Pizza Business Plan in Hindi. पिज्जा बनाने का व्यापार कैसे शुरू करें।

वर्तमान में मेट्रो शहरों में Pizza Business शुरू करना कमाई की दृष्टि से एक बेहद ही अच्छा विचार हो सकता है। हालाँकि धीरे धीरे पिज्जा न सिर्फ मेट्रो सिटी में रहने वाले लोगों की पसंद बनता जा रहा है । बल्कि महानगरों से लेकर नगरों छोटे छोटे शहरों में निवासित लोग भी पिज्जा खाना पसंद करने लगे हैं। इसलिए न सिर्फ मेट्रो सिटी में बल्कि अन्य छोटे बड़े शहरों में भी Pizza Business शुरू करना लाभकारी हो सकता है। पिज्जा नामक इस खाद्य पदार्थ की उत्पति पश्चिमी देशों में ही पहले हुई थी अर्थात इसका उद्गम स्थल पाश्चात्य देशों को ही माना जाता है
। यही कारण है की भारत में भी इस तरह का व्यापार करने वाली अधिकतर कम्पनियाँ विदेशी ही हैं। लेकिन चूँकि पिज्जा नामक इस खाद्य पदार्थ को भारत में भी सर्वप्रथम कामकाजी वर्ग ने काफी पसंद किया तो उन्होंने अपने कार्यालयों में इस तरह का यह भोजन मँगाना शुरू किया। और आज यदि किसी का मन घर में खाना बनाने का नहीं होता, तो उनके पास पहला विकल्प पिज्जा मँगाने का ही होता है। यही कारण है की आज इस बिजनेस में विदेशी कम्पनियों के अलावा स्थानीय उद्यमी भी स्थानीय ग्राहकों की आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए खुद का Pizza Business सफलतापूर्वक चला रहे हैं। लेकिन इन स्थानीय पिज्जा दुकानों की खास बात यह है की ये होम डिलीवरी एक निर्धारित किलोमीटर के अंतर्गत ही देते हैं। इसलिए इनके अधिकतर ग्राहक इनकी दुकान में आकर ही पिज्जा खरीदते हैं। जबकि किसी फेमस ब्रांड जैसे पिज्जा हट, डोमिनोज इत्यादि का पिज्जा लोग ऑनलाइन या फोन पर आर्डर करना पसंद करते हैं। हालांकि एक आंकड़े के मुताबिक Pizza Business में अन्य बिजनेस की तुलना में जोखिम अधिक होता है । इसलिए इस तरह के बिजनेस के लिए रणनीतिक रूप से विकसित की गई बिजनेस योजना एवं उचित बिजनेस मॉडल बेहद आवश्यक है। पिज्जा बाजार को प्रभावित करने वाले मुख्य कारक एवं चुनौतियों में खाद्य वस्तुओं की कीमतों में उतार चढ़ाव, शहरीकरण, बढती प्रतिस्पर्धा इत्यादि शामिल हैं।

Pizza-Business-kaise-shuru-kare

पिज्जा का व्यापार कैसे शुरू करें (How to Start a Pizza Business in Hindi):

Pizza Business शुरू करने वाले उद्यमी को इस तरह का यह बिजनेस शुरू करने के लिए अनेकों प्रक्रियाएं करनी पड़ सकती हैं। यद्यपि पिज्जा से सम्बंधित अनेकों बिजनेस हो सकते हैं लेकिन यहाँ पर हम Pizza Shop की बात कर रहे हैं। जहाँ पर उद्यमी पिज्जा बनाकर अपने ग्राहकों को बेच रहा होता है। इसलिए आगे इस लेख में हम इस तरह का Pizza business शुरू करने सम्बन्धी कुछ महत्वपूर्ण बातों का उल्लेख करने वाले हैं जो ऐसे उद्यमी जो पिज्जा का व्यापार शुरू करना चाहते हैं के लिए बेहद उपयोगी सिद्ध होंगे।

1. निर्णय लें फ्रैंचाइजी या खुद:

ध्यान रहे वर्तमान में भारत में भी अनेकों विदेशी कम्पनियाँ इस क्षेत्र में अपना आगमन कर चुकी हैं और भारत में अपना ब्रांड नाम भी स्थापित कर प्रसिद्ध हो चुकी हैं। इसलिए अधिकतर उद्यमी पहले से स्थापित किसी पिज्जा कंपनी की फ्रैंचाइजी लेकर Pizza Business करना पसंद करते हैं। लेकिन चूँकि इस तरह की कम्पनियों द्वारा प्रदान किये जाने वाले पिज्जा थोड़े महंगे होते हैं वह इसलिए क्योंकि इनके द्वारा अपने ग्राहकों को उच्च गुणवत्तायुक्त सर्विस देने का प्रयास किया जाता है । इसलिए हो सकता है की एक छोटे शहर में इस तरह का फ्रैंचाइजी बिजनेस करना कमाई की दृष्टी से नुकसानदेह हो। हालांकि उद्यमी चाहे तो स्थानीय मार्किट का विश्लेषण करके कहीं भी इस तरह का व्यवसाय करने की सोच सकता है। कहने का अभिप्राय यह है की जब कोई भी व्यक्ति Pizza Business करने की सोचता है तो उसके पास हमेशा दो विकल्प होते हैं। पहला यह की वह किसी प्रसिद्द पिज्जा कंपनी की फ्रैंचाइजी लेकर यह बिजनेस शुरू करे। और दूसरा यह की वह स्थानीय मार्किट को ध्यान में रखकर व्यक्तिगत तौर पर यह बिजनेस शुरू करे। इसलिए सर्वप्रथम उद्यमी को अपनी क्षमता, बजट, स्थानीय लोगों की खर्च करने की क्षमता इत्यादि को देखते हुए यही निर्णय लेना होता है की वह फ्रैंचाइजी बिजनेस करना चाहता है या फिर छोटे स्तर पर खुद की दुकान। हालांकि यहाँ पर आगे इस लेख में हम स्वतंत्र रूप से खुद का Pizza Business कैसे शुरू करें? के बारे में बात करेंगे। ध्यान रहे वर्तमान में पिज्जा पसंद करने वाले ग्राहक पिज्जा में नई नई सामग्री, विदेशी फ्लेवर जो पोषण से भरपूर एवं ग्लूटेन फ्री हों को पसंद कर रहे हैं। क्योंकि वर्तमान में लोग स्वस्थ जीवन शैली के प्रति भी काफी जागरूक हो गए हैं।

2. पिज्जा एवं सर्विस का चुनाव:

यद्यपि यदि उद्यमी फ्रैंचाइजी Pizza Business कर रहा हो तो उसे पिज्जा कंपनी के नियम एवं शर्तों का अनुसरण करना होता है इसलिए उसे पिज्जा के प्रकार एवं ग्राहकों को दी जाने वाली सर्विस का चुनाव खुद नहीं करना होता है, बल्कि कंपनी द्वारा निर्धारित शर्तों नियमों के मुताबिक बिजनेस को चलाना होता है। लेकिन यदि उद्यमी स्वतंत्र रूप से यह बिजनेस कर रहा हो तो उसे विभिन्न प्रकार के पिज्जा में से अपने बिजनेस के लिए या ग्राहकों के लिए पिज्जा का चुनाव करना होगा। इसके अलावा उद्यमी को इस बात का निर्णय भी लेना होगा की वह ग्राहकों को डिलीवरी सर्विस देना चाहता है या नहीं। यदि डिलीवरी सर्विस देना चाहता है तो वह कितने किलोमीटर के दायरे में देना चाहता है और उसके लिए कम से कम आर्डर इत्यादि की क्या शर्तें होंगी इत्यादि के बारे में भी विचार करना होगा। अपने मेनू में किसी भी पिज्जा को जगह देने से पहले स्थानीय मार्किट का विश्लेषण अवश्य कर लें और उनकी कीमत निर्धारित करने से पहले प्रतिस्पर्धा का मूल्यांकन करना भी जरुरी हो जाता है। Pizza Business शुरू करने वाले उद्यमी को इस बात का भी विशेष ध्यान रखना होगा की क्वालिटी हमेशा क्वांटिटी पर भारी होती है। इसलिए गुणवत्ता से समझौता करने की कोशिश बिलकुल नहीं करनी चाहिए।

3. पिज्जा बिजनेस की योजना बनाना (Make Pizza Business Plan):

किसी भी बिजनेस के लिए बिजनेस की योजना बेहद महत्वपूर्ण है यह योजना सिर्फ उद्यमी के दिमाग में नहीं बल्कि कागज के पन्नों पर, और कागज के पन्नों से हकीकत की जमीन पर उतरनी चाहिए । यही कारण है की Pizza Business के लिए ही नहीं अपितु सभी बिजनेस के लिए इसे सही एवं रणनीतिक तौर पर परिभाषित किया जाना चाहिए ताकि इसमें उल्लेखित बातों का अनुसरण करने में बहुत ज्यादा चुनौतियों का सामना न करना पड़े। एक बिजनेस प्लान में बिजनेस से सम्बंधित लगभग सभी बातों का उल्लेख होता है लेकिन फिर भी एक Pizza Business Plan बनाते वक्त निम्न बातों का ध्यान रखा जा सकता है।

  • ध्यान रहे यदि आप पहले से स्थापित किसी कंपनी की फ्रैंचाइजी लेना चाहते हैं तो आपको अपना बजट बहुत अधिक लेकर चलना पड़ेगा।
  • प्रोडक्ट क्वालिटी एवं उसे निरंतर बनाये रखने के लिए अलग सी योजना बनानी होगी।
  • ग्राहक के मूल्यों एवं उत्पाद की गुणवत्ता, लागत इत्यादि को ध्यान में रखकर प्रभावी ढंग से मूल्य निर्धारण करना।
  • इटालियन व्यंजनों के बारे में उचित जानकारी प्राप्त करना एवं आवश्यक मसालों के मिश्रण के बारे में जानकारी प्राप्त करना।
  • ग्राहकों को एक सभ्य एवं उत्तम दर्जे का माहौल देने के लिए इंटीरियर को सजाने की योजना।
  • दुकान की आदर्श क्षमता का निर्धारण कैसे करें।
  • उद्यमी को एक दो सालों का बजट लेकर चलना होगा, केवल पांच छह महीनों का बजट प्रावधानित करना जोखिम भरा हो सकता है।

4. उपयुक्त लोकेशन का चुनाव करें (Location for Pizza Business):

Pizza Business यानिकी पिज्जा की दुकान खोलने के लिए भी उपयुक्त लोकेशन का चुनाव करना बेहद महत्वपूर्ण होता है। इसलिए यदि उद्यमी किसी ब्रांडेड कंपनी की फ्रैंचाइजी लेकर यह बिजनेस शुरू करना चाहता है तो वह किसी ऐसे स्थान का भी चयन कर सकता है जहाँ पहले से पिज्जा स्टोर उपलब्ध हों। कहने का अभिप्राय यह है की ब्रांडेड कंपनी का पिज्जा किसी प्रतिस्पर्धात्मक एरिया में भी आसानी से बिक सकता है क्योंकि उस एरिया में पिज्जा खरीदने वाले ग्राहक पहले से मौजूद होते हैं। इसके विपरीत यदि उद्यमी स्वतंत्र तौर पर Pizza Business शुरू करना चाहता है तो उसे किसी ऐसे एरिया का चुनाव करना चाहिए जहाँ प्रतिस्पर्धा न हो अर्थात जहाँ पहले से पिज्जा स्टोर उपलब्ध न हों । आपको अपने बिजनेस के लिए ऐसी लोकेशन का चुनाव करना होगा जहाँ लोग आसानी से पहुँच सकें, सड़क से ही वह आसानी से दिख सके, और वहाँ पर पैदल चलने वाले लोगों की भीड़ भाड़ होती हो। आप रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड, एअरपोर्ट, शौपिंग माल के नज़दीक, कॉलेज या कार्यालय परिसर, एवं अन्य व्यस्त स्थानों का चयन अपने Pizza Business के लिए कर सकते हैं। ध्यान रहे लोकेशन का चयन करते समय अपेक्षित ग्राहकों का आधार ध्यान में रखना बेहद आवश्यक है। पिज्जा की दुकान खोलने के लिए उद्यमी को एक बड़ा स्थान किराये पर लेने की आवश्यकता होती है क्योंकि जगह के एक हिस्से को किचन एवं एक हिस्से को ग्राहकों को भोजन कराने के स्थान में बदलना होता है।       

5. वित्त की व्यवस्था करें:

यदि आप खुद का Pizza Business शुरू करने के लिए किसी बड़ी ब्रांड जैसे पिज्जा हट, डोमिनोज इत्यादि की फ्रैंचाइजी लेना चाहते हैं तो आपको बहुत अधिक वित्त की व्यवस्था करने की आवश्यकता होगी। क्योंकि इन ब्रांड के साथ बिजनेस शुरू करने में 2-3 करोड़ का खर्चा संभावित है। हालाँकि अलग अलग ब्रांड की फ्रैंचाइजी लेने पर अलग अलग खर्चा आ सकता है। लेकिन इतना तय है की Pizza Franchise Business शुरू करने में खुद का स्वतंत्र पिज्जा बिजनेस करने की तुलना में कई गुना अधिक निवेश की आवश्यकता होती है। उद्यमी खुद का पिज्जा ब्रांड स्थापित करके किसी स्थानीय मार्किट में पिज्जा की दुकान 10-20 लाख निवेश के साथ आसानी से शुरू कर सकता है। हालांकि यह राशि उद्यमी की आवश्यकता एवं ग्राहकों को दी जाने वाली सर्विस के आधार पर अंतरित भी हो सकती है जैसे यदि उद्यमी ग्राहकों को होम डिलीवरी की सर्विस नहीं देना चाहता तो उसे ड्राईवर एवं डिलीवरी वाहन की आवश्यकता नहीं होगी जिससे Pizza Business शुरू करने में आने वाला खर्चा कम हो सकता है। उद्यमी को अपनी योजना के मुताबिक वित्त की व्यवस्था करनी होगी।

6. लाइसेंस एवं रजिस्ट्रेशन (License & Registration for Pizza Business):

उद्यमी को Pizza Business शुरू करने के लिए जो सबसे प्रमुख लाइसेंस की आवश्यकता होती है वह है FSSAI License। कहने का अभिप्राय यह है की शुरूआती दौर में उद्यमी को जीएसटी पंजीकरण के अलावा FSSAI License की आवश्यकता होती है। और यदि उद्यमी खुद का ब्रांड स्थापित करना चाहता हो तो उसे ट्रेडमार्क रजिस्ट्रेशन की भी आवश्यकता हो सकती है। और उद्यमी का बिजनेस जैसे जैसे बढ़ता जायेगा और वह कर्मचारी बढाते जाएगा वैसे वैसे उसे निम्नलिखित लाइसेंस एवं पंजीकरण की भी आवश्यकता हो सकती है।

  • एक निर्धारित सीमा से अधिक कर्मचारी होने पर पीएफ, ईएसआई रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता हो सकती है।
  • कर्मचारियों के वेतन से टीडीएस काटने के लिए टेन नंबर की आवश्यकता हो सकती है।
  • कंपनी रजिस्टर करने की आवश्यकता हो सकती है।

7. मशीनरी उपकरण एवं कर्मचारी (Machinery & Manpower for Pizza Business):

भारत में अक्सर जब कोई व्यक्ति कोई भी बिजनेस चाहे वह Pizza Business हो या कोई अन्य शुरू करने की सोचता है तो कर्मचारियों के तौर पर वह अपने नाते रिश्तेदारों को नियुक्त करने की अभिलाषा पाले रहता है जो की गलत है। कहने का अभिप्राय यह है की जब आप अपने Pizza Business के लिए कर्मचारी नियुक्त करें तो इसमें यह दृष्टिकोण बिलकुल न लायें की कोई अमुक व्यक्ति आपकी जान पहचान या नाते रिश्तेदारी में है। बल्कि कर्मचारियों की नियुक्ति केवल उनकी योग्यता एवं कौशल के आधार पर करें। जहाँ तक इस बिजनेस में उपयोग में लायी जाने वाली मशीनरी एवं उपकरणों की बात है उनकी लिस्ट निम्नवत है।

  • फ्रीजर एवं रेफ्रीजिरेटर
  • कमर्शियल पिज्जा ओवन
  • डफ मिक्सचर
  • विभिन्न बर्तन एवं रैक
  • कटिंग टेबल
  • मापने के लिए कप
  • पिज्जा कटर
  • पिज्जा बॉक्स
  • नैपकिन
  • पिज्जा डिलीवरी के लिए वाहन
  • पिज्जा परोसने के बर्तन

8.मार्केटिंग एवं विज्ञापन:

जब उद्यमी द्वारा खुद का Pizza Business शुरू करने की ओर उपर्युक्त सभी प्रक्रियाएं पूर्ण कर ली जाती हैं उसके बाद उद्यमी चाहे तो अपने बिजनेस को स्थानीय मार्किट में प्रमोट कर सकता है। यहाँ पर हम कुछ ऐसे ही तरीकों की एक लिस्ट दे रहे हैं जो आपके व्यवसाय के लिए अच्छे ग्राहक लाने एवं आपके बिजनेस का प्रचार करने में मददगार साबित हो सकते हैं।

  • अपने Pizza Business को प्रमोट करने के लिए मार्केटिंग के पारम्परिक तरीके जैसे स्थानीय अख़बार में विज्ञापन, स्थानीय केबल चैनल में विज्ञापन, घरों में फ्लायर बांटना, पोस्टर चिपकाना, किसी रिक्शे इत्यादि पर लाउडस्पीकर लगाकर प्रचार करना इत्यादि अपना सकते हैं।
  • अपने बिजनेस को प्रमोट करने के लिए फ्री सोशल मीडिया प्लेटफोर्म जैसे फेसबुक, इन्स्टाग्राम, व्हाटसएप्प इत्यादि का इस्तेमाल करें।
  • अपने बिजनेस की ऑनलाइन उपस्थिति दर्ज कराने के लिए एक अच्छी से वेबसाइट बनायें।
  • ऑनलाइन फ़ूड डिलीवरी एप्प जैसे जमेटो, फ़ूड पांडा, स्वीगी इत्यादि से टाई अप करें।
  • Pizza Business में और अधिक ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए समय समय पर ऑफर एवं डिस्काउंट स्कीम चलाते रहें।
  • बड़े आर्डर प्राप्त करने के लिए कॉर्पोरेट ऑफिसों से संपर्क कर सकते हैं।
  • अपने ग्राहकों का एक डेटाबेस तैयार करें ताकि समय समय पर आप उन्हें डील, ऑफर, डिस्काउंट इत्यादि के बारे में सूचित कर सकें।

यह भी पढ़ें:

About Author:

मित्रवर, मेरा नाम महेंद्र रावत है | मेरा मानना है की ग्रामीण क्षेत्रो में निवासित जनता में अभी भी जानकारी का अभाव है | इसलिए मेरे इस ब्लॉग का उद्देश्य बिज़नेस, लघु उद्योग, छोटे मोटे कांम धंधे, सरकारी योजनाओं, बैंकिंग, कैरियर और अन्य कमाई के स्रोतों के बारे में, लोगो को अवगत कराने से है | ताकि कोई भी युवा अपने घर से रोजगार के लिए बाहर कदम रखने से पहले, एक बार अपने गृह क्षेत्र में संभावनाए अवश्य तलाशे |

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *