गीतकार यानिकी Song Writer जो मूल रूप से गाने का लेखक होता है। गीतकार यथार्थ और काल्पनिक सोच की गहराइयों में जाकर अपने गीत के लिए ऐसे ऐसे शब्द निकाल कर लाता है, की जब वे संगीत में शामिल होते हैं, तो वह गाना सदाबहार बन जाता है। मनोरंजन मनुष्य के जीवन का सबसे अहम् और महत्वपूर्ण हिस्सा होता है। मन को रंजित करने के लिए मनुष्य कई तरह के क्रियाकलापों में शामिल होता है। संगीत सुनना, फ़िल्में देखना, स्टेज शो देखना इत्यादि सभी मनोरंजन के ही हिस्से हैं।

संगीत का फिल्मों, नाटकों, वेब सीरीज इत्यादि में अहम् भूमिका होती है। कई फिल्में या कहानियाँ ऐसी होती हैं, जो उसमें मौजूद गानों की वजह से ही सुपरहिट हो जाती हैं। इसलिए Song Writer का महत्व और इनकी मांग भी मौजूदा समय में बढती जा रही है।

यद्यपि वर्तमान में यदि व्यक्ति में कोई भी टैलेंट है, तो उसे दुनिया तक पहुँचाना बेहद आसान हो गया है। इसके लिए लोग विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफोर्म और इन्टरनेट का सहारा लेते हैं, और बेहद जल्दी वायरल होकर मशहूर हो जाते हैं। कहने का आशय यह है की अब टैलेंटेड लोगों को केवल टेलीविज़न और अन्य माध्यमों पर निर्भर रहने की आवश्यकता नहीं है। यदि आप भविष्य में Song Writer बनकर गाने लिखने की कला सीख लेते हैं। तो आप अपने इस टैलेंट को सोशल मीडिया प्लेटफोर्म के माध्यम से लोगों तक मुफ्त में पहुँचा सकते हैं।

उसके बाद जब लोग आपके द्वारा रचित गाने को पसंद करने लगते हैं, तो फिल्म निर्माता, निर्देशक या अन्य म्यूजिक कम्पनियां स्वयं आपसे समपर्क करती हैं। जिसके बाद और अच्छा काम करके आप एक सफलतम Song Writer बन सकते हैं।

Song writer kaise bane
How to become song writer in India

Song Writer किसे कहते हैं

एक पेशेवर Song Writer वह व्यक्ति है, जो टेलीविजन, फिल्मों, विज्ञापनों, नाटक, विडियो गेम, रियलिटी शोज, वेब सीरीज इत्यादि के उपयोग के लिए गाने लिखने के लिए जिम्मेदार होता है। आम तौर पर इन्हें गीतकार कहा जाता है, क्योंकि इन्होने गीत की रचना की होती है। गीतकार चाहें तो अपने व्यक्तिगत जीवन की घटनाओं पर भी गीत लिख सकते हैं।

गीतकार अपने गीत को किसी विशिष्ट परिस्थिति या घटना को आधार मानकर लिखते हैं। फिल्मों के लिए लिखे जाने वाले गीत अक्सर उस फिल्म की कहानी पर आधारित होते हैं। कुछ Song Writer ऐसे भी होते हैं, जो केवल किसी विशिष्ट कलाकार या कंपनी के लिए ही गाने लिखते हैं। जबकि कुछ स्वतंत्र रूप से काम करके लगभग सभी के लिए गाने लिखते हैं।

कुछ ऐसे Song Writer होते हैं, जो गीतकार होने के साथ साथ गायक भी होते हैं। इसलिए वे अपने द्वारा रचित गीतों को खुद ही गाते हैं, जबकि अन्य गीतकारों के लिखे हुए गीतों को अन्य गायक कलाकार गाते हैं।

गीतकार बनने के लिए पात्रता

हालांकि यदि आपमें वह गुण हैं, जो एक अच्छा गाना लिखने के लिए होने चाहिए, तो औपचारिक तौर पर आपको अन्य किसी पात्रता की आवश्यकता नहीं होगी। यानिकी एक ऐसा व्यक्ति जो कम पढ़ा लिखा है, लेकिन वह हर परिस्थिति पर अच्छे से गाना लिख लेता है। तो उसे यह कोई नहीं कहेगा, की वह कितना पढ़ा लिखा है। क्योंकि उसे उसका काम बखूबी आता है ।

एक Song Writer बनने के लिए औपचारिक तौर पर किसी तरह की शैक्षणिक योग्यता की आवश्यकता नहीं होती है। चूँकि गीतकार बनकर भी कोई व्यक्ति दौलत, शौहरत, ईज्जत सब कुछ कमा सकता है। इसलिए यह भी बेहद आकर्षक कैरियर विकल्पों में से एक है। और लोगों में इस तरह के क्षेत्र में कैरिएर बनाने को लेकर कई तरह के पाठ्यक्रम भी मौजूद हैं।

कहा यह जाता है की, ऐसे लोग जिन्होंने पत्रकारिता या संचार में स्नातक की डिग्री प्राप्त की हो। उनकी गहराइयों में सोचने की शक्ति अच्छी होती है, इसलिए वे एक अच्छे Song Writer के तौर पर सफल हो सकते हैं। हालांकि म्यूजिक के लिए कई तरह के पाठ्यक्रम हैं, जिन्हें पूरा करके गीतकार बनने का इच्छुक व्यक्ति संगीत में अपनी जानकारी को बढ़ा सकता है।

Song Writer बनने के लिए क्या स्किल होने चाहिए  

Song Writer बनने के लिए भले ही औपचारिक तौर पर किसी प्रकार की शैक्षणिक योग्यता की आवश्यकता न हो। लेकिन स्किल की आवश्यकता गीतकार बनने के लिए अवश्य होती है।

  • वैसे देखा जाय तो गीतकारों का काम गीत लिखने का होता है। जिसके लिए उन्हें गहरी सोच और रचनात्मकता वाला होना चाहिए। लेकिन गीत लिखने के साथ साथ उन्हें संगीत बिजनेस की भी जानकारी होनी चाहिए। ताकि वे अपने लिखे गीतों को आसानी से बेच सकें।
  • यदि गीतकारों को कोई वाद्य यंत्र बजाना आता हो, तो यह उनके लिए बेहद फायदेमंद हो सकता है। क्योंकि वह अपने द्वारा रचित गाने को उस वाद्य यंत्र के साथ टेस्ट कर सकते हैं।
  • उन्हें इस बात की पूर्ण जानकारी होनी चाहिए की कौन सा गाना किस तरह से लिखना है। जैसे यदि किसी फिल्म या नाटक का टाइटल सोंग लिखना है तो कैसे लिखना है। और परिस्थिति के मुताबिक गानों को किस तरह से लिखना है।
  • एक Song Writer को काम पाने के लिए या अपने रचित गानों को बेचने के लिए म्यूजिक कंपनी, निर्माता, निर्देशक इत्यादि को डेमो दिखाने की भी आवश्यकता हो सकती है। इसलिए उन्हें सम्मोहक डेमो बनाने का भी ज्ञान होना चाहिए।   

गीतकार कैसे बनें (How to Become a Song Writer in India):

जैसा की हम पहले भी बता चुके हैं की, Song Writer बनने के लिए किसी प्रकार की शैक्षणिक योग्यता की अनिवार्यता नहीं है। लेकिन यदि उम्मीदवार गीतकार बनने को लेकर गंभीर है, और वह किसी चमत्कार होने का इंतजार नहीं करना चाहता। तो उसे उसकी योजना के तहत आगे बढ़ना होगा, इसके लिए वह निम्नलिखित कदम उठा सकता है।

1. स्कूलिंग के बाद म्यूजिक या सम्बंधित क्षेत्र में डिग्री प्राप्त करें

आजकल स्कूलिंग की पढाई पूरी करना आम बात है। हर माता पिता अपने बच्चों को बारहवीं तक तो पढ़ाते ही पढ़ाते हैं। Song Writer बनने के इच्छुक विद्यार्थी स्कूलिंग की पढाई पूरी करने के बाद किसी मान्यता प्राप्त कॉलेज या यूनिवर्सिटी से जर्नलिज्म या कम्युनिकेशन में बैचलर डिग्री प्राप्त कर सकते हैं। हालांकि कुछ लोकप्रिय संस्थानों में एडमिशन के लिए उम्मीदवार को एंट्रेंस टेस्ट पास करने की आवश्यकता भी हो सकती है।

Song Writer के लिए संगीत से सम्बंधित कुछ डिग्री पाठ्यक्रम इस प्रकार से हैं।

  • संगीत विज्ञान में बैचलर ऑफ़ आर्ट्स
  • संगीत वोकल में बैचलर ऑफ़ आर्ट्स
  • वाद्य संगीत में बैचलर ऑफ़ आर्ट्स ऑनर
  • संगीत में बैचलर ऑफ़ आर्ट्स ऑनर   

2. डिग्री प्राप्त करने के बाद अभ्यास करें

सम्बंधित क्षेत्र में डिग्री प्राप्त कर लेने के बाद विद्यार्थी ने जो भी कुछ सीखा हो। अब उसको उसका अभ्यास करना चाहिए। क्योंकि वास्तविक चीजें तभी समझ में आएँगी जब उसका अभ्यास किया जाएगा। संगीत और गीत के प्रति अपनी और अधिक जानकारी बढ़ाने के लिए Song Writer बनने का इच्छुक उम्मीद्वात्र चाहे तो संगीत इत्यादि में पोस्ट ग्रेजुएट पाठ्यक्रम भी कर सकता है। 

लेकिन सबसे बेहतर यही है, की अब वह सोचे की जो गाने लोगों को बेहद पसंद आते हैं। उनमें क्या खास होगा, और उनका विश्लेषण करे। यदि उम्मीदवार का अपना कोई पसंदीदा गाना है, तो वह उसका भी विश्लेषण करे की, आखिर उसे वह गाना क्यों इतना पसंद है। Song Writer बनने के लिए आपको सुपरहिट गानों की एक लिस्ट तैयार करनी होगी।  और धैर्य से और शांतिपूर्वक वातावरण में उन गानों को सुनकर उनका विश्लेषण करना होगा। तभी आप भी कभी कोई सुपरहिट गाना लिख पाने में सफल हो पाएंगे।

3. विशिष्ट भाषा को सीखें

भारत में तो सबसे अधिक हिंदी गाने ही सुने जाते हैं। लेकिन अन्य क्षेत्रीय भाषाओँ के गाने भी उस क्षेत्र विशेष में काफी सुने जाते हैं। इसलिए आपको तय करना होगा की आप कौन सी भाषा में गाने लिखना चाहते हैं। और जिस भी भाषा में आप गाना लिखना चाहते हैं, उस भाषा का Song Writer बनने के लिए आपको भाषा को अच्छी तरह से सीखना होगा ।

4. कवि सम्मलेन और मुशायरों का हिस्सा बनें

Song Writer आप तभी बन पाएँगे जब आप लिखते अच्छे हों। यदि आप अच्छा लिखते हों तो कोई कविता लिखना, मुशायरा लिखना आपके लिए कोई चुनौतीपूर्ण कार्य नहीं होगा। विभिन्न परिस्थितयों और स्थितियों पर कविताएँ एवं मुशायरे लिखें। और फिर इनका प्रदर्शन करने के लिए कवि सम्मेलनों और मुशायरों में जाएँ, ताकि आप व्यवहारिक तौर पर देख सकें की, आपकी रचनाएँ लोगों को कितना पसंद आ रही हैं।

5. मार्गदर्शक का चयन करें

भले ही आप संगीत में ग्रेजुएट या पोस्ट ग्रेजुएट क्यों न हो गए हों। और आपको संगीत, इसकी शब्दावली, धुनों इत्यादि की आधारभूत जानकारी प्राप्त क्यों न हो गई हो। इसके बावजूद आपको आगे बढ़ने के लिए एक अच्छे मार्गदर्शक की आवश्यकता अवश्य होगी। क्योंकि Song Writer बनने की राह में अनेकों अड़चने आ सकती हैं । जिन्हें देखकर आप गीतकार बनने के अपने निर्णय को बदल भी सकते हैं।

उस स्थिति से उबारने और अपने पथ पर निरंतर आगे बढ़ते जाने का पाठ पढ़ाने के लिए आपको एक मार्ग दर्शक (Mentor) की आवश्यकता होगी। मार्गदर्शक ऐसा होना चाहिए जिसे गीत, संगीत इत्यादि की इष्टतम जानकारी हो। 

Song Writer का क्या काम होता है

  • असल में देखा जाय तो एक Song Writer का नाम गीतों की रचना करना होता है। लेकिन कभी कभी एक संगीतकार भी गीतकार हो सकता है, और एक गायक कलाकार भी गीतकार हो सकता है।
  • जब संगीतकार ही गीतकार होता है, तो गीत एवं संगीत की रचना उसी के द्वारा की जाती है। और जब कोई गायक कलाकार गीतकार होता है, तो उसके द्वारा स्वयं रचित गाना खुद ही गाया जाता है।
  • कभी कभी Song Writer केवल और केवल गीतों की रचना करता है। और उस गीत को संगीत, संगीतकार और गाने का काम गायक कलाकार का होता है।
  • एक गीतकार अकेले या फिर टीम के साथ भी काम कर सकता है, इस टीम में म्यूजिक कम्पोजर से लेकर गायक कलाकार, म्यूजिक रिकॉर्डिंग कंपनी इत्यादि सभी शामिल होते हैं।
  • कभी कभी संगीत की रचना और धुन बनाना भी Song Writer के काम का हिस्सा हो सकता है।        

गीतकार की सैलरी और करियर संभावनाएँ

विभिन्न विषयों के साथ सम्बंधित पाठ्यक्रम पूरा कर लेने के बाद Song Writer के लिए भी करियर के कई विकल्प खुल जाते हैं। आम तौर पर गीतकार विभिन्न म्यूजिक कम्पनियों के साथ काम करके अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं। जब किसी गीतकार को किसी म्यूजिक कंपनी से काम मिल जाता है तो उसके बाद कनेक्शन स्वत: ही बनते जाते हैं ।

फ्रीलान्स या स्वतंत्र Song Writer स्वयं की रचनाएँ लिखते हैं और इन्हें निर्माताओं, कलाकारों, रिकॉर्डिंग कम्पनियों के सामने पेश करते हैं । ताकि वे उन्हें अपने गीतों को बेच सकें । एक गीतकार अपनी लेखन क्षमता के अनुसार कितने भी पैसे कमा सकता है। लेकिन एक आंकडें के मुताबिक भारत में Song Writer एक साल में 8 लाख से 12 लाख की औसतन कमाई करते हैं। आम तौर पर स्वतंत्र रूप से काम करने वाले गीतकार ज्यादा पैसे कमाते हैं। लेकिन इनके पास काम का स्थायित्व नहीं होता है।

यह भी पढ़ें

Leave a Reply

Your email address will not be published

error: