Artisan Credit Card Scheme को शोर्ट कट की सामान्य बोलचाल में ACC Scheme भी कहा जाता है इस योजना की शुरुआत यूनियन मिनिस्ट्री ऑफ़ टेक्सटाइल – ऑफिस ऑफ़ डेवलपमेंट कमिश्नर (हेंडीक्राफ्ट) के अधीन की गई है। इस योजना अर्थात Artisan Credit Card Scheme का मुख्य उद्देश्य देश के कारीगरों के लिए वित्तीय सहायता हेतु एक प्रक्रिया तैयार करना है ताकि उनकी निवेश एवं कार्यशील सम्बन्धी क्रेडिट आवश्यकताएं समय पर, लचीले एवं लागत प्रभावी ढंग से पूर्ण हो सकें।

अक्सर होता क्या है की हमारे देश के कारीगरों के हाथों में हूनर तो होता है लेकिन वित्त की कमी के चलते वे अपने इस हूनर को व्यवसाय में तब्दील कर पाने में नाकामयाब होते हैं, कारीगरों की इन्ही समस्याओं को ध्यान में रखते हुए भारत सरकार के समबन्धित मंत्रालय ने एक योजना शुरू की जिसका नाम Artisan Credit Card Scheme रखा गया, इस योजना का मुख्य उद्देश्य कारीगरों को अपने व्यवसाय समबन्धी विभिन्न क्रियाकलापों को अंजाम देने के लिए ऋण मुहैया कराने का है।

artisan credit card scheme

Artisan Credit Card Scheme के लाभ:

इस योजना के अंतर्गत कारीगरों को होने वाले मुख्य लाभ इस प्रकार से हैं।

  • कारीगर इस योजना के अंतर्गत कार्यशील पूँजी की आवश्यकताओं को ध्यान में रखकर भी ऋण ले सकते हैं।
  • वस्तुओं के निर्माण प्रक्रिया में उपयोग में लाये जाने वाले टूल एवं उपकरणों के लिए भी कारीगर इस योजना के अंतर्गत लोन ले सकते हैं।
  • इस योजना के अंतर्गत अधिकतम ऋण रूपये दो लाख तक दिए जाने का प्रावधान है।
  • रूपये 25000 तक मार्जिन NIL होगा।
  • Artisan Credit Card Scheme के तहत टर्म लोन चुकता किये जाने का समय तीन वर्ष निर्धारित किया गया है।
  • वार्षिक समीक्षा के दौरान कारीगरों के खाते का संचालन संतोषजनक मिलने पर कैश क्रेडिट लिमिट को तीन वर्षों में नवीनीकृत किये जाने का प्रावधान है।
  • कारीगरों को इस स्कीम के तहत लोन लेने के लिए किसी भी प्रकार की सम्पति को बंधक रखने की आवश्यकता नहीं है अर्थात Artisan Credit Card Scheme के तहत दिया जाने वाला ऋण collateral free होगा।
  • उधारकर्ता अर्थात ऋण लेने वाले कारीगर को फोटो आईडी और पासबुक जारी किया जाएगा ।

ऋण के लिए कौन कौन अप्लाई कर सकते हैं (Eligibility Criteria for Artisan Credit Card Scheme):

इस योजना के तहत योग्य व्यक्तियों में निम्न व्यक्ति एवं इकाइयाँ आती हैं ।

  • हस्तशिल्प कारीगर इस स्कीम के तहत लोन के लिए अप्लाई कर सकते हैं ।
  • हस्तशिल्प कारीगरों से समबन्धित नई इकाइयाँ भी योग्य मानी जाएँगी ।
  • विकास आयुक्त (हस्तशिल्प) के साथ पंजीकृत लाभार्थी समूह गारंटी योजनाओं के अंतर्गत बीमा कवर के लिए पात्र होंगे, जिसके लिए सरकार द्वारा प्रीमियम का भुगतान किया जाएगा ।
  • जो हस्तशिल्प कारीगर पहले से ही किसी मौजूदा सरकारी ऋण योजना से जुड़े होंगे वे इस Artisan Credit Card Scheme के तहत ऋण के लिए पात्र नहीं माने जायेंगे ।

आवेदन कैसे करें (How to Apply for Artisan Credit Card Scheme):

इस योजना के तहत आवेदन करने के इच्छुक कारीगर को सबसे पहले सम्बंधित बैंक की शाखा से एप्लीकेशन फॉर्म लेना होगा। उसके बाद इस एप्लीकेशन फॉर्म को भरकर समबन्धित बैंक की शाखा में या स्थानीय हस्तशिल्प या कुटीर एवं छोटे पैमाने के औद्योगिक निकाय में जमा किया जा सकता है। यदि कारीगर इस एप्लीकेशन फॉर्म को बैंक में सीधे तौर पर जमा करता है तो ठीक है अन्यथा उपरोक्त स्थानीय निकायों द्वारा Artisan Credit Card Scheme के अंतर्गत अपनी सिफारिश भरके इस फॉर्म को सम्बंधित बैंकों में जमा किया जायेगा।

ACC योजना को लागू करने वाले बैंकों की लिस्ट:

  यद्यपि Artisan Credit Card Scheme भारत सरकार के सम्बंधित मंत्रालय द्वारा जारी की गई योजना है लेकिन अलग अलग बैंकों में इस योजना की कुछ शर्तों में कुछ अंतर हो सकते हैं। इसलिए कारीगर जिस बैंक से इस स्कीम के अंतर्गत लोन लेना चाहते हैं कारीगर को सबसे पहले उस बैंक की इस योजना के बारे में अच्छे से जानकारी ले लेनी चाहिए।

यह भी पढ़ें :

7 Comments

  1. Avatar for Samreen Samreen
  2. Avatar for दीपक सोमपुरा दीपक सोमपुरा
    • Avatar for sunita sunita
    • Avatar for Pooja Pooja
  3. Avatar for gurjeet gurjeet
  4. Avatar for Mohd imran Mohd imran
  5. Avatar for Bittu Ram Bittu Ram

Leave a Reply

Your email address will not be published

error: