गली मोहल्लों में स्थित Light Shop की बात करें तो इनमें सिर्फ कुछ आधारभूत लाइट जैसे CFL, LED Bulb ही मिल पाते हैं। जो आम तौर पर वहां के निवासियों को अपने घरों में लगाने के लिए चाहिए हो सकती हैं। लेकिन जब बात बड़े बड़े कार्यालयों, बिल्डिंगों, भवनों इत्यादि में लाइट लगाने की बात आती हैं तो यहाँ विशेष प्रकार की लाइट लगायी जाती है। कार्यालयों में अक्सर छत पर एक दूरी निश्चित करके लाइटिंग का कार्य बड़ी कुशलता से किया जाता है।

ताकि कर्मचारियों को अपना काम करने में कोई परेशानी न हो। ठीक इसी प्रकार जब किसी संभ्रांत परिवार अपने रहने के लिए खुद के आवास का निर्माण करवाता है तो उसमें भी घर की लाइटिंग को विशेष महत्व दिया जाता है और तरह तरह की महंगी लाइट को लगाने की माँग की जाती है। इस प्रकार की लाइट को खरीदने के लिए लोग विशेष तौर पर Light Shop पर ही जाना पसंद करते हैं अर्थात एक ऐसी दुकान जहाँ पर विशेष एवं प्राथमिक रूप से लाइट ही बिकती हों।

वैसे देखा जाय तो प्रकाश अर्थात लाइट का महत्व मनुष्य जीवन में हमेशा से महत्वपूर्ण रहा है लेकिन वर्तमान में लोग घरों एवं कार्यालयों को सजाने एवं आकर्षक बनाने के लिए भी लाइटिंग का इस्तेमाल कर रहे हैं। शहरों में अधिकतर ऐसी ऐसी बिल्डिंग एवं भवन होते हैं जहाँ पर प्राकृतिक प्रकार अर्थात सूर्य का प्रकाश नहीं पहुँच पाता है ऐसे में उन भवनों एवं बिल्डिंगों में नई नई एवं अधिक रौशनी प्रदान करने वाली लाइट का उपयोग किया जाता है।

इसके अलावा लोग विभिन्न आयोजनों जैसे शादी, सालगिरह, जन्मदिन पार्टी इत्यादि में घरों एवं कार्यालयों को सजाना पसंद करते हैं और इस सजावट में भी Decorative Lights का इस्तेमाल बड़े पैमाने पर किया जाता है। ऐसे में ऐसे लोग जिन्हें इस प्रकार के व्यापार में रूचि एवं लागत वहन करने की क्षमता है उनके लिए Light Shop Business शुरू करना काफी लाभकारी हो सकता है।

Light Shop Business Kaise start kare

लाइट की दुकान क्या होती है (What is Light Shop in Hindi)

लाइट की दुकान भी अन्य दुकानों की एक तरह एक दुकान है लेकिन इसकी विशेषता यह है की यहाँ से ग्राहक अपनी आवश्यकतानुसार लाइट खरीद सकता है। यानिकी एक ऐसी दुकान जो अपने ग्राहकों को हर प्रकार की छोटी बड़ी सामान्य एवं सजावटी लाइट बेच रही हो उसे Light Shop कहा जा सकता है। अपनी इस दुकान के माध्यम से उद्यमी न केवल लाइटें बेच रहा होता है।

बल्कि अपने ग्राहकों के घरों में जाकर लाइट लगाने, उन्हें बदलवाने, नई बिल्डिंग भवनों में लाइट लगवाने, किसी इवेंट इत्यादि में डेकोरेटिव लाइट लगवाने इत्यादि गतिविधियाँ भी कर रहा होता है। इसके अलावा उद्यमी अपने ग्राहकों की माँग एवं अपने संसाधनों के आधार पर यह भी फैसला ले सकता है की वह अपने ग्राहकों को लाइट एवं इसकी सहायक गतिविधयों से सम्बंधित और क्या क्या सर्विसेज ग्राहकों को दे सकता है।

लाइट बिक्री की संभावनाएं

वैसे देखा जाय तो लाइट तो हर घर, भवन, बिल्डिंग, सड़कों इत्यादि पर लगी हुई होती है वर्तमान में लाइट के बिना मनुष्य के जीवन में अँधेरे के सिवा कुछ नहीं रहेगा। यही कारण है की लोग अपने घरों, कार्यालयों, गली, मोहल्लों में लाइट की अच्छी व्यवस्था चाहते हैं। सभी जगह लाइट लगे होने के कारण हर रोज बड़ी मात्रा में लाइटें ख़राब भी होती हैं जिनके बदले फिर से नई लाइट लगाने की आवश्यकता होती है।

इसके अलावा नए घरों, भवनों, कार्यालयों एवं अन्य प्रोजेक्ट के निर्माण में भी लाइट लगाने की आवश्यकता होती है। यही कारण है की वर्तमान में Light Shop की मांग लगभग हर जगह व्याप्त है, लेकिन यहाँ पर यह बात भी स्पष्ट कर देना बहुत जरुरी है की शहरों में, औद्योगिक गतिविधियाँ अधिक होती हैं तो यहाँ कार्यालयों, भवनों, सड़कों की संख्या भी अधिक होती हैं।

कहने का आशय यह है की शहरों में नई एवं महंगी लाइट लगाने वाले ग्राहक ग्रामीण इलाकों की तुलना में अधिक होते हैं। ग्रामीण इलाकों में तो लोग आज भी पारम्परिक लाइट एवं बल्बों का इस्तेमाल करते हैं और इनकी मांग उस एरिया में स्थित इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों की दुकान द्वारा पूरी कर ली जाती हैं। इसलिए हो सकता है की ग्रामीण इलाकों में Light Shop Business शुरू करना कमाई की दृष्टी से उपयुक्त न हो।  

जबकि शहरों में अनेक प्रकार की लाइट जैसे Incandescent bulbs, Halogen bulbs, Light emitting diodes (LEDs), Compact fluorescent lamps (CFLs), Linear fluorescent lamps, High intensity discharge (HID) lamps, Metal halide bulbs, High-pressure sodium (HPS) bulbs, Mercury vapour bulbs इत्यादि लगभग सभी के बिकने की संभावना होती है। कहने का आशय यह है की हर प्रकार के कंस्ट्रक्शन कार्य को पूर्ण करने के लिए लाइटों की आवश्यकता होती ही होती है ।

हाँ लेकिन उद्यमी को Light Shop Business की सफलता के लिए एक बेहद अच्छी लोकेशन का चुनाव करना होता है, जहाँ पर उसकी लाइट को खरीदने वाले लोगों की संख्या में कोई कमी न हो।

लाइट की दुकान का व्यापार कैसे शुरू करें (How to Start a Light Shop Business)

हालांकि छोटे स्तर पर Light Shop Business शुरू करना बेहद आसान है, लेकिन वह तब जब उद्यमी मात्र कुछ सस्ती एवं सजावटी लाइट को अपनी दुकान का हिस्सा बना रहा हो। यदि उद्यमी चाहता है की वह वर्तमान चलन के आधार पर वह भी बड़ी बड़ी बिल्डिंग, भवनों, कार्यालयों की मांग को ध्यान में रखते हुए इस व्यापार को शुरू करे, तो उसे एक एक गतिविधि को बड़ी सावधानी के साथ पूरा करके आगे बढ़ना होगा।

और कोई दो राय नहीं की, उसे इस स्थिति में टैक्स रजिस्ट्रेशन एवं बिजनेस को वैधानिक स्वरूप भी प्रदान करने की आवश्यकता हो सकती है। और बिजनेस को शुरू करने में आने वाली लागत भी बेहद अधिक बढ़ सकती है। तो आइये जानते हैं की कैसे कोई व्यक्ति खुद की Light Shop शुरू कर सकता है।

1. एरिया में लाइट की माँग का जायजा करें

Light Shop business शुरू करने से पहले यह बेहद जरुरी हो जाता है की उद्यमी जिस एरिया में यह व्यापार शुरू करना चाहता है। उस एरिया विशेष में सबसे पहले इस बात का पता लगाने की कोशिश करे की वहां पर किस प्रकार के लाइट की मांग अधिक है। इसका पता लगाने के लिए उद्यमी उस एरिया में बने मकान, भवनों, बिल्डिंग इत्यादि का मुआयना कर सकता है जी हाँ क्योंकि लाइट की खरीदारी में स्थानीय आवासीय व्यवस्था का अहम योगदान होता है।

क्योंकि अक्सर लाइट ख़राब होती रहती हैं, और लोग उस बिल्डिंग या भवन में जो लाइट लगी हुई हो उसे ही लगाना पसंद करते हैं। यदि उस एरिया विशेष में कार्यालयों की संख्या अधिक है, तो छत में लगने वाली लाइट के बिकने की संभावना अत्यधिक है। इसके अलावा यदि उद्यमी किसी आयोजन इत्यादि में भी लाइट सर्विस प्रदान करने की योजना बना रहा है, तो उसे विभिन्न डेकोरेटिव लाइट को भी अपने Light Shop Business का हिस्सा बनाना होगा।        

2. अच्छी लोकेशन पर जगह का चयन करें (Select a good Location to Open Light Shop)

अच्छी लोकेशन से आशय एक ऐसी लोकेशन से है, जो मुख्य सड़क के समीप हो और जहाँ से ग्राहक दुकान को स्पष्ट एवं साफ़ तौर पर देख सके। इसके अलावा वह लोकेशन किसी भी आधारभूत सुविधा, सड़क, बिजली, पानी इत्यादि से वंचित नहीं हो। या फिर अच्छी लोकेशन में स्थानीय बाजार या कोई प्रसिद्ध बाजार का वह हिस्सा भी शामिल हो सकता है, जहाँ पर अक्सर लोग अपनी इलेक्ट्रिक एवं इलेक्ट्रॉनिक आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए आते हों।

और बाजार का वह हिस्सा इन सब वस्तुओं को बेचने के लिए प्रसिद्ध हो। बाजार के उस हिस्से में भी Light Shop Open करना व्यापारिक दृष्टी से लाभकारी हो सकता है। जहाँ तक जगह का सवाल है, यह भी उद्यमी की योजना पर ही निर्भर करता है की वह अपने बिजनेस को किस आकार के साथ शुरू करना चाहता है।

जहाँ फैंसी, डेकोरेटिव एवं बड़ी लाइट को दुकान का हिस्सा बनाने के लिए  कम से कम 400-500 स्क्वायर फीट जगह की आवश्यकता हो सकती है वही छोटे स्तर पर यह दुकान 10×10 की एक दुकान किराये पर लेकर भी शुरू की जा सकती है। उद्यमी को इतना अवश्य ध्यान रखना होता है की, वह दुकान या जगह किराये पर लेते वक्त लीज या रेंट एग्रीमेंट अवश्य बना ले, ताकि इस दस्तावेज का इस्तेमाल पता प्रमाण के तौर पर किया जा सके।       

3. स्थानीय नियम कानूनों का अनुसरण करें

छोटे स्तर पर Light Shop Business शुरू करने अर्थात लाइट बेचने के लिए किसी प्रकार के लाइसेंस एवं रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता नहीं होती है। लेकिन यह भी सत्य है की, बहुत सारे रजिस्ट्रेशन जैसे जीएसटी रजिस्ट्रेशन इत्यादि इस बात पर निर्भर करते हैं की, उद्यमी के व्यापार का सालाना टर्नओवर क्या है।

यदि उद्यमी महंगी एवं फैंसी लाइट को अपनी दुकान का हिस्सा बनाने की योजना बना रहा है, तो हो सकता है की उसे एक कोई बड़ा प्रोजेक्ट मिलते ही उसका टर्नओवर टैक्स रजिस्ट्रेशन में मिली छूट की सीमा को पार कर जाय। इसलिए बेहतर तो यही होता है की उद्यमी भले ही और कुछ रजिस्ट्रेशन करे या न करे, लेकिन टैक्स रजिस्ट्रेशन अपने व्यवसाय का पहले ही अवश्य करा ले।

इसके अलावा विभिन्न राज्यों में इस व्यवसाय को स्थानीय प्राधिकरण जैसे नगर निगम या पुलिस विभाग से भी लाइसेंस लेकर शुरू किया जा सकता है। इसलिए बेहतर यही होगा की उद्यमी इस बात का पता लगाये की उस स्थान विशेष में Light Shop Business शुरू करने के लिए, उसे किन किन लाइसेंस एवं पंजीकरण की आवश्यकता हो सकती है।    

4. लाइट सप्लायर का चुनाव करें (Select Supplier for Your Light Shop):

लाइट सप्लायर का चुनाव करने से पूर्व उद्यमी को एक लिस्ट तैयार कर लेनी चाहिए, जो लाइट वह अपनी दुकान के लिए खरीदना चाहता है। अर्थात जिन लाइट को उसे लगता है की वह उस एरिया में आसानी से बेच पाने में सफल हो पायेगा। सप्लायर का चुनाव करने के लिए उद्यमी चाहे तो उस एरिया में पहले से स्थित किसी अन्य Light Shop से भी मदद ले सकता है अर्थात वह उस उद्यमी से यह जान सकता है की इस एरिया में लाइट सप्लाई करने वाले कितने सप्लायर उपलब्ध हैं ।

और उसके लिए कौन सा सप्लायर उपयुक्त होगा, हालांकि यह भी हो सकता है की उद्यमी को एक से अधिक सप्लायर की नियुक्ति भी करनी पड़ जाय। क्योंकि हो सकता है सभी प्रकार की लाइट एक ही सप्लायर के पास न मिले। उद्यमी चाहे तो ऑनलाइन पोर्टलों के माध्यम से भी सप्लायर का चुनाव करने की कोशिश कर सकता है।  

लेकिन उसे एक बात सुनिश्चित करनी होगी, की वे उस एरिया में डिलीवरी इत्यादि के लिए तैयार हों। Light Shop Business के लिए सप्लायर का चुनाव करने में ऑफर की गई कीमत तो विशेष योगदान निभाती ही है। साथ में डिलीवरी शेड्यूल, माल की उपलब्धता, सप्लायर का व्यापारिक रिकॉर्ड इत्यादि भी बेहद महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।   

5. कर्मचारियों की नियुक्ति करें

Light Shop Business उद्यमी का तभी सफल हो सकता है, या तो उद्यमी खुद इलेक्ट्रीशियन यानिकी लाइट फिटिंग इत्यादि करना जानता हो, या फिर वह अपनी दुकान में ऐसे स्टाफ की नियुक्ति करे जिन्हें लाइट फिटिंग इत्यादि में दक्षता प्राप्त हो।

कहने का आशय यह है की यदि उद्यमी चाहता है की वह फैंसी, डेकोरेटिव लाइट लगाने का काम अनेकों प्रकार के आयोजन में भी कर सके तो उसे अपनी दुकान में कुछ दक्षता प्राप्त कर्मचारियों की नियुक्ति करनी होगी।

स्थायी तौर पर उद्यमी चाहे तो केवल दो स्टाफ को ही नियुक्त कर सकता है, और बाकी लोगों को काम मिलने पर दिहाड़ी के हिसाब से काम पर रख सकता है। आम तौर पर शादी एवं अन्य आयोजनों में लाइट लगाने के लिए उद्यमी को अनेकों दिहाड़ी मजदूरों को काम पर रखने की आवश्यकता हो सकती है।   

6. काम करें और कमायें (Start Your Earning From Light Shop Business)

जब भी हमारे घर या कार्यालय की कोई लाइट ख़राब होती है, तो हम सबसे पहले इलेक्ट्रीशियन को बुलाकर ही उससे सुझाव लेना पसंद करते हैं। इसलिए Light Shop Business शुरू करने वाले उद्यमी को उस एरिया में इलेक्ट्रीशियन का काम करने वाले लोगों से अच्छे संपर्क साध के रखना अत्यंत आवश्यक होता है। कभी कभी मकान या बिल्डिंग के मालिक खुद लाइट खरीदकर इलेक्ट्रीशियन को लगाने के लिए कहते हैं, तो वहीँ कभी इलेक्ट्रीशियन ही लाइट खरीदकर लगवा देते हैं और उसका पेमेंट बिल्डिंग या घर के मालिक से ले लेते हैं।

ऐसे में यदि Light Shop Business करने वाला उद्यमी लोगों को उसकी दुकान से लाइट खरीदने पर, मुफ्त में लगाने का ऑफर देता है।  तो इसमें कोई दो राय नहीं की लोग उसी की दुकान से लाइट खरीदना पसंद करेंगे। इसके अलावा उद्यमी चाहे तो ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए अन्य व्यवहारिक आईडिया भी अपना सकता है।

इलेक्ट्रीशियन के अलावा उस एरिया में बिल्डिंग बनाने वाले बिल्डर, ठेकदार इत्यादि के साथ भी यदि उद्यमी अच्छे सम्बन्ध स्थापित कर पाता है, तो उसके Light Shop Business के लिए यह बेहद लाभकारी हो सकता है।  

यह भी पढ़ें

Leave a Reply

Your email address will not be published

error: