CCTV Camera Making Business की जानकारी

CCTV Camera Making Business की जानकारी

वर्तमान समय में विभिन्न आपराधिक घटनाओं को रोकने के मद्देनज़र CCTV जिसका फुल फॉर्म Closed-circuit television होता है का उपयोग बहुतायत तौर पर किया जाता है | जहाँ पहले CCTV Camera नामक इस उपकरण का उपयोग केवल कुछ विशेष स्थानों जिन्हें लगातार मॉनिटर करने की आवश्यकता होती है जैसे बैंक, कैसिनो, एअरपोर्ट, मिलिट्री स्टेशनों में किया जाता था वर्तमान में इसका उपयोग विभिन्न निजी कार्यालयों, मेट्रो स्टेशनों, रेलवे स्टेशनों, अस्पतालों, शिक्षण संस्थानों, सड़कों, गलियों इत्यादि में भी किया जाने लगा है | विभिन्न स्थानों में CCTV का उपयोग उसकी आवश्यकता के मुताबिक लगातार या कुछ दिनों घंटों अर्थात किसी विशेष घटनाक्रम को ध्यान में रखकर भी किया जा सकता है | इसका उपयोग ऐसे वातावरण की निगरानी के लिए भी किया जा सकता है जहाँ मनुष्य की निगरानी रख पाना संभव नहीं है | इन्हीं सब उपर्युक्त बातों के मद्देनज़र CCTV Camera की मांग हर क्षेत्र यहाँ तक की वर्तमान में लोग अपने घरों में भी सुरक्षा हेतु CCTV लगाने लगे हैं |

CCTV-Camera-Making-business

CCTV Camera making business क्या है?

CCTV Camera की यदि हम बात करें तो यह एक टेलीविज़न प्रणाली होती है जिसमे सिग्नल को सार्वजनिक रूप से वितरित नहीं किया जाता है लेकिन इन्हें प्राथमिक तौर पर निगरानी एवं सुरक्षा हेतु उपयोग में लाया जाता है | CCTV कैमरों को कहाँ पर लगाया जाय यह एक रणनीति के आधार पर तय किया जाता है तथा एक जगह से कैमरे के इनपुट का मॉनिटर के माध्यम से अवलोकन किया जाता है | क्योंकि CCTV कैमरे मॉनिटर एवं विडियो रिकॉर्डर के साथ किसी निजी समाक्षीय केबल या फिर वायरलेस संचार के माध्यम से लिंक होते हैं | उपर्युक्त बात करने का आशय हमारा सिर्फ CCTV कैमरों की उपयोगिता को बताने से है वर्तमान में इनकी उपयोगिता इतनी बढ़ गई है की लगभग हर सार्वजनिक स्थल चाहे वह कोई शौपिंग माल हो या मेट्रो स्टेशन, गली हो या सड़क या फिर ट्रैफिक लाइट, अस्पताल हो या शिक्षण संस्थान, बैंक हो या फिर अन्य कोई वित्तीय संस्थान हर जगह लगभग CCTV कैमरों का उपयोग किया जाता है | लोगों की इसी आवश्यकता को ध्यान में रखकर जब किसी उद्यमी द्वारा इन्हें बनाने का काम किया जाता है तो उसके द्वारा किया जाने वाला यह बिज़नेस CCTV Camera making business कहलाता है |

Market Potential in CCTV Camera Making:

वैश्विक सीसीटीवी बाजार की यदि हम बात करें तो इसकी समग्र वार्षिक वृद्धि दर 2005 से 2007 तक 12.38% की दर से बढ़ रही थी | उसके बाद यानिकी 2007 के बाद इसकी वृद्धि दर 13% आंकी गई है | कहने का आशय यह है की 2007 के बाद वैश्विक स्तर पर दोनों (आईपी आधारित सीसीटीवी और पारंपरिक दोनों सहित) की 13% समग्र वार्षिक वृद्धि दर  से बढ़ने की संभावना है | हालांकि परंपरागत सीसीटीवी सिस्टम की तुलना में आईपी ​​आधारित सीसीटीवी की मांग वैश्विक बाज़ार में लगातार अधिक बढ़ रही है | 2006 के आंकड़े के मुताबिक वैश्विक सीसीटीवी बाजार में उत्तरी अमेरिका एवं युरोप की 85% से अधिक की हिस्सेदारी थी | यह उम्मीद है कि सीसीटीवी प्रणालियों की प्रमुख मांग भविष्य में एशिया-प्रशांत क्षेत्र से आएगी । video surveillance software market  में इंटेलिजेंट वीडियो निगरानी प्रणाली एक नई प्रवृत्ति के रूप में उभर रही है |  विभिन्न क्षेत्र जैसे रिटेल, हेल्थ केयर, ट्रांसपोर्टेशन इत्यादि CCTV Camera के लिए उचित अवसर पैदा करने का सामर्थ्य रखते हैं | इसलिए CCTV manufacturing में उपयोग में लायी जाने वाली विभिन्न तत्वों को चीन, ताइवान इत्यादि से सस्ती दरों पर इम्पोर्ट किया जा सकता है और CCTV Camera Making business करके उचित कमाई की जा सकती है |

आवश्यक मशीनरी उपकरण एवं कच्चा माल :

CCTV Camera making business में उपयुक्त होने वाले Raw Materials की लिस्ट थोड़ी लम्बी है जिसका उल्लेख हम निम्नवत करेंगे लेकिन इस बिज़नेस में काम आने वाली मशीनरी एवं उपकरणों की लिस्ट कुछ इस प्रकार से है |

  • Oscilloscope
  • DC पावर सप्लाई
  • Analog मल्टीमीटर
  • Digital मल्टीमीटर
  • Bench Drilling machine
  • पोर्टेबल ग्राइंडर
  • Magnifying glass with light & Stand
  • Tool kits इत्यादि

CCTV Camera making business में प्रयुक्त होने वाले कच्चे माल अर्थात Raw materials की लिस्ट कुछ इस प्रकार से है |

  • CCD Camera
  • PCBs with Electronic Components
  • इलेक्ट्रॉनिक कनेक्टर
  • इलेक्ट्रॉनिक स्विच एवं सॉकेट
  • Metallic case with clamps
  • Connecting cables/ wires
  • Solder soft, screws इत्यादि.
  • पैकेजिंग मटेरियल.

Manufacturing Process of CCTV Camera:

सर्वप्रथम कच्चे माल को बाज़ार से खरीद या विदेशों से आयात कर लिया जाता है उसके बाद इस खरीदे गए या आयात किये गए कच्चे माल का निरीक्षण कर लिया जाता है | उसके बाद mounting प्रक्रिया को अंजाम दिया जाता है अर्थात इस प्रक्रिया में PCB Circuit से लेकर CCD Camera, Switch, Sockets इत्यादि को कैबिनेट में माउंट किया जाता है | उसके बाद अन्दुरुनी कनेक्टिंग की जाती है अर्थात PCB, CCD camera एवं अन्य Sub Assembly को आपस में लिंक कर लिया जाता है | जब यह प्रक्रिया पूर्ण हो जाती है तो उसकी गुणवत्ता का निरीक्षण किया जाता है उसके बाद इन बनाये गए CCTV Cameras को पैकिंग करके डिस्पैच कर लिया जाता है | इस प्रकार का यह बिज़नेस उद्यमी चाहे तो बहुत कम निवेश के साथ अर्थात 15-20 लाख से शुरू करके धीरे धीरे उसे विस्तारित कर सकता है अर्थात इस CCTV Camera Making business में सर्वाधिक निवेश कच्चे माल पर होना तय है इसलिए उद्यमी चाहे तो शुरूआती दौर में कुछ CCTV Cameras बनाने के लिए कच्चा माल खरीदकर शुरू कर सकता है और CCTV Cameras की बिक्री की गति को देखते हुए अपने इस बिज़नेस को विस्तारित कर सकता है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: