Day Spa Business Plan in Hindi. डे स्पा बिजनेस की जानकारी।

यद्यपि Day Spa Business देखा जाय तो एक आम बिजनेस बिलकुल भी नहीं है अर्थात यह ऐसा व्यापार नहीं है जिसमें उद्यमी के ग्राहक आम लोग रहते हैं । बल्कि देखा जाय तो इस व्यापार की शुरुआत समाज में बढ़ते शिक्षा के स्तर, जागरूकता एवं समृद्धी के बढ़ने के कारण हुई है। कहने का आशय यह है की समृद्धी, जागरूकता एवं शिक्षा के बढ़ते स्तर के कारण लोग अपने कल्याण के प्रति सचेत हुए हैं और वे अपने शरीर एवं मष्तिष्क को ठीक ठाक एवं सलामत रखने की ओर प्रयासरत रहे हैं । भारतवर्ष में जनसँख्या का एक ऐसा भी वर्ग है जिनका उद्देश्य केवल शारीरिक या मानसिक बीमारी से मुक्ति पाना नहीं होता, बल्कि अपने शरीर एवं मष्तिष्क को आराम एवं हल्कापन का अनुभव कराने का भी होता है । इसके अलावा वे अपने तन मन को सुन्दर बनाने की इच्छा भी रखते हैं इसके लिए वे चाहते हैं की उनके त्वचा, बाल, मांसपेशियाँ, आँखों इत्यादि की चमक बरकार रहे ताकि वे सुन्दर दिखें। इसके अलावा एक Day Spa Business में उद्यमी द्वारा अपने ग्राहकों को शारीरिक दृष्टी से देखभाल करने की भी आवश्यकता होती है। यही कारण है की जहाँ पहले इस प्रकार के व्यवसाय को केवल महिलाओं से जोड़कर देखा जाता था अर्थात जहाँ स्पा एवं सैलून में पहले केवल महिलाएं जाती थी वर्तमान में पुरुष भी स्पा एवं सैलून जाने लगे हैं। इसलिए वर्तमान में Day Spa Business छोटे बड़े शहरों में कमाई करने का एक बेहतरीन माध्यम बन सकता है।

day-spa-business-in-hindi

डे स्पा क्या होता है (What is day spa in Hindi): 

Day Spa एक ऐसा स्थान होता है जहाँ लोग मसाज, फेशियल, बॉडी ट्रीटमेंट जैसे सी साल्ट स्क्रब, मड रैप्स इत्यादि कराने जाते हैं। इन्हें डे स्पा इसलिए कहा जाता है क्योंकि यहाँ ग्राहक डेस्टिनेशन स्पा या रिसोर्ट स्पा की तरह रात व्यतीत नहीं करता है। अन्य शब्दों में एक day Spa एक ऐसा कॉस्मेटिक सैलून है जो अपने ग्राहकों को स्वास्थ्य एवं सौन्दर्य बढ़ाने के लिए विभिन्न प्रकार की सेवाएँ प्रदान करता है। और अपने ग्राहकों को व्यक्तिगत देखभाल उपचार जैसे फेशियल, नेल केयर, बॉडी मसाज इत्यादि के माध्यम से सर्वोत्तम प्रकार का आनंद प्राप्त करवाता है। एक डे स्पा किसी ब्यूटी सैलून से इसलिए अलग है क्योंकि यहाँ ग्राहकों को ऐसी ऐसी सुविधाएँ जैसे पूल, सौना, स्टीम रूम इत्यादि दी जाती है जो ब्यूटी सैलून में नहीं दी जाती हैं। यही कारण है की एक Day Spa में वहाँ आने वाले मेहमानों या ग्राहकों का अच्छा एवं अतिरिक्त उपचार किया जाता है जिसका उन्हें अधिक लाभ हो सकता है। साधारण शब्दों में एक स्पा वह स्थान है जो विभिन्न प्रकार की व्यवसायिक सेवाओं के माध्यम से समग्र कल्याण को बढाने के लिए समर्पित है। और यह मन, शरीर और आत्मा के नवीनीकरण को प्रोत्साहित करता है।

डे स्पा किस प्रकार की सर्विस देगा:   

यहाँ पर हम एक ऐसे Day Spa Business की बात कर रहे हैं जिसमें ग्राहकों को एक ऐसी सुविधा जहाँ उन्हें विभिन्न थेरेपी में से किसी एक या एक से अधिक थेरेपी का चुनाव करके अपना उपचार शुरू कराना होता है आम तौर पर इस स्थान पर एक ग्राहक को दो तीन घंटों का समय लग सकता है । इस तरह का बिजनेस शुरू करके उद्यमी अपने ग्राहकों को चेहरे की देखभाल, नाखूनों की देखभाल, वैक्सिंग, थ्रेडिंग, बाल, शरीर, मेकअप, मालिश इत्यादि की पेशकश करता है। हालांकि इसका मुख्य उद्देश्य शरीर एवं मालिश की सुविधाओं तक ही सिमित है। यद्यपि कभी कभी एक स्पा को स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र में भी संचालित किया जाता है और इनमें ग्राहकों को डायबिटीज, ब्लड प्रेशर एवं गठिया जैसे रोगों को प्रबंधित करने की सेवाएँ दी जाती हैं। लेकिन यहाँ पर हम इस तरह के Day Spa Business की बात नहीं कर रहे हैं जो की कोई उपचारात्मक दावा पेश करता हो, यहाँ पर हम केवल एक ऐसे स्पा की बात कर रहे हैं जो केवल वेलनेस तक ही सिमित हो। एक स्पा को स्थापित करते वक्त उद्यमी के पास दो विकल्प रहते हैं की वह अपने स्पा को या तो ड्राई स्पा स्थापित करे या फिर वेट अर्थात गीला, जो बाद में हाइड्रो थेरेपी भी ऑफर करेगा । यहाँ पर हम वेट स्पा की बात कर रहे हैं जहाँ तक इसके मेनू की बात है यह एक परम्परागत स्पा होगा जो भारतीय आयुर्वेद, स्वीडिश मालिश, चीनी उपचार और समकालीन चिकित्सा से आरेखित होगा । वेलनेस को बढ़ावा देने के लिए इसमें भाप स्नान और सौना स्नान की सुविधा भी दी जानी चाहिए ।  

बिजनेस प्रमोटर कैसा होना चाहिए:

हालांकि जहाँ तक Day Spa Business की सफलता की बात है वह इस बात पर निर्भर करती है की उद्यमी के पास आने वाले ग्राहकों की संख्या क्या है, ग्राहकों की संतुष्टि का आँकड़ा क्या है, और उद्यमी प्रति ग्राहक कितनी कमाई कर पा रहा है । और ये उपर्युक्त स्थितियां क्षेत्र के जनसांख्यिकीय प्रोफ़ाइल, स्पा-लोकेशन, स्पा के डिज़ाइन और परिवेश और ग्राहक द्वारा महसूस किया गया अनुभव द्वारा संचालित होते हैं। लेकिन इसके बावजूद इस तरह का यह व्यापार शुरू करने वाले उद्यमी के पास थेरेपी से सम्बंधित प्रारम्भिक ज्ञान का होना बेहद जरुरी है ताकि वह थेरेपी स्किल का आकलन कर सके। उद्यमी में अपने स्पा व्यापार को प्रमोट करने की भी क्षमता होनी चाहिए।

औद्यौगिक परिदृश्य एवं चलन:

एक आंकड़े के मुताबिक वैश्विक स्पा सर्विस मार्किट सन 2022 तक 154.6 बिलियन डॉलर के आकार तक पहुंचने की उम्मीद है। जैसा की अब तक हम जान चुके हैं की स्पा सर्विसेज में फेशियल, बॉडी मसाज, बॉडी ट्रीटमेंट और अन्य ऐसी सेवाएँ जो इस क्षेत्र से जुड़े विशेषज्ञों की देख रेख में दी जाती हैं और ये क्रियाएं शरीर और मन को पुनर्जीवित करने का कार्य करती हैं आती हैं। यही कारण है की लोगों की बढती आमदनी, व्यस्त एवं तनावपूर्ण जीवनशैली, आंक्षाओं में वृद्धि के कारण इस प्रकार के व्यवसायों की आवश्यकता समाज में बढती जा रही है। वर्तमान में उत्कृष्ट विशेषज्ञता रखने वाले स्पा पेशेवरों का प्रवेश भी स्पा सेवाओं की मांग को अनुकूल रूप से प्रभावित कर रहा है । भारतीय स्पा में भी ऐसे बहुत सारे अनुभवी एवं निपुण विदेशी मूल के थेरेपिस्ट हैं जिनकी वजह से भारतीय लोगों की रूचि स्पा में बढ़ रही है। कहने का अभिप्राय यह है की अच्छे और निपुण थेरेपिस्ट Day Spa Business के लिए स्वत: ही ग्राहकों को आकर्षित करते हैं। हालांकि इस प्रकार का यह बिजनेस कभी कभी अवांछित छवि से ग्रस्त होता है जिससे कानूनी अनुपालन एवं निगरानी के कारण इस बिजनेस में आने वाली लागत बढ़ जाती है । लेकिन फिर भी भारत में Day Spa Business के लिए दृष्टीकोण सकारात्मक है।

बाजार में विक्रय संभाव्यता:

Day Spa Business के प्रमुख ग्राहक के तौर पर ऐसे लोग आते हैं जिनकी डिस्पोजेबल इनकम ज्यादा है वर्तमान में लोग शिक्षा के प्रति जागरूक हो गए हैं इसलिए इस पर पैसे खर्च करने से हिचकते नहीं हैं। जीवनशैली में हो रहे परिवर्तनों के कारण स्पा से जुड़ी सेवाओं एवं उत्पादों की मांग देश में बढ़ी है । वेलनेस की अवधारणा के चलते लोग बीमारी की रोकथाम करने के लिए सजग हैं जो सिमित तरीके से स्पा की माँग में भी योगदान देता है। स्पा व्यापार एक ऐसा बिजनेस है जो महिलाओं एवं पुरुषों दोनों को आकर्षित करता है लेकिन भारत में पुरुषों की तुलना में महिला ग्राहक अधिक हैं। इस बिजनेस को  भारत में मुख्य रूप से दो धाराओं के माध्यम से ग्राहक मिलते हैं इनमें पहली धारा स्थानीय निवासी हैं तो दूसरी धारा टूरिस्ट है। टूरिस्ट अक्सर होटल, रिसोर्ट एवं डेस्टिनेशन स्पा के ग्राहक होते हैं। जिस Day Spa Business की हम यहाँ पर बात कर रहे हैं उसे स्थानीय लोगों को ध्यान में रखकर शुरू किया जा सकता है। उद्यमी चाहे तो इस तरह के बिजनेस को फ्रैंचाइजी बिजनेस के तौर पर भी शुरू कर सकता है। भारत में Aura That, The Flour Fountain,  02 Spa, Seven Seas, Moksh, Red Door इत्यादि चिर परिचित ब्रांड हैं जो फ्रैंचाइजी ऑफर करती हैं। हालांकि फ्रैंचाइजी लेने का मतलब होगा की आप एक ऐसा स्पा खोलने वाले हैं जिसमें कंपनी के मानकों के अनुरूप कार्य करना होगा। इसलिए स्थानीय लोगों को ध्यान में रखते हुए Day Spa Business फ्रैंचाइजी लेकर करने की सलाह नहीं दी जाती है। हालाँकि एक डे स्पा के लिए व्यक्तिगत एवं उस जगह विशेष में चलने वाले ग्राहक बेहद महत्वपूर्ण हैं लेकिन उद्यमी अपनी अच्छी कमाई के लिए ग्राहकों को मेम्बरशिप ऑफर कर सकता है। इससे फायदा यह होता है की सदस्य को फैसिलिटी रियायती मूल्य पर मिल जाती है तो उद्यमी को निश्चित व्यापार का आश्वासन मिल जाता है। उद्यमी चाहे तो अनेकों कंपनी जैसे आईटी, फाइनेंसियल सर्विस, एविएशन, हॉस्पिटैलिटी इत्यादि के साथ टाई अप कर सकता है जो अपने कर्मचारियों को ईलाज के लिए प्रायोजित करेंगी। इसके अलावा Day Spa Business कर रहा उद्यमी किटी पार्टी समूह, अमीर वरिष्ठ नागरिक समूह, हाई-प्रोफाइल मनोरंजन क्लबों के सदस्य, पॉश हाउसिंग कॉलोनियों के निवासियों को अपने ग्राहक के तौर पर लक्ष्यित कर सकता है । इसके अलावा उद्यमी द्वारा दी जाने वाली अच्छी सर्विस उस ग्राहक को वापस उद्यमी के स्पा में खींच के ले आएगी।

आवश्यक लाइसेंस एवं पंजीकरण (License and Registration for day spa business):

हालांकि अलग अलग राज्य में स्थानीय नियम कानूनों के मुताबिक Day spa Business के लिए अलग अलग लाइसेंस एवं पंजीकरणों की आवश्यकता हो सकती है। लेकिन यहाँ नीचे हम कुछ प्रमुख कानूनी दस्तावेजों का जिक्र कर रहे हैं जो एक day spa business शुरू करने के लिए चाहिए हो सकते हैं।  

  • शॉप एंड एस्टाब्लिश्मेंट अधिनियम के तहत बिजनेस को रजिस्टर कराने की आवश्यकता हो सकती है। इस लाइसेंस को स्थानीय प्राधिकरण जैसे नगर पालिका, महानगर पालिका इत्यादि से प्राप्त किया जा सकता है।
  • वर्तमान कर प्रणाली के तहत जीएसटी रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता हो सकती है।
  • उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता हो सकती है। हालांकि इस तरह का यह रजिस्ट्रेशन अनिवार्य नहीं होता है लेकिन भविष्य में यदि कोई सरकारी परियोजना आपके बिजनेस से सम्बंधित हो तो उस समय इसका फायदा हो सकता है।
  • किसी भी बैंक में चालू खाते की आवश्यकता हो सकती है।
  • Day Spa Business कर रहे उद्यमी को इनकम टैक्स रिटर्न फाइल किये गए दस्तावेजों की भी आवश्यकता हो सकती है।
  • यदि यह बिजनेस पार्टनरशिप में शुरू किया जा रहा हो तो पार्टनरशिप रजिस्ट्रेशन की भी आवश्यकता हो सकती है।    

Day Spa Business के लिए ऑपरेशनल रीक्वायरमेंट:  

Day Spa Business के लिए स्पा मेन्यू, थेरेपिस्ट स्किल और स्पा के अन्दर का माहौल बेहद जरुरी है । मेन्यू का निर्धारण करते वक्त उद्यमी को कुछ ऐसे ऑफर भी देने हो सकते हैं जो स्थायी तौर पर उपलब्ध न हो सकें वह इसलिए क्योंकि हो सकता है की इन सुविधाओं को ग्राहक कभी कभार इस्तेमाल करते हों । या यूँ कह सकते हैं की कभी कभी ग्राहक नए उपचार प्राप्त करना चाहते हैं। किस ग्राहक को स्पा का अनुभव कैसा प्राप्त होगा वह थेरेपिस्ट द्वारा दिए गए उपचार पर निर्भर करता है इसलिए बेहतर होता है की उद्यमी द्वारा अपने ग्राहकों से थेरेपिस्ट एवं वहाँ के माहौल के बारे में समय समय पर फीडबैक लिया जाय। इसके अलावा Day Spa Business कर रहे उद्यमी को अपने स्पा के कर्मचारियों को किसी निपुण थेरेपिस्ट से समय समय पर प्रशिक्षण दिलाते रहना चाहिए । Day Spa Business के लिए स्पा के अन्दर का माहौल बड़ा ही महत्वपूर्ण होता है इसलिए माहौल ऐसा होना चाहिए जो ग्राहकों को आराम करने के लिए प्रेरित करे। और ग्राहक वहाँ पर अधिक समय बिताने के लिए रुक सकें। वाटर-सप्लाई, स्टीम-सप्लाई, ड्रेनेज, ड्रायिंग, एयर-कंडीशनिंग, वाटर-हीटिंग, टॉवल-सप्लाई, शॉवर और ऐसे अन्य सिस्टम को उद्यमी द्वारा टॉप-ग्रेड मोड में रखा जाना अति आवश्यक है, क्योंकि स्पा में फिसलन जैसी मामूली खामियां भी किसी खुश ग्राहक को नाराज करने के लिए काफी होती हैं। और यह मामूली खामी आपके Day Spa Business के प्रति उसके अनुभव को बदल सकती है।

स्पा बिजनेस के लिए तकनीकी आवश्यकता:

जहाँ तक Day Spa Business के लिए तकनिकी आवश्यकता का सवाल है ऑफर का चुनाव, मेनू डिजाईन, स्पेस डिजाईन, कॉमन एरिया डेवलपमेंट, अरोमा, म्यूजिक, थेरेपिस्ट का कौशल का मूल्यांकन इत्यादि ऐसे तकनीकी कार्य होते हैं जिन्हें उद्यमी को अंजाम तक पहुँचाना होता है। इसके अलावा स्पा द्वारा बॉडी स्क्रब, मसाज, पैक्स इत्यादि ऑफर किये जाते हैं इन ऑफर को भारतीय आयुर्वेद, चीनी, थाई, स्वीडिश इत्यादि पारम्परिक ज्ञान को ध्यान में रखकर तैयार किया जाना चाहिए। उदाहरणार्थ: Day Spa Business कर रहे उद्यमी द्वारा अपने ग्राहकों को अभायागा थेरेपी माइल्ड, ल्युकवार्म मेडिकेटिड आयल के साथ कम्पलीट बॉडी मसाज, द्रवास्वदा हर्बल बाथ और पिज्ज़ीचिल्ली जैसी सुविधाएँ दी जा सकती हैं। गैर भारतीय सुविधाओं की बात करें तो इनमें स्वीडिश मालिश, हॉट स्टोन मसाज, अरोमा थेरेपी और डेड सी मड पैक इत्यादि इनके उदाहरण हैं ।

यह भी पढ़ें:

About Author:

मित्रवर, मेरा नाम महेंद्र रावत है | मेरा मानना है की ग्रामीण क्षेत्रो में निवासित जनता में अभी भी जानकारी का अभाव है | इसलिए मेरे इस ब्लॉग का उद्देश्य बिज़नेस, लघु उद्योग, छोटे मोटे कांम धंधे, सरकारी योजनाओं, बैंकिंग, कैरियर और अन्य कमाई के स्रोतों के बारे में, लोगो को अवगत कराने से है | ताकि कोई भी युवा अपने घर से रोजगार के लिए बाहर कदम रखने से पहले, एक बार अपने गृह क्षेत्र में संभावनाए अवश्य तलाशे |

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *