अपवर्क क्या है इससे पैसे कैसे कमायें? What is Upwork and How to Earn from it.

Upwork का नाम भले ही आपने सुना हो या नहीं सुना हो लेकिन वर्तमान के इस इन्टरनेट युग में यह भी घर बैठे कमाई करने का विश्वस्तर पर एक वैधानिक माध्यम है । यह सच है की वर्तमान में कौशल प्राप्त लोगों के लिए कमाई करना बिलकुल भी कठिन कार्य नहीं है। कौशल प्राप्त लोग चाहें तो घर बैठे भी अपनी कमाई कर सकते हैं वह इसलिए क्योंकि इन्टरनेट उनके लिए कमाने के अवसर उनके घर लेकर आता है। कहने का अभिप्राय यह है की वर्तमान में इन्टरनेट पर ऐसे अनेकों प्लेटफोर्म विद्यमान हैं जिनके माध्यम से कोई भी कौशल प्राप्त व्यक्ति घर बैठे काम करके कमाई कर सकता है। इन्हीं प्लेटफोर्म में से एक बेहद प्रसिद्ध एवं प्रचलित प्लेटफार्म का नाम Upwork है। इसलिए आज हम हमारे इस लेख को पूरी तरह से अपवर्क पर केन्द्रित करने वाले हैं और इस विषय पर विस्तृत जानकारी देने की कोशिश करने वाले हैं। हालांकि Upwork के बारे में कुछ लोगों के कमाई की दृष्टिकोण से अच्छे विचार नहीं है क्योंकि उन्हें लगता है की इस वेबसाइट में काम मिलना बड़ा कठिन है। लेकिन एक कौशल से भरपूर व्यक्ति जो फ्रीलांसिंग को अपने कैरियर के तौर पर देखना चाहता हो और इसमें सफलता पाने के लिए कड़ी मेहनत करने को तैयार हो। उसे इस वेबसाइट के माध्यम से काम मिलने में थोड़ा समय अवश्य लग सकता है लेकिन धैर्य रखने पर उसे काम अवश्य मिलेगा। और एक बार काम मिल जाने के बाद यदि व्यक्ति ने क्लाइंट का अच्छा काम किया तो वह व्यक्ति के बारे में अच्छा फीडबैक दे सकता है। जो अन्य ग्राहकों के निर्णय को प्रभावित कर सकता है और काम की तारीफ के चलते उस व्यक्ति को अधिक काम मिल सकता है। इसलिए यदि आपके लिए Upwork नामक यह शब्द नया है और आपको पता नहीं की यह क्या है और कैसे काम करता है? तो आप हमारे इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़ें।

upwork-kya-hai

अपवर्क क्या है (What is Upwork in Hindi):

साधारण बोलचाल की भाषा में कहें तो Upwork एक फ्रीलांसिंग वेबसाइट है अर्थात यह एक ऐसा प्लेटफार्म है जो जरूरतमंद लोगों को उनका काम करने के लिए फ्रीलांसर प्रदान करता है। इस प्लेटफोर्म की खास विशेषता यह है की जो इसमें किसी एक कार्य विशेष के लिए फ्रीलांसर हो सकता है वही किसी अन्य कार्य विशेष के लिए क्लाइंट भी हो सकता है। उदाहरणार्थ: माना मोहन को फोटोशॉप की बेहतर जानकारी है और वह उसकी मदद से लोगो डिजाईन इत्यादि कर लेता है तो इस स्थिति में मोहन लोगो डिजाईन के लिए अपने आपको फ्रीलांसर के तौर पर पेश करेगा। जबकि यदि मोहन को खुद की वेबसाइट डिजाईन करनी होगी और वह काम उसे नहीं आता है तो वह Upwork के माध्यम से अपने इस कार्य को करने के लिए फ्रीलांसर ढूंढ सकता है। इस स्थिति में मोहन एक क्लाइंट के तौर पर गतिविधियों को अंजाम देगा। इसका अभिप्राय यह हुआ की इसमें जो फ्रीलांसर के तौर पर रजिस्टर है वह भी क्लाइंट हो सकता है। इसके अलावा व्यापारिक प्रतिष्ठानों के मालिक, स्टार्टअप के मालिक, उद्यमी इस प्लेटफॉर्म के माध्यम से जॉब पोस्ट करते रहते हैं । और जॉब पोस्ट करने वाले ही इस प्लेटफॉर्म के माध्यम से अपने काम के लिए फ्रीलांसर का चुनाव करते हैं।

क्या अपवर्क में काम करना कमाई की दृष्टि से सही है?

जैसा की हम उपर्युक्त वाक्य में भी बता चुके हैं की बहुत सारे लोगों को लगता है की Upwork में काम मिलना बेहद कठिन है जिसकी वजह से इस प्लेटफॉर्म से कमाई करना भी बेहद कठिन है। हाँ अपवर्क से कमाई करना कठिन तो अवश्य है लेकिन असंभव नहीं कठिन इसलिए है क्योंकि यह एक विश्वस्तरीय प्लेटफॉर्म है इसलिए यहाँ पर एक कार्य को अंजाम देने के लिए तरह तरह का टैलेंट एवं मूल्य उपलब्ध है। इसलिए कभी कभी Upwork में जिसे काम मिलता है उसे मिलते जाता है और जिसे नहीं मिलता उसे लम्बे समय तक नहीं भी मिलता है। लेकिन इसका मतलब यह बिलकुल नहीं है की अपवर्क कमाई की दृष्टि से अनुपयुक्त है। एक ऐसा व्यक्ति जिसके पास किसी भी प्रकार का ऐसा कौशल विद्यमान है जो इस वेबसाइट में उपलब्ध हो, के लिए अपवर्क कमाई करने का एक बेहतरीन साधन बन सकता है। और वर्तमान में अनेकों फ्रीलांसर इस प्लेटफॉर्म के माध्यम से काम पाकर अपनी अच्छी खासी कमाई कर भी पा रहे हैं।

अपवर्क में फ्रीलांसर के तौर पर काम करने के फायदे (Benefits of Freelancing on Upwork):

Upwork में फ्रीलांसर के तौर पर काम करने के अनेकों फायदे होते हैं जिनमें से कुछ मुख्य फायदों की लिस्ट निम्नवत है।

  • इस ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के माध्यम से फ्रीलांसर अपने कौशल, रूचि एवं उत्साह के मुताबिक प्रोजेक्ट पर काम कर सकता है। कहने का आशय यह है की इस वेबसाइट के माध्यम से फ्रीलांसर केवल उन्हीं प्रोजेक्ट का चयन कर सकते हैं जिनमें वह काम करना चाहते हों। हालांकि शुरूआती दौर में फ्रीलांसर को उसके कौशल से मेल खाती हुई किसी भी जॉब को करने के लिए ऑफर मिल सकता है।
  • Upwork में फ्रीलांसर के तौर पर काम करने का अगला फायदा यह है की यह प्लेटफार्म विश्वस्तरीय प्लेटफॉर्म है इसलिए इसके क्लाइंट भी सम्पूर्ण विश्व में फैले हुए हैं। इसलिए इस वेबसाइट के माध्यम से फ्रीलांसर किसी ऐसे कार्य की भी माँग कर सकता है जो उसके भगौलिक क्षेत्र से बाहर की हों।
  • भारत में ही नहीं अपितु पूरे विश्व में ऐसे बहुत सारे लोग हैं जो अपने कामों को फ्रीलांसिंग के माध्यम से सम्पन्न कराना चाहते हैं। लेकिन वे इस बात से डरते हैं की कहीं उनके साथ कुछ धोखा न हो जाय। वर्तमान में Upwork इस क्षेत्र में एक जाना पहचाना नाम है और इसके पास फ्रीलांसर को प्रबंधित करने का तंत्र भी है। इसलिए फ्रीलांसिंग के माध्यम से काम कराने वाले लोग इस पर अधिक विश्वास करते हैं। इसलिए इस पोर्टल के माध्यम से फ्रीलांसर को अधिक काम मिलने की संभावना रहती है।
  • चूंकि अपवर्क फ्रीलांसर को क्लाइंट के साथ कम्यूनिकेट करने के लिए चैट, फोन नंबर साझा करने जैसी फैसिलिटी मुहैया करता है। जिसकी वजह से फ्रीलांसर को सीधे क्लाइंट से संपर्क करने का अवसर प्राप्त होता है । और फ्रीलांसर के संचार कौशल, काम की नैतिकता, काम की गुणवत्ता, उचित समय प्रबंधन का क्लाइंट पर गहरा प्रभाव पड़ता है जिससे क्लाइंट एवं फ्रीलांसर में कुछ रिश्ते जन्म लेते हैं जो सालों तक चलते हैं।
  • Upwork के माध्यम से फ्रीलांसर को लम्बी अवधि के लिए भी कॉन्ट्रैक्ट मिल सकते हैं।
  • अपवर्क में अच्छा एवं गुणवत्तायुक्त काम करने पर फ्रीलांसर को बोनस भी मिल सकता है।
  • यदि काम अच्छा किया गया हो तो एक ही क्लाइंट के बार बार मिलने की संभावना भी होती है और पुराने ग्राहकों द्वारा कुछ रेफेरल ग्राहक मिलने की भी उम्मीद होती है।
  • अपवर्क में नए नए जॉब पोस्ट होते रहते हैं इसलिए इनके अनुकूल बने रहने के लिए फ्रीलांसर को नई नई चीजें सीखने की भी आवश्यकता हो सकती है।  इसलिए कहा जा सकता है की Upwork फ्रीलांसर को नई नई चीजें सीखने की ओर प्रेरित करता है।
  • अपवर्क से पेमेंट प्राप्त करना आसान एवं सुरक्षित है।

अपवर्क की कमाई कैसे होती है (How Upwork Make Money):

यद्यपि अक्सर लोग जानना चाहते हैं की क्या उन्हें Upwork के साथ जुड़ने के लिए कोई शुल्क इत्यादि देना पड़ता है या यह एक मुफ्त सेवा है। और यदि यह मुफ्त सेवा है तो अपवर्क नामक इस कम्पनी की कमाई कैसे होती है? इत्यादि। यहाँ पर हम बता देना चाहेंगे की Upwork के साथ कोई भी व्यक्ति मुफ्त में जुड़ सकता है। अर्थात कोई भी फ्रीलांसर इस वेबसाइट में मुफ्त में Sign up कर सकता है। हालांकि फ्रीलांसर चाहे तो स्टैण्डर्ड प्लान को प्लस प्लान में महीने में 10$ का भुगतान करके अपग्रेड कर सकता है। कहने का सीधा सीधा मलतब यही है की अपवर्क के साथ जुड़ना तो मुफ्त है लेकिन इसमें काम करना मुफ्त नहीं है। क्योंकि अपवर्क द्वारा प्रत्येक फ्रीलांसर पर उसे काम मिलने की स्थिति में सर्विस शुल्क लगाया जाता है। यह शुल्क आपके द्वारा कमाई गई राशि का लगभग 20% हो सकता है। यानिकी प्रत्येक 5$ पर 1$ सर्विस शुल्क के तौर पर Upwork द्वारा लिया जाता है। कमाई के आधार पर तय शुल्क कुछ इस प्रकार से हैं।

  • ग्राहक द्वारा $500 से नीचे की राशि का भुगतान किये जाने पर अपवर्क द्वारा प्रत्येक जॉब पर 20% शुल्क वसूला जाता है।
  • जब ग्राहक द्वारा $500 से अधिक एवं $ 10000 से कम का भुगतान किया जाता है तो इस स्थिति में 10% शुल्क लागू होता है।
  • जब ग्राहक द्वारा $10000 से अधिक का भुगतान फ्रीलांसर को किया जाता है तो इस स्थिति में 5% शुल्क लागू होता है।

उपर्युक्त शुल्क निर्धारण में हम देखते हैं की जैसे जैसे फ्रीलांसर की किसी ग्राहक विशेष से कमाई बढती जा रही है। Upwork द्वारा लिया जाने वाला सर्विस शुल्क का प्रतिशत कम होता जा रहा है। इसका अभिप्राय यह हुआ की अपवर्क फ्रीलांसर को उसका बेहतर करने के लिए प्रोत्साहित कर रहा है । क्योंकि जब फ्रीलांसर द्वारा उम्दा काम किया जायेगा तभी एक ग्राहक उसे बार बार काम प्रदान करेगा। फ्रीलांसर की कमाई पर लगने वाले उपर्युक्त शुल्कों के माध्यम से ही अपवर्क अपनी कमाई कर पाने में समर्थ हो पाता है।

अपवर्क फ्रीलांसर को भुगतान कैसे करता है? (How Upwork Paid to Freelancer):

भुगतान के मामले में आम तौर पर Upwork में दो तरह के अनुबंध अर्थात कॉन्ट्रैक्ट होते हैं। पहला होता है प्रति घंटे पेमेंट दूसरा होता है फिक्स्ड प्राइस। घंटे पर आधारित प्रोजेक्ट को साप्ताहिक आधार पर ट्रैक किया जाता है। इसलिए यह सुनिश्चित करना फ्रीलांसर की जिम्मेदारी होती है की हर बार जब भी वह प्रति घंटे के हिसाब से काम करे तो वह अपने काम के समय को अपवर्क डायरी में कहीं रिकॉर्ड करके रख ले। जब कार्य का सप्ताह ख़त्म हो जाता है तो ग्राहक के पास किसी भी डिस्प्यूट के लिए 5 दिनों का समय होता है। यदि ग्राहक द्वारा फ्रीलांसर के द्वारा किये गए कार्य पर कोई डिस्प्यूट नहीं किया जाता है तो Upwork द्वारा फ्रीलांसर की पेमेंट उसके अपवर्क के खाते में भेज दी जाती है। और कुछ दिनों बाद यह राशि विथड्राल के लिए तैयार हो जाती है। फ्रीलांसर अपने अपवर्क खाते से पैसे निकालने के लिए विभिन्न गेटवे बैंक ट्रान्सफर, वायर ट्रान्सफर, पेपल इत्यादि में से कोई भी विकल्प चुन सकता है। यद्यपि निकासी का कौन सा तरीका फ्रीलांसर के लिए उपयुक्त होगा यह इस पर निर्भर करेगा की फ्रीलांसर कौन से देश में रहता है।  

अपवर्क में अकाउंट कैसे बनायें (How to Create an Account in Upwork):

जैसा की हम उपर्युक्त वाक्य में भी बता चुके हैं की Upwork में अकाउंट बनाना बिलकुल मुफ्त है लेकिन इस प्लेटफॉर्म से कमाई सिर्फ वही कर पायेगा जिसमें इस वेबसाइट में उपलब्ध कामों को करने का कौशल होगा। इसलिए यदि आप भी अपवर्क में अकाउंट बनाना चाहते हैं तो आप इसकी अधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करके Sign Up पर क्लिक कर सकता है। कहने का आशय यह है की अपवर्क में खाता बनाना तो केवल एक क्लिक भर दूर है लेकिन इससे कमाई करना बिलकुल भी आसान काम नहीं है। इसलिए इसमें अपनी प्रोफाइल बनाते समय एक बात अवश्य सुनिश्चित कर लें की आपको अपनी प्रोफाइल ऐसी बनानी है की उस पर ग्राहकों का ध्यान केन्द्रित हो सके। Upwork में प्रोफाइल बनाते वक्त निम्न बातों का ध्यान रखा जा सकता है।

  • अपवर्क में अपनी प्रोफाइल को शुरू से लेकर अंत तक पूरी तरह से पूर्ण करें एक प्रोफेशनल लुक वाली फोटो एड करें। आकर्षित शीर्षक एवं एक ऐसा विवरण लिखें जो ग्राहक को आपके प्रोफाइल तक लाने का सामर्थ्य रखता हो।
  • एक ऐसा पोर्टफोलियो बनाये जिसमें आपका पिछला अनुभव एवं शैक्षणिक योग्यता उल्लेखित हों।
  • अपने अप वर्क प्रोफाइल को एक बायो डाटा या रिज्यूमे के तौर पर पेश करें इसलिए इसमें अपने व्यवसायिक कौशल, अनुभव, पोर्टफोलियो, शैक्षणिक योग्यता एवं अपनी उपलब्धियों को हाईलाइट करें।
  • Upwork में अपने प्रोफाइल को पूर्ण करने में व्याकरण सम्बन्धी गलतियाँ कदापि न करें।  

अपवर्क में ग्राहक कैसे पायें (How to find Clients on Upwork):

Upwork से कोई भी फ्रीलांसर तभी कमाई कर पाने में सक्षम हो पायेगा जब उसे ग्राहक मिलेंगे और वह उनके द्वारा प्रदान किये गए प्रोजेक्ट को पूर्ण करेगा। लेकिन अपवर्क में चाहे व्यक्ति कितना ही कौशलपूर्ण हो उसे अपनी पहली जॉब प्राप्त करने में काफी कठिनाइयाँ आती हैं। शायद वह इसलिए क्योंकि आम तौर पर ग्राहक अपवर्क में नौसीखियों से काम करवाने में हिचकिचाते हैं। लेकिन आपको निराश होने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि किसी न किसी को कभी न कभी कहीं न कहीं से तो शुरुआत करनी ही होती है। Upwork में ग्राहक पाने के लिए फ्रीलांसर इसके सर्च बॉक्स में कीवर्ड भरकर सर्च कर सकता है। जैसे यदि व्यक्ति वेब डेवलपिंग से सम्बंधित कार्य की तलाश कर रहा हो तो वह सर्च बॉक्स में वेब डेवलपर जैसे कीवर्ड का इस्तेमाल करके सर्च कर सकता है। ध्यान रहे यहाँ पर फ्रीलांसर की प्रतिस्पर्धा नौसिखियों एवं दुनिया के बेहतरीन कौशल युक्त फ्रीलांसर से होता है। इसलिए Upwork में फ्रीलांसर को सिर्फ वही कार्य ढूँढने का काम करना चाहिए जिस काम में उसे सबसे अधिक दक्षता हासिल हो।

यह भी पढ़ें:

About Author:

मित्रवर, मेरा नाम महेंद्र रावत है | मेरा मानना है की ग्रामीण क्षेत्रो में निवासित जनता में अभी भी जानकारी का अभाव है | इसलिए मेरे इस ब्लॉग का उद्देश्य बिज़नेस, लघु उद्योग, छोटे मोटे कांम धंधे, सरकारी योजनाओं, बैंकिंग, कैरियर और अन्य कमाई के स्रोतों के बारे में, लोगो को अवगत कराने से है | ताकि कोई भी युवा अपने घर से रोजगार के लिए बाहर कदम रखने से पहले, एक बार अपने गृह क्षेत्र में संभावनाए अवश्य तलाशे |

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *