Black Insulation Tape का इस्तेमाल मुख्य रूप से बिजली के इंसुलेशन से जुड़े प्रयोजनों के लिए किया जाता है, इस तरह की इस टेप को कॉटन परतदार टेप भी कहा जाता है । आज जब मनुष्य को अपने विभिन्न कार्यों को निष्पादित करने एवं अपने जीवन को आसान बनाने के लिए तरह तरह के इलेक्ट्रिक उपकरणों की आवश्यकता होती है, ऐसे में इस प्रकार की इस टेप के उपयोग भी काफी बढ़ गए हैं। क्योंकि विभिन्न प्रकार के ओवन, भट्टियाँ, मोटर्स इत्यादि के निर्माण में इस तरह की टेप का इस्तेमाल किया जाता है । 

और चूँकि ये दबाव एवं तापमान प्रतिरोधी होती हैं इसलिए इनका इस्तेमाल बड़े पैमाने पर केबल बनाने वाली कम्पनियों एवं निर्माताओं द्वारा कंडक्टरों को कवर करने के लिए भी किया जाता है। इन सबके अलावा Black Insulation Tape का इस्तेमाल घरेलु तौर पर बिजली सम्बन्धी समस्याओं एवं इलेक्ट्रिक उपकरणों में भी किया जाता है। इसलिए यह एक ऐसा आइटम बन गया है जिसकी आवश्यकता लगभग हर घर में रहती ही रहती है।

इससे यह बात तो साबित हो जाती है की Black Insulation Tape के उपयोग न सिर्फ घरेलु हैं बल्कि इसके बड़े पैमाने पर व्यवसायिक उपयोग भी होते हैं। इसलिए इस स्थिति में यदि कोई व्यक्ति खुद का इस तरह का यह बिजनेस शुरू करता है, तो उसके लिए यह कमाई का अच्छा स्रोत बन सकता है। इसलिए इस लेख में हम काला इंसुलेशन टेप बनाने के बिजनेस की जानकारी के बारे में बात कर रहे हैं।

Black insulation tape Manufacturing

इंसुलेशन टेप की बिक्री संभावना

Black Insulation Tape की यदि हम बिक्री संभावना की बात करें तो इसके इस्तेमाल के बारे में बात करना लाजिमी है। इस प्रकार की टेप का इस्तेमाल प्रमुख रूप से कंडक्टरों के जोड़ों को कवर करने के लिए किया जाता है यही कारण है की सभी प्रकार के विद्युतीकरण के कार्यों में यह वस्तु रोजमर्रा के इस्तेमाल में लायी जाती है। जैसा की हम सब अच्छी तरह से जानते हैं की विद्युतीकरण के कार्यों में सभी केबल एवं कंडक्टर अलग अलग होते हैं उनके एक साथ जुड़ने पर शोर्ट सर्किट हो सकता है इसलिए विद्युतीकरण में ब्लैक टेप का इस्तेमाल बहुत आवश्यक बन गया है।

बड़े पैमाने पर विद्युत् उत्पादन एवं बढती जनसँख्या के साथ बढ़ते आवासीय एवं व्यवसायिक बिल्डिंग के कारण भी Black Insulation Tape की मांग लगातार बढती जा रही है । यही कारण है वर्तमान में प्रत्येक इलेक्ट्रिकल स्टोर द्वारा काला इंसुलेशन टेप बेचा जा रहा है।

काला इंसुलेशन टेप बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें (How to Start Black Insulation Tape Manufacturing Business ):

Black Insulation Tape Manufacturing व्यवसाय शुरू करने के लिए भी उद्यमी को जमीन एवं बिल्डिंग, लाइसेंस एवं पंजीकरण, वित्त का प्रबंध, मशीनरी एवं कच्चे माल की उपलब्धता, बिजनेस में आने वाली चुनौतियों एवं इसके विनिर्माण प्रक्रिया को समझने की आवश्यकता होती है। वर्तमान में बिजली की उपलब्धता ग्रामीण भारत तक हो गई है कहने का आशय यह है की आज देश के हर कोने तक विद्युतीकरण हो गया है लेकिन जो कुछ गाँव एवं एरिया बचे हुए हैं वहां भी विद्युत् पहुँचाने की सरकार द्वारा हर संभव प्रयत्न किये जा रहे हैं।

ऐसे में Black Insulation Tape की मांग न सिर्फ शहरों तक सिमित रह गई है बल्कि ग्रामीण इलाकों में भी इसका उपयोग होने की पूरी संभावना है। तो आइये जानते हैं की की कोई इच्छुक व्यक्ति कैसे खुद का काला इंसुलेशन टेप बनाने का व्यवसाय शुरू कर सकता है।

1. जमीन एवं बिल्डिंग का प्रबंध

जहाँ तक Black Insulation Tape के लिए आवश्यक जमीन एवं बिल्डिंग का सवाल है वह प्लांट की क्षमता पर निर्भर करता है। अर्थात एक बड़े उत्पादन क्षमता वाले प्लांट के लिए बड़ी जगह एवं बिल्डिंग की आवश्यकता होगी तो वहीँ छोटे उत्पादन क्षमता वाले प्लांट के लिए छोटी जगह की आवश्यकता होगी। इसलिए यहाँ पट यह निश्चित रूप से बता पाना कठिन है की काला इंसुलेशन टेप बनाने की फैक्ट्री स्थापित करने के लिए कितनी जगह की आवश्यकता होगी।

हाँ इतना जरुर है की इस तरह का एक औसतन प्लांट स्थापित करने के लिए उद्यमी को 1300-1800 वर्ग फीट जगह की आवश्यकता हो सकती है। यदि उद्यमी के पास ऐसी कोई गैर कृषि योग्य भूमि है तो वह अपनी योजनानुसार फैक्ट्री स्थापित करने के लिए कंस्ट्रक्शन कार्य शुरू करवा सकता है। यदि ऐसा नहीं है तो उद्यमी इकाई स्थापित करने के लिए जगह या बिल्डिंग किराये पर लेने की आवश्यकता होगी। जमीन एवं बिल्डिंग का किराया लोकेशन, शहर इत्यादि के आधार पर अंतरित हो सकता है।       

2. लाइसेंस एवं पंजीकरण (License for Black Insulation Tape Manufacturing):

Black Insulation Tape Manufacturing व्यवसाय शुरू करने के लिए उद्यमी को विभिन्न प्रकार के लाइसेंस एवं पंजीकरण की आवश्यकता होती है, जिनमें से कुछ प्रमुख लाइसेंस एवं पंजीकरणों की लिस्ट निम्नवत है।

  • रजिस्ट्रार ऑफ़ कम्पनीज में प्रोप्राइटरशिप, वन पर्सन कंपनी, पार्टनरशिप फर्म, प्राइवेट लिमिटेड कंपनी इत्यादि बिजनेस एंटिटी में से किसी एक के तहत रजिस्ट्रेशन।
  • टैक्स रजिस्ट्रेशन जैसे जीएसटी रजिस्ट्रेशन, बैंक में चालू खाता एवं व्यवसाय के नाम से पैन कार्ड इत्यादि।
  • नगर निगम, नगर पालिका यानिकी स्थानीय प्राधिकरण से फैक्ट्री या ट्रेड लाइसेंस लेने की भी आवश्यकता हो सकती है ।
  • फायर एवं पोल्यूशन डिपार्टमेंट से नों ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट की भी आवश्यकता हो सकती है।
  • विभिन्न योजनाओं का फायदा लेने के लिए उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन एवं एमएसएमई डाटा बैंक रजिस्ट्रेशन की भी आवश्यकता होती है।

ब्यूरो ऑफ़ इंडियन स्टैण्डर्ड ने Black Insulation Tape की क्वालिटी कण्ट्रोल के लिए IS:1923-1973 and IS:2448 (Part-I)-1963 के तहत अनेकों मानक निर्धारित किये हैं। इसलिए इसका निर्माण इन मानकों के अनुसार होना ही अत्यंत आवश्यक है।

3. मशीनरी उपकरण एवं कर्मचारी

Black Insulation Tape manufacturing व्यवसाय में अनेकों तरह की मशीनरी एवं उपकरण इस्तेमाल में लाये जाते हैं। हालांकि प्लांट क्षमता के आधार पर उपयोग में लायी जाने वाली मशीनरी एवं उपकरणों की लिस्ट अंतरित भी हो सकती है। कुछ प्रमुख मशीनरी एवं उपकरणों की लिस्ट निम्नवत है।

  • सभी एक्सेसरीज के साथ मिक्सिंग मिल
  • डबल रोल स्प्रेअडिंग मशीन
  • स्लाईटिंग मशीन
  • सिग्मा मिक्सर
  • एच. वी. ब्रेकडाउन टेस्टर
  • लेबोरेटरी ओवन
  • एडहेसन टेस्ट
  • पिन होल टेस्टिंग इक्विपमेंट
  • अन्य टूल एवं उपकरण

जहाँ तक कर्मचारियों का सवाल है उपर्युक्त मशीनरी से Black Insulation Tape का निर्माण करने के लिए उद्यमी को कुशल मशीन ऑपरेटर की आवश्यकता हो सकती है। इसके अलावा क्वालिटी चेक करने के लिए क्वालिटी इंजिनियर, सामग्री को एक वर्क स्टेशन से दुसरे वर्क स्टेशन में ले जाने के लिए श्रमिकों की आवश्यकता होगी। और ऑफिस का कार्यभार सँभालने के लिए भी कुशल कर्मचारी नियुक्त करने की आवश्यकता हो सकती है।

4. आवश्यक कच्चा माल (Raw Material for Black Insulation Tape manufacturing):

Black Insulation Tape manufacturing की यदि हम बात करें तो इस व्यवसाय के लिए प्रमुख कच्चे माल की लिस्ट में पेट्रोलियम आधारित विलायक शामिल है वह इसलिए क्योंकि इसकी कीमत इस्तेमाल में लाये जाने वाले अन्य सभी कच्चे माल की तुलना में बेहद अधिक होगी । इस पेट्रोलियम आधारित विलायक को किसी भी नजदीकी आयल डिविजन से ख़रीदा जा सकता है। अन्य प्रमुख कच्चे माल की लिस्ट इस प्रकार से है।

  • नॉन वोवन कॉटन फैब्रिक्स
  • बेंजीन
  • एस्बेस्टस पाउडर
  • अरंडी का तेल
  • क्रेप रबर
  • रेजिन
  • नेशनल रबर
  • कार्बन ब्लैक
  • जिंक ऑक्साइड
  • लेबल
  • पॉलिथीन फिल्म्स

मशीनरी एवं कच्चे माल की खरीदारी करने से पहले उद्यमी को विभिन्न सप्लायर या विक्रेताओं से कोटेशन मंगाकर उनका तुलनात्मक विश्लेषण करना जरुरी है। ताकि हर दृष्टी से अच्छे सप्लायर का चुनाव करना संभव हो सके।   

5. निर्माण कार्य शुरू करना (Start Manufacturing of Black Insulation Tape):

Black Insulation Tape Manufacturing करने के लिए इकाई द्वारा मजबूती से बुने हुए लगभग 54 इंच चौड़े सूती कपड़े खरीदने की आवश्यकता हो सकती है। लेकिन इस कपड़े को खरीदते समय उद्यमी को यह ध्यान देना होगा की कपड़ा किसी भी बुनाई डिफेक्ट से मुक्त हो। आम तौर पर इस कपड़े का रंग काला होता है। काला इंसुलेशन टेप बनाने की प्रक्रिया में सर्वप्रथम मिक्सिंग मिल में 12.50% क्रेप रबर, 5 प्रतिशत नेशनल रबर, 49.50% एस्बेस्टस पाउडर, 12.50% राल, 0.50 प्रतिशत कार्बन ब्लैक और 20% अरंडी का तेल डाला जाता है और इस सामग्री को अच्छी तरह मिलाया जाता है।    इससे रबर का मिश्रण एक समरूप द्रव्यमान में बनाया जाता है उसके बाद रबड़ के इस द्रव्यमान को उसी मिक्सिंग मिल में तारपीन के तेल या बेंजीन के साथ मिला दिया जाता है।

उसके बाद इस तैयार द्रव को स्प्रेअडिंग मशीन की सहायता से सूती के कपड़े के ऊपर फैला दिया जाता है। और इस दौरान डॉक्टर्स ब्लेड तकनीक का इस्तेमाल किया जाता है ताकि रबर के इस विलायक को समान रूप से फैलाया जा सके। उसके बाद Black Insulation Tape Manufacturing Process में लेपित कपड़े को स्लाईटिंग मशीन की मदद से आवश्यक चौड़ाई में काट दिया जाता है और उसके बाद वाइंडिंग मशीन की मदद से इसे आवश्यक लम्बाई में एक रोल के तौर पर लपेट दिया जाता है। उसके बाद इनमें लेबलिंग की जाती है और पैकिंग करके इन्हें बाजार में बेचने के लिए भेज दिया जाता है।

यह भी पढ़ें

Leave a Reply

Your email address will not be published

error: