Welding & Fabrication का बिजनेस कमाई की दृष्टी से बेहद लाभकारी बिजनेस की श्रेणी में आता है और यह केवल किसी एक बिजनेस को जन्म नहीं देता। बल्कि वेल्डिंग एवं फेब्रिकेशन श्रेणी में अनेकों बिजनेस किये जा सकते हैं जिनका संक्षिप्त वर्णन हम इस लेख के माध्यम से करने वाले हैं। खास बात यह है की इस तरह के व्यापारों को बेहद छोटे स्तर से कुछ हजार रुपयों में भी शुरू किया जा सकता है बशर्ते उद्यमी को Welding & Fabrication का काम अच्छे से आता हो। चूँकि वर्तमान में अनेक प्रकार की धातुओं से अनेक प्रकार की वस्तुओं का निर्माण किया जाता है जिन्हें घरों के निर्माण, वाहनों के निर्माण, व्यवसायिक बिल्डिंगों के निर्माण में इस्तेमाल में लाया जाता है। इसलिए वेल्डिंग एवं फेब्रिकेशन के इस कार्य को नज़रंदाज़ नहीं किया जा सकता है। कमाई की दृष्टी से इस तरह के ये व्यापार इसलिए उपयुक्त माने जाते हैं क्योंकि हमारे समाज में इस तरह के कार्यों से उत्पादित उत्पादों की माँग बड़ी लम्बी अवधि तक बने रहने की संभावना है। इसलिए यदि आप भी इस Welding & Fabrication नामक औद्योगिक क्षेत्र में बिजनेस करने की सोच रहे हैं तो यहाँ पर हम इस क्षेत्र से जुड़े कुछ श्रेष्ठ business ideas साझा कर रहे हैं। यद्यपि वैसे देखा जाय तो वेल्डिंग एवं फेब्रिकेशन का काम हल्के इंजीनियरिंग के तहत ही आता है इसलिए एक ऐसा व्यक्ति जिसे इस काम की उचित जानकारी हो वह इस क्षेत्र में खुद का छोटा बिजनेस भी शुरू कर सकता है।

Welding-fabrication-business-ideas

1. एल्युमीनियम के दरवाजे बनाने का बिजनेस

वर्तमान में एल्युमीनियम फैब्रिकेटेड सामग्रियों की माँग बाजार में तेजी से बढ़ रही है इसलिए यदि आप इस औद्योगिक क्षेत्र में बिजनेस करने की सोच रहे हैं तो आप एल्युमीनियम के दरवाजे बनाने का बिजनेस शुरू कर सकते हैं। इनमें एलुमिनियम से बनने वाली कुछ प्रसिद्ध सामग्रियाँ एल्युमीनियम के दरवाजे, खिड़की, कांच की खिड़की के फ्रेम, सीढियाँ इत्यादि हैं। आधुनिक बिल्डिंगों में न सिर्फ एल्युमीनियम के दरवाजों का इस्तेमाल हो रहा है बल्कि सीढ़ी की रेलिंग, सपोर्ट, बरामदे की रेलिंग, गलियारे इत्यादि की चारदीवारी करने में भी एल्युमीनियम से निर्मित सामग्री का इस्तेमाल हो रहा है।

2. एल्युमीनियम की सीढियाँ बनाने का काम

एल्युमीनियम की सीढ़ियों का इस्तेमाल न सिर्फ घरलू कार्यों को निबटाने में किया जाता है बल्कि औद्यागिक क्षेत्र में भी इनकी भारी माँग रहती है। घरेलू एवं औद्योगिक क्षेत्रों में माँग होने के कारण यह Welding & Fabrication से जुड़ा Business idea भी कमाई की दृष्टि से उपयुक्त बिजनेस की लिस्ट में शामिल है। यद्यपि सीढियाँ बनाने की प्रक्रिया बेहद सरल होती है लेकिन इस तरह का बिजनेस करने वाले को वेल्डिंग एवं फेब्रिकेशन की उचित जानकारी होना आवश्यक है।

3. मोबाइल वेल्डिंग सर्विस

यदि हम मोबाइल वेल्डिंग सर्विस को बेहद आम भाषा में समझने की कोशिश करेंगे तो हम पाएंगे की हम एक ऐसे बिजनेस की बात कर रहे हैं जिसमें उद्यमी को ग्राहक के घर जाकर वेल्डिंग सर्विस प्रदान करनी होती है। इस बिजनेस को शुरू करने के लिए उद्यमी को किसी प्रकार की कोई वर्कशॉप या इकाई स्थापित करने की आवश्यकता नहीं होती है। वह अपनी Welding & fabrication से जुड़े कौशल एवं योग्यता के बलबूते ग्राहकों के घरों में जाकर उन्हें अपनी सर्विस देकर कमाई कर सकता है। इस तरह का यह बिजनेस उद्यमी को घर से ही शुरू करने की आज़ादी तो देता है लेकिन उद्यमी के पास ग्राहक तक पहुँचने के लिए एवं उसका काम समय से निबटाने हेतु उचित ट्रांसपोर्ट की व्यवस्था होना अति आवश्यक है।

3. स्टील फर्नीचर बनाने का काम

वर्तमान में स्टील से निर्मित फर्नीचर की प्रसिद्धी बढती जा रही है क्योंकि यह भार में हल्की, लम्बे समय तक चलने वाली एवं कीमत में कम होती हैं। इसलिए लोगों के बीच स्टील फर्नीचर भी पोपुलर होता जा रहा है विभिन्न सार्वजनिक स्थानों जैसे स्कूल, हॉस्पिटल इत्यादि में इनका इस्तेमाल बहुतायत तौर पर होता है। हालांकि इस तरह के बिजनेस को शुरू करने वाले उद्यमी के पास स्टील फेब्रिकेशन में विशेषज्ञता का होना अति आवश्यक है। स्टील फर्नीचर में स्टील अलमारी, टेबल, कुर्सी, रैक इत्यादि काफी प्रसिद्ध उत्पाद हैं।

4. वेल्डिंग उपकरण बेचने का बिजनेस

Welding & Fabrication से जुड़ा यह एक ऐसा बिजनेस है जिसे कोई भही व्यक्ति यानिकी जिसे वेल्डिंग के काम की जानकारी न भी हो वह भी शुरू कर सकता है। आजकल वेल्डिंग उपकरण बेचने का बिजनेस शुरू करने के अनेकों तरीके विद्यमान हैं। इस तरह के उपकरण बेचने के लिए उद्यमी चाहे तो एक परम्परागत दुकान खोल सकता है या फिर स्वयं की वेबसाइट बनाकर इन उपकरणों को ऑनलाइन बी बेच सकता है। उद्यमी विभिन्न प्रकार की वेल्डिंग जैसे स्टिक वेल्डर, TIG वेल्डर, MIG वेल्डिंग इत्यादि से जुड़े उपकरण बेचकर कमाई कर सकता है।

5. वेल्डिंग मशीन बेचने का बिजनेस

यदि आपकोWelding & Fabrication के काम की अच्छी जानकारी हैं यानिकी आप इस क्षेत्र के विशेषज्ञ हैं तो आप वेल्डिंग मशीन बेचने का बिजनेस शुरू कर सकते हैं। लेकिन ध्यान रहे इस तरह का यह बिजनेस सिर्फ उन्हीं व्यक्तियों को करना चाहिए जिन्हें वेल्डिंग मशीनों की अच्छी जानकारी हो। क्योंकि यह पूरा बिजनेस वेल्डिंग एवं फेब्रिकेशन से जुड़े अन्य संगठनों एवं व्यक्तियों को मशीनें बेचने से सम्बंधित है। इसलिए पेशेवर लोगों को सिर्फ वही उद्यमी मशीन बेच पाने में सक्षम हो पायेगा जिसे मशीनों की अच्छी जानकारी हो। देश में बहुत सारे ऐसे विनिर्माणकर्ता हैं जो अपनी मशीनों को खुदरा में बेचने के लिए वितरक यानिकी डिस्ट्रीब्यूटर तलाश करते हैं। इसलिए इस तरह का यह बिजनेस करने का इच्छुक उद्यमी इन अवसरों के बारे में पता कर सकता है। और किसी प्रतिष्ठित वेल्डिंग मशीन बनाने वाली कंपनी के साथ उसकी मशीन बेचने का अनुबंध कर सकता है। इससे उद्यमी द्वारा बेचे जाने वाली हर मशीन पर कंपनी द्वारा उद्यमी को कमीशन दिया जाता है।

6. पेशेवर वेल्डर बनकर कमाई

यद्यपि एक पेशेवर वेल्डर की आवश्यकता न केवल Welding & Fabrication से जुड़े उद्योगों में ही होती है। बल्कि एक कौशल से युक्त पेशेवर वेल्डर ऑटोमोटिव, कंस्ट्रक्शन, एयरोस्पेस यहाँ तक की ट्रांसपोर्ट सेक्टर में भी नौकरी कर सकता है। लेकिन एक पेशेवर वेल्डर बनने के लिए व्यक्ति को एक दो सालों का समय लग सकता है। इन सालों के दौरान न केवल उसे पाठ्यक्रम पूरा करना होता है बल्कि वेल्डिंग एवं फेब्रिकेशन नामक औद्योगिक क्षेत्र की व्यवहारिक जानकारी भी लेनी होती है। जब व्यक्ति इस काम में पूर्ण रूप से प्रशिक्षित हो जाता है उसके बाद ही वह ऑटोमोटिव, कंस्ट्रक्शन, एयरोस्पेस इत्यादि औद्योगिक क्षेत्रों में जॉब के लिए आवेदन कर सकता है।

7. स्थानीय वेल्डर को धातु सप्लाई करने का बिजनेस

जैसा की हम सबको विदित है कीWelding & Fabrication उद्योग को भारी मात्रा में विभिन्न धातुओं की आवश्यकता होती है। कहने का आशय यह है की इस औद्योगिक क्षेत्र में सर्वाधिक इस्तेमाल में लाया जाने वाला कच्चा माल विभिन्न प्रकार की धातु है। इसलिए यदि आपके आसपास वेल्डिंग एवं फेब्रिकेशन की काफी साड़ी वर्कशॉप हैं तो आप इन्हें विभिन्न प्रकार की धातु जैसे लोहा, स्टील, एल्युमीनियम इत्यादि सप्लाई करने का बिजनेस शुरू कर सकते हैं। लेकिन ध्यान रहे इस तरह का बिजनेस शुरू करने के लिए भारी मात्रा में निवेश की आवश्यकता होती है। क्योंकि उद्यमी को फेब्रिकेटर एवं वेल्डर को बेचने के लिए विभिन्न धातु लोहा, स्टील, एल्युमीनियम इत्यादि खरीदने की आवश्यकता होती है।  

8. Welding & Fabrication ट्रेनिंग स्कूल

Welding & Fabrication से जुड़ा यह एक ऐसा बिजनेस है जिसे सिर्फ इस क्षेत्र के अनुभवी लोग ही कर सकते हैं। जी हाँ ऐसे व्यक्ति जिन्होंने जिन्दगी भर वेल्डिंग एवं फेब्रिकेशन का काम किया हुआ हो लेकिन अब बुढ़ापे के कारण वे यह काम नहीं कर पा रहे हों या फिर वे अब इस काम को नहीं करना चाहते हों वे वेल्डिंग और फेब्रिकेशन ट्रेनिंग स्कूल खोलकर कमाई कर सकते हैं। इस स्कूल के माध्यम से उद्यमी युवाओं को इसका प्रशिक्षण देकर इस क्षेत्र में अपना काम या नौकरी करने के लिए तैयार करेगा।

उपर्युक्त Business ideas के अलावा Welding & Fabrication में माहिर व्यक्ति इस विषय पर स्वयं का ब्लॉग भी स्थापित कर सकता है। और अपने ब्लॉग के माध्यम से लोगों को वेल्डिंग एवं फेब्रिकेशन की जानकारी दे सकता है। इसमें उद्यमी विज्ञापन या प्रायोजित लेख लिखकर भी पैसे की कमाई कर सकता है।

यह भी पढ़ें

Leave a Reply

Your email address will not be published

error: