Hockey Sticks Manufacturing Business हॉकी स्टिक बनाने का काम.

Hockey Sticks Manufacturing Business हॉकी स्टिक बनाने का काम.

Hockey Sticks Manufacturing business नामक यह काम किसी भी उद्यमी की कमाई का एक स्रोत बन सकता है, क्योंकि इस हॉकी की छड़ का उपयोग हॉकी खेलने के लिए किया जाता है और अपने देश भारत में हॉकी नामक इस खेल से शायद हर कोई व्यक्ति अवगत होगा क्योंकि यह हॉकी नामक खेल ही हमारे देश का राष्ट्रीय खेल है | जहाँ पहले लोगों का एवं नौजवानों का ध्यान खेलों की तरफ कम आकर्षित होता था वर्तमान में खेलों की बदौलत ही लोगों को दौलत, शोहरत कमाई करने का मौका मिलता है इसलिए देश के नौजवानों एवं उनके माता पिता का भी ध्यान खेलों की तरफ आकर्षित हुआ है | और लोग इन क्षेत्रों में सफलता पाने के लिए कड़ी मेहनत एवं कड़ा अभ्यास करते हैं | Hockey Sticks को भी केवल उन खिलाडियों द्वारा नहीं ख़रीदा जाता जो हॉकी खेलते हैं बल्कि उनके द्वारा भी खरीदा  जाता है जो नियमित तौर पर हॉकी का अभ्यास करते हैं |

Hockey-Sticks

Hockey Sticks manufacturing business क्या है:

हम उपर्युक्त वाक्य में भी बता चुके हैं की हॉकी भारतवर्ष का राष्ट्रीय खेल है हाँ यह अलग बात है की बीते कुछ दशकों से यह क्रिकेट के मुकाबले काफी कम चर्चित खेल रहा है | लेकिन राष्ट्रीय खेल होने के नाते भारत सरकार की हमेशा यही प्राथमिकता रहती है की वह हॉकी के खेल को जैसे भी हो सके प्रोत्साहित करती रहे | क्रिकेट खेलने में जिस तरह से क्रिकेट के बैट का उपयोग होता है हॉकी में ठीक उसी तरह Hockey Sticks का चूँकि दोनों खेल अलग अलग हैं इसलिए दोनों को खेलने के नियम एवं तरीके भी अलग अलग है | क्रिकेट बैट बनाने के व्यवसाय की जानकारी के लिए यह पढ़ें | वर्तमान में कोई भी खेल हो चाहे क्रिकेट हो, हॉकी हो, बालीबाल हो, फुटबॉल हो या अन्य कोई सभी खेलों में अकूत संभावनाएं विद्यमान हैं अर्थात किसी भी व्यक्ति को इन खेलों से वह सब कुछ प्राप्त हो सकता है जो वह अपने जीवन से अपेक्षा रखता है | यही कारण है की वर्तमान में क्रिकेट इत्यादि खेलों के साथ साथ लोगों का ध्यान Hockey की तरफ भी गया है | लोगों की इन्ही आवश्यकताओं को ध्यान में रखकर जब किसी व्यक्ति द्वारा अपनी कमाई करने के लिए हॉकी खेलने की छड़ बनाने का काम किया जाता है तो उसके द्वारा किया जाने वाला यह काम Hockey Sticks Manufacturing Business कहलाता है |

मार्किट में अवसर:

चूँकि हॉकी इंडिया का राष्ट्रीय खेल है इसलिए यह केवल इंडिया में ही खेला जाता है यह बिलकुल भी सत्य नहीं है | बल्कि हॉलैंड, जर्मनी, न्यूजीलेंड, पूर्वी यूरोप एवं दक्षिणी अमेरिका के कई देशों में हॉकी खेली जाती है और वहां पर हॉकी से जुड़े खिलाडियों की अच्छी खासी जनसँख्या है | Hockey Sticks manufacturing शहतूत की लकड़ी से की जाती है इसलिए पंजाब एवं उत्तर प्रदेश में Hockey Sticks को बनाया जाता है क्योंकि उन क्षेत्रों में इस लकड़ी की उपलब्धता अधिक है | वैसे इस प्रकार की लकड़ी नहरों के किनारे, सड़क के किनारे इत्यादि क्षेत्रों में अधिक पायी जाती है और पंजाब एवं उत्तर प्रदेश के अलावा हरियाणा, राजस्थान एवं हिमांचल प्रदेश के कुछ क्षेत्रों में भी शहतूत के पेड़ पाए जाते हैं | पंजाब में उपलब्ध शहतूत की लकड़ी में उच्च गुणवत्तायुक्त लचीलापन पाया जाता है जो गेंद को मारते समय झटके का विरोध करके लकड़ी में दरार आने से बचाता है | अच्छी गुणवत्तायुक्त Hockey Sticks manufacturing करके उद्यमी न केवल देश में अपना उत्पाद बेचकर कमाई कर सकता है अपितु बाहर देशों को अपने उत्पाद को निर्यात भी कर सकता है |

आवश्यक मशीनरी उपकरण एवं कच्चा माल:

Hockey Sticks manufacturing Business में प्रयुक्त होने वाले मुख्य मशीनरी एवं उपकरणों की लिस्ट निम्नवत है |

  • 10 HP मोटर के साथ Sawing machine जिसकी कीमत 2 लाख से 3 लाख हो सकती है |
  • बेन्डिंग प्रेस जिसकी कीमत 90 हज़ार से लेकर 5 लाख तक हो सकती है |
  • अन्य टूल एवं उपकरण

Hockey Sticks manufacturing Business में प्रयुक्त होने वाले कच्चे माल की लिस्ट कुछ इस प्रकार से है |

  • शहतूत की लकड़ी के ब्लेड (Mulberry Blades)
  • Cane handle
  • सिंथेटिक ग्लू
  • प्लाई के टुकड़े
  • ग्लू फलैक्स
  • पचरा
  • टॉवेल ग्रिप
  • रंगीन कॉटन टेप
  • सफ़ेद कॉटन टेप
  • binding के लिए कपड़ा
  • डूको पेंट
  • थिनर
  • C. Lacquer
  • सेलो टेप
  • पैकेजिंग सामग्री |

Manufacturing process of Hockey Sticks:

Hockey Sticks manufacturing process में सर्वप्रथम शहतूत की लकड़ी को लगभग छह घंटे के लिए गरम पानी में उबाला जाता है | उसके बाद इसे vice में बाँध दिया जाता है और प्रेस में मोल्ड कर दिया जाता है | उसके बाद मोल्ड की हुई छड़ी को सूखा दिया जाता है और vice से हटाकर ब्लेड में सेव किया जाता है | ग्रेड का चुनाव ग्रेन लाइन के परीक्षण एवं गांठ इत्यादि का मुआयना करके किया जाता है | Hockey Sticks manufacturing process में Cane handle का निर्माण अलग से किया जाता है और उसके बाद इन दोनों vice में गोंड लगाकर एवं रस्सी की मदद से एक दुसरे में बाँध दिया जाता है | उसके बाद इस छड़ी को सूखा लिया जाता है और एमरी कागज इत्यादि लपेट दिया जाता है उसके बाद इस पर कपड़ा या सुतली इत्यादि लपेटा जाता है और Chew paint लगाकर चर्मपत्र चिपका दिया जाता है | उसके बाद टॉवेल या leather ग्रिप हैंडल पर फिट कर दी जाती है | और ब्लेड पर Lacquer Polish इत्यादि की जाती है |

यह भी पढ़ें

क्रिकेट बॉल बनाने के बिज़नेस की जानकारी.

क्रिकेट बैट बनने के बिज़नेस की जानकारी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: