Mudra card क्या है? कैसे काम करता है? नियम कायदे एवं फायदे

बात जब Mudra Card की हो रही हो तो आपको बता देना चाहेंगे की भारत सरकार द्वारा छोटे मोटे बिज़नेस को प्रोत्साहित करने के लिए प्रधानमंत्री मुद्रा योजना की शुरुआत की गई थी | यह योजना अब भी सुचारू रूप से देश भर में क्रियान्वित है | इसलिए जब किसी व्यक्ति द्वारा प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत लोन लिया जाता है तो उसे सम्बंधित वित्तीय संस्थान द्वारा Mudra Card भी दिया जाता है | इस मुद्रा कार्ड के माध्यम से व्यक्ति जब चाहे स्वीकृत हुए लोन के पैसे एटीएम से निकाल सकता है | लेकिन एटीएम के माध्यम से Mudra Card को उपयोग में लाने के लिए कुछ अन्य नियमों का प्रावधान भी है जैसे इस कार्ड के माध्यम से ऋण में स्वीकृत हुए कुल राशि का उपयोग नहीं किया जा सकता है और इस कार्ड की यह भी खासियत है की यह हर ऋणदाता को मिलता भी नहीं है | कहने का आशय यह है की Mudra Card सम्बन्धी अलग से नियम कायदे एवं विशेषताएं हैं जिनका उल्लेख हम अपने इस लेख के माध्यम से करेंगे | यद्यपि अपने इस लेख के माध्यम से न केवल मुद्रा कार्ड की विशेषताओं एवं नियम कायदों के बारे में जानने की कोशिश करेंगे बल्कि यह क्या है? कैसे जारी किया जाता है? किस किस को जारी किया जाता है? इसके फायदे क्या हैं? इत्यादि के बारे में भी जानने की कोशिश करेंगे तो आइये सबसे पहले यही जान लेते हैं की मुद्रा कार्ड है क्या?

Mudra-card-kya-hai

मुद्रा कार्ड क्या है? (What is Mudra Card in Hindi):

एटीएम कार्ड के बारे में तो आप सब अच्छी तरह जानते होंगे इसलिए आपको सरल शब्दों में बता देना चाहेंगे की Mudra Card भी एटीएम कार्ड की तरह ही होता है | और इसकी कार्यप्रणाली भी डेबिट कार्ड की तरह होती है जिस तरह से एटीएम कार्ड को एटीएम में पैसे निकालने के उपयोग में लाया जाता है | ठीक इसी प्रकार Mudra Card को भी लोन के एक हिस्से की राशि को एटीएम से निकालने के उपयोग में लाया जाता है |

मुद्रा कार्ड कैसे काम करता है? (How Mudra Card Works):

अब तक आपके समझ में यह तो आ गया होगा की Mudra Card का उपयोग एटीएम से पैसे निकालने में किया जाता है लेकिन अब सवाल यह उठता है की उस कार्ड में वह पैसे आते कहाँ से हैं? | होता क्या है की जैसे ही किसी भी व्यक्ति का प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के अंतर्गत लोन स्वीकृत हो जाता है उस लोन का कुछ हिस्सा Mudra card में लोड कर दिया जाता है जिसे ऋणदाता कभी भी किसी भी एटीएम से कितने भी हिस्सों में आराम से निकाल सकता है |  यह सुविधा उद्यमी को उसकी कार्यशील पूँजी की आवश्यकताओं को ध्यान में रखकर दी जाती है कार्यशील पूँजी से अभिप्राय उस पूँजी से लगाया जा सकता है | जो उद्यमी को कच्चा माल खरीदने, कर्मचारियों को वेतन देने एवं अन्य उपभोग्य वस्तुओं को खरीदने के लिए चाहिए होता है | इसलिए कहा जा सकता है की Mudra Card को छोटे मोटे व्यापारों से जुड़े उद्यमियों की तत्कालिक वित्त की आवश्यकता को पूर्ण करने हेतु निर्मित किया गया है |

किस किस को मिलता है Mudra Card:

हालांकि अपने इस लेख के शुरूआती भाग में ही हम यह स्पष्ट कर चुके हैं की प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के अंतर्गत लोन लेने वाले सभी ऋणदाताओं को Mudra Card दिए जाने का प्रावधान नहीं है | जिसका मतलब यह हुआ की कुछ ही श्रेणियों के ऋणदाताओं को यह सुविधा दी जाती है | तो आइये जानते हैं की यह मुद्रा कार्ड किस किस को मिलता है | वर्तमान में Mudra Card केवल उन लोगों को मिलता है जिन्होंने प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत एक लाख रूपये तक लोन लिया हो | एक लाख से अधिक लोन पर यह कार्ड नहीं मिलता है | मुद्रा कार्ड देने के लिए एक प्रावधान और है की मुद्रा कार्ड केवल उन व्यक्तियों को दिया जायेगा जो साक्षर हो | लेकिन मुद्रा लोन साक्षर एवं निरक्षर दोनों व्यक्तियों के लिए है इसलिए आवेदक के निरक्षर होने की स्थिति में सम्पूर्ण लोन टर्म लोन के तौर पर दिया जाता है |

मुद्रा कार्ड में लोड की जाने वाली रकम:

उपर्युक्त वाक्य में हम बता चुके हैं की मुद्रा कार्ड में कुल लोन का कुछ ही हिस्सा लोड किया जाता है लेकिन अब सवाल यह उठता है की यह कुछ अधिकतम कितना हो सकता है | कोई भी साक्षर ऋणदाता जिसने रूपये एक लाख तक का लोन प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत लिया हो अपने टोटल लोन का अधिक से अधिक केवल 20% ही मुद्रा कार्ड में लोड करा सकता है | उदाहरणार्थ: माना किसी व्यक्ति ने रूपये एक लाख का लोन लिया है तो वह मुद्रा कार्ड में केवल एक लाख का 20% यानिकी 20000 रूपये ही लोड करा सकता है | और बाकी बची हुई राशि रूपये अस्सी हज़ार ऋणदाता को टर्म लोन के रूप में जारी किया जायेगा | चूँकि एक लाख से ऊपर के ऋण पर Mudra Card जारी नहीं किया जायेगा इसलिए रूपये बीस हज़ार को मुद्रा कार्ड में लोड की जाने वाली अधिकतम रकम माना जा सकता है |

Mudra Card के नियम कायदे:

हालांकि इस लेख में हम शुरुआत से ही Mudra card के नियम एवं कायदों के बारे में जानने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन कुछ मुख्य नियम एवं कायदों की संक्षिप्त लिस्ट इस प्रकार से है |

  • मुद्रा कार्ड केवल एक लाख रूपये तक के ऋण पर ही जारी किया जाता है |
  • मुद्रा कार्ड में कुल लोन का अधिकतम केवल 20 फ़ीसदी ही लोड किया जा सकता है |
  • आवेदनकर्ता लोन के लिए अप्लाई करते समय मुद्रा कार्ड में लोड की जाने वाली रकम को बीस फ़ीसदी से अधिक बढ़ा तो नहीं सकता लेकिन कम जरुर कर सकता है |
  • टर्म लोन की राशि कुल लोन के 80 फ़ीसदी से कम नहीं हो सकती है |
  • Mudra Card से निकाला जाने वाला पैसा एक साल के अन्दर चुकता करना होता है |

Mudra Card के फायदे:

Mudra Card को इकाई की Working Capital की आवश्यकता को ध्यान में रककर बनाया गया है इसलिए इसके अनेकों फायदे हैं जिनका संक्षिप्त वर्णन हम निम्नवत करेंगे |

  • उद्यमी इस कार्ड का उपयोग कच्चा माल इत्यादि खरीदने के लिए ऑनलाइन प्लेटफार्म पर कर सकता है |
  • इस कार्ड की मदद से देश के किसी भी एटीएम से पैसे निकाले जा सकते हैं |
  • दुकान या अन्य स्टोरों से कुछ सामान खरीदने पर भी इसका इस्तेमाल किया जा सकता है |
  • इस कार्ड से ऋणदाता तभी पैसे निकालेगा जब उसको पैसो की आवश्यकता होगी इसलिए ब्याज भी उस निकाली गई रकम पर तब से ही लगेगा जब वह निकाली जाएगी | इस प्रकार ऋणदाता की ब्याज में बचत हो जाती है |
  • Mudra Card से निकाली गई राशि पर भुगतान करने की कोई किस्त नहीं होती है इसलिए आप इसे दी गई अवधि से पहले भी चुकता कर सकते हैं जिससे आप अतिरिक्त ब्याज की मार से बच जाते हैं |
  • Mudra Card का अगला फायदा यह है की इसमें कार्ड धारक को एक लाख रूपये तक का दुर्घटना एवं अपंगता बीमा सुरक्षा मिलती है | कहने का आशय यह है की कार्ड धारक के दुर्घटनाग्रस्त होने पर या स्थायी रूप से विकलांग होने की स्थिति में रूपये एक लाख बीमा सुरक्षा का प्रावधान किया गया है |

About Author:

मित्रवर, मेरा नाम महेंद्र रावत है | मेरा मानना है की ग्रामीण क्षेत्रो में निवासित जनता में अभी भी जानकारी का अभाव है | इसलिए मेरे इस ब्लॉग का उद्देश्य लघु उद्योग, छोटे मोटे कांम धंधे, सरकारी योजनाओं, और अन्य कमाई के स्रोतों के बारे में, लोगो को अवगत कराने से है | ताकि कोई भी युवा अपने घर से रोजगार के लिए बाहर कदम रखने से पहले, एक बार अपने गृह क्षेत्र में संभावनाए अवश्य तलाशे |

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *