वाहन होना नितांत आवश्यक है। इससे पहले की हम इस विषय पर और विस्तृत जानकारी दें आइये जानते हैं की आखिर यह कार्यक्रम है क्या?

Amazon-flex-kya-hai

Amazon Flex क्या है?

Amazon Flex एक ऐसा कार्यक्रम है जिसके तहत एक व्यक्तिगत ठेकेदार जिसे डिलीवरी पार्टनर कहा जाता है कंपनी की तरफ से अमेज़न के आर्डर वितरित या डिलीवर करता है। और डिलीवरी पार्टनर के इस काम के बदले कंपनी उसे भुगतान करती है। अमेज़न के पास वितरित या डिलीवर करने के लिए सैकड़ों आइटम उपलब्ध हैं जिनमे इलेक्ट्रॉनिक से लेकर घरेलु आवश्यकता वाले सामान से लेकर सब कुछ शामिल है। ध्यान रहे इस कार्यक्रम के अंतर्गत डिलीवरी पार्टनर को अपने खुद का वाहन आइटम डिलीवरी के लिए इस्तेमाल में लाना होता है। और इस कार्यक्रम के तहत डिलीवरी पार्टनर को विभिन्न आकृति एवं भार के पैकेज को अमेज़न ग्राहकों तक डिलीवर कराना पड़ सकता है। यद्यपि Amazon Flex कार्यक्रम के तहत कंपनी काम मिलने की गारंटी नहीं देती है यह उस एरिया विशेस में पैकेज की उपलब्धता पर निर्भर करता है। इसलिए इच्छुक व्यक्ति को शुरूआती तौर पर यह काम केवल पार्ट टाइम जॉब के तौर पर ही करना उचित होगा।

Amazon Flex के तहत डिलीवरी पार्टनर बनने के लिए क्या चाहिए?

Amazon Flex के तहत डिलीवरी पार्टनर बनने के लिए किसी भी व्यक्ति को निम्न जरुरी आवश्यकताओं की पूर्ति करनी जरुरी है ।

  • इच्छुक व्यक्ति की उम्र 18 वर्ष से कम न हो।
  • इच्छुक व्यक्ति के पास एक ऐसा एंड्राइड फ़ोन होना चाहिए जिसमें Android 6.0 या उससे ऊँचा वर्जन विद्यमान हो। और फ़ोन की रैम कम से कम 2 GB हो।
  • फ़ोन में फ़्लैश के साथ कैमरा, जीपीएस लोकेशन सर्विस और एक ऐसी सिम जिसमें वाइस कॉल एवं डाटा कनेक्टिविटी दोनों उपलब्ध हो।
  • एक ऐसा दुपहिया वाहन जो सभी लागू कानूनों एवं सुरक्षा मानकों एवं आवश्यकताओं की पूर्ति करता हो।
  • एक वैध एवं कानूनी रूप से अनुपालित ड्राइविंग लाइसेंस, वाहन का रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट, इंश्योरेंस सर्टिफिकेट और पोल्यूशन सर्टिफिकेट इत्यादि।
  • एक वैध पैन कार्ड।
  • एक बचत बैंक खाता या चालू बैंक खाता Amazon Flex नामक इस कार्यक्रम के तहत डिलीवरी पार्टनर बनने के लिए चाहिए हो सकते हैं। 

Amazon Flex के तहत डिलीवरी पार्टनर बनने के फायदे:

इस कार्यक्रम के तहत डिलीवरी पार्टनर बनने के अनेकों फायदे हैं जिनकी लिस्ट कुछ इस प्रकार से है।

  • अमेज़न इस कार्यक्रम में शामिल सभी डिलीवरी पार्टनर को एक समूह दुर्घटना निति में शामिल करेगा। इसमें एक्सीडेंटल डेथ या डिसेबिलिटी शामिल है। और यह केवल तभी मान्य होगी जब व्यक्ति Amazon Flex का इस्तेमाल करके डिलीवरी देने या फिर डिलीवरी देकर लौट रहा हो। इसमें रूपये पांच लाख का बीमा दुर्घटना मृत्यु होने पर एवं पांच लाख रूपये का बीमा डिसेबिलिटी पर दिए जाने का प्रावधान है।
  • इस तरह के काम को इच्छुक व्यक्ति अधिकारिक वेबसाइट पर Sign Up होकर या अमेज़न फ्लेक्स  एप्प डाउनलोड करके भी आसानी से शुरू कर सकता है। कंपनी को व्यक्ति का बैकग्राउंड चेक करने में 5-10 दिनों का समय लगता है जो की बहुत कम है।
  • इस काम को व्यक्ति अपनी सुविधा के अनुसार दिन के किसी भी समय कर सकता है कहने का आशय यह है की जब व्यक्ति के पास समय हो वह डिलीवरी का शेड्यूल निर्धारित कर सकता है।
  • Amazon Flex app के माध्यम से व्यक्ति कैलेंडर में अपनी उपलब्धता अपडेट कर सकता है। उसके बाद व्यक्ति द्वारा कैलेंडर में तय की गई तारीख के आधार पर व्यक्ति को डिलीवर ब्लाक मिलना शुरू हो जाते हैं। व्यक्ति चाहे तो इन ऑफर को स्वीकार कर सकता है या फिर इंकार कर सकता है।
  • व्यक्ति चाहे तो एक डिलीवरी ब्लाक समाप्त होने से पहले दूसरा डिलीवरी ब्लाक भी स्वीकार कर सकता है।
  • इसके अलावा यदि कभी आने वाले समय में व्यक्ति कुछ दिनों के लिए डिलीवरी नहीं करना चाहता है तो वह अमेज़न फ्लेक्स एप्प में उपलब्ध कैलेंडर के माध्यम से अपनी उपलब्धता को अपडेट कर सकता है।
  • अधिकारिक सूचना के मुताबिक Amazon Flex के तहत काम करके कोई भी व्यक्ति रूपये 120 से 140 प्रति घंटे के आधार पर कमा सकता है।

कमाई कितनी? और कैसे?

जहाँ तक Amazon Flex से कमाई का सवाल है कंपनी इस कार्यक्रम के तहत डिलीवरी पार्टनर को 120 रूपये से 140 रूपये प्रति घंटे देने का दावा कर रही है। लेकिन डिलीवरी ब्लाक की उपलब्धता अर्थात काम की उपलब्धता की किसी प्रकार की कोई गारंटी नहीं ले रही है । इसलिए कमाई की दृष्टि से इस तरह के काम को शुरुआती दौर में पार्ट टाइम जॉब के तौर पर शुरू करना ही बुद्धिमता हो सकती है। दिए गए आंकड़े के मुताबिक यदि एक व्यक्ति दिन में चार घंटे भी इस कार्यक्रम के तहत काम करता है तो वह महीने में 12-15 हजार रूपये साइड इनकम के तौर पर कमा सकता है। व्यक्ति अपने हफ्ते की कमाई को Amazon Flex app में उपलब्ध अर्निंग स्क्रीन पर देख सकता है। और कंपनी द्वारा हर बुद्धवार को व्यक्ति द्वारा Sign Up के दौरान प्रदान किये गए बैंक खाते में कमाई गई धनराशि भेज दी जाती है।

Amazon Flex के तहत डिलीवरी पार्टनर के लिए आवेदन कैसे करें:

यदि आप उपर्युक्त बताई गई सभी आवश्यकताओं की पूर्ति करते हैं और अमेज़न आपके शहर में अपने ग्राहकों को डिलीवरी मुहैया कराता है। तो आप अपनी कमाई करने के लिए Amazon Flex कार्यक्रम से जुड़ सकते हैं और खुद का बॉस बनकर कमाई शुरू कर सकते हैं। इसके लिए व्यक्ति को निम्न स्टेप उठाने की आवश्यकता हो सकती है।

  • सबसे पहले यह चेक कर लें की आपके एंड्राइड फ़ोन में नेट कनेक्टिविटी हो यदि ऐसा है तो आप इस अधिकारिक लिंक पर जा सकते हैं। और इसमें मांगी गई डिटेल भरकर Get the App पर क्लिक कर सकते हैं। कहने का आशय यह है की आपको सबसे पहले Amazon Flex App डाउनलोड करने की आवश्यकता होती है जिसे आप उपर्युक्त दिए गए लिंक से आसानी से डाउनलोड करके अपने फ़ोन में इनस्टॉल कर सकते हैं।
  • फ़ोन में एप्प इनस्टॉल हो जाने के बाद व्यक्ति अपने पहले से मौजूद अमेज़न अकाउंट के माध्यम से या फिर नया अमेज़न अकाउंट बनाकर अमेज़न फ्लेक्स में Sign Up कर सकता है।
  • उसके बाद व्यक्ति से कुछ प्रश्न पूछे जाते हैं जिनका व्यक्ति को बड़ी ईमानदारी के साथ जवाब देना होता है यह प्रश्न व्यक्ति का बैकग्राउंड चेक करने के उद्देश्य से पूछे जाते हैं।
  • उसके बाद व्यक्ति को एक सर्विस एरिया का चुनाव करना होता है जहाँ वह डिलीवरी एवं पिक अप कर पायेगा।
  • व्यक्ति चाहे तो डिलीवरी कैसे की जाती है के लिए अमेज़न द्वारा बनाये गए विडियो देख सकता है ।
  • उसके बाद व्यक्ति को Amazon Flex में काम करने हेतु टैक्स एवं पेमेंट डिटेल्स प्रदान करनी होती है।

उसके बाद कंपनी द्वारा व्यक्ति का बैकग्राउंड वेरिफिकेशन के लिए थर्ड पार्टी बैकग्राउंड वेरिफिकेशन एजेंसी से किसी को भेजा जाता है। जो व्यक्ति के द्वारा दिए गए पते, ड्राइविंग लाइसेंस और व्यक्ति पर आपराधिक मामलों का वेरिफिकेशन करते हैं। इस पूरी प्रक्रिया में 5-10 दिनों तक का समय लग सकता है। सब कुछ ठीक होने पर व्यक्ति Amazon Flex के तहत डिलीवरी का कार्य कर सकता है। ध्यान  रहे यह काम करने के लिए व्यक्ति के पास पैन कार्ड अनिवार्य रूप से होना चाहिये। और अभी यह कंपनी प्रमुख तौर पर दिल्ली, बंगलौर, मुंबई, हैदराबाद और जयपुर में दुपहिया वाहन चालक ढूँढ रही है।

अन्य भी पढ़ें:

About Author:

मित्रवर, मेरा नाम महेंद्र रावत है | मेरा मानना है की ग्रामीण क्षेत्रो में निवासित जनता में अभी भी जानकारी का अभाव है | इसलिए मेरे इस ब्लॉग का उद्देश्य बिज़नेस, लघु उद्योग, छोटे मोटे कांम धंधे, सरकारी योजनाओं, बैंकिंग, कैरियर और अन्य कमाई के स्रोतों के बारे में, लोगो को अवगत कराने से है | ताकि कोई भी युवा अपने घर से रोजगार के लिए बाहर कदम रखने से पहले, एक बार अपने गृह क्षेत्र में संभावनाए अवश्य तलाशे |

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *