Home Loan । होम लोन क्या है और कैसे अप्लाई करें.

Home Loan एक ऐसा ऋण है जिसकी आवश्यकता ऐसे लोगों को होती है जो अपने लिए घर खरीदने के इच्छुक रहते हैं । अधिकतर लोगों का सपना उस शहर में जहाँ वे रहते हैं खुद का घर लेने का होता है लेकिन वर्तमान में अधिकतर लोगों की कमाई इतनी नहीं होती है की वे एकमुश्त पैसे जुटाकर अपने लिए घर खरीद सकें । यही कारण है की ऐसे लोग वित्तीय संस्थानों से होम लोन लेना पसंद करते हैं । लेकिन चूँकि Home Loan के तौर पर बैंकों या वित्तीय संस्थानों को एक बड़ी धनराशि ऋण लेने वाले को देनी होती है इसलिए होम लोन देने से पहले बैंक एवं वित्तीय संस्थान ऋण लेने वाले को अनेकों कसौटियों पर तौलते हैं ताकि उनका पैसा डूबे नहीं । कहने का अभिप्राय यह है की भारत में घर लेने के लिए ऋण लेना आसान काम बिलकुल भी नहीं है इसके लिए ऋण लेने वाले को अनेकों औपचारिकताओं से होकर गुजरना पड़ सकता है । वर्तमान में औद्योगिकीकरण के चलते एक शहर में बहुत सारे लोग या अधिकतर लोग ऐसे होते हैं जो रोजी रोटी की तलाश में उस शहर में आये होते हैं और वे लोग अधिकतर किराये पर रहते हैं। ऐसे में उनकी कमाई सिमित होने के कारण वे अपनी बचत में से इतना पैसा एकत्रित कर पाने में अक्षम होते हैं की वे अपने लिए घर खरीद सकें या प्लाट खरीदकर घर बनवा सके ऐसे में वे अपने घर के सपने को पूरा करने के लिए Home Loan लेने हेतु बैंकों या अन्य वित्तीय संस्थानों की शरण में जाना पसंद करते हैं। हालांकि यह जरुरी नहीं है की जो भी व्यक्ति होम लोन लेने के लिए बैंकों या अन्य हाउसिंग फाइनेंसिंग कम्पनियों के पास गया तो उसे लोन मिल ही जायेगा। बल्कि होम लोन लेने के लिए अनेकों औपचारिकताओं पर खरा उतरने की आवश्यकता हो सकती है। इसलिए आज हम हमारे इस लेख के माध्यम से Home Loan के बारे में सम्पूर्ण जानकारी देने की कोशिश कर रहे हैं।

home-loan-kya-hai

होम लोन क्या है (What is Home Loan in Hindi):  

जैसा की आप सबको विदित है की होम या हाउस का हिंदी में अर्थ घर होता है और लोन का ऋण इसलिए किसी बैंक या अन्य वित्तीय संस्थान द्वारा घर, फ्लैट खरीदने के लिए दिया जाने वाला लोन Home Loan कहलाता है। इसके अलावा एक होम लोन का अर्थ उस राशि से लगाया जा सकता है जो किसी व्यक्ति द्वारा घर या फ्लैट खरीदने हेतु किसी बैंक या अन्य ऐसी कंपनी जो धन उधार देने का काम करती हों, से हर महीने ईएमआई के साथ ब्याज की एक निश्चित दर पर उधार ली जाती है। चूँकि आम तौर पर यह राशि बड़ी होती है इसलिए बैंक या उधार देने वाली कंपनी द्वारा सिक्यूरिटी के तौर पर उधारकर्ता की कुछ सम्पति रखी जाती है । ताकि यदि किसी कारणवश उधारकर्ता बैंक या कंपनी का उधार चुकता कर पाने में असमर्थ हो तो बैंक या उधार देने वाली कंपनी सिक्यूरिटी के तौर पर रखी सम्पति को बेचकर अपना कर्ज वसूल कर सके।

कौन कौन ले सकता है Home Loan:  

ऐसे लोग जो खुद का घर या फ्लैट बनाने की खरीदने की या खरीदने की सोच रहे हों वे Home Loan के लिए अप्लाई कर सकते हैं लेकिन यह जरुरी नहीं है की हर आवेदनकर्ता का होम लोन स्वीकृत ही कर लिया जायेगा । वह इसलिए क्योंकि अलग अलग बैंकों एवं उधार देने वाली अलग अलग कंपनियों की इस बाबत शर्तें एवं नियम अलग अलग होते हैं । वर्तमान में लोगों द्वारा विशेष तौर पर बैंकों से ही Home Loan लिए जाते हैं । इसलिए सभी बैंकों का अपना अलग अलग Eligibility Calculator यानिकी पात्रता गणक होता है । इसलिए नीचे हम कुछ ऐसे ही नियम एवं शर्तों का उल्लेख कर रहे हैं जो होम लोन लेने वाले व्यक्ति की पात्रता को प्रभावित करते हैं ।

Home Loan के लिए पात्रता सम्बन्धी नियम:   

जैसा की हम उपर्युक्त वाक्य में भी बता चुके हैं की Home Loan हेतु आवेदन करने के लिए हर व्यक्ति स्वतंत्र है लेकिन बैंक या हाउस फाइनेंसिंग कंपनीयों द्वारा सिर्फ उन्ही को होम लोन दिया जाता है जो इसके लिए पात्र हों । आवेदनकर्ता की पात्रता की गणना के लिए हर बैंक का अपना Home Loan Eligibility Calculator होता है । इसमें लोन लेने के इच्छुक व्यक्ति से अनेकों सवाल पूछे जाते हैं जिसका सही सही जवाब व्यक्ति को देना होता है । होम लोन की पात्रता को प्रभावित करने वाले कुछ मुख्य कारक इस प्रकार से हैं।

  • जिस बैंक में व्यक्ति का पहले से खाता विद्यमान हो अगर उसी बैंक से होम लोन लेने के लिए अप्लाई किया जाता है तो मौजूदा रिलेशनशिप को देखते हुए लोन स्वीकृत होने में मदद हो सकती है।
  • Home Loan हेतु आवेदन करने के लिए आवेदनकर्ता की उम्र कम से कम 18 वर्ष एवं अधिक से अधिक 70 वर्ष होनी चाहिए हालांकि यह सब रोजगार के प्रकार पर निर्भर करता है।
  • ऐसे लोग जिनकी वार्षिक कमाई कम से कम 6-7 लाख रूपये हो, को होम लोन मिलने में आसानी होती है इन्हें इनकी शुद्ध कमाई पर औसतन 50% तक ईएमआई की पेशकश की जाती है।
  • आम तौर पर बैंकों द्वारा बेरोजगार व्यक्ति को होम लोन नहीं दिया जाता है बाकी सभी प्रकार के रोजगार चाहे व्यक्ति वेतन पाने वाला हो, खुद का बिज़नेस करने वाला हो, रिटायर्ड हो या फिर अन्य किसी काम में रोजगारित हो, को वरीयता दी जाती है।
  • ऐसे व्यक्ति जिन्हें खुद का बिज़नेस या नौकरी करते हुए एक साल से अधिक का समय हो गया हो को प्रमुखता दी जाती है।
  • कोई भी व्यक्ति चाहे वह खुद के घर में रह रहा हो या फिर किराये के घर में Home Loan के लिए आवेदन कर सकता है।
  • आवेदनकर्ता का क्रेडिट स्कोर अच्छा होना चाहिए अगर आप भी चाहते हैं की आपका क्रेडिट स्कोर अच्छा रहे तो अपने से जुड़े हर बिल चाहे वह क्रेडिट कार्ड का बिल हो, फोन का बिल हो, ईएमआई हो या अन्य कोई, का समय से भुगतान अवश्य करें।
  • सिक्यूरिटी के तौर पर रखी जाने वाली सम्पति का प्रकार भी Home Loan की पात्रता को प्रभावित करता है।

होम लोन अप्लाई करने से पहले क्या करें (What to do before applying home loan in Hindi):

Home Loan के लिए अप्लाई करने से पहले व्यक्ति को विभिन्न बातों का ध्यान रखना बेहद जरुरी है ताकि वह अपनी खून पसीने की कमाई को सही ढंग से खर्च कर सके। इसलिए सही होम लोन का चुनाव करने के लिए व्यक्ति को निम्नलिखित बातों का अनुसरण करना बेहद जरुरी हो जाता है।

  • व्यक्ति को बैंक द्वारा निर्धारित प्रोसेसिंग शुल्क पर मोलभाव करना चाहिए।
  • ध्यान रहे ब्याज दरें भी अलग अलग बैंकों में अलग अलग होती हैं इसलिए यह भी मोलभाव योग्य होती हैं।
  • चूँकि फ्लोटिंग लोन की तुलना में फिक्स्ड लोन पर 1-2.5% तक ब्याज दरें उच्च होती हैं इसलिए बैंकों द्वारा कोशिश की जाती है लोग फिक्स्ड दरों पर लोन लें। इसलिए व्यक्ति को यह खुद तय करना चाहिए की उसके लिए कौन सा लोन उपयुक्त रहेगा।
  • गैर बैंकिंग कंपनियों द्वारा बैंकों की तुलना में अधिक ब्याज लिया जाता है इसलिए व्यक्ति को किसी राष्ट्रीयकृत बैंक से ही होम लोन के लिए अप्लाई करना चाहिए ।
  • हालांकि बैंकों द्वारा आवश्यक दस्तावेजों की लिस्ट लोन लेने वाले व्यक्ति को पहले ही बता दी जाती है लेकिन यदि ऐसा न हो तो व्यक्ति को बैंक से इस बारे में जानकारी अवश्य लेनी चाहिए।
  • Home Loan लेने वाले व्यक्ति को बैंक से यह अवश्य पता करना चाहिए की उसे कितना लोन मिल सकता है और उसकी मासिक किस्त कितनी होगी।
  • लोन की किस्त का भुगतान देरी से होने पर पेनल्टी कितनी रहेगी।
  • इन सबके अलावा होम लोन स्वीकृत होने में लगने वाले समय, लोन अमाउंट को किसी अन्य बैंक के खाते में ट्रान्सफर कर सकते हैं या नहीं इत्यादि बातों के बारे में भी पता किया जा सकता है।

Home Loan एवं EMI की गणना:

जहाँ तक सवाल Home Loan की गणना का होता है यह बैंक का अन्दुरुनी मामला होता है लेकिन किस व्यक्ति को कितना लोन मिल सकता है यह सब अनेक कारकों जैसे व्यक्ति की कमाई, उम्र, उस पर जिम्मेदारियां एवं सिक्यूरिटी के तौर पर रखी जाने वाली सम्पति के मूल्य पर निर्भर करता है। कहने का अभिप्राय यह है की यदि व्यक्ति पर पहले से किसी प्रकार का कोई कर्ज नहीं है तो इस स्थिति में उसकी कुल कमाई का 50-60% तक की ईएमआई लोन व्यक्ति को मिल सकता है। और जब व्यक्ति को यह पता लग जाता है की उसे कितने तक का लोन, कितने समय के लिए, कितने प्रतिशत ब्याज की दर से दिया जा रहा है तो वह खुद भी Home Loan EMI Calculator की मदद से ईएमआई की गणना कर सकता है। या फिर बैंक से इसके बारे में पता कर सकता है।

Home Loan के लिए आवश्यक दस्तावेज:

यद्यपि अलग अलग बैंकों एवं उधार देने वाली अलग अलग कंपनियों में मांगी जाने वाली दस्तावेजों की लिस्ट अलग अलग हो सकती है। लेकिन यहाँ पर हम ऐसे दस्तावेजों की लिस्ट पेश कर रहे हैं जो आम तौर Home Loan Apply करते समय मांगे जाते हैं।

  • आवेदनकर्ता की फोटो के साथ होम लोन एप्लीकेशन
  • पहचान प्रमाण जैसे वोटर आईडी कार्ड/पासपोर्ट/ आधार कार्ड/ पैन कार्ड इत्यादि
  • निवास प्रमाण जैसे पासपोर्ट/वोटर आईडी/ड्राइविंग लाइसेंस/पानी बिल/ बिजली बिल/लीज़ एग्रीमेंट
  • आय प्रमाण के तौर पर वेतन पाने वाले लेटेस्ट तीन महीने की सैलरी स्लिप दिखा सकते हैं, जबकि स्वरोजगारित लोग लेटेस्ट तीन से छह महीने की बैंक स्टेटमेंट की कॉपी जमा करा सकते हैं।
  • कर प्रमाण के तौर पर वेतन पाने वाले व्यक्तियों को Form 16 एवं स्वरोजगारित लोगों को ITR Form की कॉपी जमा करनी पड़ सकती है।
  • रोजगार प्रमाण के तौर पर वेतन पाने वाले व्यक्तियों को रोजगार सर्टिफिकेट और खुद का बिज़नेस करने वाले लोगों को बिज़नेस से सम्बंधित लीगल डॉक्यूमेंट जैसे MOA, Partnership Deed इत्यादि जमा करनी पड़ सकती है।
  • प्रॉपर्टी के दस्तावेज जमा करने पड़ सकते हैं।
  • प्रोसेसिंग शुल्क का चेक जमा करना पड़ सकता है।

होम लोन के लिए अप्लाई कैसे करें (How to apply for home loan in Hindi):

जैसा की हम उपर्युक्त वाक्य में भी बता चुके हैं की भारत में कोई भी व्यक्ति किसी भी बैंक या हाउसिंग फाइनेंसिंग कंपनी में Home Loan के लिए अप्लाई कर सकता है। लेकिन आवेदन करने से पहले व्यक्ति को अपनी Eligibility उस बैंक की वेबसाइट पर दिए गए Eligibility Calculator के माध्यम से जरुर चेक करनी चाहिए। आइये जानते हैं होम लोन आवेदन करने के स्टेप बाई स्टेप प्रक्रिया के बारे में ।

  • जिस बैंक से आप Home Loan लेने की सोच रहे हैं उस बैंक का नाम गूगल में लिखकर आगे Eligibility Calculator लिखकर सर्च करें और उसमे पूछे गए प्रश्नों का सही सही जवाब भरें और अपनी पात्रता चेक करें।
  • पात्रता चेक करने के बाद यदि आप अपने आपको पात्र पाते हैं तो आप समबन्धित बैंक की किसी भी शाखा में जाकर सम्बंधित विभाग से संपर्क करके आगे की जानकारी ले सकते हैं।
  • जब आप बैंक से अपने सारे संदेह स्पष्ट कर लेते हैं तो बैंक द्वारा आपको एक Home Loan Application दी जाती है जो एक समयावधि के अंतर्गत भरकर आपको अन्य आवश्यक दस्तावेजों के साथ बैंक में जमा करानी पड़ती हैं ।
  • आवेदन पत्र एवं अन्य जरुरी दस्तावेज बैंक में जमा हो जाने के बाद बैंक के अधिकारी उन दस्तावेजों को वेरीफाई करते हैं और इस निर्णय पर पहुँच पाते हैं की व्यक्ति को लोन देना है या नहीं, देना है तो फिर कितना देना है इत्यादि।
  • वर्तमान में Home Loan के लिए ऑनलाइन भी आवेदन किया जा सकता है इसके लिए ऋण लेने के इच्छुक व्यक्ति को अपनी सारी डिटेल्स ऑनलाइन ही सबमिट करानी पड़ती है। और जरुरी हो तो बैंक द्वारा उस सम्बंधित व्यक्ति को अपने कार्यालय में बुलाया जा सकता है।

वर्तमान में भारत सरकार की योजना प्रधानमंत्री आवास योजना क्रियान्वित है जिसके अंतर्गत जरुरतमंदों को कुछ नियम शर्तों के मुताबिक Home Loan पर Subsidy देने का भी प्रावधान किया गया है। घर मनुष्य की मूलभूत आवश्यकताओं में से एक है इसलिए अपना घर खरीदने या बनाने के लिए लोग हमेशा प्रयासरत रहते हैं । ऐसे में बैंकों एवं अन्य वित्तीय संस्थानों द्वारा दिए जाने वाले Home Loan लोगों को घर लेने के लिए प्रोत्साहित करते हैं।

यह भी पढ़ें

About Author:

मित्रवर, मेरा नाम महेंद्र रावत है | मेरा मानना है की ग्रामीण क्षेत्रो में निवासित जनता में अभी भी जानकारी का अभाव है | इसलिए मेरे इस ब्लॉग का उद्देश्य बिज़नेस, लघु उद्योग, छोटे मोटे कांम धंधे, सरकारी योजनाओं, बैंकिंग, कैरियर और अन्य कमाई के स्रोतों के बारे में, लोगो को अवगत कराने से है | ताकि कोई भी युवा अपने घर से रोजगार के लिए बाहर कदम रखने से पहले, एक बार अपने गृह क्षेत्र में संभावनाए अवश्य तलाशे |

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *